LATEST ARTICLES

महिला सशक्तिकरण की दिशा में बढ़ते हरियाणा सरकार के कदम

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि महिलाओं को सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। इन योजनाओं के माध्यम से महिलाओं को आर्थिक सहायता से लेकर स्वरोजगार स्थापित करने में सहायता प्रदान की जाती है। इसी कड़ी में हरियाणा सरकार द्वारा आजादी अमृत महोत्सव की श्रृंखला में ऐसी ही एक योजना है हरियाणा मातृशक्ति उद्यमिता योजना है। इस योजना के माध्यम से महिलाओं को स्वरोजगार प्राप्त करने के लिए प्रेरित किया जाता है।डीसी जितेंद्र यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि हरियाणा मातृशक्ति उद्यमिता योजना का लाभ महिलाओं को केवल तभी प्रदान किया जाएगा जब उनकी पारिवारिक आय 5 लाख या फिर इससे कम हो। यह योजना महिलाओं को सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाने में की दिशा में बेहद कारगर सिद्ध होगी तथा योजना के माध्यम से महिलाओं के जीवन स्तर में भी सुधार आएगा।हरियाणा मातृशक्ति उद्यमिता योजना का उद्देश्य :डीसी ने बताया कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश की महिलाओं को स्वरोजगार स्थापित करने के लिए ऋण उपलब्ध करवाना है। इस योजना के माध्यम से महिलाओं को 3 लाख तक का ऋण 7 प्रतिशत की ब्याज दर पर उपलब्ध करवाया जाएगा। इस ऋण के माध्यम से प्रदेश की महिलाएं स्वरोजगार स्थापित कर सकेंगी एवं दूसरे नागरिकों को भी रोजगार प्रदान कर सकेंगी। यह योजना देश की महिलाओं को सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाएगी।हरियाणा मातृशक्ति उद्यमिता योजना के लाभ तथा विशेषताएं :मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई हरियाणा मातृशक्ति उद्यमिता योजना महिलाओं के जीवन में नया बदलाव लेकर आएगी। इस योजना के माध्यम से महिलाओं को अपना स्वरोजगार स्थापित करने के लिए प्रेरित किया जाएगा, सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत स्वरोजगार स्थापित करने के लिए महिलाओं को ऋण उपलब्ध करवाया जाएगा, योजना के तहत परिवार पहचान पत्र के माध्यम से महिलाओं को ₹300000 तक की लागत का उद्यम स्थापित करने के लिए 7 प्रतिशत की ब्याज दर पर ऋण प्रदान किया जाएगा। इस योजना का लाभ महिलाओं को केवल तभी प्रदान किया जाएगा जब उनकी वार्षिक पारिवारिक आय परिवार पहचान पत्र डाटा अनुसार ₹500000 या फिर इससे कम होगी।मातृशक्ति उद्यमिता योजना की पात्रता :महिला हरियाणा की स्थाई निवासी होनी चाहिए, उसकी आयु 18 वर्ष से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए, वह पूर्व के किसी ऋण मामले में डिफाल्टर नहीं होनी चाहिए, महिला की पारिवारिक आय ₹500000 या इससे कम होनी चाहिए, आवेदक महिला का नाम परिवार पहचान पत्र में दर्ज होना अनिवार्य है।योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज :महिलाओं को योजना का लाभ लेने के लिए परिवार पहचान पत्र, फैमिली आईडी, ट्रेनिंग प्रमाण पत्र यदि हो तो, आधार कार्ड, निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, आयु का प्रमाण, पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि लगाने होंगे। इस बारे में अधिक जानकारी हरियाणा महिला विकास निगम लिमिटेड पंचकूला से प्राप्त की जा सकती है।

फरीदाबाद के 49 सरकारी और 9 प्राइवेट अस्पतालों में लोगों को दी जा रही है कोविड-19 वैक्सीनेशन

जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला के 49 सरकारी और 9 प्राइवेट अस्पतालों में लोगों को वैक्सीनेशन की जा रही है। यह वैक्सीन पहले आओ, पहले पाओ की नीति पर लोगों को किए जा रहे हैं।डीसी जितेंद्र यादव ने बताया कि 12 प्लस, 15 प्लस और 18 प्लस की आयु के लोगों को सीओबीवैक्स, को वैक्सीन और कोविशील्ड के वैक्सीनेशन वैक्सीन केंद्रों पर किए जा रहे हैं। जिला में कोविड के मामलों के मद्देनजर जिला सिविल सर्जन डॉक्टर विनय गुप्ता ने मीडिया के माध्यम से नागरिकों से अपील की है कि वे कोविड के उचित व्यवहार का पालन करें। जैसे कि मास्क का उपयोग, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना है। जिनकी एहतियाती खुराक बाकी है कृपया तुरंत टीका लगवाएं। यदि कोई और लक्षण विकसित होते हैं तो उनका आरटी पीसीआर परीक्षण करवाएं। सभी स्वास्थ्य संस्थानों में टीकाकरण और परीक्षण के लिए सभी व्यवस्थाएं हैं।वैक्सीनेशन अभियान के नोडल अधिकारी डॉ मान सिंह ने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में आदर्श नगर यूपीएचसी, एसी नगर यूपीएचसी, अगंनपुर यूपीएचसी, एत्मादपुर यूपीएचसी, बल्लभगढ़ एसडीएच, भीम बस्ती यूपीएचसी, भारत कॉलोनी यूपीएचसी, नागरिक अस्पताल बीके, डबुआ कॉलोनी यूपीएचसी, धौज पीएचसी, भारत कॉलोनी यूपीएचसी, ईएसआई एक डिस्प, ईएसआई दो डिस्प, ईएसआई तीन डिस्प, ईएसआई 4 डिस्प, ईएसआई 5 डिस्प, ईएसआई 6 डिस्प, ईएसआई 7डिस्प, ईएसआई सेक्टर 8, ईएसआई सेक्टर 55, पीसीसी एनएच- 3, फतेहपुर तेगा पीएचसी, एफ आर यू सेक्टर- 30, एफआरयू सेक्टर- 3, हरी विहार यूपीएचसी, खेड़ी कला सीएचसी, मेवला महाराज यूपीएचसी मुजेसर यूएचसी, नंगला एन्क्लेव यूपीएचसी, पाली पीएचसी,पल्ला पीएचसी, प्रतापगढ़ यूपीएचसी, संजय कॉलोनी यूएचसी, सारण यूपीएचसी, सेहतपुर यूएचसी, एसजीएम नगर यूएचसी, शिव दुर्गा विहार यूपीएचसी, सुभाष कॉलोनी यूपीएचसी, सूरजकुंड डिस्प, राजीव कॉलोनी यूपीएचसी, पन्हेड़ा पीएचसी, कुराली सीएचसी, मोहना पीएचसी, तिगांव पीएचसी, छायसा पीएचसी, दयालपुर पीएचसी सीकरी पीएससी, सिविल अस्पताल डिस्प सेक्टर- 7 सहित सरकारी अस्पतालों में लोगों को वैक्सीनेशन की जा रही है। एसएमओ डॉ मान सिंह ने आगे बताया कि 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को क्यूआरजी मेडिकेयर लिमिटेड, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स अस्पताल, एशियन अस्पताल, शंकर अस्पताल, सर्वोदय सेक्टर- 8, सर्वोदय सेक्टर -19, संतोष अस्पताल और मेट्रो अस्पताल में भी लोगों को वैक्सीनेशन किए जा रहे हैं।

भारत सरकार के ज्वाइंट सेक्रेटरी श्रीनिवास दण्डा ने जल शक्ति अभियान टू की विभागवार की समीक्षा

भारत सरकार के ज्वाइंट सेक्रेटरी श्रीनिवास दण्डा ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में जिला फरीदाबाद में जल शक्ति अभियान-2का अधिकारी बेहतर क्रियान्वयन करना सुनिश्चित करें। जल शक्ति अभियान के तहत जिस विभाग को जो जिम्मेदारी मिली है, उस जिम्मेदारी का बेहतर क्रियान्वयन धरातल पर सुनिश्चित हो। अधिकारी अपने विभागों से संबंधित टारगेट को निर्धारित समय पर पूरा करें।भारत सरकार के जल शक्ति अभियान टू के ज्वाइंट सेक्रेटरी श्रीनिवास दण्डा आज शनिवार को सूरजकुंड के राज हंस होटल में जिला फरीदाबाद में जल शक्ति अभियान टू की विभागवार समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि जिला फरीदाबाद में जल शक्ति अभियान टू के बेहतर क्रियान्वयन के लिए के लिए जिस भी अधिकारी को उसके विभाग की तरफ से जो भी दायित्व मिला है उसे पूरी निष्ठा के साथ पूरा करना सुनिश्चित करें। अधिकारी जल शक्ति अभियान टू के कार्यों को धरातल पर मूर्त रूप देने के लिए वचनबद्धता से कार्य करें।डीसी जितेंद्र यादव ने जिला स्तरीय जल शक्ति अभियान टू की समीक्षा बैठक में विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि विभिन्न विभागों के अधिकारी सिंचाई विभाग के अधिकारियों के साथ तालमेल करके जल शक्ति अभियान टू के जिला में विभाग वार दिए गए टारगेट का बेहतर क्रियान्वयन कर रहे हैं। जिस विभाग को जो भी जिम्मेदारी मिली है उसको निश्चित समय पर निर्धारित लक्ष्य तय समय अनुसार पूरा करने का प्रयत्न किया जा रहा है।उपायुक्त जितेंद्र यादव ने एक-एक करके विभिन्न विभागों के विभाग वार जल शक्ति अभियान टू के कार्यों की विस्तारपूर्वक जानकारी भी दी।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि बारिश के जल की संचित बूंद का उचित संरक्षण कर जल शक्ति अभियान टू को प्रभावी रूप से सफल बनाने में प्रशासन अपनी सक्रिय भूमिका अदा कर रहे है।उन्होंने कहा कि जल संकट की चुनौती का सामना सुदृढ़ तरीके से कर जल की महत्ता समझते हुए संरक्षित जल का सदुपयोग सुनिश्चित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में जल शक्ति के प्रति जागरूकता और प्रयास दोनों बढ़ रहे हैं। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि पानी से जुड़ी सभी योजनाओं पर तेजी से काम हो रहा है। वहीं खेतों में छोटे-छोटे तालाब बनाकर जल को संरक्षित किया जा रहा है। इससे किसानों को फायदा होगा। इसमें मनरेगा के तहत जल संरक्षण करने वाली योजनाओं को लिया गया है । किस तरह से गांव में जल संरक्षण किया जा सकता है। एक एक करके विभिन्न विभाग वार पूरी जानकारी दी।सीईओ जिला परिषद सतेन्द्र दुहन ने समीक्षा बैठक में जानकारी देते हुए बताया कि जल शक्ति अभियान टू में ग्राम सभा में मिट्टी कार्य, पानी सोखता निर्माण, तालाब निर्माण सहित वृक्षारोपण की योजनाएं शामिल की गई है। इसके अलावा आईईसी गतिविधियों के लिए लक्ष्य निर्धारण हस्तक्षेप के विभिन्न तरीके #jalshaktiabhiyan के तहत फेसबुक, व्हाट्सएप और राज्य और जिला ट्विटर अकाउंट पर नियमित रूप से ई पोस्टर और पोस्ट, रेडियो जिंगल, जल संवाद, वैज्ञानिकों/ कृषकों के साथ रेडियो साक्षात्कार, नुक्कड़ नाटक, समाचार पत्र विज्ञापन, फिल्में और वृत्तचित्र, तरु यात्रा, प्रभात फेरिया, रैलियां, मानव श्रृंखला, पौधगिरी, विशेष परियोजनाएं जैसे फसल विविधीकरण, सूक्ष्म सिंचाई, वॉल पेंटिंग, दीवारों पर स्लोगन लेखन, ब्रांड राजदूत, युवा आइकन, पाक्षिक सफलता की कहानी प्रसार प्रिंट और सोशल मीडिया, जल संरक्षण गतिविधियों के साथ जीपी/ब्लॉक/जिला का उत्सव, वनीकरण और जल संरक्षण के लिए मिनी मैराथन, रन, वॉकाथॉन, हैकाथॉन, साइकिलथोन, स्कूलों, विशेष स्कूलों, कॉलेजों और युवा क्लबों में निबंध, सोलगन लेखन, पेंटिंग, वाद-विवाद, प्रश्नोत्तरी की प्रतियोगिताएं, इलेक्ट्रॉनिक, प्रिंट, सोशलमीडिया, पोस्टरों में आईईसी सामग्री का वितरण, जल चौपाल, ग्राम सभा जीपी/ब्लॉक/जिला स्तर पर बढ़ावा दिया जा रहा है। इस बैठक में डीसी जितेन्द्र यादव, सीईओ जिला परिषद सत्येंद्र दुहन, सीटीएम नसीब कुमार,भारत सरकार के जल शक्ति अभियान टू की तकनीकी अधिकारी श्रीमती पद्मावती, जिला वन अधिकारी राजकुमार, डीडीपीओ राकेश मोर, डीआरओ बिजेन्द्र राणा, अतिरिक्त सीईओ जिला परिषद अंकिता, सिंचाई विभाग के अधीक्षक अभियंता अश्विनी फोगाट सहित कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, वन विभाग, एचएसआईडीसी, जीएमडीआईसी, जिला उद्यान विभाग, पंचायत एवं जिला विकास विभाग, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी, पीडब्ल्यूडी बी एंड आर, शिक्षा, टाऊन प्लानिंग, एमसीएफ, महिला बाल विकास विभाग, ग्रामीण विकास अभिकरण, मत्स्य पालन, जिला सूचना जनसंपर्क विभाग सहित बैठक से संबंधित संबंधित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

जिला परिवेदना एवं कष्ट निवारण समिति की मासिक बैठक रविवार को : डीसी जितेन्द्र यादव

डीसी जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला परिवेदना एवं कष्ट निवारण समिति की मासिक बैठक रविवार 03 जुलाई 2022 को प्रातः 11:00 बजे एचएसवीपी कन्वेंशन सेंटर सेक्टर-12 में आयोजित की जाएगी। मीटिंग की अध्यक्षता प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला करेंगे। उन्होंने आगे बताया कि जिला परिवेदना एवं कष्ट निवारण समिति की मासिक बैठक में कुल 19 परिवाद रखी जाएगी।

जिला फरीदाबाद में अब तक लगाई गई 4086676 कुल डोज

उपायुक्त जितेन्द्र यादव के कुशल मार्गदर्शन में आजादी के अमृत महोत्सव के तत्वावधान में स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोविड बचाव के लिए टीकाकरण अभियान जोर शोर से चलाया जा रहा है। वैक्सीनेशन अभियान के तहत समाचार लिखे जाने तक जिला में 49 सरकारी और 9 प्राइवेट अस्पतालों सहित 58 स्थानों पर आयोजित वैक्सीनेशन कैम्पों में 111442लोगों को बूस्टर डोज वैक्सीन भी लगाई गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आज के आंकड़ो को मिलाकर जिला में वैक्सीन की कुल पहली व दूसरी डोज़ सहित कुल 4086676 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है।जिला में वैक्सीनेशन अभियान की कमान संभाल रहे एसएमओ डॉ. मान सिंह ने बताया कि आज शुक्रवार को टीकाकरण कार्यक्रम के तहत जिला के वैक्सीनेशन केन्द्रों पर 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के 1365415 लोगों को पहली और 1119375 लोगों को दूसरी और 25872लोगों को बुस्टर डोज़ दी गई और आज 45 से 59 आयु के लोगों को 375049 को प्रथम, 345690 को दूसरी और 28185 लोगों को बुस्टर डोज लगाई गई।इसी क्रम में 60 वर्ष और उससे अधिक आयु वर्ग के लोगों को 204857 को प्रथम, 189034 को दूसरी और 44676 लोगों को बूस्टर डोज सहित कोरोना रोधी वैक्सीन के टीके लगाए गए हैं। डॉ. मान सिंह ने आगे बताया कि जिला में 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के 58913 बच्चों को पहली तथा 26452 बच्चों को दूसरी डोज लगाई गई। कोरोनारोधी वैक्सीन की 15से 17 वर्ष आयु वर्ग के 111044 किशोरों को पहली व 72434 को दूसरी डोज़ के टीके लगाए गए।डॉ मान सिंह ने बताया कैम्प में आने वाले लोगों को किसी प्रकार के रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं थी। सभी लोगों का पहले आओ पहले लगवाओ की तर्ज पर मौके पर ही रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। नागरिकों को सभी टीकाकरण केन्द्रों पर पहले आओ पहले लगवाओ की तर्ज पर वैक्सीन लगाई जा रही है।जिला में वैक्सीनेशन अभियान के तहत बुधवार को केन्द्रों पर 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के नागरिकों को कोवैक्सीन, कोविशिल्ड की पहली व दूसरी डोज़ लगाई जा रही है। वहीं बूस्टर डोज़ के माध्यम से स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स व 60 वर्ष से अधिक आयु के वे लोग जो गम्भीर बीमारियों से ग्रस्त हैं, उनको भी उपरोक्त केन्द्रों पर कोविशिल्ड के टीके लगाए जाएंगे।शिक्षा व नौकरी के लिए विदेश जाने के लिए चयनित नागरिक अस्पताल/बीके में जाकर अपना कोवैक्सीन, कोविशिल्ड का दूसरा टीका लगवा सकते हैं। सभी केंद्रों पर वैक्सीन के स्लॉट उपलब्ध रहेंगे। यहाँ दूसरी डोज़ के रूप में भी स्लॉट उपलब्ध रहेंगे। इसके अतिरिक्त जिन नागरिकों को कोविशिल्ड का पहला या दूसरा टीका लगवाना है वह अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर अपनी कोरोना रोधी वैक्सीन लगवा सकता है। आज शुक्रवार को सभी 58 टीकाकरण केंद्रों पर वैक्सीन के कुल स्लॉट उपलब्ध कराए गए। इसमें स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स व 60 वर्ष से अधिक आयु के वे लोग जो कॉर्बिटी से प्रभावित उनके लिए ऑफ लाइन माध्यम से स्लॉट उपलब्ध रहे। बूस्टर डोज़ के लिए किसी प्रकार के नए रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं है। वैक्सीनेशन कार्य देख रहे फरीदाबाद के उप-सिविल सर्जन डॉक्टर मान सिंह ने बताया कि सभी सेंटरों पर पहले आओ पहले लगवाओ की नीति के आधार पर वैक्सीन लगेगी। वहीं वीरवार को जिला में 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को कार्बेवैक्स व 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों को भी कोवैक्सिन कोरोना रोधी वैक्सीन लगाई गई।जिला में विभिन्न आयु वर्ग के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान के तहत शुक्रवार को 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को स्वास्थ्य केंद्र टीकाकरण केन्द्रों पर कोवैक्सीन का पहला व दूसरा व 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों को केन्द्रों पर कॉवेक्सीन का पहला, दूसरा व बूस्टर डोज़ टीका लगाया गया।जिला में वैक्सीनेशन अभियान के नोडल अधिकारी एवं उप सिविल सर्जन डॉ मान सिंह ने आगे बताया कि शनिवार को भी स्वास्थ्य केंद्रों पर टीकाकरण कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। अन्य जगहों पर बनाए गए अस्थायी केन्द्रों पर कॉर्बेवैक्स वैक्सीन की व केन्द्रों पर कॉवैक्सीन की पहली, दूसरी व बूस्टर डोज़ के रूप में स्लॉट उपलब्ध रहेंगी। डॉ. सिंह ने सभी जिला वासियों से अपील करते कहा कि वे अपने परिवार व परिचितों में उपरोक्त आयु वर्ग के किशोरों व बच्चों का टीकाकरण करवाना सुनिश्चित करें।

रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद ईस्ट ने नए सत्र की शुरूवात में जसाना गांव में किया पौधारोपण

01 जुलाई-फरीदाबाद | जसाना गांव में रोटरी क्लब फरीदाबाद ईस्ट के अध्यक्ष कुलबीर सचदेवा ने पौधरोपण कोटवेल इंक प्राइवेट लिमिटेड में किया। कुलबीर ने बताया कि रोटरी क्लब इंटरनेशनल संस्था है। जो समय समय पर सामाजिक कार्य करती रहती है। कुलबीर ने कहा की आज रोटरी क्लब ईस्ट की समस्त टीम के द्वारा गांव जसाना में पौधरोपण कार्यक्रम किया गया। नीम, जामुन, अमरूद और अशोक के सैकड़ों पौधे लगाए गए। इन पेड़ पौधों के द्वारा ही हमे ऑक्सीजन मिलती है। जो मनुष्य की सांस के द्वारा शरीर में जाती है। जीवन जीने का आधार है। सभी पौधे को पेड़ बनाने की जिम्मेदारी संस्था की है।कुलबीर ने बताया कि आज के समय में जब धूप अधिक हो तो हर व्यक्ति अपनी गाड़ी को खड़ी करने के लिए पेड़ की छाया ढूंढता है। प्रदूषित वातावरण को शुद्ध करने का काम भी पेड़ पौधे ही करते है। बरसात लाने का काम पेड़ करते है। आज की जरूरत के हिसाब से पेड़ पौधे मानव जीवन का जीने का आधार हैं।

महासचिव अजय गुप्ता ने बताया की बढ़ते तापमान और प्रदूषण के बीच में हम सभी किस तरह से जी रहे है हम सब भलीभांति परिचित है। प्रदूषण से कई प्रकार की बीमारियां से लोग ग्रसित है। इसलिए बरसात के मौसम में सभी पौधे लगाए जो आगे चलकर वृक्ष बने और बढ़ते तापमान और प्रदूषण को कम करने का काम करेगा। मेवला महाराजपुर में फरीदाबाद मॉडल संस्कृति सरकारी स्कूल में फरीदाबाद जोन के 4 क्लब ने मिलकर हैंड वाश स्टेशन भी लगाया। जिससे स्कूल के बच्चे अपने हाथो की सफाई करके कई बीमारियों से बच सके। कार्यक्रम में मुख्य रूप से रोटरी क्लब ईस्ट से अध्यक्ष कुलबीर सिंह,हेरिटेज क्लब अध्यक्ष अनूप गर्ग, मिड्टाउन नेक्स्ट अध्यक्ष कविता सलूजा,रोटरी ग्रेटर अध्यक्ष मनुज मदान व सरकारी अधिवक्ता रोटेरियन दीपक ठुकराल,सायराम सचदेव,ईशान सचदेव,राहुल नागर,योगेश नागर, मनु नागर की उपस्थिति रही।

केंद्रीय मंत्री रुपाला ने सूखे गोबर से लट्ठे बनाने वाली मशीन का किया लोकार्पण

भारत सरकार के मत्स्य एवं पशुपालन व डेयरी विभाग के कैबिनेट मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला ने कहा कि महानगरों की आधुनिकता से भरी असंतुलित जीवन शैली को यदि पटरी पर लाना है, तो हमें प्रत्येक महानगर के बाहरी इलाके में काऊ हॉस्टल की स्थापना करनी होगी। केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला आज मंगलवार को फरीदाबाद के सेक्टर-8 स्थित सर्वोदय हॉस्पिटल के ऑडिटोरियम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत कर उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे।उन्होंने गौ पालन के विषय पर बल देते हुए कहा कि हमें इसके लिए पुराने तरीकों को छोड़कर वैज्ञानिक पद्धति अपनाने की आवश्यकता है।केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला ने कहा कि गोवर्धन से आत्मनिर्भर बना भारत बनाने की संभावनाएं बढ़ रही है। गाय के दूध और गोबर के महत्व को जानने की कोशिश करें। यदि शरीर में इम्यूनिटी पावर बढ़ानी है तो गाय के दूध भी और गोमूत्र का प्रयोग करें। उन्होंने अहमदाबाद की बंशीधर गौशाला का जिक्र करते हुए कहा कि वहां पर ₹200 रुपये किलो गाय का दूध पीता है और ₹4000रुपये किलो गाय का घी बिकता है। केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला ने कहा कि ब्राज़ील की अर्थव्यवस्था गाय पर आधारित है। वहां गाय को जेबू कहते हैं। हमारी गिर नस्ल की गाय को वहां सर्वोपरि गाय माना गया है। ऋषि मुनियों की जानकारी के अनुसार भारत देश पहले गौ अर्थव्यवस्था पर निर्भर था। गाए आज जमीनी स्तर पर दुनिया के अर्थ तंत्र का केंद्र बिंदु बनने जा रही है।केंद्रीय मंत्री रुपाला ने कहा कि अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहना है तो जमीन की उर्वरा शक्ति बढ़ानी होगी और पोषण की दृष्टि से संतुलित जीवनशैली अपनानी होगी। इन सभी आयामों की प्राप्ति का गाय ही एकमात्र साधन है। उन्होंने कहा कि भारत अब अपनी वास्तविक प्रकृति में लौट रहा है और दुनिया उसके सामने नतमस्तक हो रही है। केंद्रीय मंत्री रुपाला ने योग का उदाहरण देते हुए कहा कि पूरे विश्व में जिस तरह से योग को सम्मान मिला है, वैसे ही दुनिया गौ विद्या को भी उतने ही सम्मान से देखेगी।केंद्रीय मंत्री रुपाला ने कहा कि इससे गौशालाओं को हर महीने 1.5 लाख से लेकर 1.7 लाख किलोग्राम गोबर का निस्तारण करने में मदद मिलेगी। गोबर आधारित लट्ठे बनाने वाली यह मशीन गौशालाओं को अपने कचरे के निस्तारण की समस्या को दूर करने में सहायक होगी और जिस स्थान पर इस मशीन को लगाया जाएगा, वहां रहने वाले और आसपास के गांव के निवासियों के लिए यह रोजगार का एक अतिरिक्त स्रोत तो बनेगी ही और इसके साथ दूध देना बंद कर चुकी गायों को भी इस तरह की मशीनों से आर्थिक गतिविधि में शामिल किया जा सकेगा। गौशाला में रहने वाली सभी गायों की देखभाल के लिए धन पैदा किया जा सकेगा। केन्द्रीय मत्स्य एवं पशुपालन व डेयरी मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला ने नीमका गौशाला में जाकर गौशाला कार्यविधि का जायजा भी लिया। केंद्रीय मंत्री ने संस्थान के परिसर में खाद्य पदार्थ सामग्री से बनी चीजों के बारे में जानकारी ली। केन्द्रीय मंत्री ने दौरे के दौरान 5 से अधिक खाद्य मशीन के प्रकार का प्रदर्शन किया। साथ ही कई जल-कृषि साधनों का प्रदर्शनी का अवलोकन किया। उन्होंने संस्थान द्वारा विकसित विभिन्न प्रकार के मशीन द्वारा बनी अगरबत्ती, दिया,गोबर से बनी लकड़ियों, चारा निरूपण यंत्र तथा उपचारात्मक यंत्र की भूरी भूरी प्रशंसा भी की।आईआईटी के छात्र आशीष ने केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला को सूखे गोबर से लट्ठे (लॉग) बनाने वाली एक “गो काष्ठ” मशीन सौंपी। इसका मकसद भारत में दाह संस्कार की हिंदू प्रथा के तहत लकड़ियों के स्थान पर गाय के गोबर से बनी लकड़ियों का इस्तेमाल करना है जो जलने पर ज्यादा उत्सर्जन नहीं करती हैं। गोधन महासंघ के राष्ट्रीय संयोजक विजय खुराना ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज देश में 19500गौशाला है, जबकि इनकी संख्या 10 वर्ष पहले 9500थी। आज गौशालाओं में सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों की बदौलत आय के संसाधन बढ रहे हैं और गौशालाओं की कायापलट हो रही है। सर्वोदय अस्पताल की एमडी अंशुल गुप्ता ने अस्पताल प्रशासन की ओर से आए हुए सभी मेहमानों का स्वागत किया। एईआईसीओएस एमआईए हरियाणा के चेयरमैन कपिल मलिक ने भी मेहमानों को स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया। दीप प्रज्वलित कर

कोविड के पीड़ित 147 लोगों को ठीक होने पर घर भेजा गया

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में मंगलवार को कोरोना वायरस के 67 मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि 147 लोग स्वस्थ भी हुए। जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 99.01 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 13 केस अस्पताल में भर्ती हैं। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 555 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 568 है। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1816 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1668205 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 131702 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए व 1534426 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 2077 लोगों के रिजल्ट आने बाकी हैं। जिला में सैंपल पॉजिटिविटी रेट 7.89 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 99.01 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.43प्रतिशत है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वह अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें। जिला सिविल सर्जन डॉ. विनय गुप्ता ने मीडिया के माध्यम से नागरिकों से अपील की है कि वे कोविड के उचित व्यवहार का पालन करें। जैसे कि मास्क का उपयोग, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना है। जिनकी एहतियाती खुराक बाकी है कृपया तुरंत टीका लगवाएं। यदि कोई लक्षण और लक्षण विकसित होते हैं तो उनका आरटीपीसीआर परीक्षण करवाएं। सभी स्वास्थ्य संस्थानों में टीकाकरण और परीक्षण के लिए सभी व्यवस्थाएं हैं।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1756963लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1751290 हो गई है।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की अनुपालना में समीक्षा बैठक का आयोजन

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की अनुपालना में माननीय उपायुक्त श्री जितेंद्र यादव की अध्यक्षता में योजना से संबंधित एक समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि शिक्षा अधिकारी आत्मप्रेरित रहें और सभी प्राचार्यों को भी समय-समय पर प्रेरित करें। सभी स्कूलों के प्रिंसिपल भी अपनी योग्यता अनुसार सब्जेक्ट का चयन करके बच्चों के रोजाना दो पीरियड अवश्य ले। उन्होंने सभी टीचरों को निर्देश देते हुए कहा कि स्कूल खुलने से पहले सभी कक्षाओं की छतों और पानी की टंकियों की सफाई अवश्य करवाएं। अगर किसी स्कूल की चारदीवारी टूटी हुई हो, स्कूल में बारिश के समय पानी भरता हो, स्कूल आने जाने का रास्ता खराब हो तो ऐसे स्कूलों की सूची बनाकर हमें दे ताकि समय रहते सब ठीक किया जा सके। उन्होंने कहा कि सभी स्कूल लिस्ट बनाकर टीचरों का हेल्थ डाटा बनाएं। सभी शिक्षक और गैर शिक्षक कर्मचारी शारीरिक फिटनेस पर विशेष ध्यान दें। सभी टीचर्स और स्टाफ समय पर स्कूल आए। स्कूल में अपने समयानुसार 15 मिनट का रेस्ट ले और टीचर्स अपनी कक्षाओं खुद भी योग करे और बच्चों को भी योग कराए। आठवीं कक्षा से ऊपर की कक्षाओं के विद्यार्थियों की पढ़ाई के साथ साथ उनके स्किल डेवलमेंट पर भी ध्यान दे ताकि जब बच्चा बारहवीं पास करे तो उसके पास उसकी योग्यता अनुसार हुनर भी हो। कूलों के अंदर और बाहर बाउंडरी की दीवार के चारों तरफ कोई रेहड़ी या दूकान का कोई कब्ज़ा न हो। आधारभूत संरचनाओं को लेकर कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी के तहत सहायता की जाएगी जो भी विद्यालय इस बाबत प्रस्ताव भेजेंगे। विद्यालय के अंदर विद्यार्थी साफ सफाई की जिम्मेदारी लें और शिक्षक की देखरेख में यह सब कार्य किए जाएं। अधिकारियों की एक टीम गठित की जाएगी जो विभिन्न विद्यालयों का दौरा करेगी। माननीय उपायुक्त महोदय ने इस बात पर बल दिया कि सभी मुखिया एक लीडर के तौर पर काम करें उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण अभियान को सफल बनाने के लिए सभी अपने-अपने विद्यालयों में 50 पौधे लगाए। पहले जगह पौधरोपण के लिए ऐसी जगह चयनित करे जिसका वर्तमान और भविष्य में कोई और उपयोग न हो। अधिकारियों की एक टीम गठित की जाएगी जो समय-समय पर विभिन्न विद्यालयों का दौरा करेगी। इस दौरान जुलाई 2022 से जनवरी 2023 तक की योजनाओं के महत्वपूर्ण हस्तक्षेप पर दीपेंद्र चौहान ने एक प्रस्तुति के माध्यम से निपुण हरियाणा मिशन, सेट रिजल्ट, राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण, प्रोजेक्ट उड़ान, ई-अधिगम व जिले में चल रही विभिन्न शैक्षणिक गतिविधियों का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया। यह सभी राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन की तरफ कुछ महत्वपूर्ण कदम हैं। राष्ट्रीय शिक्षा नीति में प्रारंभिक देखभाल, बुनियादी साक्षरता एवं संख्यात्मक ज्ञान, पाठ्यक्रम और शिक्षण अधिगम आदि पर भी चर्चा हुई। इस समीक्षा बैठक में एसडीएम पंकज सेतिया, एसडीएम परमजीत चहल, एसडीएम त्रिलोक चंद, जिला शिक्षा अधिकारी डॉ मुनेश चौधरी, जिला समन्वयक समग्र शिक्षा आनंद सिंह, जिला शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य राजेश कुमार, जिला खंड शिक्षा अधिकारी मनोज मित्तल, जिला खंड शिक्षा अधिकारी बल्लभगढ़ सतीश चौधरी, विभिन्न विद्यालय संकुल केंद्र के मुखिया, मेंटर्स, डाइट के प्रवक्ता गण उपस्थित थे।

फरीदाबाद में सोमवार को कोविड-19 के 47 पॉजिटिव मामले आए

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में सोमवार को कोरोना वायरस के 47 मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि 105 लोग स्वस्थ भी हुए। जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 98.94 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 12 केस अस्पताल में भर्ती हैं। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 636 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 648 है। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1757 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1666389 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 131635 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए व 1532677 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 2077 लोगों के रिजल्ट आने बाकी हैं। जिला में सैंपल पॉजिटिविटी रेट 7.90 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 98.94 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.49 प्रतिशत है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वह अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें। जिला सिविल सर्जन डॉ. विनय गुप्ता ने मीडिया के माध्यम से नागरिकों से अपील की है कि वे कोविड के उचित व्यवहार का पालन करें। जैसे कि मास्क का उपयोग, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना है। जिनकी एहतियाती खुराक बाकी है कृपया तुरंत टीका लगवाएं। यदि कोई लक्षण और लक्षण विकसित होते हैं तो उनका आरटीपीसीआर परीक्षण करवाएं। सभी स्वास्थ्य संस्थानों में टीकाकरण और परीक्षण के लिए सभी व्यवस्थाएं हैं।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1753953लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1747481 हो गई है।

फरीदाबाद के मंझावली पुल की जमीन बारे उपायुक्त जितेंद्र यादव ने दी विस्तार पूर्वक जानकारी

मुख्यमंत्री मनोहर लाल व मंत्री मंडल के सभी मंत्री गणों ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों के साथ एक वीडियो कांफ्रेंस आयोजित की गई। वीडियो कॉन्फ्रेंस में संबंधित जिला उपायुक्तों को वहां के कार्यों के निपटान के लिए दिशा निर्देश दिए गए। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने फरीदाबाद जिला के मंझावली पुल के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी ली। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि मंझावली पुल के लिए जमीन की लगभग जमीन की रजिस्ट्री हो चुकी है। बहुत कम जमीन की रजिस्ट्री होनी बाकी है। उसके लिए कार्य प्रगति पर किया जा रहा है। लोगों से तालमेल करके आगामी 2 सप्ताह में इस काम का पूर्ण रूप से निपटारा किया जाएगा। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि कुछ जमीन पर कोर्ट से संबंधित केस होने के कारण देरी हुई हैं, उसका भी यथा शीघ्र निपटान किया जाएगा।वीडियो कॉन्फ्रेंस में डीआरओ विजेंद्र राणा, पीडब्ल्यूडी बीएंडआर के कार्यकारी अभियंता प्रदीप सिंधु सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

केंद्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने रविवार को फरीदाबाद को दी आठ करोड़ से अधिक धनराशि

केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने रविवार को फरीदाबाद की संजय कॉलोनी में आरएमसी रोड़, झाड़सेंतली में ट्रीटमेंट प्लांट, नाले के कार्यों का लोगों के हाथों से नारियल तुड़वा कर शुभारंभ करवाया और बारात घर के नवीनीकरण का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि सरकार आजादी के अमृत महोत्सव के श्रृंखला में भूजल स्तर को सुधारने का प्रयास कर रही है और साथ ही गंदे पानी को शुद्ध करके पार्कों, उद्योग तथा अन्य कृषि क्षेत्रों में उपयोग में लाया जा रहा है।भारत सरकार के भारी उद्योग एवं उर्जा विभाग के राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने संजय कॉलोनी में लगभग एक करोड़ रुपये की धनराशि से बनने वाली आरएमसी रोड़ का शुभारंभ किया। वहीं झाड़सेंतली में छः करोड़ 20लाख रुपये की धनराशि से बनने वाले 20 लाख लीटर प्रतिदिन गन्दे पानी को साफ करने वाले ट्रीटमेंट प्लांट का और 63 लाख रुपये की धनराशि से बनने वाले नाले का शुभारंभ किया। लगभग 9 लाख़ रूपये की धनराशि से बारात के नवीनीकरण के कार्य का उद्घाटन किया। केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि देश की 135 करोड़ की आबादी में 65 प्रतिशत युवाओं की आबादी है। सरकार युवाओं के रोजगार के लिए बेहतर नीतियां बनाकर उन्हें क्रियान्वित करने का प्रयास कर रही है। ताकि देश में कोई भी बेरोजगार युवा ना रहे।उन्होंने कहा कि फरीदाबाद शहर को जेवर एयरपोर्ट को जोड़ने वाले एक्सप्रेस वे के बनने से क्षेत्र में विकास के नए रास्ते खुलेंगे। फरीदाबाद शहर आने वाले समय में विकास की नई दौड़ में शामिल होने जा रहा है। जिससे विकास कार्यों और औद्योगिक विकास के क्षेत्र में फरीदाबाद को विश्व में अलग पहचान मिलेगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली मथुरा एक्सप्रेस-वे के बाद दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। उन्होंने कहा कि इसके बाद फरीदाबाद से जेवर एयरपोर्ट तक एक नया एक्सप्रेस-वे बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह एक्सप्रेस-वे 31 किलोमीटर लंबा होगा और छह लेन का बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि केजीपी से फरीदाबाद के लिए भी दूरी अब कुछ मिनटों के रह जाएगी। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद के ग्रामीण क्षेत्रों में आने वाले समय में जमकर विकास होगा। उन्होंने कहा कि लोगों को रोजगार मिलेगा और बड़े-बड़े उद्योग इस क्षेत्र में स्थापित होंगे। इस अवसर पर एनआईटी के विधायक नीरज शर्मा, स्मार्ट सिटी की एडिशनल सीईओ डॉक्टर गारिमा मित्तल, एमसीएफ के कार्यकारी अभियंता ओपी करदम, निवर्तमान पार्षद जयवीर खटाना, निवर्तमान पार्षद ऋषि चौधरी, निवर्तमान पार्षद मुकेश डागर, जग्गन डागर, डाक्टर धर्म सिंह, विकास शुक्ला, संजू चपराना सहित कई गणमान्य ग्राम ग्रामीण तथा विभाग अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

कोविड के पीड़ित 82 लोगों को ठीक होने पर घर भेजा गया

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में आज बुधवार को कोरोना वायरस के 57मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है की 82 लोगों को ठीक होने पर घर भेज दिया गया है। वहीं जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 98.88 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 14 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 715 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 729 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1713 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1657555 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 131192 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1524432 लोग नेगेटिव मिले।अब तक जिला में 1635 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 7.91 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 98.88 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.56 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्य विभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623और 8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिला प्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000पर भी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई ।जिला में हाल ही में कोविड के मामलों में वृद्धि के कारण जिला सिविल सर्जन डॉक्टर विनय गुप्ता ने मीडिया के माध्यम से नागरिकों से अपील की है कि वे कोविड के उचित व्यवहार का पालन करें। जैसे कि मास्क का उपयोग, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना है। जिनकी एहतियाती खुराक बाकी है कृपया तुरंत टीका लगवाएं। यदि कोई लक्षण और लक्षण विकसित होते हैं तो उनका आरटीपीसीआर परीक्षण करवाएं। सभी स्वास्थ्य संस्थानों में टीकाकरण और परीक्षण के लिए सभी व्यवस्थाएं हैं।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1752783लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1745498 हो गई है।

12 प्लस,15 प्लस और 18 प्लस की आयु के लोगों को सीओबीवैक्स, कोवैक्सीन और कोविशील्ड के वैक्सीनेशन

जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला के 49 सरकारी और 9 प्राइवेट अस्पतालों में लोगों को वैक्सीनेशन की जा रही है। यह वैक्सीन पहले आओ, पहले पाओ की नीति पर लोगों को किए जा रहे हैं।डीसी जितेंद्र यादव ने बताया कि 12 प्लस, 15 प्लस और 18 प्लस की आयु के लोगों को सीओबीवैक्स, को वैक्सीन और कोविशील्ड के वैक्सीनेशन वैक्सीन केंद्रों पर किए जा रहे हैं। जिला में हाल ही में कोविड के मामलों में वृद्धि के कारण जिला सिविल सर्जन डाक्टर विनय गुप्ता ने मीडिया के माध्यम से नागरिकों से अपील की है कि वे कोविड के उचित व्यवहार का पालन करें। जैसे कि मास्क का उपयोग, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना है। जिनकी एहतियाती खुराक बाकी है कृपया तुरंत टीका लगवाएं। यदि कोई लक्षण और लक्षण विकसित होते हैं तो उनका आरटीपीसीआर परीक्षण करवाएं। सभी स्वास्थ्य संस्थानों में टीकाकरण और परीक्षण के लिए सभी व्यवस्थाएं हैं।वैक्सीनेशन अभियान के नोडल अधिकारी डॉ मान सिंह ने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में आदर्श नगर यूपीएचसी, एसी नगर यूपीएचसी, अगंनपुर यूपीएचसी, एत्मादपुर यूपीएचसी, बल्लभगढ़ एसडीएच, भीम बस्ती यूपीएचसी, भारत कॉलोनी यूपीएचसी, नागरिक अस्पताल बीके, डबुआ कॉलोनी यूपीएचसी, धौज पीएचसी, भारत कॉलोनी यूपीएचसी, ईएसआई एक डिस्प, ईएसआई दो डिस्प, ईएसआई तीन डिस्प, ईएसआई 4 डिस्प,ईएसआई 5 डिस्प, ईएसआई 6 डिस्प, ईएसआई 7 डिस्प, ईएसआई सेक्टर 8, ईएसआई सेक्टर 55, पीसीसी एनएच- 3, फतेहपुर तेगा पीएचसी, एफ आर यू सेक्टर- 30, एफआरयू सेक्टर- 3, हरी विहार यूपीएचसी, खेड़ी कला सीएचसी, मेवला महाराज यूपीएचसी मुजेसर यूएचसी, नंगला एन्क्लेव यूपीएचसी, पाली पीएचसी, पल्ला पीएचसी, प्रतापगढ़ यूपीएचसी, संजय कॉलोनी यूएचसी, सारण यूपीएचसी, सेहतपुर यूएचसी, एसजीएम नगर यूएचसी, शिव दुर्गा विहार यूपीएचसी, सुभाष कॉलोनी यूपीएचसी, सूरजकुंड डिस्प, राजीव कॉलोनी यूपीएचसी, पन्हेड़ा पीएचसी, कुराली सीएचसी, मोहना पीएचसी, तिगांव पीएचसी, छायसा पीएचसी, दयालपुर पीएचसी सीकरी पीएससी, सिविल अस्पताल डिस्प सेक्टर- 7 सहित सरकारी अस्पतालों में लोगों को वैक्सीनेशन की जा रही है। एसएमओ डॉ मान सिंह ने आगे बताया कि 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को क्यूआरजी मेडिकेयर लिमिटेड, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स अस्पताल, एशियन अस्पताल, शंकर अस्पताल, सर्वोदय सेक्टर- 8, सर्वोदय सेक्टर -19, संतोष अस्पताल और मेट्रो अस्पताल में भी लोगों को वैक्सीनेशन किए जा रहे हैं।

एमसीएफ के 45 वार्डों के लिए 13 लाख 5539 वोटर चुनेंगे फरीदाबाद शहर की सरकार

उपायुक्त कम जिला निर्वाचन अधिकारी जितेंद्र यादव ने कहा कि निर्वाचन आयोग की हिदायतों के अनुसार नगर निगम चुनाव के लिए मतदाता सूची का फाइनल प्रकाशन कर दिया है। एमसीएफ की मतदाता सूची का विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को मौजूदगी में फाइनल प्रकाशन किया गया था। इस बार नगर निगम चुनाव में 13 लाख 5539 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर शहर की सरकार चुनेंगे। इनकी संख्या बढ़ भी सकती है।डीसी जितेन्द्र यादव ने बताया कि शहर की सरकार चुनने में 07 लाख 20088 पुरुष, 05 लाख 85399 महिलाएं और 52 थर्ड जेन्डर अपना योगदान देंगे।उन्होंने आगे बताया कि निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देश पर गत 11 मई को एमसीएफ की इलेक्ट्रोल का फाइनल प्रकाशन किया गया था। दावे और आपत्तियों का निपटारा 26 मई तक पूरा कर लिया गया था। उन्होंने बताया कि एमसीएफ के 45 वार्डों के लिए अलग-अलग एचसीएस रैंक के अधिकारियों को पुनरीक्षण के तौर पर नियुक्त किया गया था। चुनाव के लिए वार्ड बंदी में मतदाताओं के वोटों के बूथों की वोटर लिस्ट तैयार की गई है ।आपकों बता दें कि वार्ड नंबर एक में पुरुष 13872 व महिला 11534, वार्ड नंबर दो में 18823 व महिला 12719, वार्ड नंबर तीन में पुरुष 9283 व महिला 7551, वार्ड नंबर चार में पुरुष 24464 व महिला 19120, वार्ड नंबर पांच पुरुष 16454 व महिला 11606, वार्ड छह पुरुष 25039 व महिला 19640, वार्ड नंबर सात पुरुष 7645 व महिला 5887, वार्ड नंबर आठ पुरुष 9099 व महिला 6959, वार्ड नंबर नौ पुरुष 10953 व महिला 8061, वार्ड दस पुरुष 20468 व महिला 16392, वार्ड नंबर ग्यारह पुरुष 20789 व महिला 17233, वार्ड नंबर बारह पुरुष 15829 व महिला 12856, वार्ड नंबर तेरह पुरुष 17849 व महिला 16153, वार्ड नंबर चौदह पुरुष 14779 व महिला 11400, वार्ड नंबर पंद्रह पुरुष 19125 व महिला 17105, वार्ड नंबर सोलह पुरुष 17487 व महिला 15035, वार्ड नंबर सत्रह पुरुष 9454 व महिला 8361, वार्ड नंबर अट्ठारह पुरुष 9032 व महिला 7041, वार्ड नंबर उन्निस पुरुष 18217 व महिला 14932, वार्ड नंबर बीस पुरुष 11699 व महिला 10117, वार्ड नंबर इक्कीस पुरुष 9443 व महिला 7644, वार्ड नंबर बाईस पुरुष 12359 व महिला 9358, वार्ड नंबर तेईस पुरुष 17526 व महिला 13811, वार्ड नंबर चौबीस पुरुष 21659 व महिला 16870, वार्ड नंबर पच्चीस पुरुष 24968 व महिला 18969, वार्ड नंबर छब्बीस पुरुष 10500 व महिला 8022, वार्ड नंबर सत्ताईस पुरुष 15363 व महिला 12032, वार्ड नंबर अट्ठाईस पुरुष 127063 व महिला 9725, वार्ड नंबर उनतीस पुरुष 16700 व महिला 11801, वार्ड नंबर तीस पुरुष 15323 व महिला 13763, वार्ड नंबर इकत्तीस पुरुष 6720 व महिला 5329, वार्ड नंबर बत्तीस पुरुष 10815 व महिला 8274, वार्ड नंबर तेंतीस पुरुष 20745 व महिला 17088, वार्ड नंबर चौंतीस पुरुष 17236 व महिला 15485, वार्ड नंबर पैंतीस पुरुष 14106 व महिला 12885, वार्ड नंबर छत्तीस पुरुष 11711 व महिला 10527, वार्ड नंबर सैंतीस पुरुष 18567 व महिला 16162, वार्ड नंबर अड़तीस पुरुष 20066 व महिला 17617, वार्ड नंबर उनतालीस पुरुष 24702 व महिला 2626, वार्ड नंबर चालीस पुरुष 14948 व महिला 13136, वार्ड नंबर एकतालीस पुरुष 29876 व महिला 24564, वार्ड नंबर बायलीस पुरुष 15336 व महिला 12256, वार्ड नंबर तैंतालीस पुरुष 21629 व महिला 16732, वार्ड नंबर चौवालीस पुरुष 11170 व महिला 9174, वार्ड नंबर पैंतालिस पुरुष 15497 व महिला 13802 मतदाता शामिल है ।उन्होंने बताया कि निर्वाचन आयोग की हिदायतों के अनुसार एससीएफ की मतदाता सूची जिला प्रशासन की वेबसाइट पर भी अपलोड की गई है। कोई भी शहरवासी वेबसाइट पर जाकर अपना नाम देख सकता है।

जिला जेल फरीदाबाद में अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस को बड़ी धुमधाम से मनाया : जेल अधीक्षक जय किशन छिल्लर

जेल अधीक्षक जय किशन छिल्लर ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रंखला में जिला जेल फरीदाबाद में आज 21 जून 2022 को प्रातः अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस को बड़ी धुमधाम से मनाया गया। जेल में लगभग 2500पुरूष बन्दियों को जेल के बड़े मैदान में वैदिक वेलनेस फांउण्डेषन दिल्ली के संस्थापक योग ऋषि आर्चाय आषुतोष महाराज द्वारा योग एवंम प्राणायाम का अभ्यास करवाया गया। इसी प्रकार महिला वार्ड में योग शिक्षिका श्रीमती संध्या शर्मा के द्वारा योग एवं प्राणायाम का अभ्यास करवाया गया। महिला वार्ड में अलग से सभी महिला बंदियों के लिए योग करवाने की व्यवस्था की गई थी। जेल में आठवें अंतर्राष्ट्रीय योगा दिवस पर आज के मुख्य अतिथि प्रसिद्ध समाजसेवी देवेंद्र गांधी थे। सबसे पहले जेल अधीक्षक जयकिशन छिल्लर द्वारा मुख्य अतिथि देवेन्द्र गांधी तथा योग ऋषि आर्चाय आशुतोष महाराज तथा योग शिक्षिका श्रीमती संध्या शर्मा का स्वागत किया गया।जेल में आठवें अन्तर्राष्ट्रीय योगा दिवस पर योगाभ्यास का आरम्भ एक भजन के माध्यम से किया गया। योग ऋषि आर्चाय आषुतोष महाराज द्वारा बन्दियों को कुछ खड़े होकर किए जाने वाले आसन ग्रीवा चालन, स्केंद्व संचालन, ताड़ासन, त्रिकोण आसन, वृक्षासन तथा बैठकर किए जाने वाले आसन व्रजासन, शक्कासन, मण्डूकासन तथा पेट के बल लेटकर किए जाने वाले आसन भूजंगआसन, सलभ आसन, नौकासन, तथा पीठ के बल लेटकर किए जाने वाले आसन सर्वागं आसन, हलासन, सेतु बंध आसन, पवनमुक्तासन करवाए गए। इसके अलावा भस्त्रिका व अनुलोम विलोम, भ्रामरी तथा उदगीर प्राणायाम भी करवाया गया। जेल में सभी बन्दियों ने अनुशासन में रहते हुए साथ साथ योगा एवं प्राणायाम का अभ्यास किया। बन्दियों के अनुशासन व एक साथ किए गए योग को देखकर मुख्य अतिथि देवेंद्र गांधी ने कहा कि ऐसा लगता है जैसे जेल को आश्रम में तब्दील कर दिया गया है। ऐसा अनुशासन उन्होंने किसी स्कूल या कॉलेज में भी नहीं देखा। केवल फौज में ही देखा जा सकता है। बन्दियों के द्वारा जिओ गीता के आधारित कुछ भजन भी प्रस्तुत किए गए जिनमें ‘‘हे योगेश्वर हे परमेश्वर’’ तथा ‘‘आओ गीता को अपनाए’’। जेल के सभी बन्दियों ने भजन को एक साथ ताली बजाकर गाया। ऐसी अद्भुत प्रस्तुती को देखकर सभी मेहमानों द्वारा सराहना की गई। जेल अधीक्षक जयकिशन छिल्लर जो स्वयं भी राज्य के श्रेष्ठ योगी का खिताब प्राप्त कर चुके हैं तथा राष्ट्रीय स्तर पर ब्रांज मेडल प्राप्त कर चुके हैं। उन्होंने अपने संबोधन में बताया कि सभी बन्दियों को जेल के प्रशिक्षित बन्दियों के द्वारा लगातार जेल में योग का अभ्यास करवाया जाता है। जिसके परिणाम आज सबके सामने हैं। आज यह जेल योग युक्त जेल, अपराध मुक्त जेल बन चुकी है। लगातार योगा करने से बंदियों को स्वास्थ्य लाभ के साथ-साथ मानसिक लाभ भी मिल रहा है। योग करने से शरीर के सभी अंगों का व्यायाम हो जाता है तथा यदि कोई व्यक्ति प्रतिदिन योगाभ्यास करता है तो भी वह अपने शरीर को निरोग रख सकता है। योग करने से न केवल शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है बल्कि योग से शरीर को रोगमुक्त व मानसिक व बौद्धिक स्तर पर भी सशक्त, शांत और ओजस्वी बनाया जा सकता है। उनके द्वारा जेल स्टाफ व बन्दियों को प्रतिदिन नियमित रूप से योग करने के लिये प्रेरित किया गया। योगाभ्यास करने पश्चात जेल के बन्दियों द्वारा भक्तिमय गीत सुनाए गए जिसे योगीराज श्री आशुतोष महाराज वैदिक वेलनेस फाउंडेशन दिल्ली तथा मुख्य अतिथि देवेन्द्र गांधी प्रसिद्व समाजसेवी फरीदाबाद द्वारा सराहना की गई। कार्यक्रम के समापन अवसर जयकिशन छिल्लर अधीक्षक जेल द्वारा योगीराज श्री आशुतोष महाराज वैदिक वेलनेस फाउंडेशन दिल्ली तथा मुख्य अतिथि देवेन्द्र गांधी प्रसिद्व समाजसेवी फरीदाबाद, श्रीमति संध्या शर्मा तथा जीत कुमार रावत एडवोकेट को जेल के बन्दियों द्वारा बनाई गई मनमोहक पेंटिंग भेंट की गई।इस अवसर पर इण्डिया विजन फांउण्डेशन से गोविन्द शर्मा, श्रीमति उषा तथा जेल प्रशासन के उप-अधीक्षक रामचन्द्र, अनिल कुमार, रोहण हुड़डा व जेल स्टाफ के अन्य अधिकारी व कर्मचारी और सभी बन्दी मौजूद रहे।

आज जिला विकास कोआर्डिनेशन एंड मॉनिटरिंग कमेटी के की बैठक : डीसी जितेंद्र यादव

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला विकास कोआर्डिनेशन एंड मॉनिटरिंग कमेटी की बैठक आज 22 जून को आयोजित की जाएगी। बैठक की अध्यक्षता जिला विकास कोआर्डिनेशन एण्ड मॉनिटरिंग कमेटी के चेयरमैन कम फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र के सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर करेंगे। बैठक में जिला के सभी विभागों के जिला अधिकारी भाग लेना सुनिश्चित करेंगे।

सुबह जल्दी उठकर योग करना जड़ी बूटी के बराबर: रणबीर सिंह गंगवा

विधान सभा के उपाध्यक्ष रणबीर सिंह गंगवा ने कहा कि हमारा देश संत-महात्मा और महापुरुषों का देश रहा है। योग से पूरे भारतवर्ष में ऋषि मुनियों ने लोगों को हमेशा ही सिखाने का काम किया है। योग भारत की प्राचीनतम पद्धति है। यदि हम नियमित रूप से योग करें तो निश्चित तौर पर निरोग रहेंगे।हरियाणा विधानसभा के उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा हरियाणा योग आयोग एवं आयुष विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित मंगलवार 21 जून को सुबह 6 बजे स्थानीय खेल परिसर सेक्टर-12 में आठवें अंतर्राष्ट्रीय योगा दिवस पर आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे थे। डिप्टी स्पीकर रणबीर गंगवा ने विधायिका सीमा त्रिखा, हरियाणा महिला आयोग की चेयरपर्सन रेनू भाटिया, मण्डल आयुक्त संजय जून, पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा, डीसी जितेन्द्र यादव, एडीसी मोहम्मद इमरान रजा, सीईओ जिला परिषद सतेन्द्र दुहन, एसडीएम परमजीत चहल, सीटीएम नसीब कुमार, अतिरिक्त सीईओ जिला परिषद अंकिता, जिला आयुष अधिकारी डॉ. अजीत कुमार, डीआईपीआरओ राकेश गौतम, तहसीलदार नेहा सारण सहित पतंजलि प्रतिनिधियों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारियों सहित हजारों लोगों के साथ आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर योगाभ्यास किया।उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि योगाभ्यास का एक प्राचीन रूप जो भारतीय समाज में हजारों साल पहले विकसित हुआ था। आज 21 जून को आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को पूरा विश्व मना रहा है। इसका श्रेय देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी को पूरे विश्व में मिल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी यूएनओ की पहली बैठक में ही 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योगा दिवस मनाने के लिए प्रस्ताव पारित करा लिया था। उसके बाद वर्ष 2014 से लगातार इसका अभ्यास किया जा रहा है। इसमें किसी व्यक्ति को सेहतमंद रहने के लिए और विभिन्न प्रकार के रोगों और अक्षमताओं से छुटकारा पाने के लिए विभिन्न प्रकार के व्यायाम शामिल हैं। यह ध्यान लगाने के लिए एक मजबूत विधि के रूप में भी माना जाता है। जो मन और शरीर को आराम देने में मदद करता है। अब दुनियाभर में योग का अभ्यास किया जा रहा है। विश्व के लगभग 2 अरब लोग एक सर्वेक्षण के मुताबिक योग का अभ्यास करते हैं।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की देखरेख में हरियाणा के हर गांव, कस्बों और शहरों के पार्कों एवं सार्वजनिक स्थानों पर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। प्रदेश में 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस गाँव, कस्बे, शहरी स्तर पर आयुष विभाग और योग आयोग के तत्वावधान में आठवां अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है।विधानसभा के उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा ने कहा कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के शुरुआती दौरान में ही जिन लोगों ने दैनिक जीवन में योग को अपनाया। वे लोग योग से ही निरोगी रहे हैं। योग स्वास्थ्य की समस्याओं को जड़ से दूर करने में मदद करता है। नियमित योग करने वाले व्यक्तियों के लिए योग एक बहुत ही अच्छा अभ्यास है। यह स्वस्थ जीवन शैली तथा बेहतर जीवन जीने में हमारी काफी सहायता करता है। योग वह क्रिया है, जिसके अंतर्गत शरीर के विभिन्न भागों को एक साथ लाकर शरीर, मस्तिष्क और आत्मा को संतुलित करने का कार्य किया जाता है। योग सांस लेने के अभ्यास और शारीरिक क्रियाओं का जोड़ है। योग व्यवस्थित, वैज्ञानिक और परिणाम दोनों शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के सुधारों द्वारा प्राप्त किया जा सकता है।देश और प्रदेश में छात्रों और हमारे युवाओं के बीच योग के महत्व को बढ़ावा देने के लिए हर स्कूल, कॉलेज या क्लब योग दिवस मना रहे हैं। योग शरीर और मन को स्वस्थ रखता है। शरीर में आत्मविश्वास और सकारात्मक ऊर्जा का संचार कर देता है। योग के कारण रोग शरीर में घुस नहीं सकते। हमें योग के महत्व को समझते हुए हमारे जीवन में हर दिन योग दिन बनाना चाहिए।मंगलवार 21 जून को योगा शुरू किए जाने से पहले पंडाल में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशवासियों को संबोधित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कर्नाटक मैसूर जिला में आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस में भाग लेने का लाइव प्रसारण भी सीधा योगाभ्यास से पूर्व लोगों को दिखाया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाईव के जरिए उपस्थित लोगों को संबोधित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि भारत देश महापुरुषों की भूमि है। ऋषि-मुनियों के जीवन मूल्यों का संदेश आज पूरे भारतवर्ष में योग के जरिए आम जन को दिया जा रहा है। योग से जीवन में आमूलचूल परिवर्तन आता है। योग संपूर्ण मानवता के लिए जरूरी है।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन किया जा रहा है। छात्र-छात्राओं को लाने व ले जाने के लिए रोडवेज बसों का प्रबंध किया गया था। विद्यार्थी, खिलाड़ी, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग, पंचायत विभाग के कर्मचारी व स्वयं सहायता समूह की महिलाएं काफी संख्या में योग दिवस में भाग लिया। देशभर में कोविड महामारी के बाद यह आठवां योग दिवस मनाया गया है। जिला स्तर के साथ खंड स्तर के कार्यक्रम को भी सफल बनाने में सभी विभागों के अधिकारी और कर्मचारियों की उपस्थिति भी सुनिश्चित की गई थी। योग स्थलों पर चिकित्सक व एक एंबुलेंस मौजूद रही।योग अभ्यास में विधायिका सीमा त्रिखा, हरियाणा महिला आयोग की चेयरपर्सन रेनू भाटिया, मण्डल आयुक्त संजय जून, पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा, डीसी जितेन्द्र यादव, एडीसी मोहम्मद इमरान रजा, सीईओ जिला परिषद सतेन्द्र दुहन, एसडीएम परमजीत चहल, सीटीएम नसीब कुमार, अतिरिक्त सीईओ जिला परिषद अंकिता, जिला आयुष अधिकारी डॉ. अजीत कुमार, डीआईपीआरओ राकेश गौतम, तहसीलदार नेहा सारण सहित पतंजलि प्रतिनिधियों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

फरीदाबाद में सोमवार को कोविड-19 के 117 पॉजिटिव मामले आए

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में आज सोमवार को कोरोना वायरस के 117मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है की 46 लोगों को ठीक होने पर घर भेज दिया गया है। वहीं जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 98.87 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 12 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 732 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 744 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1372 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1654541 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 131036 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1521669 लोग नेगेटिव मिले।अब तक जिला में 1567 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 7.92 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 98.87 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.57 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्य विभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623और 8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिला प्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000पर भी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई ।जिला में हाल ही में कोविड के मामलों में वृद्धि के कारण जिला सिविल सर्जन डाक्टर विनय गुप्ता ने मीडिया के माध्यम से नागरिकों से अपील की है कि वे कोविड के उचित व्यवहार का पालन करें। जैसे कि मास्क का उपयोग, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना है। जिनकी एहतियाती खुराक बाकी है कृपया तुरंत टीका लगवाएं। यदि कोई लक्षण और लक्षण विकसित होते हैं तो उनका आरटीपीसीआर परीक्षण करवाएं। सभी स्वास्थ्य संस्थानों में टीकाकरण और परीक्षण के लिए सभी व्यवस्थाएं हैं।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1752226लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1744788 हो गई है।

सम्बन्धित विभागों के अधिकारी जल शक्ति अभियान का बेहतर क्रियान्वयन करना सुनिश्चित करें: डीसी जितेंद्र यादव

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव के तहत जिला में जल शक्ति अभियान का अधिकारी बेहतर क्रियान्वयन करना सुनिश्चित करें। जल शक्ति अभियान के तहत जिस विभाग को जो जिम्मेदारी दी गई है उस जिम्मेदारी का बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित हो।डीसी जितेंद्र यादव ने आज सोमवार को जिला स्तरीय जल शक्ति अभियान की समीक्षा बैठक में यह दिशा-निर्देश विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दिए। उन्होंने अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि विभिन्न विभागों के अधिकारी सिंचाई विभाग के अधिकारियों के साथ तालमेल करके जल शक्ति अभियान के जिला दिए गए टारगेट का बेहतर क्रियान्वयन करना सुनिश्चित करें। जिस विभाग को जो भी जिम्मेदारी मिली है उसको निश्चित समय पर निर्धारित लक्ष्य के अनुसार पूरा करना सुनिश्चित करें।उपायुक्त जितेंद्र यादव ने एक-एक करके विभिन्न विभागों के विभाग वार जल शक्ति अभियान के के कार्यों की विस्तारपूर्वक समीक्षा भी की। समीक्षा के उपरांत संबंधित विभागों के अधिकारियों को दिशा निर्देश भी दिए।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि बारिश के जल की संचित बूंद का उचित संरक्षण कर जल शक्ति अभियान को प्रभावी रूप से सफल बनाने में प्रशासन अपनी सक्रिय भूमिका अदा कर रह है।उन्होंने आमजन से आह्वान करते हैं कि जल संकट की चुनौती का सामना सुदृढ़ तरीके से कर जल की महत्ता समझते हुए संरक्षित जल का सदुपयोग सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में जलशक्ति के प्रति जागरुकता और प्रयास दोनों बढ़ रहे हैं। उपायुक्त जितेन्द्र यादव का मानना है कि जब हम जब तेज विकास के लिए प्रयास कर रहे हैं, तो यह पानी की सुरक्षा और प्रभावी जल प्रबंधन के बिना संभव ही नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि भारत का विकास हमारे जल स्रोतों और कनेक्टिविटी पर निर्भर है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि पानी से जुड़ी सभी योजनाओं पर तेजी से काम हो रहा है। वहीं खेतों में छोटे-छोटे तालाब बनाकर जल को संरक्षित किया जा सकता है। इससे किसानों को फायद होगा। इसमें मनरेगा के तहत जल संरक्षण करने वाली योजनाओं को लिया गया। किस तरह से गांव में जल संरक्षण किया जा सकता है। इसको लेकर एक एक करके सभी अधिकारियो ने अपनी-अपनी राय रखी। ग्राम सभा में मिट्टी कार्य, पानी सोखता निर्माण, तालाब निर्माण सहित वृक्षा रोपण की योजनाएं शामिल की गई है।इसके अलावा आईईसी गतिविधियों के लिए लक्ष्य निर्धारण हस्तक्षेप के विभिन्न तरीके #jalshaktiabhiyan# के तहत फेसबुक, व्हाट्सएप और राज्य और जिला ट्विटर अकाउंट पर नियमित रूप से ई पोस्टर और पोस्ट, रेडियो जिंगल, जल संवाद, वैज्ञानिकों/कृषकों के साथ रेडियो साक्षात्कार, नुक्कड़ नाटक, समाचार पत्र विज्ञापन, फिल्में और वृत्तचित्र, तरु यात्रा, प्रभात फेरिस, रैलियां, मानव श्रृंखला, पौधगिरि, विशेष परियोजनाएं जैसे फसल विविधीकरण, सूक्ष्म सिंचाई, वॉल पेंटिंग, दीवारों पर स्लोगन लेखन, ब्रांड राजदूत, युवा आइकन, पाक्षिक सफलता की कहानी प्रसार प्रिंट और सोशल मीडिया, जल संरक्षण गतिविधियों के साथ जीपी/ब्लॉक/जिले का उत्सव, वनीकरण और जल संरक्षण के लिए मिनी मैराथन, रन, वॉकाथॉन, हैकाथॉन, साइकिलथोन, स्कूलों, विशेष स्कूलों, कॉलेजों और युवा क्लबों में निबंध, सोलगन लेखन, पेंटिंग, वाद-विवाद, प्रश्नोत्तरी की प्रतियोगिताएं,इलेक्ट्रॉनिक, प्रिंट, सोशल, फ्लोक मीडिया, पोस्टरों में आईईसी सामग्री का वितरण, जल चौपाल, ग्राम सभा जीपी/ब्लॉक/जिला स्तर पर बढ़ावा दे सकते है।बैठक में सीईओ जिला परिषद सत्येंद्र दुहन, सिंचाई विभाग के अधीक्षक अभियंता अश्वनी फोगाट, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उपनिदेशक डॉ वीरेंद्र आर्य सहित कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, वन विभाग, एचएसआईडीसी, जीएमडीआईसी,जिला उद्यान विभाग, पंचायत एवं जिला विकास विभाग, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी, पीडब्ल्यूडी बी एण्ड आर, शिक्षा, टाऊन प्लानिंग, एमसीएफ, महिला बाल विकास विभाग, ग्रामीण विकास अभिकरण, मत्स्य पालन, जिला सूचना जनसंपर्क विभाग सहित बैठक से संबंधित संबंधित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

सरकार ने 22 जून तक मांगे आवेदन, दो लाख रुपये तक का मिलेगा इनाम

अतिरिक्त उपायुक्त एवं मुख्य परियोजना अधिकारी डॉ. इमरान रज़ा ने बताया कि ऊर्जा संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार की ओर से 22 जून तक आवेदन मांगे गए हैं। इनमें बिजली की खपत कम करने वालों को सरकार की ओर से औद्योगिक, व्यवसायिक, सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों को राज्य स्तरीय पुरस्कार दिए जाने की योजना है।अतिरिक्त उपायुक्त एवं मुख्य परियोजना अधिकारी इमरान रज़ा ने आगे बताया कि राज्य स्तरीय पुरस्कार में ऊर्जा संरक्षण करने वालों को दो लाख रुपये तक इनाम दिया जाएगा। बड़े औद्योगिक और व्यवसायिक संस्थानों (जिनमें एक मेगावाट से अधिक लोड के उपभोक्ता शामिल हैं) को पुरस्कार राशि के तौर पर मुख्यमंत्री हरियाणा की ओर से सर्टिफिकेट एवं शील्ड देकर सम्मानित किया जाएगा। अतिरिक्त उपायुक्त एवं मुख्य परियोजना अधिकारी इमरान रज़ा ने बताया कि पंजीकृत एमएसएमई औद्योगिक संस्थान जिनका कनेक्टेड लोड 100 किलोवाट से 1 मेगावाट तक है।ऐसे उपभोक्ताओं को पुरस्कार राशि के रूप में 2 लाख रुपये तक मिलेंगे। इसी तरह सरकारी भवन और कार्यालय जिनका कनेक्टेड लोड 30 किलोवाट से 500 किलोवाट तक है, उनको एक लाख रुपये तक की पुरस्कार राशि दी जाएगी। उन्होंने बताया कि आवेदन करने की अंतिम तिथि 22 जून 2022 है। अधिक जानकारी के लघु सचिवालय सेक्टर 12 स्थित उपायुक्त कार्यालय में किसी भी कार्य दिवस में सम्पर्क किया जा सकता है।

अंतर्राष्ट्रीय योगा दिवस में विधानसभा उपाध्यक्ष रणबीर सिंह गंगवा होंगे मुख्य अतिथि : नगराधीश नसीब कुमार

नगराधीश नसीब कुमार ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में आठवें योगा दिवस का आयोजन 21 जून को सुबह 6 बजे स्थानीय खेल परिसर सेक्टर-12 में किया जाएगा।अंतर्राष्ट्रीय योगा दिवस में विधानसभा उपाध्यक्ष रणबीर सिंह गंगवा मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित रहेंगे।नगराधीश ने यह जानकारी लघु सचिवालय के सभागार में योगा दिवस को लेकर बुलाई गई समीक्षा बैठक में दी। उन्होंने कहा कि आठवें अंतर्राष्ट्रीय योगा दिवस से एक दिन पहले 20 जून को सुबह छ: बजे जिला स्तर पर योग मैराथन करवाई जाएगी। जिसमें जिला के खिलाड़ी भाग लेंगे। यह मैराथन खेल परिसर सेक्टर-12 से शुरू होकर शहर के विभिन्न स्थानों से गुजर कर वापिस खेल परिसर में समाप्त होगी। इस दौरान यातायात पुलिस ट्रैफिक कंट्रोल के लिए मुस्तैद रहेगी। उन्होंने बताया कि 21 जून को सुबह 6 बजे आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाएगा। इसमें विधानसभा के उपाध्यक्ष रणबीर सिंह गंगवा मुख्य अतिथि तथा विधायक सीमा त्रिखा, विधायक नरेंद्र गुप्ता, विधायक नयन पाल रावत, विधायक राजेश नागर विशिष्ट अतिथि के रूप में शिरकत करेंगे। उन्होंने बताया कि योगा शुरू किए जाने से पहले पंडाल में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशवासियों को संबोधित करेंगे। सुबह आठ बजे अल्पाहार के साथ कार्यक्रम का समापन होगा। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने इस आयोजन को भव्य बनाने के निर्देश दिए हैं।नगराधीश ने कहा कि खेल परिसर सेक्टर 12 के अलावा बल्लभगढ़ सेक्टर-2, राजकीय शहीद स्मारक कॉलेज तिगावं में खंड स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन होगा। इनमें छात्र-छात्राओं को लाने व ले जाने के लिए रोडवेज बसों का प्रबंध किया गया है। उन्होंने बताया कि विद्यार्थी, खिलाड़ी, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग, पंचायत विभाग के कर्मचारी व स्वयं सहायता समूह की महिलाएं काफी संख्या में योग दिवस में भाग लेंगी। देशभर में कोविड महामारी के बाद यह आठवां योग दिवस मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिला स्तर के साथ खंड स्तर के कार्यक्रम को भी सफल बनाने में सभी विभागों के अधिकारी और कर्मचारियों की उपस्थिति भी सुनिश्चित की गई है।योगा स्थलों पर चिकित्सक व एक एंबुलेंस मौजूद रहेगी। योग दिवस के लिए शहर और जिला में पूरा प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।इस बैठक में आयुष विभाग के डॉ. अजीत सिंह, डीसीपी सतपाल सिंह, डीआरओ बिजेन्द्र राणा, डीआईपीआरओ राकेश गौतम, शिक्षा, खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग, परिवहन विभाग के यातायात प्रबंधक,जिला रेडक्रास, कॉलेज, विश्वविद्यालयों, आईटीआई, पतंजलि, ओम शांति के प्रतिनिधियों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

मेरा पानी मेरी विरासत योजना लागू : डीसी जितेन्द्र यादव

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव के तहत सरकार द्वारा इस वर्ष 2022 में भी फसल विविधीकरण योजना मेरा पानी मेरी विरासत को लागू कर दिया गया है। मेरा पानी मेरी विरासत योजना गत वर्ष की भांति जिला फरीदाबाद में भी लागू कर दी गई है। उन्होंने इस योजना को क्रियान्वित करने की जानकारी देते हुए बताया जाता है कि फसल विविधीकरण को बढ़ावा देने तथा तकनीकी जानकारी किसानों को गांव स्तर पर कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा वैकल्पिक फसलें बिजाई करने के लिए पूर्ण जानकारी दी जाएगी।डीसी जितेन्द्र यादव ने कहा कि कृषि विभाग व कृषि विज्ञान केन्द्रो द्वारा किसानों को वैकल्पिक फसलों की आधुनिक तकनीक से बिजाई करने व अच्छी पैदावार लेने के लिए प्रदर्शन प्लॉट भी आयोजित किए जाएंगे। इस योजना का लाभ लेने हेतु इच्छुक किसानों को “मेरा पानी मेरी विरासत” पोर्टल पर आगामी 30 जून 2022 तक पंजीकरण करना होगा।कृषि एवं किसान कल्याण विभाग से मिली जानकारी के अनुसार इस योजना के तहत किसानों को धान के स्थान पर वैकल्पिक फसलों कपास, मक्का, दलहन मूंग, अरहर और मूंगफली, तिल, ग्वार, अरहड, सब्जियां व फल की बिजाई करनी होगी। जिसके फलस्वरूप किसानों को सरकार द्वारा प्रति एकड़ 7000/-रु० की प्रोत्साहन धनराशि दो किस्तों में दी जाएगी। इस स्कीम का लाभ लेने के लिए किसान को अपनी फसल का मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल fasal.haryana.gov.in पर पंजीकरण करके मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम से जुड़ना होगा। उन्होंने आगे बताया कि किसानों को 7000 /- रुपये की धनराशि एकड़ लाभार्थियों को पहली किश्त कृषि विकास अधिकारी/उद्यान विकास अधिकारी/ पटवारी/ नम्बरदार की कमेटी द्वारा भौगोलिक वेरिफ़िकेशन/ Physical Verification उपरान्त मिलेगी।इस योजना के तहत जिन किसानों ने पिछले वर्ष अपने धान के क्षेत्र को वैकल्पिक फसलों द्वारा विविधीकरण किया था और चालू खरीफ सीजन में भी यदि वो उस क्षेत्र में वैकल्पिक फसलों की बिजाई करते है। तो उन्हें भी प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इस योजना धरातल वेरिफ़िकेशन अंतर्गत जो किसान पिछले वर्ष धान बिजित क्षेत्र में चारे की फसल लेते है व अपने खेत को खाली रखते है तो उन्हें भी प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत सभी वैकल्पिक फसलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकार द्वारा खरीदा जाएगा। इस फसल विविधीकरण योजना के अंतर्गत सभी वैकल्पिक फसलों का बीमा भी कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा करवाया जाएगा। जिसके प्रीमियम की अदायगी प्रोत्साहन राशि से की जाएगी।

सरकार ने लांच किया कलाकार पंजीकरण पोर्टल : राकेश गौतम

हरियाणा में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी अमृत महोत्सव के तहत प्रदेश के कलाकारों के लिए नई पहल शुरू की है। हरियाणा सरकार ने कलाकारों के लिए कलाकार पंजीकरण पोर्टल लांच किया गया है। जिस पर कलाकार गत 01 जून से आगामी 31 जुलाई, 2022 तक अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी राकेश गौतम ने यह जानकारी दी। उन्होंने हरियाणा सरकार की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि इस पोर्टल के माध्यम से जिला के लोक कलाकारों को कला एवं सांस्कृतिक विभाग से जुड़ने का बहुत ही बेहतरीन मौका मिलेगा। उन्होंने आगे बताया कि सरकार की ओर से कला एवं संस्कृति के संरक्षण एवं संवर्धन के उद्देश्य से यह निर्णय लिया गया है। राकेश गौतम ने आगे बताया कि इस पोर्टल की विशेषता यह है कि इस पर इच्छुक कलाकार स्वयं अपना पंजीकरण कर सकते हैं। इस पोर्टल के माध्यम से कलाकारों को आजीविका के अवसर मिलने के साथ-साथ उनकी कला एवं हुनर को नई पहचान भी मिलेगी। उन्होंने कहा कि कलाकारों को पोर्टल पर केवल एक बार ही पंजीकरण करना होगा। उन्होंने बताया कि कलाकार अधिक जानकारी के लिए विभाग के दूरभाष नम्बर 0172-2793896, 2793897 पर भी सम्पर्क कर सकते हैं।

फरीदाबाद के 49 सरकारी और 9 प्राइवेट अस्पतालों में लोगों को दी जा रही है कोविड-19 वैक्सीनेशन : डीसी जितेंद्र यादव

जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला के 49 सरकारी और 9 प्राइवेट अस्पतालों में लोगों को वैक्सीनेशन की जा रही है। यह वैक्सीन पहले आओ, पहले पाओ की नीति पर लोगों को किए जा रहे हैं।डीसी जितेंद्र यादव ने बताया कि 12 प्लस, 15 प्लस और 18 प्लस की आयु के लोगों को सीओबीवैक्स, को वैक्सीन और कोविशील्डके वैक्सीनेशन वैक्सीन केंद्रों पर किए जा रहे हैं।जिला में हाल ही में कोविड के मामलों में वृद्धि के कारण जिला सिविल सर्जन डॉक्टर विनय गुप्ता ने मीडिया के माध्यम से नागरिकों से अपील की है कि वे कोविड के उचित व्यवहार का पालन करें। जैसे कि मास्क का उपयोग, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना है। जिनकी एहतियाती खुराक बाकी है कृपया तुरंत टीका लगवाएं। यदि कोई लक्षण और लक्षण विकसित होते हैं तो उनका आरटीपीसीआर परीक्षण करवाएं। सभी स्वास्थ्य संस्थानों में टीकाकरण और परीक्षण के लिए सभी व्यवस्थाएं हैं।वैक्शीनेशन अभियान के नोडल अधिकारी डॉ मान सिंह ने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में आदर्श नगर यूपीएचसी, एसी नगर यूपीएचसी, अगंनपुर यूपीएचसी, एत्मादपुर यूपीएचसी, बल्लभगढ़ एसडीएच, भीम बस्ती यूपीएचसी, भारत कॉलोनी यूपीएचसी, नागरिक अस्पताल बीके, डबुआ कॉलोनी यूपीएचसी, धौज पीएचसी, भारत कॉलोनी यूपीएचसी, ईएसआई एक डिस्प, ईएसआई दो डिस्प, ईएसआई तीन डिस्प, ईएसआई 4 डिस्प, ईएसआई 5 डिस्प, ईएसआई 6 डिस्प, ईएसआई 7डिस्प, ईएसआई सेक्टर 8, ईएसआई सेक्टर 55, पीसीसी एनएच- 3, फतेहपुर तेगा पीएचसी, एफ आरयू सेक्टर- 30, एफआरयू सेक्टर-3, हरी विहार यूपीएचसी, खेड़ी कला सीएचसी, मेवला महाराज यूपीएचसी मुजेसर यूएचसी, नंगला एन्क्लेव यूपीएचसी, पाली पीएचसी, पल्ला पीएचसी, प्रतापगढ़ यूपीएचसी, संजय कॉलोनी यूएचसी, सारण यूपीएचसी, सेहतपुर यूएचसी, एसजीएम नगर यूएचसी, शिव दुर्गा विहार यूपीएचसी, सुभाष कॉलोनी यूपीएचसी, सूरजकुंड डिस्प, राजीव कॉलोनी यूपीएचसी, पन्हेड़ा पीएचसी, कुराली सीएचसी, मोहना पीएचसी, तिगांव पीएचसी, छायसा पीएचसी, दयालपुर पीएचसी सीकरी पीएससी, सिविल अस्पताल डिस्प सेक्टर-7 सहित सरकारी अस्पतालों में लोगों को वैक्सीनेशन की जा रही है। एसएमओ डॉ मान सिंह ने आगे बताया कि 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को क्यूआरजी मेडिकेयर लिमिटेड, फोर्टिस एस्कॉर्ट्स अस्पताल, एशियन अस्पताल, शंकर अस्पताल, सर्वोदय सेक्टर- 8, सर्वोदय सेक्टर-19, संतोष अस्पताल और मेट्रो अस्पताल में भी लोगों को वैक्सीनेशन किए जा रहे हैं।

सीजेएम श्रीमती सुकीर्ति गोयल ने बाल संस्थान का किया औचक निरीक्षण

सीजेएम एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्रीमती सुकिर्ती गोयल ने बुधवार सायं बाल संस्थान का औचक निरीक्षण किया।सीजेएम सुकीर्ति ने बताया कि गांव तिगांव स्थित बाल गृह संस्थान प्रणव कन्या संघ में निरीक्षण किया। जहां पर बच्चों से संबंधित संस्थान के इंचार्ज से जानकारी ली।वहां रह रहे बच्चों के स्वास्थ्य व शिक्षा और अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया। जहां पर संस्थान में कुल 10 बच्चों से भी निजी स्तर पर जानकारी ली।बाल संस्थान की इंचार्ज ने बताया कि बच्चों को सभी प्रकार की मूलभूत सुविधाएं मिल रही हैं। बच्चों का ग्रीष्मावकाश प्रारंभ हो चुका है। अवकाश के दौरान बच्चों को स्वस्थ व एक्टिव रखने के लिए योगा, ड्रॉइंग व संगीत का अभ्यास करवाया जाता है।

आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस बारे समीक्षा बैठक आज : डीसी जितेन्द्र यादव

उपायुक्त जितेन्द्र यादव के कुशल मार्गदर्शन में आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में आज शुक्रवार 17 जून को दोपहर बाद 03:30 बजे लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस बारे समीक्षा बैठक आयोजित की जाएगी। सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की तहत जिला में विभाग वार जिम्मेदारी सौंपी गई है। आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए खेल परिसर सेक्टर- 12 में तीन दिवसीय योगा प्रोटोकॉल कार्यक्रम पूरा कर लिया गया है। जिला आयुष अधिकारी फरीदाबाद डॉ अजीत सिंह ने बताया कि आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2022को सफल बनाने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम पूरा कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि सबसे पहले तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन गत 28 मई से 30 मई तक सुबह 6.00से 7:30 बजे तक किया गया था। इस प्रशिक्षण शिविर में फरीदाबाद के सभी प्राइवेट एवं सरकारी संस्थानों के पीटीआई एवं डीपीई को पतंजलि योग समिति एवं आयुष विभाग फरीदाबाद के योग विशेषज्ञ द्वारा योगा प्रोटोकॉल के तहत प्रशिक्षित किया गया। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए योगाभ्यास कार्यक्रम के तहत गत 1 जून 2022 से 3 जून 2022 तक अपने अपने प्राइवेट एवं सरकारी संस्थानों में सभी बच्चों को प्रशिक्षित किया गया है। जिला आयुष अधिकारी ने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का अभ्यास गत 9 से 11जून को ब्लाक स्तर आयोजित किया गया। उन्होंने आगे बताया कि आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए सरकारी कार्यालयों में ब्लाक स्तर पर तीन दिवसीय योगा प्रोटोकोल कार्यक्रम के उपरान्त 13 से 15 जून को जिला स्तर पर तीन दिवसीय योग प्रोटोकॉल कार्यक्रम भी पूरा कर लिया गया है।उन्होंने आगे बताया कि 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस जिला में आयोजित किए जाने के सम्बन्ध में आज समीक्षा बैठक में दिशा-निर्देश अधिकारियों को दिए जाएंगे। आपको बता दें कि आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए खेल परिसर सेक्टर-12 में तीन दिवसीय योगा प्रोटोकॉल कार्यक्रम गत रविवार को शुरू किया गया था। आठवें अंतर्राष्ट्रीय योगदिवस 21 जून 2022 को सफल बनाने के लिए ये प्रशिक्षण कार्यक्रम पूरे कर लिए गए है। आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस से पूर्व 20 जून को जिला स्तर और ब्लॉक स्तर पर रिहर्सल करने और मैराथन करवाने सहित तमाम पहलुओं पर ड्युटिया सुनिश्चित की गई है। इसके अलावा पीने के पानी की व्यवस्था, वीवीआईपी और वीआईपी लोगों के योगाभ्यास करने की व्यवस्था, एम्बुलेंस, नींबू पानी,बच्चों के लिए यातायात व्यवस्था सहित अन्य ड्यूटिया भी सुनिश्चित की गई है। योगा प्रोटोकॉल के तहत इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में ग्रीवा चालन, कटी चालन एवं पेट से संबंधित सभी योग एवं प्राणायाम सिखायागया। प्रशिक्षण शिविर का आयोजन आठवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2022 को सफल बनाने के लिए आयुष विभाग फरीदाबाद द्वारा किया गया है।

जिला विकास कोआर्डिनेशन एंड मॉनिटरिंग कमेटी के की बैठक 22 जून को : डीसी जितेंद्र यादव

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला विकास कोआर्डिनेशन एंड मॉनिटरिंग कमेटी की बैठक 22 जून को आयोजित की जाएगी। बैठक की अध्यक्षता जिला विकास कोआर्डिनेशन एण्ड मॉनिटरिंग कमेटी के चेयरमैन कम फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र के सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर करेंगे। बैठक में जिला के सभी विभागों के जिला अधिकारी भाग लेना सुनिश्चित करेंगे।

अंत्योदय परिवार उत्थान मेलों के क्रियान्वयन से सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की नीति को क्रियान्वित : विधायक राजेश नागर

विधायक राजेश नागर ने कहा कि मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत अंत्योदय परिवार उत्थान मेले का आयोजन सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में तिगांव के शहीद स्मारक कॉलेज में डीआरओ बिजेन्द्र राणा की अध्यक्षता में आयोजित किया गया है। अंत्योदय परिवार उत्थान मेले में बद्रौला से आए लाभार्थी सुरेंद्र कुमार और शांति के हाथों रिबन कटवाकर शुभारंभ करवाया। एमएलए राजेश नागर ने कहा कि जिला में अब तीसरे चरण के मेलों का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में अंत्योदय की भावना के साथ सबका साथ-सबका विकास व सबका विश्वास जीतते हुए गरीब परिवारों की आय बढ़ाने के लिए कृतसंकल्प है। हरियाणा सरकार द्वारा आयोजित किए जा रहे मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान मेलों के माध्यम से समाज में अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का सीधा लाभ पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार जनसेवा को समर्पित होकर अंत्योदय की भावना से अंतिम व्यक्ति के उत्थान में सराहनीय व उल्लेखनीय कदम उठा रही है। गरीब परिवारों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने के लिए मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना लागू की गई है, जिसका मुख्य उद्देश्य अंत्योदय की भावना से जरूरतमंद को आर्थिक रूप से लाभान्वित करना है। यह योजना गरीब उत्थान में मिल का पत्थर साबित हो रही है। उन्होंने कहा इस योजना के तहत लघु उद्यमियों को बढ़ावा दिया जा रहा है। इस योजना के तहत उन परिवारों को शामिल किया गया है। जिनकी वार्षिक आय एक लाख रुपए से कम हैं और उनकी आय को एक लाख 80 हजार रुपए तक पहुंचाना प्रदेश सरकार का मुख्य लक्ष्य है। सरकार की ओर से तीन फेज में पात्रता निर्धारित की गई है और उसी अनुरूप योजनाओं का लाभ जरूरतमंद लोगों को अंत्योदय मेले से दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अधिकारी मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना (एमएमएपीयूवाई) के तहत चिन्हित परिवारों की आय बढ़ाने के लिए प्रयास करें।उन्होंने बताया कि आवेदक परिवार पहचान पत्र, आधार कार्ड, बैंक खाता कॉपी, पासपोर्ट साइज़ फोटो, वोटर कार्ड आदि ये दस्तावेज़ जरूर लाए। एडीसी डॉक्टर मोहम्मद इमरान रजा ने कहा कि मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को आजीविका के संसाधन उपलब्ध करवाने के लिए अंत्योदय मेले के सही क्रियान्वित करने से निश्चित तौर पर आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की आय बढेगी। सरकार का मुख्य ध्येय यही है कि गरीब लोगों को समाज की मुख्यधारा से जोड़कर मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना से गरीबों की आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। एडीसी डॉक्टर मोहम्मद इमरान रजा आज बुधवार को मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत तृतीय चरण के तीसरे मेले के शुभारंभ अवसर पर तिगांव कॉलेज परिसर में आयोजित अंत्योदय मेले का अवलोकन कर रहे थे। मेले में हरियाणा राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन, हरियाणा पिछडे वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवारों को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए ग्रामीण स्वरोजगार द्वारा प्रशिक्षण योजना, कल्याण निगम दीनदयाल अंत्योदय योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण, अल्पसंख्यक समुदाय के व्यक्तियों के लिए सावधि आजीविका मिशन योजना, ऋण योजना क्रेडिट लाइन, दीनदयाल उपाध्याय-ग्रामीण कौशल योजना, पिछड़े वर्ग के व्यक्तियों के लिए सावधि ऋण योजना, दिव्यांगों के लिए सेवा और व्यापार क्षेत्र में लघु इकाई, पशुपालन और डेयरी विभाग व्यवसाय योजना, दिव्यांगजन स्वावलंबन योजना, हाइटेक डेयरी, मिनी डेयरी इकाइयों की स्थापना,पिछड़े वर्ग के व्यक्तियों के लिए शैक्षिक ऋण योजना, अल्पसंख्यक समुदाय के व्यक्तियों के लिए पशुधन इकाइयों, डेयरी, सूअर, भेड़ व बकरी ऋण योजना क्रेडिट लाइन, इकाई की स्थापना करके अनुसूचित जातियों को रोजगार के अवसरों के लिए योजना, विकास एवं पंचायत विभाग, सामान्य, ओ.बी.सी.वर्ग के लिए सूअर, भेड़ व बकरी पालन, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण इकाई की स्थापना करके रोजगार के अवसरों के लिए हरियाणा ग्रामीण विकास योजना लिए योजना, नाबार्ड प्रायोजित कार्य, बैकयार्ड, कुक्कुट इकाइयों की स्थापना के लिए योजना, हरियाणा ग्रामीण विकास निधि प्रशासनिक बोर्ड कार्य, ग्राम निधि, पंद्रहवें वित्त आयोग अनुदान और राज्य शहरी स्थानीय निकाय विभाग वित्त आयोग अनुदान कार्य, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, हरियाणा तालाब एवं अपशिष्ट जल प्रबंधन, पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि (पीएम स्वनिधि) प्राधिकरण के तहत तालाब जीर्णोद्धार कार्य, महिला एवं बाल विकास, खेल, पशु पालन आदि हरियाणा अनुसूचित जातियां वित्तीय एवं विकास निगम विभिन्न विभागों के जमा कार्य, महिला अधिकारिता योजना (नेशनल सफाई कर्मचारी हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद, फाइनेंस ऐंड डेवलपमेंट कारपोरेशन, सावधि ऋण (नेशनल सफाई कर्मचारी फाइनैंस ऐंड ब्यूटी केयर प्रशिक्षण डेवलपमेंट कारपोरेशन, कम्प्यूटर प्रशिक्षण, कृषि क्षेत्र (बैंक टाई अप), सिलाई एवं कढ़ाई प्रशिक्षण, औद्योगिक क्षेत्र (बैंक टाई अप), हरियाणामहिला विकास निगम, व्यापारिक क्षेत्र (बैंक टाई अप), विधवाओं केलिए अनुदान योजना, व्यावसायिक क्षेत्र उद्यान विभाग मधुमक्खी पालन, एकीकृत बागवानी विकास के लिए योजना, हरियाणाडेयरी विकास सहकारी प्रसंघ लि, मशरूम की खेती, एकीकृत बागवानी विकास के लिए, वीटा बूथों का आवंटन योजना, रोजगार विभाग, हरियाणा कौशल विकास मिशन, सक्षम युवा योजना, सूर्य योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, हरियाणा रेड क्रॉस सोसाइटी, चालक प्रशिक्षण होम नर्सिंग प्रशिक्षण, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम निदेशालय, मत्स्य पालन विभाग, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी), मत्स्य क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले अनुसूचित, प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण उद्योंग, अन्य जातियों के परिवार का कल्याण औपचारिककरण (पीएमएफएमई) योजना, मछली पालन, प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा सहित तमाम विभागों द्वारा मुख्यमंत्री अंतोदय परिवार उत्थान योजना के तहत गरीब और जरूरतमंद लोगों को सहायता सरकार द्वारा निर्धारित हिदायतों के अनुसार दी गई। एडीसी ने विभागों की योजनाओं को दर्शाती स्टॉल का अवलोकन करते हुए आवश्यक निर्देश भी दिए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों से रूबरू होते हुए विभागीय स्तर पर प्रदत्त सेवाओं को तत्परता से सरल तरीके से योजना का लाभ पात्र व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए प्रेरित किया। इस मेले में प्रशासन द्वारा आमंत्रित लाभार्थियों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया और अधिकतर लाभार्थियों को रोजगार, स्वरोजगार, वेतन सहायता व अन्य लाभ दिया गया। इस अवसर पर एडीसी डॉक्टर मोहम्मद इमरान रजा, डीआरओ बिजेन्द्र राणा, मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी करण कपूर, नायब तहसीलदार सुरेन्द्र कुमार सहित संबंधित विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे।

सेक्टर-12 स्थित खेल परिसर में शुरू हुआ योगाभ्यास

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष में सेक्टर-12 स्थित खेल परिसर में तीसरे दिन योगाभ्यास कार्यक्रम आयोजित किया गया। सीटीएम नसीब कुमार ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की शृंखला में आज बुधवार को जिला स्तरीय आठवां अंतर्राष्ट्रीय योगाभ्यास शुरू किया गया।उन्होंने कहा कि नियमित योग करने से शरीर निरोग रहता है। मन और आचरण भी शुद्ध रहता है। योग भारतीय सांस्कृतिक विरासत है, जिसका लाभ पूरी दुनिया उठा रही है। हमारी बदलती जीवनशैली को संतुलित रखने में योग की भूमिका महत्वपूर्ण है।एसडीएम पंकज सेतिया ने योग का महत्व बताते हुए कहा कि इससे व्यक्ति मानसिक और शारीरिक, दोनों रूप से स्वस्थ रहता है। योग से बीमारियां दूर होती हैं। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का दिन भारत के लिए खास महत्व रखता है इसलिए इस दिन सभी योग अवश्य करें और योग को जीवन में भी अवश्य अपनाएं। एसडीएम परमजीत चहल ने बताया कि आगामी 20 जून को सुबह 6 से 7 बजे तक योगाभ्यास उसके बाद जिला स्तरीय मैराथन दौड़ का भी आयोजन किया जाएगा। उसके बाद 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा। इस कार्यक्रम में योग प्रोटोकॉल का अभ्यास सभी मिलकर करेंगे। कार्यक्रम में शहर के आम लोग ही नहीं अधिकारी, कर्मचारी, सीनियर सिटीजन, दिव्यांग और विभिन्न वर्गों से जुड़े लोग शामिल होंगे।
योगाभ्यास में एमसीएफ के ज्वाइंट कमिश्नर डॉक्टर नरेश कुमार, एसडीएम पंकज सेतिया, एसएसडीए परमजीत चहल, तहसीलदार नेहा सहारन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी और पतंजलि योग समिति तथा अन्य योग संस्थानों के प्रतिनिधि व शहर के गणमान्य लोग भी मौजूद रहे।

उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी जितेन्द्र यादव ने पंचायती राज जनप्रतिनिधि चुनाव के लिए मतदाताओं की फोटोयुक्त मतदाता सूचि प्रकाशन बारे की बैठक में राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों के साथ मंत्रणा

उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी जितेन्द्र यादव ने जिला में ग्राम पंचायतों, पंचायत समितियों और जिला परिषदों के मतदाताओं की फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का प्रकाशन तैयार करने के संबंध में विभिन्न राजनीतिक पार्टियों और राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में मंत्रणा की।डीसी जितेन्द्र यादव ने बैठक में अधिकारियो को दिशा-निर्देश भी जारी किए। यह दिशा-निर्देश भारतीय निर्वाचन आयोग और प्रदेश निर्वाचन आयोग की हिदायतों के अनुसार जारी किए गए। बैठक में भाजपा के प्रतिनिधि तेज सिंह सैनी, जेजेपी के ठाकुर राजा राम सिंह, बहुजन समाज पार्टी के मनोज चौधरी, उपकार सिंह, एनपी सिंह, सीपीआई के प्रतिनिधि मिथलेश कुमार, सीपीआईएम के विरेन्दर सिंह सहित सीईओ जिला परिषद सतेन्द्र दुहन, एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहल, एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोक चंद, एसडीएम बङखल पंकज सेतिया, सीटीएम नसीब कुमार, अतिरिक्त सीईओ जिला परिषद अंकिता सहित अन्य अधिकारी गण उपस्थित रहे।डीसी जितेन्द्र यादव ने बताया कि राज्य निर्वाचन आयोग, हरियाणा के निर्देशानुसार पंचायती राज अधिनियम 1994 के सैक्सन 163 तहत भारतीय चुनाव आयोग द्वारा पहली जनवरी, 2022 को आधार तिथि मानकर 16 मई, 2022 को जारी की गई संबंधित विधानसभा क्षेत्रों की मतदाता सूचियों को राज्य की सभी ग्राम पंचायतों, पंचायत समितियों और जिला परिषदों में वितरित किया गया है। ताकि इनके आधार पर ग्राम पंचायतों, पंचायत समितियों और जिला परिषदों के मतदाताओं की फोटोयुक्त मतदाता सूचियां तैयार की जा सकें। ग्राम पंचायतों, पंचायत समितियों और जिला परिषदों के मतदाताओं की वार्डवार एवं बूथवार ड्राफ्ट सूची 13 जून, 2022 तक तैयार किया गया और आपत्तियां एवं दावे आमंत्रित करने के लिए इन सूचियों का प्रारंभिक ड्राफ्ट प्रकाशन 15 जून, 2022 को किया गया है की एक-एक प्रति राजनीतिक पार्टियों और राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को सौंपी गई है। जिला निर्वाचन अधिकारी जितेन्द्र यादव ने कहा कि पंचायत राज संस्थाओं की वोटर लिस्ट में नाम शामिल करवाने के लिए विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र की मतदाता सूची में नाम शामिल करवाना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की मतदाता सूचियों के प्रासंगिक भाग को वार्डों में बदलकर नेशनल इंफर्मेटिक्स सेंटर (एनआईसी) की मदद से सभी ग्राम पंचायतों, पंचायत समितियों और जिला परिषदों की फोटोयुक्त मतदाता सूची तैयार की जाएगी।जिला उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं की वार्ड वार मतदाता सूचियां तैयार करने के लिए निर्वाचन अधिकारी व उप निर्वाचन अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। विधानसभा मतदाता सूची अनुसार पंचायती राज संस्थाओं के वार्ड वार मतदाता सूचियां तैयार करने के लिये निर्वाचक अधिकारी व उप निर्वाचक अधिकारी नियुक्त किए गए है।जिला निर्वाचन अधिकारी जितेन्द्र यादव ने बताया कि जिला फरीदाबाद में पंचायती राज जनप्रतिनिधियों के लिए फोटो युक्त मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 22 जुलाई, 2022 को किया जाएगा। जिला निर्वाचन अधिकारी जितेन्द्र यादव ने कहा कि आपत्तियां एवं दावे 21 जून, 2022 को सायं चार बजे तक प्रस्तुत किए जा सकेंगे। इन दावों एवं आपत्तियों का निपटान सम्बन्धित निर्वाचन अधिकारी द्वारा 28 जून, 2022 को किया जाएगा। जिसके विरुद्ध पहली जुलाई, 2022 तक जिला निर्वाचन अधिकारी के पास अपील दायर की जा सकती है। सक्षम प्राधिकारी द्वारा इन अपीलों का निपटान 6 जुलाई, 2022 तक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 22 जुलाई, 2022 को किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मतदाताओं की सुविधा के लिए वोटर इंफोरमेंशन और क्लेक्शन सैन्टर स्थापित किये गए हैं। मतदाताओं की सुविधा के लिये ग्राम पंचायत, पंचायत समिति और जिला परिषद स्तर पर वोटर इंफोरमेंशन और क्लेक्शन सैन्टर स्थापित किए गए है। ग्राम पंचायत स्तर पर संबंधित आंगनवाडी सेंटर, पंचायत समिति स्तर पर संबंधित बीडीपीओ कार्यालय और जिला परिषद स्तर सीइओ जिला परिषद कार्यालय में वोटर इंफोरमेंशन और क्लेक्शन सैन्टर स्थापित किए गए है। जहां पर संबंधित इंचार्ज द्वारा वोटर लिस्ट संबंधी दावें और आपत्तियों के लिये फार्म उपलब्ध हैं। इसके अलावा इन केंद्रों पर वोटर लिस्ट की प्रति भी उपलब्ध करवाई जाएगी, ताकि मतदाता लिस्ट में अपने नाम की जांच करवा सकें।

योग को अपनाना सही मायनों में एक क्रांतिकारी कदम है : उपायुक्त जितेन्द्र यादव

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में मंगलवार को आठवें अन्तर्राष्ट्रीय योगाभ्यास के उपलक्ष्य में दूसरे दिन जिला स्तरीय योग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। शिविर के दौरान उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने योग का महत्व बताया और कहा कि हमें योग योग को अपने दैनिक जीवन का एक अभिन्न अंग बनाना होगा। उन्होंने कहा कि अगर हमारा शरीरस्वस्थ है तो हमारा मन भी स्वस्थ होगा और हम आर्थिक रूप से भी मजबूत होंगे।उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में 21 जून को मनाए जाने वाले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियों को लेकर के जिला स्तर पर तमाम इंतजाम कर योगाभ्यास शुरू किया गया है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि योग को अपनाना सही मायनों में एक क्रांतिकारी कदम है, क्योंकि व्यक्तिगत रूपांतरण के बिना, सारे संसार का रूपांतरण नहीं किया जा सकता। योग एक ऐसा सिस्टम है जो तार्किक तौर पर उचित तथा वैज्ञानिक रूप से मान्य है। यौगिक सिस्टम को हर व्यक्ति तक ले जाने का प्रयत्न, मनुष्य के जीवन में अच्छी सेहत, कल्याण तथा प्रचुरता की इच्छा को पूरा करने से जुड़ा है।उन्होंने कहा की आठवा अन्तर्राष्ट्रीय योगाभ्यास सेक्टर-12खेल परिसर में किया गया है। उन्होंने बताया कि आगामी 20 जून को सुबह जिला स्तरीय मैराथन दौड़ का भी आयोजन किया जाएगा। उसके बाद 21 जून को योग दिवस मनाया जाएगा। योगाभ्यास में एसडीएम परमजीत चहल, एमसीएफ के ज्वाइंट कमिश्नर डॉक्टर नरेश कुमार, तहसीलदार नेहा सारण सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी और पतंजलि योग समिति तथा अन्य योग संस्थानों के प्रतिनिधि व शहर के गणमान्य लोग भी मौजूद रहे।

तिगांव के शहीद स्मारक कॉलेज में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान मेला आज 15 जून को : एडीसी डॉक्टर मोहम्मद इमरान रजा

अतिरिक्त उपायुक्त डॉक्टर मोहम्मद इमरान रजा ने कहा कि तीसरे राउंड के शेड्यूल अनुसार जिला में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत तीसरा मेला 15 जून को तिगांव के शहीद स्मारक कॉलेज में डीआरओ बिजेन्द्र राणा की अध्यक्षता में आयोजित किया जाएगा। मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान मेलों के जिला नोडल अधिकारी एवं एडीसी ने मेलों के आयोजन की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया अंत्योदय परिवार उत्थान मेले में लगभग 300 पात्र लाभार्थियों को सरकार की किसी योजना के साथ जोड़कर उनकी आय बढ़ाने की कोशिश होगी।एक लाख रुपए से कम आय वाले परिवारों को तीसरे चरण के मेलों के लिए चुना गया है। मेलों के माध्यम से इन परिवारों की आय को एक लाख 80 हजार रुपए तक वाले परिवारों की आय को बढ़ाने का लक्ष्य है। बुधवार 15 जून को तिगांव ब्लॉक के लिए शहीद स्मारक कॉलेज में डीआरओ बिजेन्द्र राणा की अध्यक्षता में आयोजित किया जाएगा। एडीसी डॉक्टर मोहम्मद इमरान रजा ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में जिला में योग्य व्यक्तियों की पहचान कर ली गई है। उन्होंने कहा कि सरकार आजादी के अमृत महोत्सव श्रृंखला के तहत जिला में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान मेलों का तीसरा चरण 10 जून से शुरू किया गया था।एडीसी ने बताया कि मुख्यमंत्री परिवार उत्थान योजना के तहत जिला में अन्तोदय परिवार उत्थान मेलों के तीसरे चरण के लिए जिला में ग्रामीण क्षेत्र में ब्लाक स्तरीय और शहरी क्षेत्रों उपमंडल वाइज लगभग 1500 अन्तोदय गरीब परिवारों की पहचान कर ली गई है। उन्हें रोजगार मुहैया करवाने के लिए जिला में अन्तोदय परिवार उत्थान मेलों की शुरुआत का यह तीसरा मेला है। एडीसी ने बताया कि लाभार्थी परिवार को मेलों में लाने और ले जाने के लिए बसों के जरिये परिवहन व्यवस्था भी की गई है।बल्लभगढ़ ब्लाक के ग्रामीण क्षेत्रों से 300 गरीब परिवारों को 10 जून को, गत सोमवार को फरीदाबाद में 300गरीब परिवारों के लोगों को अंत्योदय परिवार उत्थान मेले में बुलाया गया था। आज तिगांव ब्लाक के 300 गरीब परिवारों के लोगों को बुलाया गया है। आगामी 16 व 17जून को फरीदाबाद शहरी व बड़खल के लिए खेल परिसर सेक्टर-12 में अन्तोदय परिवार उत्थान मेलों का आयोजन किया जाएगा। फरीदाबाद व बङखल में 600 गरीब परिवारों के लोगों को शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में आमंत्रित किया गया है। जिनको मेलों के माध्यम से जानकारी देकर स्वरोजगार के प्रति जागरूक करके रोजगार मुहैया करवाया जाएगा।इसकी अध्यक्षता एमसीएफ के ज्वाइंट कमिश्नर डॉक्टर नरेश कुमार और ज्वाइंट कमिश्नर इंद्रजीत कुल्हड़िया संयुक्त रूप से करेंगे। उन्होंने बताया कि एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहल, एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया, एसडीएम त्रिलोक चंद को भी तीनों सबडिविजन में नोडल अधिकारी लगाया गया है।

हरियाणा सरकार सब्जियों में बांस स्टैकिंग व लौह स्टैकिंग पर दे रही है 50 से 90 प्रतिशत तक अनुदान

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने किसानों का आह्वान किया कि वे किसान बागवानी में ‘स्टेकिंग विधि’ का प्रयोग करके अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। हरियाणा सरकार द्वारा सब्जियों में बांस स्टैकिंग व लोहे स्टैकिंग को प्रयोग करने के लिए किसानों को 50 से 90प्रतिशत तक अनुदान राशि प्रदान कर रही है। योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को बागवानी पोर्टल https://hortharyanaschemes.in पर ऑनलाइन आवदेन करना होगा।डीसी ने आगे बताया कि हाईटेक व अत्याधुनिक युग में खेती में नई-नई तकनीकें उभरकर सामने आ रही हैं। इससे किसानों को कई फायदे मिल रहे हैं। उन्होंने बताया कि सब्जियों की खेती में ‘स्टैंकिंग’ ऐसी ही एक विधि का नाम है, जिसे अपनाकर किसान अच्छा लाभ कमा रहे हैं। उन्होंने बताया कि नई-नई तकनीकों से खेती करने का सबसे बड़ा फायदा होता है कि इससे ढेर सारी जानकारियां मिलती हैं और दूसरी इनसे मुनाफा और फसलों की पैदावार भी अधिक होती है।बांस स्टैकिंग व लौह स्टैकिंग पर अलग-अलग अनुदान :डीसी जितेन्द्र यादव ने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा बांस स्टैकिंग की लागत 62 हजार 500 रुपए की धनराशि प्रति एकड़ पर 31250 से लेकर 56250 रुपये की धनराशि तथा लोहा स्टैकिंग लागत एक लाख 41हजार रुपए प्रति एकड़ पर 70500 से लेकर एक लाख 26 हजार रुपए अनुदान प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बांस स्टैकिंग व लौह स्टैकिंग पर अधिकतम अनुदान क्षेत्र 1 से 2.5 एकड़ है। इस बारे में अधिक जानकारी वेबसाईट व दूरभाष नंबर 0172-2582322 पर प्राप्त की जा सकती है।बहुत आसान है ‘स्टैकिंग’ तकनीक जिला उद्यान अधिकारी डॉ रमेश कुमार ने बताया कि किसान पहले पुरानी तकनीक से ही सब्जियों और फलों की खेती करते थे। लेकिन अब किसान स्स्केटिंग तकनीक का इस्तेमाल कर खेती कर रहे हैं। क्योंकि यह तकनीक बहुत ही आसान है। इस तकनीक में बहुत ही कम सामान का प्रयोग होता है। स्टैकिंग बांस व लोहे के सहारे तार और रस्सी का जाल बनाया जाता है और सब्जियां उगाई जाती हैं। इस विधि से सब्जियों की पैदावार में भी बढ़ोतरी हो रही है।

समाज के अंतिम व्यक्ति को लाभान्वित कर रही है सरकार

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत गरीब एवं जरूरतमंद लोगों को आजीविका के संसाधन उपलब्ध करवाना व अंत्योदय मेले के द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की आय बढ़ाना सरकार का मुख्य ध्येय है।गरीब लोगों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने में मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना कारगर सिद्ध हो रहे हैं। डीसी जितेन्द्र यादव सोमवार को मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत तृतीय चरण के दूसरे मेले के अवसर पर सेक्टर-16 फरीदाबाद बीडीपीओ कार्यालय परिसर में आयोजित अंत्योदय मेले का अवलोकन कर रहे थे।डीसी जितेन्द्र यादव ने कहा कि जिला में पहले चरण व दुसरे चरण के मेलों का सफल आयोजन किया जा चुका है और अब तीसरे चरण के मेलों का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में अंत्योदय की भावना के साथ सबका साथ-सबका विकास व सबका विश्वास जीतते हुए गरीब परिवारों की आय बढ़ाने के लिए कृतसंकल्प है। हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेशभर में आयोजित किए जा रहे मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान मेलों के माध्यम से समाज में अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का सीधा लाभ पहुंचाया जा रहा है।उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार जनसेवा को समर्पित होकर अंत्योदय की भावना से अंतिम व्यक्ति के उत्थान में सराहनीय व उल्लेखनीय कदम उठा रही है। प्रदेश में गरीब परिवारों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने के लिए मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना लागू की गई है, जिसका मुख्य उद्देश्य अंत्योदय की भावना से जरूरतमंद को आर्थिक रूप से लाभान्वित करना है। यह योजना गरीब उत्थान में मिल का पत्थर साबित हो रही है। उन्होंने कहा इस योजना के तहत लघु उद्यमियों को बढ़ावा दिया जा रहा है। इस योजना के तहत उन परिवारों को शामिल किया गया है। जिनकी वार्षिक आय एक लाख रुपए से कम हैं और उनकी आय को एक लाख 80 हजार रुपए तक पहुंचाना प्रदेश सरकार का मुख्य लक्ष्य है। सरकार की ओर से तीन फेज में पात्रता निर्धारित की गई है और उसी अनुरूप योजनाओं का लाभ जरूरतमंद लोगों को अंत्योदय मेले से दिया जा रहा है।उन्होंने कहा कि अधिकारी मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना (एमएमएपीयूवाई) के तहत चिन्हित परिवारों की आय बढ़ाने के लिए प्रयास करें। उन्होंने बताया कि आवेदक ये दस्तावेज़ जरूर लाए। परिवार पहचान पत्र, आधार कार्ड, बैंक खाता कॉपी, पासपोर्ट साइज़ फोटो, वोटर कार्ड आदि। हरियाणा राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन हरियाणा पिछडे वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवारों को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए ग्रामीण स्व-रोजगार द्वारा प्रशिक्षण योजना, कल्याण निगम दीनदयाल अंत्योदय योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण, अल्पसंख्यक समुदाय के व्यक्तियों के लिए सावधि आजीविका मिशन योजना, ऋण योजना क्रेडिट लाइन, दीनदयाल उपाध्याय -ग्रामीण कौशल योजना, पिछड़े वर्ग के व्यक्तियों के लिए सावधि ऋण योजना, दिव्यांगजनो के लिए सेवा और व्यापार क्षेत्र में लघु इकाई, पशुपालन और डेयरी विभाग व्यवसाय योजना,दिव्यांगजन स्वावलंबन योजना, हाइटेक डेयरी, मिनी डेयरी इकाइयों की स्थापना, पिछड़े वर्ग के व्यक्तियों के लिए शैक्षिक ऋण योजना, अल्पसंख्यक समुदाय के व्यक्तियों के लिए पशुधन इकाइयों, डेयरी, सूअर, भेड़ व बकरी ऋण योजना क्रेडिट लाइन, इकाई की स्थापना करके अनुसूचित जातियों को रोजगार के अवसरों के लिए योजना,विकास एवं पंचायत विभाग,सामान्य, ओ.बी.सी. वर्ग के लिए सूअर, भेड़ व बकरी पालन, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण इकाई की स्थापना करके रोजगार के अवसरों के लिए हरियाणा ग्रामीण विकास योजना लिए योजना, नाबार्ड प्रायोजित कार्य, बैकयार्ड, कुक्कुट इकाइयों की स्थापना के लिए योजना, हरियाणा ग्रामीण विकास निधि प्रशासनिक बोर्ड कार्य,ग्राम निधि, पंद्रहवें वित्त आयोग अनुदान और राज्य शहरी स्थानीय निकाय विभाग वित्त आयोग अनुदान कार्य, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन, हरियाणा तालाब एवं अपशिष्ट जल प्रबंधन, पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि (पीएम स्वनिधि) प्राधिकरण के तहत तालाब जीर्णोद्धार कार्य, महिला एवं बाल विकास, खेल, पशुपालन आदि हरियाणा अनुसूचित जातियां वित्तीय एवं विकास निगम विभिन्न विभागों के जमा कार्य,महिला अधिकारिता योजना (नेशनल सफाई कर्मचारी हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद, फाइनेंस ऐंड डेवलपमेंट कारपोरेशन,सावधि ऋण (नेशनल सफाई कर्मचारी फाइनैंस ऐंड ब्यूटी केयर प्रशिक्षण डेवलपमेंट कारपोरेशन, कम्प्यूटर प्रशिक्षण,कृषि क्षेत्र (बैंक टाई अप), सिलाई एवं कढाई प्रशिक्षण, औद्योगिक क्षेत्र (बैंक टाई अप), हरियाणा महिला विकास निगम, व्यापारिक क्षेत्र (बैंक टाई अप), विधवाओं के लिए अनुदान योजना, व्यवसायिक क्षेत्र (बैंक टाई अप), व्यक्तिगत ऋण योजना, सूक्ष्म ऋण योजना (नेशनल सफाई कर्मचारी फाइनैंस एंड डेवलपमेंट कारपोरेशन, हरियाणा एग्रो इंडस्ट्रीज कॉर्पोरेशन लिमिटेड,हर-हित रिटेल स्टोर सी.एस.सी ई-गवर्नेस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड, कॉमन सर्विस सेंटर ग्रामीण विकास विभाग,महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना, उद्यान विभाग मधुमक्खी पालन, एकीकृत बागवानी विकास के लिए योजना, हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ लि, मशरूम की खेती, एकीकृत बागवानी विकास के लिए, वीटा बूथों का आवंटन योजना, रोजगार विभाग, हरियाणा कौशल विकास मिशन, सक्षम युवा योजना, सूर्य योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, हरियाणा रेड क्रॉस सोसाइटी, चालक प्रशिक्षण होम नर्सिंग प्रशिक्षण, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम निदेशालय, मत्स्य पालन विभाग,प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी), मत्स्य क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले अनुसूचित, प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण उद्योग, अन्य जातियों के परिवार का कल्याण औपचारिकरण (पीएमएफएमई) योजना, मछली पालन, प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा सहित तमाम विभागों द्वारा मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत गरीब और जरूरत मंद लोगों को सहायता सरकार द्वारा निर्धारित हिदायतों के अनुसार दी गई।डी सी जितेन्द्र यादव ने विभागों की योजनाओं के स्टॉल का अवलोकन करते हुए आवश्यक निर्देश भी दिए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों से रूबरू होते हुए विभागीय स्तर पर प्रदत्त सेवाओं को तत्परता से सरल तरीके से योजना का लाभ पात्र व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए प्रेरित किया।इस मेले में 100 से अधिक लाभार्थियों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया और लाभार्थियों को रोजगार, स्वरोजगार, वेतन सहायता व अन्य लाभ दिया गया।इस अवसर पर एडीसी डॉक्टर मोहम्मद इमरान रजा, मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी करण कपूर सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे।

सरकारी सेवाओ का लाभ लेने के लिए दिव्यांगजनों को दिए जाएँगे यूनिक आई कार्ड: उपायुक्त जितेंद्र यादव

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिले में सभी दिव्यांगजो के लिए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, भारत सरकार द्वारा यूआईडी कार्ड बनाये जा रहे हैं। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने आगे बताया कि जिन दिव्यांगजनों का मैडिकल प्रमाण पत्र तीन वर्ष से अधिक पुराना है वह अपना मैडिकल प्रमाण पत्र बनवाकर अपने यूआईडी कार्ड हेतू आवेदन करें जिससे कि वह इस स्कीम का लाभ ले सकें। सभी दिव्यांगजन अपने नजदीकी अटल सेवा केन्द्र पर जाकर व खुद के माध्यम से मूल दस्तावेजों के साथ इस लिंक https://www.swavlambancard.gov.in/home/login के माध्यम से आनॅलाईन आवेदन कर सकते हैं।

आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का अभ्यास 13 से 15 जून को जिला स्तर पर तीन दिवसीय योगा प्रोटोकोल कार्यक्रम आज शुरू

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि आज सोमवार 13 से 15 जून को प्रातः 7:00 से 8:00 बजे तक जिला स्तर पर तीन दिवसीय योगा प्रोटोकोल कार्यक्रम आज शुरू होगा।योगा प्रोटोकॉल के तहत इस प्रशिक्षण शिविर में ग्रीवा चालन, कटी चालन एवं पेट से संबंधित सभी योग एवं प्राणायाम सिखाया जा रहा है ।उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए सरकारी कार्यालयों में ब्लाक स्तर पर तीन दिवसीय योगा प्रोटोकोल कार्यक्रम पूरा किया गया है। डीसी जितेन्द्र यादव ने यह जानकारी देते हुए आगे बताया कि 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योगा दिवस जिला में हर्ष और उल्लास के साथ मनाने के लिए योगाभ्यास प्रशिक्षण कार्यक्रम किए जा रहे हैं। उपायुक्त जितेन्द्र यादव के कुशल मार्गदर्शन में आजादी के अमृत महोत्सव की श्रंखला में आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का अभ्यास पहले सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में किया गया था । आपको बता दें कि आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए खेल परिसर सेक्टर 12 में तीन दिवसीय योगा प्रोटोकोल कार्यक्रम विगत रविवार को शुरू किया गया था। आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2022 को सफल बनाने के लिए यह प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत की गई थी। तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन खेल परिसर सेक्टर-12 में गत 28 मई से 30 मई तक सुबह 6.00से 7:30 बजे तक किया गया था। इस प्रशिक्षण शिविर में फरीदाबाद के सभी प्राइवेट एवं सरकारी संस्थानों के पीटीआई एवं डीपीई को पतंजलि योग समिति एवं आयुष विभाग फरीदाबाद के योग विशेषज्ञ द्वारा योगा प्रोटोकॉल के तहत प्रशिक्षित किया था। इसी कङी में कार्यक्रम के तहत गत बुधवार 01 जून 2022 से 3 जून 2022 तक अपने अपने प्राइवेट एवं सरकारी संस्थानों में सभी बच्चों को प्रशिक्षित किया गया था ।प्रशिक्षण शिविर का आयोजन आठवें अंतरराष्ट्रीय योगा दिवस 21 जून 2022 को सफल बनाने के लिए आयुष विभाग फरीदाबाद द्वारा किया जा रहा है। डीसी जितेन्द्र यादव ने ब्लाक स्तर पर एसडीएम को और जिला स्तर पर सीटीएम को नोडल अधिकारी लगाया है। आठवें अन्तर्राष्ट्रीय योगा दिवस से पूर्व 20 जून को जिला स्तर और ब्लाक स्तर पर रिहर्सल करने और मैराथन करवाने सहित तमाम ड्युटिया सुनिश्चित की गई। इसके अलावा पीने के पानी की व्यवस्था, वीवीआईपी और वीआईपी लोगों के योगाभ्यास करने की व्यवस्था, एम्बुलेंस, नींबू पानी,बच्चों के लिए यातायात व्यवस्था सहित अन्य ड्यूटिया भी सुनिश्चित की गई।

आरपीएस मीडिया क्रिकेट कार्नीवाल टूर्नामेंट के पुरस्कार वितरण समारोह मे खिलाडियों को सम्मानित करने पहुंचे युवा भाजपा नेता अमन गोयल

फरीदाबाद के सेक्टर 78 मे ओमैक्स टावर के नजदीक वर्ल्ड स्ट्रीट के साथ लगते फेरवेंट क्रिकेट ग्राउंड पर आरपीएस मीडिया क्रिकेट कार्नीवाल की तरफ से श्री रोहित सरदाना मेमोरियल कप क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया गया l जिसमे देश के जाने-माने टीवी न्यूज़ चैनल आजतक और टीवी 9 भारत वर्ष चैनल की तरफ से दोनों टीमों ने आपसी भाईचारे के साथ मैच खेला l मैच मे आजतक की तरफ से टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी की गयी और पहले खेलते हुए आजतक की टीम ने 20 ओवर मे 8 विकेट खोकर 156 रन बनाये l जिसमे टीवी 9 भारत वर्ष की टीम ने बाद मे खेलते हुए 7 विकेट से यह मैच जीत लिया l खेले गए मैच मे मैन ऑफ़ दा मेच का श्रेय सचिन पाण्डेय को दिया गया जिन्होंने मैच मे बेहतरीन प्रदर्शन कर अपनी टीम को मैच जिताने मे अहम योगदान दिया l श्री रोहित सरदाना मेमोरियल कप क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन राजस्थान के जोधपुर से सांसद और भारत सरकार मे बतौर यूनियन मिनिस्टर जल शक्ति मंत्रालय गजेंद्र सिंह शेखावत व हरियाणा से पूर्व कैबिनेट मन्त्री विपुल गोयल के सहयोग से आयोजित किया गया l सभी खिलाडियों ने आयोजनकर्ताओं को उन्हें स्पोर्ट करने के लिए धन्यवाद किया lदोनों टीमों के बीच बहुत ही सदभावना से मैच खेलकर एक भाईचारे का संदेश भी दिया और जीत दर्ज करने वाली टीम टीवी 9 भारत वर्ष को पूर्व मन्त्री विपुल गोयल के भतीजे और युवा नेता अमन गोयल ने खिलाडियों को ट्रॉफी देकर सम्मानित भी किया और खिलाडियों के उज्जवल भविष्य की कामना भी की l इस मोके पर मुख्य भूमिका मे रहे विनय सिंह जोकि खुद क्रिकेट मे रणजी खिलाडी रहे है उन्होंने ये मैच करवाने मे अहम भूमिका निभाई है जिसका भी अमन गोयल ने धन्यवाद कर हौसला अफजाई की l

सीजेएम प्रतीक जैन ने ऑब्जर्वेशन होम में किशोरों से निजी स्तर पर समस्याएं जानी

मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव प्रतीक जैन द्वारा आब्जर्वेशन होम अवलोकन करके वहां रह रहे किशोरों की निजी समस्याओं का निपटान किया। सीजेएम प्रतीक जैन ने बताया कि ऑब्जर्वेशन होम, एनआईटी, फरीदाबाद और प्लेस ऑफ सेफ्टी, एनआईटी में विभिन्न जिलों के कुल 67 किशोर रह रहे हैं, जबकि प्लेस ऑफ सेफ्टी में 140 किशोर रह रहे हैं। प्रत्येक किशोर से व्यक्तिगत रूप से संपर्क किया गया और उनसे पूछताछ की गई। कि क्या वे वहां किसी समस्या का तो सामना नहीं कर रहे हैं।जहां पर निरीक्षण के समय दोनों जगहों के बच्चे सर्व शिक्षा अभियान के तहत कक्षाओं में भाग ले रहे थे।सीजेएम ने बच्चों से यह भी अपील करते हुए बोले कि अगर वे निजी तौर पर शिकायत या शिकायत पोस्ट करना चाहते हैं तो वे विश्वास के साथ उनसे संपर्क करें। बच्चों की ओर से ऐसी कोई शिकायत नहीं की गई। इस अवसर पर पैनल अधिवक्ता रविंद्र गुप्ता सहित अन्य अधिवक्ता गण और स्टाफ कर्मी शामिल थे।

सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान करने हुए और सिगरेट की खुली बिक्री पर पूर्णतया प्रतिबंध : डीसी जितेन्द्र यादव

डीसी जितेन्द्र यादव ने कहा कि जिला में धूम्रपान निषेध ऑफ का अधिनियम के तहत सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान करने हुए और सिगरेट की खुली बिक्री पर पूर्णतया प्रतिबंध है। यदि कोई ऐसा करता पाया जाता है तो उसके खिलाफ अनुसार आता अधिनियम के तहत कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। डीसी ने कहा कि सिगरेट एवं अदर तंबाकू प्रोडक्ट्स एक्ट (कोटपा) 2003 के तहत कैद /जुर्माना लगाने का प्रावधान है। उन्होंने कहा सार्वजनिक स्थानों पर सिगरेट पीने पर और कोटपा के नियमों का उल्लंघन करने पर प्रति उल्लंघन 200 रुपये तक जुर्माने का प्रावधान है।नियमानुसार होटल, रेलवे स्टेशन, राजकीय, नीजी कार्यालय, बस अड्डे, सिनेमा हॉल, विद्यालय, महा-विद्यालय आदि सभी सार्वजनिक स्थानों की सीमा के भीतर सार्वजनिक स्थान के स्वामी, प्रबंधक अथवा प्रभारी आदि द्वारा धूम्रपान नही होने देना। सार्वजनिक स्थान पर सही आकार व संख्या में अधिनियम अनुसार’धूम्रपान मुक्त क्षेत्र’ के चेतावनी बोर्ड न लगाना, मुख्य द्वार पर लगे चेतावनी बोर्ड पर नोडल अफसर का नाम, फोन नंबर लिखा होना जरूरी है ।सार्वजनिक स्थान पर ऐश-ट्रे, लाइटर, माचिस इत्यादि धूम्रपान के प्रमाण पाए जाने पर तथा कू-उत्पादों का प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष ढंग से बोर्ड, टीवी, प्रथम उल्लंघन करने पर 2 वर्ष के कारावास का प्रावधान किया गया है। किसी भी सार्वजनिक स्थानों पर पम्पलेट, स्टिकर, होर्डिंग इत्यादि द्वारा विज्ञापन करने पर 1000रुपए तक जुर्माना तम्बाकू उत्पादों का प्रचार (Promotion) अधिनियम में शामिल है। यह उल्लंघन करने पर 5 वर्ष का कारावास तंबाकू कंपनियों से प्रयोजन/Sponsorship लेना भी शामिल है। कोटपा की हिदायतों के अनुसार 5000 रुपये की धनराशि तक का जुर्माना और तंबाकू उत्पाद बेचना तथा उससे बिकवाना प्रति उल्लंघन 200 रुपये तक धनराशि का प्रावधान किया गया है। शैक्षणिक संस्थान के बाहर अधिनियम अनुसार चेतावनी बोर्ड न होना, उस तम्बाकू उत्पाद को बनाना या बेचना जिस पर अधिनियम निर्माता हेतु दण्ड अनुसार चित्र सहित स्वास्थ्य चेतावनी न छपी हो तो अप्रैल 2016 प्रथम बार 2 वर्ष तक की कैद सजा भी सुनाई गई है। इसके बाद सभी तम्बाकू उत्पादों के पैकेट पर दोनों तरफ अधिनियम तथा /या 5000 रुपए तक जुर्माना अनुसार मुख्य भाग पर 85 प्रतिशत चित्र सहित स्वास्थ्य चेतावनी या दो से 5 वर्ष तक की कैद हो सकती है या 10 हजार रुपये तक जुर्माना खुली सिगरेट, बीड़ी अथवा अन्य तंबाकू उत्पाद बेचने पर विक्रेता को दण्ड प्रथम बार 1 वर्ष तक की कैद तथा/या 1000 रुपये तक जुर्माना शामिल है।इसी प्रकार 2 वर्ष तक की कैद द्वितीय बार तथा तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम को नियमित रूप से न चलाने पर प्रावधान है। जुनाईल जस्टिस एक्ट (2015) (बाल न्याय अधिनियम 2015) के अंतर्गत अव्याक को तंबाकू उत्पाद बेचने/पेश करने पर कार्यवाही करना। प्वाइजन एक्ट (विध अधिनियम) के अंतर्गत ई-सियेट व हुक्का बार पर कार्यवाही करना शामिल हैं।मोटर वाहन अधिनियम के अंतर्गत गाड़ी/वाहन चलाने पर में सिगरेट पीने पर कार्यवाही करना शामिल है।कालाबाजारी के अंतर्गत तंबाकू विक्रेताओं पर नकेल कसना भी खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम- 2006 में शामिल है।कोटपा की जिला नोडल अधिकारी डाँ सुशील अहलावत ने बताया कि फरीदाबाद में गत माह में लोगों के कोटपा के तहत सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान करने पर गत अप्रैल और मई माह में 189 लोगों के चालान काट कर उनसे 8540 रुपये की धनराशि वसूली गई है। इसी प्रकार गत वर्ष 1494 लोगों के चालान करके 51093रुपये की धनराशि वसूल की गई थी। डॉक्टर सुशील अहलावत ने आगे बताया कि जिला फरीदाबाद के लिए तंबाकू निषेध केंद्र का उद्घाटन सिविल सर्जन डॉ विनय गुप्ता ने गत 14 फरवरी 2022को पीएमओ नागरिक/ सिविल/बीके अस्पताल डॉ सविता यादव की भव्य उपस्थिति में किया था। इस केंद्र जो लोग इस नशे की आदत को छोड़ना चाहते हैं, उनके लिए यह बहुत मदद करेगा। मदद मांगने वालों के लिए सिविल अस्पताल (कमरा नंबर 23) में एक काउंसलर उपलब्ध रहता है। ऐसे लोगों के लिए जल्द ही वर्निसिलिन जैसी दवाएं उपलब्ध करवाई जा रही है। उन्होंने सभी अधिकारियों/प्रभारी से अनुरोध है कि जरूरतमंदों विशेषकर जो युवा हैं और धूम्रपान छोड़ने के इच्छुक हैं। उन्हें टीसीसी को भेजें। जहां एक ही छत के नीचे मानसिक और चिकित्सा सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। यह जिला को तंबाकू मुक्त बनाने की दिशा में एक छलांग है और स्वस्थ जीवन की दिशा में एक बड़ा कदम है। यह बताना भी एक अमूल्य क्षण है।

100 बार रक्तदान करने वालों को करेंगे सम्मानित: डीसी एवं अध्यक्ष जिला रेडक्रॉस सोसायटी जितेन्द्र यादव

उपायुक्त एवं अध्यक्ष जिला रेडक्रॉस सोसायटी जितेन्द्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव के तहत इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी स्टेट ब्रांच की ओर से 15 जून को प्रातः 9 बजे अग्रवाल भवन सेक्टर-16 पंचकूला में मेगा रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाएगा। इसमें महामहिम राज्यपाल एवं अध्यक्ष इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी स्टेट ब्रांच बंडारू दत्तात्रेय बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगे। डीसी एवं अध्यक्ष जिला रेडक्रास सोसायटी जितेन्द्र यादव ने बताया कि इस मेगा रक्तदान शिविर में प्रत्येक जिले से 100 से अधिक बार रक्तदान करने वाले 4 रक्तदाताओं मुख्य अतिथि द्वारा सम्मानित किया जाएगा।जिला रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव विकास कुमार और ब्लड डोनेशन कैम्पों के कोर्डिनेटर विमल खण्डेलवाल ने बताया कि जिला फरीदाबाद के भी ऐसे चार लोगों को सम्मानित किया जाएगा जिन्होंने लगातार सौ बार रक्तदान किया है। उनके आवेदन लिए जाएंगे।

आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का अभ्यास अब 9 से 11 जून को ब्लॉक स्तर पर

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का अभ्यास अब 9 से 11 जून को ब्लॉक स्तर आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए सरकारी कार्यालयों में ब्लाक स्तर पर तीन दिवसीय योगा प्रोटोकोल कार्यक्रम आज शुरू होगा।इसके उपरान्त 13 से 15 जून को जिला स्तर पर तीन दिवसीय योगा प्रोटोकोल कार्यक्रम आज शुरू होगा। डीसी जितेन्द्र यादव ने यह जानकारी 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योगा दिवस जिला में आयोजित किए जाने के सम्बन्ध में गत सायं समीक्षा बैठक में यह दिशा-निर्देश अधिकारियो को दे रहे थे।उपायुक्त जितेन्द्र यादव के कुशल मार्गदर्शन में आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का अभ्यास पहले सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में किया गया था। आपको बता दें कि आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए खेल परिसर सेक्टर 12 में तीन दिवसीय योगा प्रोटोकोल कार्यक्रम गत रविवार को शुरू किया गया था। आठवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2022 को सफल बनाने के लिए यह प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत की गई थी। तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन खेल परिसर सेक्टर-12 में गत 28 मई से 30 मई तक सुबह 6.00 से 7:30 बजे तक किया गया था। इस प्रशिक्षण शिविर में फरीदाबाद के सभी प्राइवेट एवं सरकारी संस्थानों के पीटीआई एवं डीपीई को पतंजलि योग समिति एवं आयुष विभाग फरीदाबाद के योग विशेषज्ञ द्वारा योगा प्रोटोकॉल के तहत प्रशिक्षित किया था। इसी कङी में कार्यक्रम के तहत गत बुधवार 01 जून 2022 से 3 जून 2022 तक अपने अपने प्राइवेट एवं सरकारी संस्थानों में सभी बच्चों को प्रशिक्षित किया गया था।योगा प्रोटोकॉल के तहत इस प्रशिक्षण शिविर में ग्रीवा चालन, कटी चालन एवं पेट से संबंधित सभी योग एवं प्राणायाम सिखाया जा रहा है। प्रशिक्षण शिविर का आयोजन आठवें अंतरराष्ट्रीय योगा दिवस 21 जून 2022को सफल बनाने के लिए आयुष विभाग फरीदाबाद द्वारा किया जा रहा है। डीसी जितेन्द्र यादव ने ब्लाक स्तर पर एसडीएम को और जिला स्तर पर सीटीएम को नोडल अधिकारी लगाया है। समीक्षा बैठक में आठवें अन्तर्राष्ट्रीय योगा दिवस से पूर्व 20 जून को जिला स्तर और ब्लाक स्तर पर रिहर्सल करने और मैराथन करवाने सहित तमाम पहलुओं पर ड्युटिया सुनिश्चित की गई। इसके अलावा पीने के पानी की व्यवस्था, वीवीआईपी और वीआईपी लोगों के योगाभ्यास करने की व्यवस्था, एम्बुलेंस, नींबू पानी, बच्चों के लिए यातायात व्यवस्था सहित अन्य ड्यूटिया भी सुनिश्चित की गई।बैठक में एडीसी मोहम्मद इमजान रजा, सीईओ जिला परिषद सतेन्द्र दुहन, एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहल, एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोक चंद, एसडीएम बङखल पंकज सेतिया, सीटीएम नसीब कुमार, डीडीपीओ राकेश मोर, डीआरओ बिजेन्द्र राणा, जिला आयुष अधिकारी डॉ. अजीत सिंह, भारत स्वाभिमान ट्रस्ट से अंकुर सिंह, ओम योग संस्थान से डॉक्टर आर्य मौजूद रहे।

नीमका जेल में लगी लोक अदालत, मौके पर ही 11 केसों का हुआ निपटारा

फरीदाबाद, 07 जून। जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं चेयरमैन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण वाईएस राठौर के दिशा निर्देशानुसार जिला जेल नीमका में जेल लोक अदालत का आयोजन किया गया। लोक अदालत मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण प्रतीक जैन की अध्यक्षता में आयोजित की गई।

जेल लोक अदालत में 21 केस रखे गए जिनमें से 11 केसों का मौके पर निपटारा किया गया। जोकि चोरी व छोटी मारपीट से संबंधित थे। जेल में बंद दिनों को सजा मानकर कटी। सजा पर यदि आरोपी किसी दूसरे केस में वांछित ना हो तो ऐसे 11 हवालाती बंदियों को छोड़ने का आदेश दिया गया।

इस मौके पर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी प्रतीक जैन ने विचाराधीन बंदियों को कहा कि जाने अनजाने में जो गलती हुई है। उनका सुधार करते हुए अपना समय अच्छे काम में लगाएं। ताकि आपका आने वाला भविष्य उज्जवल हो सके। आप अपना बेहतर जीवन समाज में जाकर मुख्यधारा से जुड़ कर जी सकें।

जेल सुपरिटेंडेंट जय किशन छिल्लर ने कहा कि जिला जेल नीमका में ऐसा कोई भी विचाराधीन बंदी नहीं है। जिसका की कोई वकील ना हो या तो उसका प्राइवेट वकील है या जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से उसका सरकारी वकील प्रदान करवाया गया है।

आज मंगलवार को जिला जेल लोक अदालत में जेल सुपरिटेंडेंट जयकिशन छिल्लर, डिप्टी जेल सुपरिटेंडेंट अनिल कुमार व रामचंद्र, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल एडवोकेट रविंद्र गुप्ता, रामवीर तंवर व प्रभात शंकर स्टेनो उपस्थित रहे।

पीएम किसान सम्मान निधि के लिए पंजीकृत किसान 30 जून तक करवाएं ई-केवाईसी का कार्य

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की शृंखला में केंद्र सरकार की ओर से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत प्रदेश के लाखों किसानों को खेती करने के लिए आर्थिक सहायता दी जा रही है। योजना का लाभ निर्बाध रूप से जारी रहे इसके लिए 30 जून तक पंजीकृत किसानों का ई -केवाईसी का कार्य किया जा रहा है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने जिला के किसानों से आह्वान करते हुए कहा कि वे अनिवार्य रूप से ई – केवाईसी का कार्य पूर्ण करवाना सुनिश्चित करें। यह कार्य पीएम-किसान पोर्टल तथा संबंधित ऐप के माध्यम से निशुल्क रूप में किया जा रहा है। साथ ही कॉमन सर्विस सेंटर ( सीएससी ) के माध्यम से भी वेरिफिकेशन का कार्य किया जा सकता है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि जिला के किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत सालाना 6,000 रुपये दिए जाते हैं। इसका भुगतान 2000-2000 रुपये की तीन किस्तों में किया जाता है। ये पैसा सरकार द्वारा सीधा किसानों के खाते में ट्रांसफर किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा अभी तक इस योजना के तहत 11 किश्तें जारी की जा चुकी हैं। कृषि विभाग की अधिकारी डाक्टर संगीता ने बताया कि अगर किसी किसान के खाते में अभी तक पीएम किसान योजना की 11वीं किश्त का पैसा नहीं आया है, तो उन्हें केंद्र सरकार की वेबसाइट पर अपनी डिटेल्स चेक कर लेनी चाहिए, वरना इन किसानों का आगामी किश्त का पैसा भी अटक सकता है। कैसे चेक करें स्टेटस डॉक्टर संगीता ने बताया कि स्टेटस चेक करने के लिए सबसे पहले आपको pmkisan.gov.in वेबसाइट पर जाना होगा। इस वेबसाइट की दाएं तरफ किसान कॉर्नर पर क्लिक करें। इसके बाद किसान को बेनिफिशियरी स्टेटस पर क्लिक करना है। यहां पर आपको आधार नंबर, मोबाइल नंबर जैसी डिटेल्स दर्ज करनी है। इसके बाद आप लिस्ट में अपना नाम आसानी से चेक कर सकते हैं। इसके साथ ही आप अपनी शिकायत दर्ज करवाने के लिए पीएम किसान टोल फ्री नंबर: 18001155266 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

श्रमिकों की सहायता के लिए सरकार ने लागू की ई-श्रम योजना : डीसी जितेन्द्र यादव

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि श्रमिक सरकार की ई-श्रम योजना के तहत पंजीकरण करवाकर दो लाख रुपए तक का बीमा मुफ्त प्राप्त किया जा सकता है। श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिक को दुर्घटना पर दो लाख रुपए तक और स्थाई अंग-भंग होने पर एक लाख रुपए तक की सहायता राशि मिल सकती है। डीसी जितेन्द्र यादव ने इस योजना की जानकारी देते हुए बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में सरकार ने असंगठित क्षेत्र के श्रमिक, कामगार तथा छोटे व मध्यम किसान सहित अन्य लोगों की सहायता करने के लिए ई-श्रम योजना शुरू की हुई है, जिसके तहत स्वयं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाया जा सकता है। इस योजना के तहत पंजीकृत व्यक्ति का दो लाख रुपए तक का दुर्घटना बीमा मुफ्त होगा और स्थाई अंग-भंग होने पर उसे एक लाख रुपए तक की सहायता राशि मिलेगी। उन्होंने बताया कि इस योजना में 16 से 59 वर्ष की आयु वर्ग के इनकम टैक्स नहीं भरने वाले और जिन्हें ईपीएफओ एवं ईएसआई का लाभ नहीं मिल रहा है, ऐसे असंगठित क्षेत्र के श्रमिक, कामगार तथा छोटे व मध्यम किसान और अन्य श्रमिक ही अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि योजना का लाभ लेने के लिए व्यक्ति को अपने नजदीकी सीएससी सेंटर पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। व्यक्ति खुद भी पोर्टल ईएसएचआरएएम.जीओवी.इन पर जाकर अपना व अपने परिवार के सदस्यों का रजिस्ट्रेशन कर सकता है। रजिस्ट्रेशन के लिए कोई फीस नहीं ली जाती है।श्रम विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार ई-श्रम योजना का लाभ लेने के लिए श्रमिकों की श्रेणी में छोटे और मध्यम किसान, खेतों में काम करने वाले मजदूर, मनरेगा योजना के श्रमिक, पशुपालन श्रमिक, सब्जी और फल रेहड़ी लगाने वाले, घरेलू कार्य करने वाले व्यक्ति, आशा वर्कर, रिक्शा या ऑटो रिक्शा ड्राइवर, लकड़ी का काम करने वाले, दूध विक्रेता, प्रवासी श्रमिक, ईंट या पत्थर का काम करने वाले व्यक्ति, भवन व अन्य निर्माण कार्य में लगे श्रमिक आदि आते हैं। रजिस्ट्रेशन करवाने वाले व्यक्तियों को ई-श्रम कार्ड मिलेगा, जिससे अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ लेने मे भी उन्हें मदद मिलेगी। ई-श्रम पोर्टल के माध्यम से सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का एकीकरण किया जाएगा और यह पोर्टल श्रमिकों को उनके कौशल के अनुसार रोजगार प्राप्त करने में सहायक सिद्ध होगी।

यूपीएससी परीक्षाओं के सफल के लिए ड्यूटी मैजिस्ट्रेट, ट्राजिंट आफिसर व परीक्षा केंद्रो के अधीक्षकों और सुपरवाइजर ने किया बेहतर परीक्षा संचालन

जिलाधीश कम् उपायुक्त व यूपीएससी परीक्षा के जिला कंट्रोलर जितेंद्र यादव ने कहा कि आज रविवार को आयोजित यूपीएससी द्वारा सिविल सर्विस प्रीलीमीनरी परीक्षाओं के लिए किसी भी तरह की कोताही बर्दास्त नहीं की गई। परीक्षाओं में कोताही बरतने वाले लोगों के खिलाफ तुरंत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई गई। परीक्षा केंद्रो में केवल ड्यूटी देने वाले अधिकारी अन्दर जा सकते थे। इसके अलावा कोई भी अधिकारी परीक्षा केंद्रो के अन्दर जाने पर यूपीएससी द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार पूर्णतया पाबंदी रही।डीसी जितेन्द्र यादव ने कहा कि यूपीएससी परीक्षा की परीक्षा निर्बाध रूप से सम्पन्न हुई।यूपीएससी परीक्षाओं के सफल संचालन के लिए ड्यूटी मैजिस्ट्रेट, ट्राजिंट आफिसर व परीक्षा केंद्रो के अधीक्षकों और सुपरवाइजर ने बेहतर परीक्षा संचालन किया। आपकों बता दें डीसी जितेन्द्र यादव ने शुक्रवार को सेक्टर-12 के कैन्वैंशन हाल में फरीदाबाद में होने वाली यूपीएससी की परीक्षाओं के सफल संचालन के लिए परीक्षा केंद्रों और अन्य ड्यूटी करने वाले अधिकारियों को टिप्स दिए थे। उन्होंने कहा कि यूपीएससी द्वारा सिविल सर्विस प्रीलीमीनरी लिखित परीक्षाओं के लिए 60 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। इनमें 20942 परीक्षार्थियों की प्रति शिफ्ट परीक्षा देने की सुचारू व्यवस्था की गई थी।उपायुक्त जितेंद्र यादव इस संबंध में ड्यूटी मैजिस्ट्रेट, ट्रांसिट अफसर और निरीक्षण अधिकारियों को दिशा निर्देश देते हुए कहा था कि परीक्षाओं के आयोजन संबंधी सभी प्रबंधो के लिए सभी अधिकारी अपने कार्य दायित्व से जुड़े दायित्वों के बारे में यूपीएससी की हिदायतों के अनुसार पूरी तरह जानकारी हासिल कर लें। उन्होंने सभी अधिकारियो को कहा कि वे भी अपने दायित्व बारे जानकारी हासिल कर व व्यवस्थित रूप से परीक्षाओं की योजना बनाकर उसके सही क्रियान्वयन करें। उन्होंने ट्रांजिट आफिसर को सेंसिटिव मटेरियल लाने व ले जाने की यूपीएससी हिदायतो की पूर्ण जानकारी लेने को भी कहा था। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि परीक्षाओं से सम्बंधित अधिकारियो से अपने वाहन चालक को निर्देश देने बारे कहा कि वे अपने वाहन चालकों को निर्देश दें कि उनके वाहन पूरी तरह वर्किंग कंडीशन में हो ताकि किसी प्रकार की परेशानी का सामना ना करना पड़े। उन्होंने कहा कि वाहन चालक पुलिस विभाग द्वारा निर्धारित रूट पर ही गाड़ी चलाएं। उन्होंने ट्रांजिट आफिसर को सेंसेटिव मेटेरियल लाने व ले जाने के लिए प्रातः 7:00 बजे जिला खजाना कार्यालय फरीदाबाद में पहुंचने तथा अपने साथ विभाग के एक कर्मचारी की मदद के साथ अपने दायित्व को पूरा करने बारे भी आवश्यक दिशा- निर्देश दिए गए थे । उन्होंने कहा था कि यूपीएससी द्वारा जारी हिदायतों की पालना करना सभी अधिकारियों का नैतिक दायित्व है, और इस संबंध में किसी प्रकार की कोई कोताही ना बरतें क्योंकि ऐसा करने वाले व दोषी पाए जाने वाला व्यक्ति इसके लिए खुद जिम्मेवार होगा। सरकार द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार उसके खिलाफ तुरंत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। परीक्षा केंद्र पर मूलभूत सुविधाएं, बिजली, पंखे,जैमर, पेयजल, शौचालय और साफ सफाई सहित अन्य उचित व्यवस्था के प्रबंध बारे भी अधिकारी ध्यान रखें और सुरक्षा के दृष्टिगत ऐसी कोई भी परीक्षा सहयोगी सामग्री जो आपत्तिजनक है। उसको केंद्र में अंदर जाने ना दें। परीक्षा शुरू होने से एक घण्टा पहले परीक्षा केंद्र का गेट खुलवाएं और दस मिनट पहले परीक्षा केंद्र का गेट बंद कर दिया जाए। जिसके बाद किसी भी विद्यार्थी को अंदर जाने की अनुमति नही दी गई । यूपीएससी द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार परीक्षार्थी अपना ई-एडमिट कार्ड की वेरिफिकेशन के लिए पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पहचान पत्र, आधार कार्ड, पेनकार्ड या भारत सरकार द्वारा मान्य कोई भी दस्तावेज जिस पर उनकी फोटो हो साथ लाने दिया गया । यदि स्कूलों के अन्दर वाल पेंटिंग या ब्लैक बार्ड आदि पर ऐसी सामग्री लिखी गई या पेंटिंग की गई है तो उस पर कागज चस्पा किया गया।यूपीएससी द्वारा जिला फरीदाबाद में ली जाने वाली लिखित परीक्षा के लिए आज 5 जून 2022 को 60 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। इस दौरान यूपीएससी की हिदायतों के अनुसार परीक्षा की गारिमा, पवित्रता तथा कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए परीक्षा केंद्रवार मैजिस्ट्रेट और ट्रासिट आफिसर और लोकल इसंपैक्टिग आफिसर्स नियुक्त किए गए थे। ड्यूटी मैजिस्ट्रेट परीक्षा केंद्रों का परीक्षा के दौरान निरीक्षण करेंगे। जबकि ट्रांजिट आफिसर परीक्षा के दौरान संबंधित परीक्षा केंद्र में सेंसिटिव मेटेरियल को जिला खजाना अधिकारी से परीक्षा केंद्रों तक पहुंचाया गया तथा परीक्षा समाप्ति के उपरांत जिला खजाना कार्यालय, फरीदाबाद में संबंधित नोडल अधिकारी को पहुंचाए गए। जिला फरीदाबाद में होने वाली सिविल सर्विसेज प्रिलिमनरी एग्जामिनेशन 2022 की लिखित परीक्षा के संचालन के लिए नगराधीश कार्यालय, फरीदाबाद रूम नंबर 215 में एक कंट्रोल रूम बनाया गया था। कंट्रोल रूम से दूरभाष नंबर 01292227934 पर संपर्क किया जा सकता था। कंट्रोल रूम पर अधिकारियों व कर्मचारियों की परीक्षा की समाप्ति तक ड्यूटी लगाई गई थी। कुंदन लाल, उप-अधीक्षक (8586961951) उपायुक्त कार्यालय, फरीदाबाद को कंट्रोल रूम का नोडल अधिकारी बनाया गया था। होरी लाल, सहायक (7678689944) उपायुक्त कार्यालय फरीदाबाद, जितेंद्र, लिपिक (8689096096) नगराधीश कार्यालय फरीदाबाद, कुमारी प्रियंका, नगराधीश कार्यालय फरीदाबाद, कुमारी प्रियंका नगराधीश कार्यालय फरीदाबाद को निर्देश दिए गए थे कि 05.06.2022 को प्रातः 6:00 अपने कार्यालय स्थल पर पहुंचकर आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।यूपीएससी की हिदायतों के अनुसार डॉ दीपेन्द्र चौहान ने परीक्षाओं के सफल आयोजन के लिए यूपीएससी की हिदायतों बारे विस्तार पूर्वक जानकारी अधिकारियों को दी गई थी । परीक्षा के दौरान एमसीएफ कमीशनर यशपाल, एडीसी डाक्टर मोहम्मद इमजान रजा, सीईओ जिला परिषद सतेन्द्र दुहन, एसडीएम कम नोडल अधिकारी पंकज सेतिया, सीटीएम नसीब कुमार, तसीलदार नेहा सहारन सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

कोरोना को मात देने के लिए हुई सावधानी जरूरी!

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में आज रविवार को कोरोना वायरस के 24 मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है की 26 लोगों को ठीक होने पर घर भेज दिया गया है। वहीं जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 99.30 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 2 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 166 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 168 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 962 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1633520 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 129935 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1503854 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 1634 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 7.94 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 99.30 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.13 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्य विभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 और 8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिला प्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 पर भी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई ।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1744978 लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1743295 हो गई है।

फरीदाबाद में सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल पर होगी पूर्णतया रोक जानीए आगे की जानकारी

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि जिला फरीदाबाद में आगामी पहली जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल, भंडारण व बिक्री पर पूर्णतया रोक होगी। एनजीटी द्वारा बढ़ते प्रदूषण पर नियंत्रण लगाने और वातावरण का स्वच्छ रखने के उद्देश्य से सरकार एवं एनजीटी द्वारा सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया गया है। डीसी जितेन्द्र यादव ने बताया कि सरकार एवं एनजीटी द्वारा प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट नियम, 2016 को प्रभावी ढंग से लागू करने को कहा गया है। इन आदेशों की अवहेलना पाए जाने पर संबंधित व्यक्ति अथवा संस्थान के खिलाफ नियमानुसार सख्त कार्यवाही करने का भी प्रावधान किया गया है। सरकार एवं एनजीटी द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार प्लास्टिक की मोटाई 120 माइक्रोन से कम नहीं होनी चाहिए। इससे कम मोटाई वाले प्लास्टिक की चीजों पर प्रतिबंध रहेगा।उन्होंने कहा कि निर्धारित तिथि से पहले जिला में पर्यावरण को सिंगल यूज प्लास्टिक से पहुंचने वाले नुकसान के प्रति जनमानस को जागृत करने व बाजार में व्यापारियों व खुदरा विक्रेताओं को पॉलीथिन के विकल्प अपनाने से जुड़ी गतिविधियां भी आरंभ की जा रही हैं।उपायुक्त ने कहा कि बढ़ते प्रदूषण को सबसे बड़ा कारण प्लास्टिक है।प्लास्टिक हमारे वातावरण को कई तरीकों से नुकसान पहुंचाता है। वायु प्रदूषण के साथ साथ प्लास्टिक से जल व भूमि प्रदूषण भी बड़े पैमाने पर होता है। प्लास्टिक के कारण भूजल रिचार्ज भी नहीं हो पाता है। प्लास्टिक कई सालों तक नष्ट नहीं होता है, जिसके कारण सालों तक वातावरण को इसका नुकसान झेलना पड़ता है। हम सभी को ये बात समझनी होगी कि प्लास्टिक ना केवल वातावरण के लिए बल्कि मनुष्य के लिए भी खतरनाक है। उन्होंने कहा कि आगामी एक जुलाई से प्लास्टिक के प्रयोग पर प्रतिबंध लग जाएगा। ऐसे में हम सभी को मिलकर पर्यावरण संरक्षण में अपनी और आमजन मानस की सहभागीदारी निभानी है। उन्होंने कहा कि पॉलीथिन पर रोक न केवल हमारे लिए बल्कि आने वाली पीढ़ी के लिए भी बहुत जरूरी है। प्लास्टिक के दुष्प्रभाव को लेकर जन जागरण अभियान भी चलाया जा रहा है। उन्होंने जिला में प्लास्टिक वेस्ट रूल्स का सख्ती से पालना सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कहा है कि एसयूपी के इस्तेमाल को रोकने के लिए गंभीरता से कार्य किया जाए। सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल पर रोक के लिए स्कूल व कॉलेजों में निबंध लेखन, पेंटिंग आदि जागरूकता गतिविधियों का आयोजन किया जाए।

साइकिल रैली को चेयरमैन हरियाणा राज्य पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड राघवेंद्र राव ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर हरियाणा राज्य पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के साथ मिलकर साइकिल जागरूकता रैली निकाली गई| साइकिल रैली को पी राघवेंद्र राव चेयरमैन हरियाणा राज्य पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। विश्व पर्यावरण दिवस पर दक्ष फाउंडेशन ने साइकिल रैली में विशेष सहयोग दिया। जागरूकता साइकिल रैली को टाउन पार्क सेक्टर- 31 फरीदाबाद से रवाना किया गया। यह साइकिल रैली सेक्टर- 31 से डीएलएफ इंडस्ट्रियल एरिया, स्प्रिंग फील्ड कॉलोनी, इंद्रप्रस्थ कॉलोनी, सेक्टर 30 से होते हुए वापस टाउन पार्क पहुंची। इस दौरान बच्चों ने आमजन को नारे लगाकर पर्यावरण संरक्षण बारे जागरूक किया। साइकिल रैली में डेढ़ सौ से अधिक बच्चों ने भाग लिया। रैली के समापन उपरांत सभी को कपड़े के थैले के साथ पौधे भी वितरित किए गए ताकि सही मायने में पर्यावरण बचाने का संदेश आम जन तक पहुंच सके। आपको बता दें इस वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस की थीम केवल एक पृथ्वी है। रैली में सदस्य सचिव हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, रीजनल ऑफिसर फरीदाबाद सुमिता कनोडिया, अंकुर शरण, अजय गर्ग, बबीता गर्ग, हरिचंद मान, अनूप सिंह, देवेंद्र सिंह, सुरेंद्र सिंह, हुकुम सिंह आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे।

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर राज्य स्तरीय समारोह में किया संबोधित

हरियाणा सरकार के परिवहन, खनन एवं कौशल विकास मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि बेहतर कल के लिए पर्यावरण संरक्षण सबसे ज्यादा जरूरी है। आज विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर हम सभी को मिलकर पर्यावरण को साफ सुथरा रखेंने की जिम्मेदारी लेनी होगी। श्री मूलचंद शर्मा रविवार को सेक्टर-12 स्थित कन्वेंशन सेंटर में राज्य स्तरीय विश्व पर्यावरण दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हर निवासी को साफ सुथरा वातावरण, जल संरक्षण और पेड़ पौधे लगाकर उनका लालन-पालन करने में विशेष भागीदारी सुनिश्चित करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा फरीदाबाद ज़िला को हरा-भरा व प्रदूषण मुक्त बनाए रखने के लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं। इसके लिए फरीदाबाद के जिला के सभी जोहड़ों का नवीनीकरण किया जा रहा है। उसमें ठोस, कचरा प्रबंधन के लिए अलग से प्लांट लगाए जा रहे हैं। इसके अलावा फरीदाबाद को स्वच्छ और क्लीन रखने के लिए सीएसआर के सहयोग से बेहतर कदम उठाए जा रहे हैं। प्रदेश स्तरीय विश्व पर्यावरण दिवस पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि प्रकृति के साथ हर व्यक्ति छेड़छाड़ कर आ रहा है। इसलिए हर व्यक्ति का यह कर्तव्य बनता है कि वह प्रकृति को बनाए रखने में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि दुनिया में लगभग 8 अरब की आबादी है और इसमें से 135 करोड़ लोग अकेले भारत में रहते हैं। आबादी के हिसाब से फरीदाबाद भी प्रदेश में पहला जिला है इसलिए फरीदाबाद के हर नागरिक का यह कर्तव्य बनता है कि वह पर्यावरण को बनाए रखने में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। हम इस कार्य को आपस में मिलकर बेहतर करके फरीदाबाद को क्लीन फरीदाबाद, ग्रीन फरीदाबाद बनाने में प्रदेश में नहीं देश में भी नंबर वन बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि हर नागरिक का कर्तव्य बनता है कि वह अपने जन्मदिन, सालगिरह, विवाह सालगिरह सहित अन्य सामाजिक आयोजनों में भी पेड़ पौधे अवश्य लगाए और उनका लालन-पालन करें। कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में और मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश में पर्यावरण बचाने के लिए अनेक योजनाएं बनाई हैं और उन्हें क्रियान्वित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार आजादी के 75 वे बरस को आजादी के अमृत महोत्सव के रूप में मना रही है। आजादी के अमृत महोत्सव में आयोजित पर्यावरण स्वच्छता दिवस अभियान आगामी जुलाई माह तक चलेगा और इसमें हर आदमी भागीदार बनकर पेड़ पौधे लगाने, स्वच्छता अभियान करने, जल संरक्षण करने में का भागीदार बने।इस अवसर पर विधायक नरेंद्र गुप्ता ने कहा कि भूमि को बचाने के लिए इसका संरक्षण करना जरूरी है। पौधारोपण करके, स्वच्छता अपनाकर और पेड़ पौधों का पालन करके इसे बेहतर बनाया जा सकता है। यह कार्य स्वयं भी करें और अन्य लोगों को प्रेरित भी करें।परोफेसर मुखर्जी ने कहा कि धरती पर मानव जीवन के लिए पर्यावरण संरक्षण जरूरी है। पर्यावरण में अधिक से अधिक ऑक्सीजन कैसे बढ़ाएं। जल संरक्षण कैसे करें और पर इन दोनों के लिए पेड़ पौधे लगाना जरूरी है।पर्यावरण बोर्ड के सलाहकार एवं पूर्व वाइस चांसलर डॉ केसी बांगड़ ने कहा कि जिस प्रकार हमारे दैनिक जीवन में ऑक्सीजन जरूरी है। उसी प्रकार हमें पर्यावरण को बचाने के लिए पेड़ पौधे लगाने और पानी संरक्षण भी जरूरी है। धरती पर जब पेड़ पौधे व पानी ही नहीं रहेगा तो मानव जीवन के एक बहुत बड़ा संकट खड़ा हो जाएगा।प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के सदस्य सचिव एस नारायण ने कहा कि सरकार द्वारा पर्यावरण को बचाने के लिए बहुत से कानून भी बनाए गए हैं। उन कानूनों का बेहतर क्रियान्वयन केवल पेड़ पौधे लगाकर और जल संरक्षण करके ही बेहतर तरीके से किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हम अपने घरों में और इंडस्ट्रीज में तथा कार्यालयों में सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट का बेहतर तरीके से क्रियान्वयन करें तो निश्चित तौर पर 50 प्रतिशत हमें सफलता मिलेगी। हरियाणा प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन पी राघवेंद्र राव ने कहा कि पर्यावरण बचाने के लिए हमारे सामने क्या-क्या चैलेंज है, और क्या-क्या इशू हैं और इन इश्यू और चैलेंज को कैसे बेहतर तरीके से क्रियान्वित करके हम पृथ्वी पर जल, पेड़ पौधों की व्यवस्था बनाए रख सकते हैं। उन्होंने कहा कि ग्लोबल वार्मिंग में दिन प्रतिदिन गर्मी बढ़ती जा रही है और इस गर्मी को हम जल संरक्षण करके और पेड़ पौधे लगाकर ही दूर कर सकते हैं। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने प्रदेश स्तरीय विश्व पर्यावरण दिवस पर समारोह में पधारे सभी महानुभाव और अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि जिला फरीदाबाद पर्यावरण को बचाने में कई क्षेत्रों में बेहतर तरीके से कार्य कर रहा है और इसके सकारात्मक परिणाम फरीदाबाद के कुछ क्षेत्रों में देखने को मिल रहे हैं। जल्द ही पूरे फरीदाबाद शहर में भी देखने को मिलेंगे।इस अवसर पर पर्यावरण के क्षेत्र में पेंटिंग व स्लोगन प्रतियोगिता में प्रथम व द्वितीय और चतुर्थ स्थान पर आने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया। इसके अलावा डीएलएफ इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, शिवालीक ग्रुप और एचपीएल विद्युत लिमिटेड के जनप्रतिनिधियों को पर्यावरण क्षेत्र में बेहतर कार्य करने पर सम्मानित किया गया।विश्व पर्यावरण दिवस समारोह में आए हुए सभी मेहमानों को पुष्पगुच्छ देकर और पौधा भेंट कर सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलित कर किया और राष्ट्रीय गान के साथ समापन किया गया। स्कूली विद्यार्थियों द्वारा पर्यावरण दिवस पर नाटक व भजनों की प्रस्तुति दी गई।इस अवसर पर हरियाणा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के चेयरमैन पी राघवेंद्र राव, डायरेक्टर जनरल पर्यावरण एस नारायण, डॉक्टर केसी बांगड़, विधायक नरेंद्र गुप्ता, बीजेपी के जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, उपायुक्त जितेंद्र यादव, नगर निगम के आयुक्त यशपाल, सीटीएम नसीब कुमार, सुधीर नागर, पुनीता हसीजा, डॉक्टर मुनेष चौधरी सहित कई गणमान्य व्यक्ति और गणमान्य उद्योगपति उपस्थित रहे।

कोविड के पीड़ित 24 लोगों को ठीक होने पर भेजा गया घर

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया किजिला में आज शनिवार को कोरोना वायरस के 20 मामलेपॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है की 24 लोगोंको ठीक होने पर घर भेज दिया गया हैवहीं जिला मेंकोरोना का रिकवरी रेट भी 99.30 प्रतिशत पर पहुंच गयाहै।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के2 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन परजिला में 168 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसोंकी संख्या 170 है। जबकि कई लोग कोरोना को मातदेकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण कीरफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन परजोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1496 लोगों के टेस्टकिए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1634658 लोगोंद्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 129911 लोगकोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1502934 लोगनेगेटिव मिले। अब तक जिला में 1586 लोगों के रिजल्टआने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 7.95 प्रतिशत है।जबकि रिकवरी रेट 99.30 प्रतिशत है। जिला मेंएक्टिव केस रेट 0.13 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलनेसे रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जारहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों सेअपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने केलिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें।कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्यविभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 और8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिलाप्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 परभी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई ।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बतायाकि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिनके अनुसार फरीदाबाद जिला में 1744962 लोगों को अबतक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों कासर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1743259 होगई है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए वैक्सीन जरूरी : डीसी जितेन्द्र यादव

उपायुक्त जितेन्द्र यादव के कुशल मार्गदर्शन में आजादी के अमृत महोत्सव के तत्वावधान में स्वास्थ्य विभाग द्वारा टीकाकरण अभियान जोर शोर से चलाया जा रहा है। वैक्सीनेशन अभियान के तहत समाचार लिखे जाने तक जिला में 49 सरकारी और 9प्राइवेट अस्पतालों सहित 58 स्थानों पर आयोजित वैक्सीनेशन कैम्पों में 83292 लोगों को बूस्टर डोज वैक्सीन भी लगाई गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आज के आंकड़ो को मिलाकर जिला में वैक्सीन की कुल पहली व दूसरी डोज़ सहित कुल 4046164 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है।जिला में वैक्सीनेशन अभियान की कमान संभाल रहे एसएमओ डॉ. मान सिंह ने बताया कि आज शनिवार को टीकाकरण कार्यक्रम के तहत जिला के वैक्सीनेशन केन्द्रों पर 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के 1364145 लोगों को पहली और 1114847 लोगों को दूसरी और 11745लोगों को बुस्टर डोज़ दी गई। डॉ. मानसिंह ने आगे बताया कि 40147 हेल्थ वर्कर्स को प्रथम, 39828 को दूसरी और 8904 को बूस्टर डोज लगाई गई व फ्रंट लाइन के वर्कर्स को 13375 को प्रथम, 13610 को दूसरी और 2493 लोगों को बुस्टर डोज लगाई गई। वहीं बूस्टर डोज़ अभियान के तहत आज 45 से 59 आयु के लोगों को 374924 को प्रथम, 345010 को दूसरी और 19385लोगों को बुस्टर डोज लगाई गई। इसी क्रम में 60 वर्ष और उससे अधिक आयु वर्ग के लोगों को 204783 को प्रथम, 188691 को दूसरी और 40765 लोगों को बुस्टर डोज सहित कोरोना रोधी वैक्सीन के टीके लगाए गए हैं। डॉ. मान सिंह ने आगे बताया कि जिला में 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के 57879 बच्चों को पहली तथा 23864 बच्चों को दूसरी डोज लगाई गई। कोरोनारोधी वैक्सीन की 15से 17 वर्ष आयु वर्ग के 110672 किशोरों को पहली व 71277 को दूसरी डोज़ के टीके लगाए गए।डॉ. मान सिंह ने बताया कैम्प में आने वाले लोगों को किसी प्रकार के रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं थी। सभी लोगों का पहले आओ पहले लगवाओ की तर्ज पर मौके पर ही रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। नागरिकों को सभी टीकाकरण केन्द्रों पर पहले आओ पहले लगवाओ की तर्ज पर वैक्सीन लगाई जा रही है।जिला में वैक्सीनेशन अभियान के तहत सोमवार को केन्द्रों पर 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के नागरिकों को कोवैक्सीन, कोविशिल्ड की पहली व दूसरी डोज़ लगाई जा रही है। वहीं बूस्टर डोज़ के माध्यम से स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स व 60 वर्ष से अधिक आयु के वे लोग जो गम्भीर बीमारियों से ग्रस्त हैं, उनको भी उपरोक्त केन्द्रों पर कोविशिल्ड के टीके लगाए जाएंगे।शिक्षा व नौकरी के लिए विदेश जाने के लिए चयनित नागरिक अस्पताल/बीके में जाकर अपना कोवैक्सीन, कोविशिल्ड का दूसरा टीका लगवा सकते हैं। सभी केंद्रों पर वैक्सीन के स्लॉट उपलब्ध रहेंगे। यहाँ दूसरी डोज़ के रूप में भी स्लॉट उपलब्ध रहेंगे। इसके अतिरिक्त जिन नागरिकों को कोविशिल्ड का पहला या दूसरा टीका लगवाना है वह अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर अपनी कोरोना रोधी वैक्सीन लगवा सकता है। शनिवार को सभी 58 टीकाकरण केंद्रों पर वैक्सीन के कुल स्लॉट उपलब्ध कराए गए हैं। इसमें स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स व 60 वर्ष से अधिक आयु के वे लोग जो कॉर्बिटी से प्रभावित उनके लिए ऑफ लाइन माध्यम से स्लॉट उपलब्ध रहेंगे। बूस्टर डोज़ के लिए किसी प्रकार के नए रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं है। वैक्सीनेशन कार्य देख रहे फरीदाबाद के उप-सिविल सर्जन डॉक्टर मान सिंह ने बताया कि सभी सेंटरों पर पहले आओ पहले लगवाओ की नीति के आधार पर वैक्सीन लगेगी। वहीं वीरवार को जिला में 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को व 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों को भी कोरोना रोधी वैक्सीन लगाई गई।जिला में विभिन्न आयु वर्ग के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान के तहत बुधवार को 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को स्वास्थ्य केंद्र टीकाकरण केन्द्रों पर कोवैक्सीन का पहला व दूसरा व 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों को केन्द्रों पर कॉवेक्सीन का पहला, दूसरा व बूस्टर डोज़ टीका लगाया गया।जिला में वैक्सीनेशन अभियान के नोडल अधिकारी एवं उप सिविल सर्जन डॉ मान सिंह ने आगे बताया कि रविवार को जिन स्वास्थ्य केंद्रों पर टीकाकरण कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। अन्य जगहों पर बनाए गए अस्थायी केन्द्रों पर कॉर्बेवैक्स वैक्सीन की व केन्द्रों पर कॉवैक्सीन की पहली, दूसरी व बूस्टर डोज़ के रूप में स्लॉट उपलब्ध रहेंगी। डॉ. सिंह ने सभी जिला वासियों से अपील करते कहा कि वे अपने परिवार व परिचितों में उपरोक्त आयु वर्ग के किशोरों व बच्चों का टीकाकरण करवाना सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना की राशि में बढ़ोतरी : उपायुक्त जितेन्द्र यादव

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया हरियाणा सरकार द्वारा मुख्यमंत्री विवाह शगुन योजना के तहत पात्र व्यक्तियों को दी जाने वाली शगुन राशि में बढ़ोतरी की गई है। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले अनुसूचित जाति के परिवारों को कन्यादान के तौर पर अब 71 हजार रुपए की राशि दी जाएगी। इस योजना के तहत शगुन के तौर पर 66 हजार रुपए की राशि शादी के अवसर पर तथा 5 हजार रुपए की राशि शादी के 6 माह के अन्दर-अन्दर शादी रजिस्ट्रेशन कार्यालय में आवेदन जमा करवाने के उपरान्त दी जाएगी।डीसी जितेन्द्र यादव ने आगे बताया कि समाज के सभी वर्गों में जिनकी वार्षिक आय 1 लाख 80 हजार रुपए से कम हो। उन विधवाओं, तलाकशुदा, अनाथ, बेसहारा औरतों तथा बेसहारा बच्चों और उनकी शादी के लिए 51 हजार रुपए की राशि दी जाएगी।जिला समाज कल्याण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार सामान्य एवं पिछड़े वर्ग से सम्बन्धित गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले, जिनकी वार्षिक आय 1 लाख 80 हजार रुपए से कम है। उन व्यक्तियों की लड़की की शादी के लिए 31 हजार रुपए की राशि दी जाएगी। इसके अतिरिक्त जिन अनुसूचित जाति के व्यक्तियों का बीपीएल कार्ड नहीं है तथा वार्षिक आय एक लाख 80 हजार रुपए से कम है तो ऐसे व्यक्तियों की लड़कियों की शादी में 31 हजार रूपए की राशि दी जाएगी। दोनों ही परिस्थितियों में 28 हजार रुपए शादी के समय तथा 3 हजार रुपए की राशि शादी के 6 माह के अन्दर-अन्दर शादी रजिस्ट्रेशन कार्यालय में आवेदन जमा करवाने के उपरान्त पात्र व्यक्ति के खाते में डाल दी जाएगी।उन्होंने बताया कि आवेदक को अपनी लड़की की शादी से 2 महीने पहले आवेदन करना होगा और शादी के 3 महीने बाद तक प्रार्थी के को किसी देरी के ठोस कारण सहित आवेदन कर सकता है। उन्होंने सभी पात्र आवेदकों से अपील की है कि शादी से 2 माह पहले ही आवेदन करें। देरी से प्राप्त आवेदनों को महानिदेशक, पंचकुला द्वारा अनुमति उपरान्त ही लाभ दिया जाएगा।

ओल्ड फरीदाबाद स्थित अग्रवाल धर्मशाला के नवनिर्मित भवन के उद्घाटन समारोह में पहुंचे पूर्व उद्योग मंत्री विपुल गोयल।

आपको बतादें की आज ओल्ड फरीदाबाद में पुलिस स्टेशन के सामने बनी बहुत पुरानी अग्रवाल धर्मशाला में एक नए भवन का निर्माण पुरा हुआ है जिसके उद्घाटन समारोह में पूर्व मंत्री विपुल गोयल ने शिरकत की। इससे पहले जब धर्मशाला के निर्माण की शुरुआत् हुई थी तब भी इसका शिलान्यास पूर्व मंत्री विपुल गोयल के हाथो से ही हुआ था।इस मौके पर समस्त अग्रवाल समाज व शहर के सैकड़ों ग्रामीणों ने अपने नेता का शाल ओढ़ाकर ओर मोमेंटो देकर स्वागत किया और पुरानी यादों को फिर से ताजा करते हुए बताया कि उन्होंने शहर के लिए कितने अनगिनत काम किए हैं । प्रधान संत गोपाल गुप्ता ने कहा की शहर में उनके द्वारा जो विकास कार्य करवाए हैं वह ऐसे हैं जो आज तक पहले किसी ने नहीं करवाए थे । उनके लिए शहर हमेशा उनके कराए गए कार्यों को याद रखेगा और मौका आने पर उनके साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा रहेगा। अग्रवाल समाज के प्रधान संत गोपाल गुप्ता ने इस मौके पर बताया कि धर्मशाला सभी वर्गों के इस्तेमाल के लिए है, जब भी कभी किसी भी प्रोग्राम में धर्मशाला का इस्तेमाल शहर के किसी भी समाज के किसी भी कार्यक्रम के लिए किया जाएगा, उसे शहर में सबसे कम कीमतों पर धर्मशाला का इस्तेमाल करने के लिए उपलब्ध करवाई जाएगी । जिससे समाज के सभी वर्ग अपने छोटे-बड़े कार्यक्रम धर्मशाला में कर सकेंगे । अब एक नया भवन बनकर तैयार हो गया है जिससे लोगों को काफी लाभ मिलेगा।इस मौके पर विपुल गोयल ने कहा जो समाज और शहर के लोगों ने मुझे प्यार मान सम्मान दिया उसके लिए मैं सभी का आभार प्रकट करता हूं और कहा कि मैं इस शहर का बेटा हूँ और मुझे यहां की सभी समस्याएं पता है अपने कार्यकाल के दौरान जितना काम मैं कर सका उसे पूरा करवाने का भी पर्यत्न हर समय करूंगा । इसके अलावा फरीदाबाद शहर का कोई भी नागरिक परेशान है तो मैं उसके लिए 24 घंटे उपलब्ध हूं उपलब्ध था और हमेशा रहूंगा । इस मौके पर कृष्णपाल गुर्जर सांसद फरीदाबाद, अजय गोड, विधायक नरेन्द्र गुप्ता, लखन सिंगला, अग्रवाल समाज के प्रधान श्री संत गोपाल गुप्ता, मोती लाल गुप्ता, के जी अग्रवाल, सतीश सिंघल, पंडित मुकेश शास्त्री, विष्णु गोयल, जगदीश गोयल व अन्य सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

वैश्य प्रतिनिधि सम्मेलन में बल्लभगढ़ क्षेत्र की होगी अह्म भागेदारी : मनोज अग्रवाल

अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन द्वारा नई दिल्ली स्थित कॉन्स्टिट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया में आयोजित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में संस्था के वरिष्ठ राष्ट्रीय महामंत्री गोपाल मोर एवं गुरुग्राम के पूर्व विधायक व वैश्य महासम्मेलन के राष्ट्रीय महामंत्री उमेश अग्रवाल द्वारा बल्लभगढ़ के वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं वैश्य नेता मनोज अग्रवाल को अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन, हरियाणा का वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया। अपनी इस नियुक्ति पर मनोज अग्रवाल ने अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन के शीर्ष नेतृत्व का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष की रूप उन्हें जो महत्त्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी गई है उसके लिए मैं अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. गिरीश संघी का तहेदिल से आभार व्यक्त करता हूं और महासम्मेलन के सभी सदस्यों को यह विश्वास दिलाता हूं कि वैश्य समाज की एकजुटता और मजबूती के लिए मैं हर संभव प्रयास करूंगा तथा इस सम्मेलन में बल्लभगढ़ क्षेत्र की अह्म भागेदारी होगी। उन्होंने कहा कि आज अगर हमें अपने आपको मजबूत करना है तो हमें अपने वैश्य समाज को मजबूत करना होगा क्योंकि एक व्यक्ति कमजोर हो सकता है लेकिन व्यक्तियों का समूह एवं समाज कभी कमजोर नहीं हो सकता। समाज व संगठन हर कार्य करने में सक्षम होता है एवं मजबूत समाज ही व्यक्ति को मजबूती प्रदान करता है इसलिए हमारे वैश्य समाज के सभी घटकों को एक सूत्र में बंधकर पूरी एकजुटता के साथ काम करना होगा ताकि हम सामाजिक और राजनीतिक दोनों ही मोर्चों पर निर्णायक भूमिका में आ सकें। श्री अग्रवाल ने कहा कि हमारे समाज के कमजोर एवं जरुरतमंद व्यक्तियों एवं परिवारों की मदद कर उन्हें भी मजबूती प्रदान करनी होगी जिससे की हमारा वैश्य समाज बेहतर तरीके से संगठित हो सके। बैठक में वरिष्ठ प्रदेश महामंत्री दुर्गा दत्त गोयल व अशोक मित्तल, तरसेम मित्तल, मुनीश गोयल, युवा जिलाध्यक्ष लक्की सिंगला, ललित महाजन एस. पी मित्तल, पलवल जिला भूषण गोयल, उमा गोयल, शारदा गुप्ता सहित समाज व संगठन के अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

कम्युनिटी रेडियो की कार्यप्रणाली से रूबरू हुए जनसंचार एवम् पत्रकारिता के विद्यार्थी।

डी.ए.वी शताब्दी महाविद्यालय के पत्रकारिता विभाग के छात्रों ने एन.जी.एफ. इंजीनियरिंग कॉलेज, पलवल के सामुदायिक रेडियो स्टेशन – रेडियो एन.जी.एफ. पलवल, दिल से दिल तक, 90.4 का भ्रमण व अवलोकन किया। इस भ्रमण का उद्देश्य पत्रकारिता विभाग के छात्रों को एक रेडियो स्टेशन की कार्यप्रणाली व तकनीकी से अवगत कराना रहा।डी.ए.वी. शताब्दी महाविद्यालय के लगभग 40 छात्रों ने एन.जी.एफ. इंजीनियरिंग कॉलेज, पलवल का दौरा किया। छात्रों ने कॉलेज परिसर स्थित सामुदायिक रेडियो स्टेशन का अवलोकन किया। एन.जी.एफ. रेडियो के प्रोग्राम संचालक जितेश ने छात्रों की अगवानी की | वे छात्रों को रेडियो प्रसारण रूम में लेकर गए | उन्होंने छात्रों को एक सामुदायिक रेडियो क्या होता है और किस तरह से काम करता है, के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि हमारा रेडियो स्टेशन 90.4 FM फ्रिक्वेंसी पर ट्यूनिंग होता है व 25 से 30 किलोमीटर के क्षेत्र में रहने वाले लोगों को कवर करता है। उन्होंने रिकॉर्डिड, लाइव व फोन इन – रेडियो प्रोग्राम के कॉन्सेप्ट को छात्रों को बारीकी से बताया। उन्होंने सेल्फी विद डॉटर कार्यक्रम के बारे में बताते हुए कहा कि इस प्रोग्राम का आगाज़ करने वाले जींद के गांव के सरपंच सुनील जागलान को यहाँ बुलाना मुश्किल था इसलिए फोन-इन प्रोग्राम हम लोगों ने उनके साथ किया। एन.जी.एफ. कॉलेज के रेडियो तकनीशियन आलोक ने छात्रों को प्रोग्राम को कैसे रिकॉर्ड, एडिट व ब्रॉडकास्ट किया जाता है, के बारे में बताया। उन्होंने रेडियो के क्षेत्र में अलग-अलग संभावित जॉब्स के लिए अपने आप को कैसे तैयार करना है, के बारे में बताया। उन्होंने छात्रों को बताया की आप हमारे यहाँ रेडियो में इन्टर्नशिप किस तरीके से कर सकते है। वॉइस ऑवर आर्टिस्ट रिकॉर्डिंग रूम में मौजूद मैडम योगिता ने छात्रों को वॉइस ऑवर आर्टिस्ट की कार्यविधि को समझाया। उन्होंने रेडियो का इतिहास भी छात्रों के समक्ष रखा। जनसंचार एवं पत्रकारिता विभागाध्यक्ष रचना कसाना इस तरह की गतिविधियों का आयोजन समय समय पर करती रहती है और ये भ्रमण भी रचना कसाना एवं विरेन्द्र सिंह कि देखरेख में ही आयोजित हुआ था | सभी छात्र इस सामुदायिक रेडियो केंद्र के भ्रमण से काफी उत्साहित व् लाभान्वित नजर आए।

सेक्टर के लोगों को 25 एमएलडी अतिरिक्त मिलेगा आएगा

पेयजल‌ समस्या से जूझ रहे एनआईटी और औद्योगिक सेक्टरों के लिए राहत भरी खबर है। आवासीय सेक्टर-22, 23 और औद्योगिक सेक्टर-24, 25 वा‌सियों को 25 एमएलडी अतिरिक्त पानी मिलेगा। इसके लिए फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए) की ओर से यमुना किनारे बूस्टर लगाने का तेजी से कार्य किया जा रहा है। यह जानकारी कैबिनेट मं‌त्री मूलचंद शर्मा ने लघु उद्योग भारती के स्थापना दिवस समारोह में दी। उन्होंने कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में आधारभूत ढांचे को दुरुस्त करने की दिशा में तेजी से कार्य किया जा रहा है। कार्यक्रम में लघु उद्योग भारती के अखिल भारतीय अध्यक्ष बलदेव प्रजापति, विधायक नरेंद्र गुप्ता, अखिल भारतीय महामंत्री घनश्याम ओझा मुख्य रूप में उपस्थित रहे। लघु उद्योग भारती की ओर से राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित मिलन वाटिका में स्थापना दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता अखिल भारतीय अध्यक्ष बलदेव प्रजापति ने ‌की। जबकि मंच संचालन लघु उद्योग भारती के जिला अध्यक्ष रवि भूषण खत्री ने किया। मूलचंद शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहरलाल के नेतृत्व में देश का चहुमुखी विकास हो रहा है। खस्ताहाल सड़कों की जगह सीमेंटेड सड़के बनाई जाएगी। सेक्टर-22, 23, 24, और 25 में लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। यह समस्या जल्द दूर हो जाएगी। विधायक नरेंद्र गुप्ता ने ‌कहा कि सरकार के पास फंड की कोई कमी नहीं है। औद्योगिक क्षेत्रों में विकास कार्य लगातार ‌कराए जा रहे हैं। चाहे सेक्टर-6, 24, 25, 65 हो या आईएमटी हो। बलदेव प्रजापति ने कहा कि देश में एक समय था जबकि लघु उद्योगों की संख्या काफी कम थी। सरकार की तरफ से केवल बड़े उद्योगों को ही बैंकों से सस्ता लोन सहित अन्य सहायता उपलब्ध कराई जाती थी। लघु उद्योगों को 18 फीसदी ब्याज दर पर लोन मिलता था। संगठन के माध्यम से सरकार ने लघु उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए। इससे लघु उद्योग संगठन को भी देशभर में मजबूती मिली। नए लोग जुड़े। आज देशभर में 32 हजार से ज्यादा सदस्य है। लघु उद्योग भारती के अखिल भारतीय महामंत्री घनश्याम ओझा ने संगठन के सभी सदस्यों से संगठन को मजबूत बनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि संगठन जितना ज्यादा बढ़ा होगा। हम उतनी मजबूती से सरकार के समक्ष बात रख सकेंगे। जिला अध्यक्ष रवि भूषण खत्री ने कहा कि सरकार के स्टार्टअप अभियान की सराहना की। उन्होंने कहा कि सरकार लघु उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए तेजी से कार्य कर रही है। कुछ कमियां भी है जिन्हें हम समय-समय पर सरकार के समक्ष रखते है। इसलिए अन्य उद्यमी भी अपनी समस्याओं को जरूर बताएं। जिससे सरकार और प्रशासन के माध्यम से उनका समाधान कराया जा सके। लघु उद्योग भारती के सदस्य अरुण बजाज ने कहा कि फरीदाबाद में इस तरह का कार्यक्रम पहली बार हुआ है। यह सभी सदस्यों के अथक प्रयास से ही संभव हुआ है। इसके लिए उन्होंने सभी साथियों का आभार व्यक्त किया। इस मौके महासचिव राकेश गुप्ता, कोषाध्यक्ष अमृतपाल सिंह कोचर, पूर्व अध्यक्ष एमपी रुंगटा , अरुण आनंद ,उद्योगपति कृष्ण कोशिक , उद्योगपति संजय अरोड़ा , उद्योगपति एचके बत्रा , उद्योगपति जेपी मल्होत्रा अरुण आनंद सहित काफी संख्या में विभिन्न उद्योगिक संगठन के सदस्य मौजूद रहे।

Mडीएवी शताब्दी महाविद्यालय फरीदाबाद में स्वामी विवेकानंद व्याख्यानमाला का आयोजन

डीएवी शताब्दी महाविद्यालय फरीदाबाद में विवेकानंद यूथ क्लब द्वारा स्वामी विवेकानंद व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया। कॉलेज की कार्यकारी प्राचार्या डॉ. सविता भगत ने विवेकानंद यूथ क्लब से जुड़े, अन्य क्षेत्रों से आए हुए सभी अतिथियों का स्वागत किया एवं ऐसे विचारोत्तेजक कार्यक्रम कराने के लिए आभार प्रकट किया। मुख्य वक्ता निखिल यादव, प्रांत युवा प्रमुख, विवेकानंद केंद्र, उत्तर प्रांत ने सरल और मनोरंजक ढंग से तथा क्रियाकलापों द्वारा विद्यार्थियों को विवेकानंद के व्यक्तित्व व जीवन आदर्शों से अवगत कराया। आज के कार्यक्रम का बीजक उद्देश्य “नो दाईसेल्फ” था। डीएवी कॉलेज के विवेकानंद क्लब की संयोजिका डॉ अर्चना सिंघल और सक्रिय सदस्य श्रीमती श्वेता वर्मा, सहायक प्रोफेसर हैं। कॉलेज के विभिन्न संकायों के विद्यार्थियों ने बड़े उत्साह से इस कार्यक्रम में भाग लिया। विवेकानंद क्लब फरीदाबाद से जुड़े श्री सुधीर कपूर जी ने मंच संचालन किया। डॉ. नीरज, हिंदी विभाग की सहायक प्रोफेसर ममता कुमारी, कमलेश मैम, मोहिनी मैम, सिया मैम ने भाग लिया। सभी के प्रयास व सहयोग से यह कार्यक्रम सफल हुआ।

प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए हडल एप्प पर करें फरीदाबाद और पलवल ज़िलों के खिलाड़ी रजिस्ट्रेशन

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आज़ादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र के लिए तीन दिवसीय सांसद खेल महोत्सव 20, 21 व 22 मई को आयोजित किया जाएगा।उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि सांसद खेल महोत्सव में जो भी टीमें अथवा खिलाड़ी शामिल होना चाहते हैं उनके लिए हडल ऐप ( hudle:https://hudle.in/pages/sansad-khel-mahotsav) पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना आवश्यक होगा। उन्होंने बताया कि खिलाड़ियों के लिए रजिस्ट्रेशन की तिथि 17 मई तक बढ़ा दी गई है। पहले यह तिथि 15 मई तक थी। सांसद खेल महोत्सव में टीमों की एंट्री फीस ₹500 रूपये और एक कल खेल की एंट्री फीस ₹200 रूपये निर्धारित की गई है। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता में फरीदाबाद और पलवल दोनों जिलों के खिलाड़ी हिस्सा ले सकते हैं। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि प्रतियोगिता में टीम गेम में प्रथम विजेता टीम को 31,000 रुपए व दूसरे स्थान पर रहने वाली टीम को 21,000 रुपए इनाम दिया जाएगा। तीसरे स्थान पर रहने वाली टीम को 11,000 रुपए की धनराशि का इनाम दिया जाएगा। वहीं दूसरी ओर एकल खेल में प्रथम विजेता खिलाड़ी को 5,100 रुपए, दूसरा स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ी को 3,100 रुपए व तीसरे विजेता खिलाड़ी को 2,100 रुपए धनराशि का इनाम दिया जाएगा।उपायुक्त जितेंद्र यादव ने आगे बताया कि आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में 20 से 22 मई तक आयोजित होने वाले सांसद खेल महोत्सव में बास्केटबॉल, हॉकी, बैडमिंटन पैरा, फुटबॉल, एथलेटिक, सर्कल कबड्डी, बैडमिंटन, टग ऑफ वार, खो-खो, वॉलीबॉल खेल की प्रतियोगिताएं आयोजित होंगी। रजिस्ट्रेशन व अधिक जानकारी के लिए

कोविड के पीड़ित 98 लोगों को ठीक होने पर घर भेजा गया

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में आज शनिवार को कोरोना वायरस के 47 मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है की 98 लोगों को ठीक होने पर घर भेज दिया गया है। वहीं जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 99.03 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 10 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 507 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 517 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1810 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1601071 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 129205 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1469351 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 2167 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 8.07 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 99.03 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.40 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्य विभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 और 8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिला प्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 पर भी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1744239 लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1739081 हो गई है।

विधायक नरेन्द्र गुप्ता, एफएमडीए के सीईओ अनिल मलिक ने विकास कार्यों का किया औचक निरीक्षण

विधायक नरेन्द्र गुप्ता व फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण के सीइओ अनिल मलिक के साथ परिवहन मंत्री मूलचन्द शर्मा के बड़े भाई टिपरचंद शर्मा ने वाईएमसीए/YMCA रोड पर चल रहे कार्य का औचक निरिक्षण किया। इस मौके पर सेक्टरवासी भी मौजूद रहे।
उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला शुरू किए गए विकास कार्यों की गुणवत्ता पूरी तरह से नियमों के अनुरूप होनी चाहिए। विकास कार्यों में कोताही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

जिला फरीदाबाद में 13 लोगों 13 लाख रुपये की धनराशि के दिए ऋण पत्र

हरियाणा पिछङा वर्ग कल्याण निगम प्रबंध निदेशक जयबीर आर्य ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रंखला में मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा प्रदेश में जो मुख्यमंत्री अन्त्योदय परिवार उत्थान योजना शुरू की है। इसका मुख्य उद्देश्य पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति को राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं/परियोजनाओं का लाभ पहुंचाना है। ताकि वह राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ उठाकर अपने व अपने परिवार की आर्थिक स्थिति को सुधारने में सक्षम हो सकें। समाज में बराबरी का दर्जा हासिल कर सके। मुख्यमंत्री अन्त्योदय परिवार उत्थान योजना के अंतर्गत हरियाणा पिछड़े वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग कल्याण निगम के अन्य विभागों से अधिक ऋण वितरित किए गए हैं। अब तक निगम द्वारा प्रदेश में 532व्यक्तियों को 352 करोड़ रुपये की धनराशि के ऋण वितरण कर चुका है।हरियाणा पिछड़ा वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग कल्याण निगम के प्रबंध निदेशक जयवीर आर्य ने आज मंगलवार को 13 दिव्यांग लाभार्थियों को 13 लाख रुपये की धनराशि के ऋण स्वीकृति पत्र लघु सचिवालय कमरा नंबर 603 सेक्टर 12 फरीदाबाद में वितरित कर रहे थे। निगम के प्रबंध निदेशक जयबीर आर्य ने अपने संबोधन में कहा कि दिव्यांगजन जिस कार्य के लिए ऋण ले रहे हैं। उसे उसी कार्य में लगाएं ताकि उस कार्य से आपके परिवार की आर्थिक स्थिति में सुधार हो सके। जिससे निगम के लिए ऋण की किस्तों की अदायगी समय पर कर सकें। उन्होंने यह भी बताया कि जो लाभार्थी नियमानुसार किस्त समय पर भरेगा उसे ब्याज दर में 1प्रतिशत की अतिरिक्त छूट दी जाएगी। निर्धारित समय पर ऋण भरने करने के उपरांत दोबारा अपने कारोबार को बढ़ाने हेतु ऋण भी ले सकेंगे।निगम के प्रबंध निदेशक ने कहा कि दिव्यांगता कोई अभिशाप नहीं है यदि व्यक्ति के पास दूरदृष्टि सच्ची लगन और कड़ी मेहनत हो तो वह असंभव कार्य को संभव बना लेता है। उन्होंने उदाहरण के तौर पर बताया कि हरियाणा की दीपा मलिक ने पैरा ओलंपिक 2016 में रजत पदक जीतकर यह सिद्ध कर दिया कि लक्ष्य प्राप्त करने के लिए दिव्यांगता किसी प्रकार की रुकावट नहीं है।प्रबंध निदेशक जयबीर आर्य ने अपने संबोधन में यह भी अनुरोध किया कि आप ऋण लेने के लिए किसी दलाल व बिचौलिए के चंगुल में ना फंसे और ऋण के एवज में किसी को कोई पैसा ना दें। यदि आप से कोई भी व्यक्ति ऋण दिलाने की एवज में पैसों की मांग करता है। तो उसकी सूचना तुरंत मुझे संबंधित जिला उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक व जिला प्रबंधक को दें ताकि ऐसे व्यक्तियों के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जा सके। सीटीएम नसीब कुमार ने निगम के प्रबंध निदेशक जयबीर आर्य का स्वागत कर आभार व्यक्त किया। जिला प्रबंधक नन्द किशोर ने पिछङा वर्ग कल्याण निगम की विभिन्न योजनाओं और परियोजनाओं की विस्तार पूर्वक जानकारी दी।ऋण वितरण समारोह में सीटीएम नसीब कुमार, डीआरओ बिजेन्दर राणा, खादी ग्रामोउद्योग अधिकारी अनिल दलाल, वंदना, देवेंद्र सिंह, महावीर, राहुल, शीशपाल, विजय कुमार, प्रेम चंद, विनय, ख़ुशी राम,राजपाल, नेम चंद, राजेश, बिंदु भाटिया, जसवीर सिंह व् अन्य कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने किया शहर में अपनी तरह के पहले अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित सेंटर का उद्धघाटन

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने आज सोमवार फरीदाबाद के सेक्टर 8 में सर्वोदय हॉस्पिटल ने 25 बेड़ से सुसज्जित एक अत्याधुनिक डिलीवरी सेंटर का उद्धघाटन किया। केंद्रीय भारी उद्योग एवं ऊर्जा राज्यमंत्री सहित हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा व विधायक नरेंद्र गुप्ता ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का स्वागत किया। यह सेंटर मातृत्व के अनुभव को सुखद एवं आरामदेय बनाने को समर्पित है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि वह फरीदाबाद में सर्वोदय हॉस्पिटल में इस तरह के अत्याधुनिक बर्थिंग सेंटर को देखकर बेहद खुश हुए। बच्चे को जन्म देना एक महिला के जीवन के सबसे कीमती पलों में से एक होता है। माँ और नवजात शिशु को दुनिया में सर्वोत्तम देखभाल की आवश्यकता होती है। मुझे विश्वास है कि यह अत्याधुनिक सुविधा शहर के स्वास्थ्य संबंधी इंफ्रास्ट्रचर के लिए देश में इस तरह के सर्वश्रेष्ठ केंद्रों के बराबर होगी।सर्वोदय हेल्थकेयर फरीदाबाद के चेयरमैन डॉ. राकेश गुप्ता ने कहा कि एक महिला के लिए मातृत्व से जुड़ी यादें जीवन भर साथ रहती हैं। यह प्रीमियम बर्थिंग सेंटर इस अनुभव को सुखद बनाने और इस प्रक्रिया से जुड़ी हर छोटी बड़ी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है। जिसमे डिलीवरी से पहले और बाद में भी होने वाली सभी जरूरतों का ख्याल रखा गया है और मरीज के परिवार की सुविधा को भी महत्व दिया गया है। इस सेंटर को बनाने में हमने ना केवल देश बल्कि अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप जच्चा और बच्चा से जुडी सुरक्षा को ध्यान में रखा है। हम आशान्वित हैं कि इस सेंटर के आने से फरीदाबाद में अत्याधुनिक डिलीवरी सुविधा में एक बड़ा बदलाव आएगा। सर्वोदय हॉस्पिटल के इस अत्याधुनिक बर्थिंग सेंटर में नवीनतम उपकरणों के साथ एक विश्वस्तरीय लेबर डिलीवरी रूम है। इस सेंटर के लिए समर्पित टीम कार्यरत रहेगी जिसमें स्त्री रोग विशेषज्ञ, प्रसूति रोग विशेषज्ञ, बाल रोग विशेषज्ञ, डिलीवरी से पहले और बाद की देखभाल के लिए प्रशिक्षित नर्स एवं बाल एनेस्थेसियोलॉजिस्ट शामिल हैं। यह विशेष टीम डिलीवरी से पहले और बाद में देखभाल और माँ और नवजात शिशु पर व्यक्तिगत ध्यान देना सुनिश्चित करती हैं।इसके साथ – साथ सेंटर में एक अत्याधुनिक एन.आई.सी.यू. (NICU) और सभी स्थितियों से निपटने के लिए एक ब्लड बैंक की सुविधा शामिल है। बर्थिंग सेंटर के विशाल कमरे हॉस्पिटल की नियमित हलचल से दूर एक स्वस्थ और खुशनुमा माहौल देने के लिए डिज़ाइन किये गए हैं। आपको बता दें कि सर्वोदय हेल्थ केयर ग्रुप, सर्वोदय हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर,सेक्टर- 8, सर्वोदय हॉस्पिटल, सेक्टर-19 सहित 3 अन्य क्लींनिक, 3 डायलिसिस सेंटर, 1 इमेजिंग सेंटर और 1 नर्सिंग कॉलेज को समाहित करता है। यह ग्रुप 600 बेड, 110 आईसीयू बेड, 12 ऑपरेशन थियेटर, 4 डी पीईटी सीटी स्कैनर, सबसे उन्नत 6 डी काउच लिनैक रेडियोथेरेपी मशीन, बेहतरीन बोन मैरो ट्रांसप्लांट सुविधा, किडनी ट्रांसप्लांट यूनिट, सर्वाधिक उन्नत हैमोडायफिकेशन, बेहतरीन फाइब्रोस्कैन और कैथ लैब मशीन है। ग्रुप की ओर से कार्डियोलॉजी, कार्डियो-थोरैसिक और वैस्कुलर सर्जरी, कैंसर देखभाल, तंत्रिका विज्ञान, हड्डी रोग और ज्वाइंट रिप्लेसमेंट, मूत्रविज्ञान, नेफ्रोलॉजी, न्यूनतम इनवेसिव सर्जरी, गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और जीआई सर्जरी में सुपर स्पेशियलिटी सेवाएं प्रदान कर रहा है।

कोविड के पीड़ित 86 लोगों को ठीक होने पर घर भेजा गया

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में आज रविवार को कोरोना वायरस के 93मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है की 86 लोगों को ठीक होने पर घर भेज दिया गया है। वहीं जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 98.97 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 8 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 580 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 588 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 779 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1591655 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 128829 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1461059 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 1438 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 8.09 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 98.97 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.58 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्य विभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 और 8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिला प्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 पर भी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई ।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1743797लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1737937 हो गई है।

लाभार्थी किसान अपने बैंक खाता को आधार से जरूर लिंक करवाएँ : डीसी जितेन्द्र यादव

डीसी जितेन्द्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पंजीकृत किसानों को अपना बैंक खाता अपने आधार कार्ड से लिंक करवाना आवश्यक हो गया है, अन्यथा किसान निधि योजना के तहत उनकी अगली आने वाली किश्त रुक सकती है।कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के किसान सम्मान निधि योजना की जिला नोडल अधिकारी डॉ. संगीता ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत दो हजार रुपये की पेंशन राशि हर चार माह के अंतराल पर दी जा रही है। उन्होंने बताया कि अभी सरकार की ओर से 11वीं किस्त जारी की जाने वाली है। उन्होंने आगे बताया कि जिले कुछ किसान ऐसे हैं, जिन्होंने इस योजना के तहत अपना पंजीकरण करवाया हुआ है और उन्होंने अपना बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक नहीं करवाया हुआ है या उनके संयुक्त बैंक खाता है। ऐसे में प्रत्येक लाभार्थी के लिए आवश्यक है कि वह अपना बैंक खाता अलग से खुलवाए तथा सभी केवाईसी के साथ-साथ बैंक खाते को आधार नंबर से अवश्य लिंक करवाए ताकि किस्त राशि खाता में आने में कोई दिक्कत न हो। आधार से लिंक न होने वाले खातों में यह राशि आने से रुक सकती है। इसलिए किसानों को तुरंत इस तरफ ध्यान देना चाहिए।

किसानों को कृषि यंत्रों पर अनुदान के लिए सोमवार को आवेदन की अंतिम तिथि: उपायुक्त जितेंद्र यादव

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया है कि वर्ष 2022-23 में कृषि एवं किसान कल्याण विभाग हरियाणा द्वारा कृषि मशीनीकरण को बढ़ावा देने के लिए राज्य/केन्द्र प्रायोजित योजनाओं के तहत कृषि यंत्रों पर अनुदान दिया जा रहा है। किसान इन योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाएं। उन्होंने बताया कि सोमवार 9 मई को इस योजना के लिए आवेदन देने की अंतिम तिथि है।योजना के बारे में जानकारी देते हुए जिले के कृषि विकास अधिकारी (एफआई) श्याम सुन्दर ने अवगत करवाया कि कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा अनुसूचित जाति वर्ग/छोटे व मंझले किसानों/महिलाओं को 50 प्रतिशत व बडे किसानों को 40 प्रतिशत की दर से अनुदान उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि योजना के तहत विभिन्न कृषि यंत्रों जैसे कि कपास की सीधी बिजाई करने की मशीन (बीटी काॅटन सीड डिल), टैक्टर चलित स्प्रे पम्प, धान की सीधी बिजाई करने की मशीन (डीएसआर), टैक्टर चलित नलाई-गुडाई की मशीन/ रोटरी वीडर (02 रो व 03 रो), पावर टिलर (12एचपी व 12 एचपी से अधिक), बिक्रत मेकिंग मशीन, स्वचालित रीपर बाइन्डर (03/04 पहिया), मक्का बिजाई मशीन (मेज प्लान्टर), मेज थ्रेशर व हवा के प्रेशर द्वारा मक्के की बिजाई करने की मशीन (न्यूमेटिक प्लांटर) इत्यादि पर अनुदान उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि योजना का लाभ लेने हेतु इच्छुक किसान विभाग की वेबसाइट www.agriharyana.gov.in पर 09.05.2022 तक आनलाईन आवेदन कर सकते हैं। किसान को आवेदन के समय जिन कृषि यंत्रों की अनुदान राशि 2.5 लाख से कम है उसके लिए 2500 रूपये व जिन कृषि यंत्रों की अनुदान राशि 2.5 लाख से अधिक है उसके लिए 5000 रुपये की बुकिंग राशि ऑनलाईन जमा करवानी होगी, जो कि रिफंडेबल होगी। किसान उक्त कृषि यंत्रों में से अलग-अलग तरह के किन्हीं 03 यंत्रों हेतु ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। किसान अधिक जानकारी के लिए विभाग की उक्त वेबसाइट पर अथवा सहायक कृषि अभियंता फरीदाबाद के कार्यालय में श्याम सुन्दर से उनके दूरभाष नम्बर 7015118232 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

31 किलोमीटर तक बनाया जाएगा छह लेन का एक्सप्रेसवे

फरीदाबाद से जेवर एयरपोर्ट के लिए बनाए जाने वाले एक्सप्रेस वे पर मोहना के पास उतार-चढ़ाव (इंटरचेंज) मंजूर करवाने पर रविवार को हजारों ग्रामीणों ने केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर का उनके निवास पर पहुंचकर धन्यवाद किया। मोहना व आसपास के एक दर्जन से ज्यादा गांव से पहुंचे इन ग्रामीणों ने कहा कि इस एक्सप्रेस वे के बनने से क्षेत्र में विकास के नए रास्ते खुलेंगे। उन्होंने कहा कि मोहना के पास जो उतार-चढ़ाव इंटरचेंज केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने एनएचएआई से मंजूर करवाया है वह बहुत महत्वपूर्ण था।इस अवसर पर ग्रामीणों को संबोधित करते हुए केंद्रीय ऊर्जा एवं भारी उद्योग राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि फरीदाबाद शहर आने वाले समय में विकास की नई दौड़ में शामिल होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली मथुरा एक्सप्रेस वे के बाद दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। उन्होंने कहा कि इसके बाद फरीदाबाद से जेवर एयरपोर्ट तक एक नया एक्सप्रेस में बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह एक्सप्रेस-वे 31 किलोमीटर लंबा होगा और छह लेन का बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि मोहना व आसपास के ग्रामीणों की मांग थी कि मोहना के पास केजीपी पर इस एक्सप्रेस वे का उतार-चढ़ाव दिया जाए। उन्होंने कहा कि अब भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण से इस उतार-चढ़ाव को मंजूर करवा दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस उतार-चढ़ाव से मोहना व आसपास के दर्जनों गांव के लोग सीधे एयरपोर्ट फरीदाबाद से जुड़ जाएंगे। उन्होंने कहा कि केजीपी से फरीदाबाद के लिए भी दूरी अब कुछ मिनटों के रह जाएगी। उन्होंने धन्यवाद करने पहुंचे ग्रामीणों से कहा कि फरीदाबाद के ग्रामीण क्षेत्रों में आने वाले समय में जमकर विकास होगा। उन्होंने कहा कि लोगों को रोजगार मिलेगा और बड़े-बड़े उद्योग इस क्षेत्र में स्थापित होंगे। इस अवसर पर चेयरमैन नरेंद्र पहलवान, राजेश भाटी, नेकपाल, इंद्रजीत, कुलबीर सेक्रेटरी, विशाल और विष्णु सहित हजारों गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

कोरोना को मात देने के लिए सावधानी जरूरी: डीसी जितेंद्र यादव

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में आज वीरवार को कोरोना वायरस के 73 मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है की 145 लोगों को ठीक होने पर घर भेज दिया गया है। वहीं जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 98.90 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 8 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 662 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 670 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1603 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1587416 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 128569 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1457174 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 1352 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 8.10 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 98.90 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.52 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्य विभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 और 8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिला प्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 पर भी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई ।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1743503 लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1736913 हो गई है।

स्कूली विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन पढ़ाई के लिए अनूठी ‘ई-अधागम योजना’ की शुरुआत

बड़खल की विधायक सीमा त्रिखा ने आज एनआईटी-पांच स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में स्कूली विद्यार्थियों व टीजीटी अध्यापकों को टेबलेट वितरण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की।उन्होंने अपने संबोधन में उपस्तिथ लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज का कार्यक्रम हमारे शिक्षा मंत्री कवर पाल गुर्जर जी के माध्यम से रखा गया है और इस विशेष दिन के लिए मैं उनका तहे दिल से धन्यवाद करना चाहती हूँ कि बच्चे अपनी डिक्शनरी से गरीबी शब्द मिटा सकेंगे। हमे हमारे माननीय मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री की सोच को लेकर आगे बढ़ना है और अपने देश, शहर और परिवार के नाम को आगे बढ़ाना है। हरियाणा में आज 3 लाख से अधिक टेबलेट वितरित किये जायेंगे। आज का दिन सरकारी स्कूल के बच्चों के लिए नई क्रांति के दिन से कम नही है। कोरोना काल में बीते दो साल में लगभग साढ़े चार लाख से अधिक बच्चों ने सरकारी स्कूल में एडमिशन लिया है। इतनी संख्या में बच्चे जब सरकारी स्कूलों में पढ़ने के लिए आते हैं तो वह सरकार के प्रति अपना विशवास जता रहे हैं और वह सरकार की शिक्षा निति से संतुष्ट हैं। सरकार जब बच्चों के भविष्य की चिंता करने लगे तो समझ लीजिये की इन बच्चों का भविष्य बहुत सुनहरा और सुरक्षित है। विधायक नरेंद्र गुप्ता ने उपस्तिथ लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज हरियाणा के माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल की प्रगतिशील सोच और उनके मार्गदर्शन का ही नतीजा है जो आज विद्यार्थियों को टेबलेट बाटने का कार्यक्रम किया जा रहा है। यह डिजिटल इंडिया को आगे बढाने में एक बहुत ही कारगार कदम है। विद्यार्थियों को डिजिटल डिवाइस देने के छोटे-मोटे अभियान तो किसी न किसी राज्य ने जरुर चलाए होंगे लेकिन इतने बड़े स्तर पर विद्यार्थियों को टेबलेट देने का अभियान देशभर में किसी भी राज्य में नहीं चलाया गया है। उन्होंने कहा कि देश के माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी हमेशा कहते है की स्कूल में पड़ने वाले बच्चे ही हमारे नए भारत के निर्माता है और यही देश का भविष्य है। जिनकी आने वाले समय में नए भारत निर्माण में महतवपूर्ण भूमिका होगी।उन्होंने कहा कि मेरा मानना है की 70 से 80 प्रतिशत सरकारी अधिकारी और राजनेताओं ने सरकारी स्कूलों से ही शिक्षा ग्रहण करके आज इस मुकाम पर पहुचे हैं। जहाँ तक आर्थिक स्थिति की बात है तो माता-पिता के पास भले ही कम पैसा हो सकता है पर सरकार द्वारा बच्चों के भविष्य निर्माण में पैसे की कोई कमी नही होने दी जाएगी।माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल की प्रगतिशील सोच बहुत बड़ी है जिसका प्रणाम है कि आज पूरे हरियाणा में लगभग 3 लाख लर्निंग टेबलेट स्कूली बच्चों को बांटे जा रहे है। अब सरकारी स्कूल के बच्चे भी प्राइवेट स्कूल के बच्चों के साथ कदम से कदम मिलकर देश ही नही विदेशों की जानकारियाँ ले सकेंगे। टेबलेट किसी राजनैतिक दृष्टि से नही बल्कि देश के भविष्य को सुंदर बनाने व बच्चे अच्छी शिक्षा प्राप्त कर डिजिटल इंडिया से जुड़ सके। जिला शिक्षा अधिकारी ऋतू चौधरी ने बताया कि जिला फरीदाबाद में एनआईटी, बल्लभगढ़ ब्लॉक के लिए कुल 24050 टैब आ गए है, इनमे से बल्लभगढ़ ब्लॉक में 9026 विद्यार्थियों के लिए और 376 पीजीटी अध्यापकों को वितरित किये जायेंगे। इसी प्रकार एनआईटी ब्लॉक में 13684 टैब विद्यार्थियों और 944 पीजीटी अध्यापकों में वितरित किये जायेंगे। इस अवसर पर विधायक नीरज शर्मा, उपायुक्त जितेन्द्र यादव, सीटीएम नसीब कुमार, एसडीएम बदखल पंकज सेतिया, तहसीलदार नेहा सहारन, शिक्षा अधिकारी ऋतू चौधरी, डीआईओ मनीष बाबू गुप्ता, डीआईपीआरओ राकेश गौतम व अन्य कई गणमान्य व्यक्ति, अध्यापकगण मौजूद रहे।

स्वतंत्रता सेनानियों की तीसरी पीढ़ी को भी उच्च शिक्षा के लिए दिया जाता है स्टाईफण्ड

डीसी जितेन्द्र यादव और एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोक चंद ने गत सायं गांव मच्छगर में जिला के एक मात्र जीवित स्वतंत्रता सेनानी चौधरी जगराम सिंह से उनके घर जाकर मिलकर उनकी और उनके परिवार जनों का हालचाल जान कर उनकी कुशल मंगल की जानकारी ली। डीसी जितेन्द्र यादव और एसडीएम त्रिलोक चंद ने गांव में 103 वर्षीय स्वतंत्रता सेनानी जगराम सिंह और 95 वर्षीय उनकी पत्नी बोहती देवी को सरकार की तरफ से शॉल भेंट कर सम्मानित भी किया गया।आपको बता दें कि आजादी अमृत महोत्सव की श्रृंखला में केंद्र व प्रदेश सरकार स्वतंत्रता सेनानियों एवं उनके आश्रितों के कल्याण के लिए कृतसंकल्प है। सरकार की ओर से स्वतंत्रता सेनानियों व उनके आश्रितों के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं। जिनका उन्हें व परिवार जनों को पूरा लाभ मिल रहा है।डीसी जितेन्द्र यादव ने यह जानकारी देते हुए बताया कि हरियाणा सरकार स्वतंत्रता सेनानियों के बच्चों का पूरा ख्याल रख रही है। उन्होंने बताया कि सरकार की ओर से स्वतंत्रता सेनानियों की तीसरी पीढ़ी तक को भी उच्च शिक्षा के लिए स्टाइफण्ड दिया जाता है। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत सरकार की ओर से एक हजार रुपए प्रति माह स्कॉलरशिप तथा किताबों की खरीद के लिए 2 हजार रुपए प्रति वर्ष अनुदान दिया जाता है। उन्होंने बताया कि इस योजना का लाभ लेने के लिए सरल हरियाणा पोर्टल पर लॉगइन कर सकते हैं।इस अवसर पर स्वतंत्रता सेनानी जगराम सिंह के बेटे दलबीर सिंह और अन्य परिवारों के सदस्य तथा गांव के कई गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे हैं।

9 मई से शुरू होगा अंत्योदय ग्राम उत्थान मेलों का तीसरा फेज : डीसी जितेन्द्र यादव

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में मुख्यमंत्री अंत्योदय ग्राम उत्थान योजना के तहत तीसरे चरण के अंत्योदय मेले जिला में आगामी 9 मई से शुरू हो रहे हैं। अंत्योदय मेलों में अधिकारी पात्र परिवारों के साथ बातचीत कर उन्हें परामर्श देंगे और स्वरोजगार के प्रति लोगों को जागरूक किया जाएगा। अंत्योदय उत्थान मेले के जिला नोडल अधिकारी एवं एडीसी मोहम्मद इमजान रजा ने बताया कि 9 मई से आयोजित तीसरे फेज के अंत्योदय ग्राम उत्थान मेलों का आयोजन खंड वार शुरू किया जाएगा। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को इन मेलों के आयोजन से संबंधित कार्यक्रम तैयार करने के निर्देश भी दे दिए हैं । उन्होंने कहा कि अगर आवेदक एक विशेष योजना के लिए पात्र नहीं है, तो उसका आवेदन अन्य विभागों को भेजा जाए ताकि उसे अन्य कल्याणकारी योजनाओं से जोडक़र उसका लाभ पहुंचाया जा सके।एडीसी ने कहा कि अधिकारी मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना (एमएमएपीयूवाई) के मद्देनजर परिवार पहचान पत्र से चिन्हित परिवारों की आय बढ़ाने के लिए प्रयास करें। उन्होंने कहा कि लाभार्थियों को सरकारी योजनाओं के बारे में विस्तार से अवगत करवाया जाए।उन्होंने बताया कि अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के तहत उन परिवारों को शामिल किया गया है। जो परिवार पहचान पत्र के तहत चिन्हित किए गए है।

कोविड के पीड़ित 74 लोगों को ठीक होने पर घर भेजा गया

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में आज बुधवार को कोरोना वायरस के 143मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है कि 74 लोगों को ठीक होने पर घर भेज दिया गया है। वहीं जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 98.85 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 11 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 731 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 742 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1810 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1587623 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 128496 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1457114 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 1627 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 8.09 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 98.85 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.58 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्य विभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 और 8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिला प्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 पर भी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई ।कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1743423लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1736032 हो गई है।

डीसी जितेन्द्र यादव ने कहा- भावी युवा शक्ति को डिजीटल प्लेटफार्म के माध्यम से किया जाएगा शिक्षित

उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में हरियाणा की भावी युवा शक्ति अब डिजीटल प्लेटफार्म पर प्रभावी रूप से शैक्षणिक प्रक्रिया से जुडऩे जा रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कुशल नेतृत्व में हरियाणा देश भर के राज्यों के लिए एक बार फिर से मिसाल बनने जा रहा है। मुख्यमंत्री की दूरगामी सोच के नेतृत्व में हरियाणा सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया अभियान को आगे बढ़ाते हुए राजकीय विद्यालयों में पढ़ने वाले 5 लाख विद्यार्थियों को टैबलेट और 2जीबी फ्री डेटा प्रदान करने की सार्थक पहल की है। राज्य सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना को ई-अधिगम (एडवांस डिजिटल हरियाणा इनिशिएटिव ऑफ गवर्नमेंट विद अडाप्टिव मॉडयूल्स) नाम दिया गया है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा रोहतक स्थित महर्षि दयानन्द विश्वविद्यालय के टैगोर ऑडिटोरियम में वीरवार 5 मई, 2022 को टैबलेट वितरण समारोह का शुभारंभ किया जाएगा। इस दौरान राज्य के 119 खंडों में भी यह टैबलेट वितरण समारोह वर्चुअल रूप से आयोजित होगा। ई-अधिगम योजना बनेगी डिजिटल इंडिया के सपने को पूरा करने में सक्षम : हरियाणा सरकार द्वारा युवाओं को रोजगारपरक शिक्षा प्रदान करने व कुशल बनाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अभिभावकों को बच्चों की शिक्षा पर पूरा ध्यान देना चाहिए और हर कदम पर उनका पथ प्रदर्शक बनना चाहिए। डीसी का कहना है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की ई-अधिगम महत्वाकांक्षी योजना निश्चित रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को पूरा करने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों के लिए टैबलेट और डेटा ऐसे टूल हैं, जिन से 21वीं सदी के कौशल को ग्रहण करने में सहायता मिलेगी तथा राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर नए अवसर मिलेंगे। ई-अधिगम से हरियाणा का विद्यार्थी भी ग्लोबल स्टूडेंट हो जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड के दौरान माता-पिता के पास बच्चे की ऑनलाइन पढ़ाई कराने का कोई संसाधन नहीं था। ऐसे में इस प्रकार की विपरीत परिस्थितियों को मद्देनजर रखते हुए सरकार ई-अधिगम के माध्यम से यह कमी पूरी करने जा रही है। काबिल ए गौर है कि इस महत्वाकांक्षी योजना में सरकारी विद्यालयों की कक्षा दसवीं से बारहवीं में पढ़ने वाले सभी विद्यार्थियों को टैबलेट, 2 जीबी फ्री डेटा तथा पीएएल (पर्सनलाइज्ड अडेप्टिव लर्निंग) प्लेटफार्म उपलब्ध करवाया जा रहा है। इन कक्षाओं को पढ़ाने वाले पी.जी.टी. को भी फ्री टैबलेट देकर शिक्षा प्रणाली में सकारात्मक सुधार की दिशा में हरियाणा सरकार प्रभावी कदम उठा ही है। जिला में दो स्थान पर होगा कार्यक्रम : डीसी जितेन्द्र यादवराज्य सरकार के इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट के मद्देनजर डीसी जितेन्द्र यादव ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं । डीसी ने कहा कि ई-अधिगम योजना राजकीय विद्यालयों में पढ़ने वाले अधिकांश विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन शिक्षा के लिए कारगर कदम साबित होगी। खासकर उन विद्यार्थियों के लिए जो स्मार्टफोन और टैबलेट जैसे उपकरणों को खरीदने में असमर्थ हैं। डीसी जितेन्द्र यादव ने बताया कि जिला में दो स्थानों कार्यक्रम का आयोजन होगा। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय एनआईटी-5 में टैबलेट वितरण कार्यक्रम का आयोजन होगा। इसकी अध्यक्षता बड़खल की विधायक सीमा त्रिखा करेंगी। वहीं दूसरा कन्या बल्लभगढ़ के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय तिगाव रोड़ सेक्टर-3 प्रांगण में होगा। इसकी अध्यक्षता तिगाव के विधायक राजेश नागर करेंगे।

फरीदाबाद की आबादी के मद्देनजर सिविल डिफेंस में हो अधिक स्वयं सेवक रजिस्टर्ड : डीसी जितेन्द्र यादव

डीसी जितेंद्र यादव की अध्यक्षता में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में सिविल डिफेंस की कार्यशाला का आयोजन किया गया। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद की आबादी लगभग 30 लाख है, इसलिए सिविल डिफेंस में कम से कम 3000 लोग स्वयं सेवक रजिस्टर्ड हो जो लोगों को अधिक से अधिक जागरूक कर सकें।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने लघु सचिवालय सेक्टर- 12 के कॉन्फ्रेंस हॉल में सिविल डिफेंस वॉलिंटियर्स प्रशिक्षण शिविर को सम्बोधित करते हुए कहा कि रजिस्टर्ड सिविल डिफेंस के स्वयंसेवक आपातकालीन स्थितियों में प्रशासन के साथ मिलकर साथ और सहयोग दे सकें। उन्होंने कहा कि मॉर्निंग हेल्थ क्लब के अधिकतर स्वयंसेवकों को सिविल डिफेंस के साथ जोड़ दिया है और सिविल डिफेंस की वेबसाइट बनाने की घोषणा कर दी गई है। ताकि घर बैठे ही लोग सिविल डिफेंस से जुड़ सकें और प्रशिक्षण लेकर आई कार्ड प्राप्त कर सकें। उन्होंने कहा कि कहा कि प्रथम विश्व युद्ध के दौरान सिविल डिफेंस की स्थापना की गई थी, ताकि बमबारी के दौरान भारतीय लोग अपनी रक्षा सुरक्षा कर सकें। सिविल डिफेंस एक स्वयं सेवकों पर आधारित आपातकालीन संगठन है। सिविल डिफेंस वालंटियर फ्रंटलाइन वर्कर्स होते हैं। गंभीर मौसम से निपटने, लापता लोगों की खोज करने, आपदा प्रबंधन ,बाढ़ आपदा, सड़क हादसा, आगजनी घटनाओं से निपटने में शासन प्रशासन की अवैतनिक मदद करते हैं| कार्यशाला में डॉ एमपी सिंह ने नेशनल डिजास्टर, इमरजेंसी ऑपरेशन, प्रीवेंशन, मिटिगेशन, इवोल्यूशन, रिकवरी, क्राइसिस मैनेजमेंट बारे विस्तार पूर्वक जानकारी दी तथा घायल/विक्टिम को अस्पताल पहुंचाने से पहले जान बचाने के तरीके और अस्पताल पहुंचाने के तरीकों का प्रैक्टिकल अभ्यास करवाया।डॉ एमपी सिंह ने चिकित्सा सेवा, बचाव सेवा, अग्निशमन सेवा, निगरानी सेवा, कल्याण सेवा की भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी।इस अवसर पर अनिल कुमार ने बताया कि आबादी के आधार पर चीफ वार्डन, डिप्टी चीफ वार्डन, सेक्टर वार्डन, पोस्ट वार्डन, डिप्टी पोस्ट वार्डन, डिविजनल वार्डन, चीफ वार्डन की निगरानी में रखे जाते हैं। वार्डन सेवा के मुखिया चीफ वार्डन सिविल डिफेंस होते हैं। उन्होंने बताया कि आपातकालीन स्थितियों से निबटने के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है। जिसके लिए विभाग की तरफ से सिविल डिफेंस इंस्ट्रक्टर ईश्वर सिंह को फरीदाबाद में रखा गया है। जो कि समय-समय पर स्कूल कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थानों में निशुल्क प्रशिक्षण देने का कार्य करते हैं।एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया तथा ज्वाइंट कमिश्नर नगर निगम अनिल यादव मुख्य रूप से उपस्थित रहे। कार्यशाला में लगभग 180 प्रतिभागियों ने भाग लिया।

शिविर के समापन पर एनएसएस वालंटियर्स को प्रमाण पत्र प्रदान किये गये

जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद के एनएसएस प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित एक सप्ताह का शिविर यहां संपन्न हो गया। शिविर का आयोजन विश्वविद्यालय के एनएसएस वालंटियर्स के लिए जिला फरीदाबाद के गवर्नमेंट गल्र्स मिडिल स्कूल (जीजीएमएस), अटाली में किया गया था।
शिविर का समापन अवसर पर विश्वविद्यालय परिसर के विवेकानंद सभागार में कार्यक्रम का आयोजित किया गया और शिविर के सफल समापन पर एनएसएस वालंटियर्स को प्रशंसा प्रमाण पत्र से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर कुलसचिव डॉ. एस.के. गर्ग, एनएसएस समन्वयक प्रो. प्रदीप डिमरी और डीन छात्र कल्याण प्रो. लखविंदर सिंह भी उपस्थित थे। इस अवसर पर जीजीएमएस, अटेली के हेड मास्टर उत्तम चंद को अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था।
कार्यक्रम के दौरान 27 एनएसएस वालंटियर्स को उनकी 240 घंटे की निःस्वार्थ सेवा के लिए प्रमाण पत्र से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर वाद-विवाद, निबंध लेखन और पोस्टर मेकिंग जैसी विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को भी प्रमाण पत्र और पदक से सम्मानित किया गया।इससे पहले डॉ. डिमरी ने अतिथि का स्वागत किया और शिविर के दौरान स्वयंसेवकों द्वारा की गई गतिविधियों के बारे में विस्तार से बताया। श्री गोयल ने विश्वविद्यालय के एनएसएस प्रकोष्ठ का ग्रामीण क्षेत्र अटाली में शिविर लगाने और सामाजिक गतिविधियों विशेष रूप से छात्राओं को पढ़ाई के लिए प्रोत्साहित करने के लिए आभार व्यक्त किया।कुलसचिव डॉ. एस.के. गर्ग ने सामाजिक कार्य के लिए एनएसएस वालंटियर्स की सराहना की और अधिकारियों से कहा कि वे स्कूली छात्राओं के लिए विश्वविद्यालय के दौरे की व्यवस्था करें ताकि वे उच्च अध्ययन के लिए प्रेरित हो सके। कार्यक्रम के बाद छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम के अंत में एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी डॉ. उमेश ने धन्यवाद ज्ञापित किया। श्री उत्तम चंद गोयल को शिविर के दौरान उनके सहयोग के लिए स्मृति चिन्ह और प्रशंसा पत्र प्रदान किया गया।

कोविड के पीड़ित 35 लोगों को ठीक होने पर घर भेजा गया

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में आज सोमवार को कोरोना वायरस के 59 मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है की 35 लोगों को ठीक होने पर घर भेज दिया गया है। वहीं जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 98.91 प्रतिशत पर पहुंच गया है।उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 14 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 647 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 661 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1699 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1584980 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 128257 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1454633 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 2090 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 8.09 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 98.91 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.52 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है|उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्य विभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 और 8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिला प्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 पर भी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई । कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1743059लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1736468 हो गई है।

स्कूल ऑफ लॉ, मानव रचना यूनिवर्सिटी में पहली लॉ एंड टेक्नोलॉजी नेशनल मूट कोर्ट प्रतियोगिता का आयोजन किया गया

स्कूल ऑफ लॉ, मानव रचना यूनिवर्सिटी, फरीदाबाद ने 28 से 29 अप्रैल 2022 तक लॉ एंड टेक्नोलॉजी विषय पर अपनी पहली वार्षिक राष्ट्रीय मूट कोर्ट प्रतियोगिता का आयोजन किया। मानव रचना विश्वविद्यालय में मूट कोर्ट कमिटी द्वारा आयोजित की गई प्रतियोगिता का उद्घाटन कुलपति प्रोफेसर (डॉ.) आई.के. भट और प्रो-वाइस चांसलर, प्रोफेसर (डॉ.) डी एस सेंगर द्वारा किया गया।प्रतियोगिता दो दिनों तक चली और विभिन्न सत्रों में वर्चुअल कोर्ट रूम में बहस जारी रही, जहां देश भर के विभिन्न लॉ स्कूलों के 25 से अधिक प्रतिभागियों ने भाग लिया। 28 अप्रैल को प्रारंभिक दौर का आयोजन किया गया और 29 अप्रैल को सेमीफाइनल और अंतिम दौर का आयोजन किया गया।प्रतियोगिता का निर्णय देश के शिक्षाविद, बार और बेंच के कानूनी दिग्गजों द्वारा किया गया, जिसमें प्रोफेसर, अधिवक्ता, जस्टिस वी बी गुप्ता – सेवानिवृत्त न्यायाधीश दिल्ली उच्च न्यायालय और जस्टिस राजेश टंडन – सेवानिवृत्त न्यायाधीश, उत्तराखंड उच्च न्यायालय जैसे पूर्व न्यायाधीश शामिल थे।अपने संबोधन में, जस्टिस वीबी गुप्ता ने व्यक्त किया कि वह कानून, टेक्नोलॉजी के उपयोग और निजता के अधिकार के बीच इस परस्पर क्रिया को देखते हुए कितने प्रसन्न हैं। जस्टिस राजेश टंडन ने गोपनीयता के अधिकार की रक्षा में बिचौलियों की भूमिका और आईटी मध्यस्थों को व्यक्तिगत जानकारी सुरक्षित करने में मदद करने वाले नियमों पर प्रकाश डाला।डॉ. सोमदत्त भारद्वाज – एचओडी, स्कूल ऑफ लॉ, मानव रचना विश्वविद्यालय द्वारा संक्षिप्त लेकिन बहुत प्रेरक शब्दों के साथ परिणाम घोषित करने के साथ यह आयोजन अपने तार्किक अंत तक पहुंचा।सिम्बायोसिस लॉ स्कूल, पुणे को प्रथम मानव रचना लॉ एंड टेक्नोलॉजी नेशनल मूट कोर्ट प्रतियोगिता का विजेता घोषित किया गया और लॉयड लॉ कॉलेज नोएडा ने उपविजेता ट्रॉफी हासिल की। एमिटी यूनिवर्सिटी मानेसर ने बेस्ट मेमोरियल (याचिकाकर्ता) और बेस्ट मेमोरियल (प्रतिवादी) दोनों के लिए पुरस्कार जीते। दिल्ली मेट्रोपॉलिटन एजुकेशन, नोएडा की शुभनवी शिवहरे को सर्वश्रेष्ठ अध्यक्ष चुना गया।

फ़रीदाबाद में २ मय को नगर निगम ने सफ़ाई अभियान चलाया

नगर निगम के आयुक्त यशपाल यादव ने बताया कि नगर निगम फरीदाबाद द्वारा दिसम्बर, 2021, जनवरी व फरवरी 2022 को जो मेगा सफाई अभियान चलाया गया था उस दौरान जो निगम द्वारा कार्य किये गये थे उसके निरीक्षण करने के लिए आज निगमायुक्त ने 10 अधिकारियों की अलग अलग वार्डो में टीमें बनाई है। जो 4 मई से 7 मई तक 40 वार्डो के सभी कार्यकारी/ सहायक /कनिष्ठ अभियंताओं के साथ मिलकर इन वार्डो में हुये कार्यो का निरीक्षण करेगे।
यह सभी टीमें ये पता करेंगी कि मेगा सफाई अभियान के दौरान 40 वार्डों में सफाई, सीवरेज, मलबे की सफाई, लाईटों की व्यवस्था, कूड़े के ढेर और अतिक्रमण आदि से संबंधित जो कार्य किये गये है उनकी स्थलो पर क्या स्थिति है। इसके अतिरिक्त यह टीमें सभी 40 वार्डो में विभिन्न ऐजेंसियो द्वारा किये जा रहे संचालन और रखरखाव के कार्यो का भी निरीक्षण करेगे और उन सभी कार्यो पर अपनी अपनी रिपोर्ट तैयार करके 9 मई तक आयुक्त को भेजेंगे।

नितिन सिंगला के नेतृत्व में सैकड़ों युवाओं ने रैली मेें लिया हिस्सा

एनआईटी स्थित दशहरा मैदान में आयोजित ‘विपक्ष आपके समक्ष’ रैली में युवा कांग्रेस के (शहरी) अध्यक्ष नितिन सिंगला के नेतृत्व में सैकड़ों युवाओं का काफिला ढोल नगाड़ों के साथ खुली जीप व मोटरसाइकिलों पर सवार होकर रैली स्थल पर पहुंचा। इस दौरान युवा कांग्रेसियों ने ‘सोनिया गांधी -राहुल गांधी जिंदाबाद’ ‘कांग्रेस पार्टी जिंदाबाद’ ‘भूपेंद्र सिंह हुड्डा जिंदाबाद, दीपेंद्र हुड्डा जिंदाबाद’ के नारे लगाकर पूरे माहौल को कांग्रेसमय कर दिया। नीलम-बाटा रोड स्थित डिलाईट के समक्ष नितिन सिंगला ने काफिले को झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान उपस्थित युवा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए नितिन सिंगला ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा व सांसद दीपेंद्र हुड्डा के नेतृत्व में एक बार फिर से कांग्रेस मजबूती से विपक्ष की भूमिका निभाएगी और आम जन के मुद्दों को सडक़ से लेकर विधानसभा तक उठाकर सरकार को घेरने का काम करेगी। श्री सिंगला ने कहा कि आज रैली में फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र के कोने-कोने से हजारों लोगों ने शिरकत करके भाजपा सरकार के खिलाफ शुरू होने वाले जनांदोलन में अपनी भागेदारी निभाई। उन्होंने कहा कि इस रैली में युवाओं के साथ-साथ छत्तीस बिरादरी लोगों ने जिस जोश के साथ अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई, उसने यह साबित कर दिया कि भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों से जनता त्रस्त है और प्रदेश में बदलाव का मन बना चुकी है। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद से विपक्ष आपके समक्ष कार्यक्रम की सफलता के बाद प्रदेश में शुरू हुई परिवर्तन की लहर 2024 में भाजपा को सत्ताविहिन करके ही थमेगी। इस अवसर पर पूर्व पार्षद अनिल शर्मा, वरिष्ठ कांग्रेसी नेत्री रेनू चौहान, रोहित सिंगला, लाला शर्मा , बालकिशन वशिष्ठ, सुरेंद्र अग्रवाल , हरविंद गुप्ता , सुरेंद्र यादव , ओ पी भाटी , करमबीर खटाना , विजय कुमार ,खुशबू खान , रचना भसीन , प्रियंका भारद्वाज , ललित शर्मा , चौधरी भोपाल , हाजी इरफान,उस्मान ठेकेदार , नजर मोहम्मद, विकास भसीन , हरी लाल गुप्ता , गुलाब सिंह गुड्डू , निर्मला जाखड़ , मालवती पांचाल , सत्यवती , शशि शर्मा , मनोज चंदीला ,राम किरपाल प्रधान , नरेंद्र ठाकुर , सूरज ढेड़ा , कपूर चंद अग्रवाल , संत लाल , संदीप वर्मा , कृपाल , संजय शर्मा , बिल्लू चपराना, पदम भड़ाना , तुलसी प्रधान , अंशुल भारद्वाज , दीपक रावत , बल्लू खान , बिल्लू पहलवान , इंदरपाल , रवि डूडेजा, सुमित खंडेलवाल, रूपेश मलिक , हितेश , कपिल कुमार , महेश बैसला , उमर खान , महेश बघेल सहित अनेकों सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद थे।

भारतीय मजदूर संघ के प्रतिनिधि मंडल ने केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव, केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्ण पाल गुर्जर स्वागत

ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल फरीदाबाद में केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव, केंद्रीय राज्यमंत्री भारी उद्योग एवं ऊर्जा मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर और बड़खल विधायिका सीमा त्रिखा को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित। जिसमें भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश अध्यक्ष अशोक कुमार, आर सी कटोच जिला अध्यक्ष ,शैलेश कुमार कार्यकारी अध्यक्ष और नीरज त्यागी जिला मंत्री भारतीय मजदूर संघ फरीदाबाद विशेष रूप से शामिल रहे। कई अन्य श्रमिक संगठनों के पदाधिकारी और उद्योग जगत के गणमान्य लोग उपस्थित रहे जिनमें श्री जी एस त्यागी जी और जे पी मल्होत्रा प्रमुख रूप से सम्मिलित रहे।
अंतरराष्ट्रीय श्रम दिवस के अवसर पर ईट भट्टा महिला कामगारों की स्वास्थ्य व पोषण जांच और नियोक्ता तथा ट्रेड यूनियन संगठन के साथ संवाद के लिए ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल फरीदाबाद में पहुंचे भूपेंद्र यादव श्रम एवं रोजगार तथा पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री तथा कृष्ण पाल गुर्जर विद्युत एवं भारी उद्योग राज्यमंत्री का भारतीय मजदूर संघ के प्रतिनिधि मंडल ने श्रमिकों संबंधित विषयों पर चर्चा की। श्री अशोक कुमार ने हरियाणा में बिजली संकट के बारे में बताया कि बिजली संकट को सकारात्मक सोच में देखें क्योंकि देश तेजी से विकास पथ पर अग्रसर है। बिजली की खपत बढ़ रही है जबकि उत्पादन कम पड़ने लगा है जिसकारण यह स्थिति उत्पन्न हुई है। इसलिए घबराने और चिंता करने के बजाय यह चिंतन का विषय होना चाहिए।

बिजली संकट विरोधी रैली में बदल गया ‘विपक्ष आपके समक्ष’- हुड्डा

फरीदाबाद में आज ‘विपक्ष आपके समक्ष’ कार्यक्रम के पांचवें पड़ाव पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने बीजेपी-जेजेपी सरकार के खिलाफ जोरदार हुंकार भरी। इस मौके पर भारी भीड़ से गदगद पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि ‘विपक्ष आपके समक्ष’ कार्यक्रम को जनता की हाजिरी ने रैली में तब्दील कर दिया है। क्योंकि आज फरीदाबाद समेत पूरे हरियाणा की जनता बिजली संकट से परेशान है। इसलिए यह कार्यक्रम भी बिजली संकट विरोधी रैली में बदल गया है। अपने संबोधन की शुरुआत में भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सबसे पहले सभी को मजदूर दिवस की शुभकामनाएं दी और कहा कि श्रमिक और किसान दो ऐसे वर्ग हैं जिन्होंने देश का विकास किया है। कोरोना काल में भी यही दोनों वर्ग अपने काम पर लगे रहे, नहीं तो देश ठप हो जाता। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि मजदूर और किसानों के लिए हमेशा आवाज उठाएं और उनकी समस्याओं के लिए के निदान की खातिर संघर्ष करें। साथ ही उन्होंने ईद की भी अग्रिम बधाई भी दी।हुड्डा ने चौधरी उदयभान को हरियाणा कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने के लिए पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि हाईकमान ने एक कर्मठ, मेहनती और जमीन से जुड़े नेता को प्रदेश कांग्रेस की कमान सौंपी है। इस मौके पर हुड्डा ने प्रदेश की बीजेपी-जेजेपी गठबंधन सरकार को हर मोर्चे पर विफल करार दिया। उन्होंने कहा कि सरकार की अदूरदर्शिता के चलते आज हरियाणा की जनता को बिजली संकट का सामना करना पड़ रहा है। जबकि कांग्रेस कार्यकाल के दौरान उन्होंने प्रदेश में 4 पावर प्लांट और एक न्यूक्लियर प्लांट स्थापित किया था। हरियाणा में बिजली की उपलब्धता को उन्होंने 4 हजार से 11 हजार मेगावाट तक पहुंचाया था। आज भी हरियाणा को अधिकतम 8000-8500 मेगावाट बिजली की ही आवश्यकता है। लेकिन मौजूदा सरकार 8 साल बाद भी प्रदेशवासियों को बिजली मुहैया नहीं करवा पा रही।ऐसा इसलिए क्योंकि दूरदर्शिता के अभाव में सरकार ने हरियाणा के हिस्से की झाड़ली प्लांट से मिलने वाली 750 मेगावाट बिजली दिल्ली को दे दी। नये पावर प्लांट लगाना तो दूर पहले से स्थापित पावर प्लांट से भी उत्पादन करना बंद कर दिया। सरकार को बिजली की समस्या पर श्वेत पत्र जारी करना चाहिए, ताकि लोगों को सच पता चल सके। सरकार बिजली संकट का समाधान करे, नहीं तो कांग्रेस सड़कों पर उतरकर उसका विरोध करेगी। पूर्व मुख्यमंत्री ने याद दिलाया कि 2005 से पहले हरियाणा में स्थिति ऐसी थी कि प्रदेश के विद्यार्थियों को पढ़ने और प्रोफेशनल कोर्स करने के लिए अन्य प्रदेशों में जाना पड़ता था। हमने हरियाणा को शिक्षा का हब बनाने की ठानी और देश व दुनिया के बेहतरीन विश्वविद्यालय, कॉलेज और उच्च शिक्षण संस्थानों को हरियाणा में स्थापित किया।मुख्यमंत्री रहते हुए उन्होंने अनुभव किया था कि जिस देश के खिलाड़ी अच्छे होते हैं, वो देश तरक्की करते हैं। इसलिए उन्होंने हरियाणा को खेलों का हब बनाने के लिए नीति बनाई, जो सफल साबित हुई। ओलंपिक व अन्य खेल प्रतियोगिताओं में हरियाणा के खिलाड़ियों की उपलब्धियां इसका प्रमाण है। उनके कार्यकाल में हरियाणा विकास के हर पैमाने पर अव्वल था। लेकिन बीजेपी और जेजेपी ने 8 साल में प्रदेश की ऐसी स्थिति बना दी है कि आज स्कूलों में टीचर, अस्पतालों मे डॉक्टर, सरकारी दफ्तरों में कर्मचारी और विकास के लिए खजाने में पैसे तक नहीं हैं। मौजूदा सरकार ने प्रदेश को करीब 3 लाख करोड़ के कर्ज तले दबा दिया है। क्योंकि यह सरकार चार्वाक की नीति पर चल रही है, जो कहती है ‘कर्ज लो, घी पियो’। लेकिन अब हरियाणा की जनता यह सब बर्दाश नहीं करेगी। जनसभा में मौजूद लोगों की भावना और उनके चेहरे के उत्साह को देखकर उनका दावा है कि हरियाणा में बदलाव की शुरुआत हो चुकी है, हरियाणा करवट ले चुका है। यह तो सिर्फ ट्रेलर है, आने वाले दिनों में हरियाणा पूरी फिल्म देखेगा। नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष चौधरी उदयभान ने कार्यक्रम के मंच से नयी जिम्मेदारी मिलने पर कांग्रेस हाईकमान और भूपेंद्र सिंह हुड्डा का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि यहां से बदलाव की जो हवा चली है, वह तीन चौथाई बहुमत के साथ प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाकर ही रुकेगी। प्रदेश के बिजली संकट के लिए उन्होंने बीजेपी सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि सरकार ने झाड़ली प्लांट से हरियाणा को मिलने वाली 750 मेगावाट बिजली को सरेंडर कर दी। अडानी ग्रुप के साथ 2.94 रुपये प्रति यूनिट में 1424 मेगावाट बिजली लेने का जो समझौता हुआ था, वह बिजली लेने में भी सरकार नाकाम रही है।उन्होंने आरोप लगाया कि हरियाणा की गठबंधन सरकार ने हरियाणा की बिजली मुफ्त में गुजरात को दे दी। सरकार को समझना चाहिए कि बिजली संकट सिर्फ बिजली तक सीमित नहीं है, इसकी वजह से पानी का संकट भी खड़ा हो गया है। आज पानी के लिए भी हरियाणा में हाहाकार मचा हुआ है। उन्होंने सरकार को चेतावनी दी कि वह वक्त रहते सुधर जाए और अपनी नीतियों को बदले। निजीकरण की नीति पर चल रही सरकार गरीब, वंचित, पीड़ित, शोषित, दलित और पिछड़ों के आरक्षण को निगल रही है। भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व में कांग्रेस इस सरकार को उखाड़ फेंकने का काम करेगी।राज्यसभा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी बिजली संकट पर बोलते हुए कहा कि समझ नहीं आ रहा आज बिजली में कट है या कट में बिजली है। बिजली और सड़क जैसी आधारभूत सुविधाओं के लिए भी लोग तरस रहे हैं। फरीदाबाद में सड़कों को इस कदर उधेड़ रखा है कि बस तो क्या बाइक निकालना भी मुश्किल है। बीजेपी ने फरीदाबाद नगर निगम को ‘नरक निगम’ बना दिया है। जहां-तहां कूड़े के ढेर लगे हुए हैं और लोगों को पानी तक खरीदकर पीना पड़ रहा है। इन सब के बीच नगर निगम में 200 करोड़ रुपए के घोटाले को अंजाम दे दिया गया।दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि बीजेपी ने फरीदाबाद को फकीराबाद बनाने का काम किया है। इस सरकार ने पूरे प्रदेश को विकास की पटरी से उतार दिया। हुड्डा सरकार के दौरान फरीदाबाद में 700 करोड़ रुपए की लागत से ईएसआई मेडिकल कॉलेज बनाया गया, इसी दौरान बदरपुर फ्लाईओवर का निर्माण हुआ, मेट्रो आई, फोरलेन सड़क बनी, आईएमटी पृथला की स्थापना की गई। लेकिन पिछले 8 साल में बीजेपी ने फरीदाबाद में कूड़े के ढेर और सड़कों में गड्ढे करने के अलावा कुछ नहीं किया।सांसद दीपेंद्र ने कहा कि हुड्डा सरकार के दौरान जो हरियाणा विकास, खुशहाली, प्रति व्यक्ति आय, निवेश, खेल-खिलाड़ी और बुजुर्गों के मान-सम्मान में पहले नंबर पर था, उस हरियाणा को बीजेपी ने बेरोजगारी, महंगाई, अपराध, बिजली कट और भ्रष्टाचार में पहले नंबर पर पहुंचा दिया। शराब घोटाले से लेकर भर्ती और खनन घोटाले तक, ग्वाल पहाड़ी से लेकर नगर निगम तक, एक के बाद एक घोटालों को अंजाम दिया जा रहा है। पूर्व मंत्री चौधरी महेंद्र प्रताप ने अपने संबोधन में चौधरी उदयभान को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के लिए कांग्रेस हाईकमान का आभार जताया। बीजेपी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि 8 साल में इस सरकार ने जुमलों को इवेंट बनाने के सिवाय कोई कार्य नहीं किया। नोटबंदी से लेकर किसानों के मुद्दों तक, हर नीति में यह सरकार विफल नजर आई। उन्होंने हुड्डा सरकार के कार्यकाल को याद करते हुए बताया कि फरीदाबाद में एलिवेटेड रोड, कॉलेज, यूनिवर्सिटी से लेकर विकास के सारे कार्य हुड्डा सरकार के दौरान ही हुएकार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने चौधरी महेंद्र प्रताप, विधायक नीरज शर्मा, विजय प्रताप,पूर्व विधायक रघुबीर तेवतिया, वरिष्ठ नेता लखन सिंगला समेत तमाम आयोजकों को बधाई दी व उनका धन्यवाद किया। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस के नवनियुक्त कार्यकारी अध्यक्ष जीतेन्द्र भारद्वाज, वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष धर्मपाल मालिक, पूर्व केन्द्रीय मंत्री जयप्रकाश, पूर्व स्पीकर कुलदीप शर्मा, पूर्व मंत्री अशोक अरोड़ा समेत सभी विधायक, पूर्व विधायक, सांसद, पूर्व सांसद, पार्टी पदाधिकारी व स्थानीय नेता, कार्यकर्त्ता मौजूद रहे।

कांग्रेसी नेता ने श्रद्धालुओं से भरी बस को धार्मिक स्थलों के लिए किया रवाना|

बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र के वरिष्ठ कांग्रेस नेता व हरियाणा कांग्रेस के स्टेट सोशल मीडिया इंचार्ज मनोज अग्रवाल ने शनिवार को बल्लभगढ़ के चावला कॉलोनी स्थित शिव मंदिर से कोकिला वन, नंदगांव व बरसाना के लिए तीर्थयात्रियों की बस को रवाना किया। नि:शुल्क तीर्थ यात्रा का यह आयोजन श्री राधे मित्र मंडल (रजि.) बल्लभगढ़ के संयुक्त तत्वावधान में किया गया है। इस मौके पर मनोज अग्रवाल ने भगवान श्रीकृष्ण से बल्लभगढ़ की सुख, समृद्धि और खुशहाली की कामना कर सभी तीर्थयात्रियों को मंगलमय यात्रा की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि धार्मिक स्थलों पर जाने से मनुष्य को मन की शांति मिलती है और उन्हें अच्छे कार्य करने की ऊर्जा मिलती है। उन्होंने कहा कि बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र का हर नागरिक मेरे परिवार का एक अभिन्न सदस्य है और यहां की पावन माटी की सेवा में अपना सर्वस्व अर्पण करना ही मेरा परम् उद्देश्य है। उन्होंने कहा कि इस यात्रा को हमने पूरी तरह से नि:शुल्क रखा है ताकि बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र के अभावग्रस्त व्यक्ति भी पूरी सुविधा के साथ तीर्थयात्रा का लाभ ले सकें। मनोज अग्रवाल ने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है की ईश्वर ने उन्हें बल्लभगढ़ की जनता की सेवा करने का अवसर प्रदान किया है। बल्लभगढ़ की जनता द्वारा मुझे जो स्नेह, साथ और आशीर्वाद मिलता है, यही मेरे जीवन की असली पूंजी है। इस पुनीत कार्य में श्री राधे मित्र मंडल (रजि.) बल्लभगढ़ प्रशंसा का पात्र है। गौरतलब है कि मनोज अग्रवाल द्वारा बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र में जनहित के कई कार्य लगातार आयेजित किए जाते रहे हैं इसके साथ ही श्री राधे मित्र मंडल, बल्लभगढ़ द्वारा धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन कई वर्षों से किया जा रहा है। इस दौरान मुख्य रूप से श्री राधे मित्र मंडल, बल्लभगढ़ के प्रधान मोहित कुमार गुप्ता, महिला कांग्रेस की प्रदेश सचिव प्रियंका अग्रवाल, वीना गुप्ता, राजू गावरी, हरिओम गर्ग, विजय मंगला, नानक चंद सिंगला, नेम चंद गोयल, राकेश बंसल, निधिश सारस्वत, सोहन पाल, गुलशन गोयल, योगेंद्र चौहान, विपिन जिंदल, मनीष जैन, पीयूष शर्मा, कृष्णा, अनिल सिंघल, सुषमा अग्रवाल, भूमिका अग्रवाल, विभा जैन, लता बंसल, अनिता गोयल, कृष्णा सिंगला, अन्नू गुलयानी, नूपुर बहरी, हेमलता, रचना सिंघल सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे।

एनआईटी विधायक श्री नीरज शर्मा ने जनता कॉलोनी स्वर्ग आश्रम में लावारिस शवों को दी सामूहिक श्रद्धांजलि।

आज श्री शक्ति सेवादल रजि० द्वारा जनता कॉलोनी स्वर्ग आश्रम में सामूहिक श्रद्धांजलि एवं लावारिस शवों की अस्थियों का गंगाजल एवं दुग्ध द्वारा स्नान किया गया। इस मौके पर विधायक नीरज शर्मा ने पहुंचकर कहा कि शिव शक्ति सेवादल कई वर्षों से पुण्य का काम कर रहा है और हम सब को भी इसमें सहयोग करना चाहिए।लावारिस शवों के अंतिम संस्कार का जिम्मा जब से स्वयंसेवी संस्थाओं ने अपने हाथ में लिया है तबसे पुलिस और नगर निगम जाना लगभग बंद कर दिया है। अंतिम संस्कार के लिए लेखा की तकनीकी पेचीदगियों से हर कोई परेशान हो जाता है।संस्था कई वर्षो से कर रही लावारिस लाशों का दाह संस्कार, बाद में अस्थियाें का विसर्जन भी करते हैं। उन गरीब लोगों के शवों का दाह संस्कार करने का कार्य कर रहे हैं, जिनके पास विधि विधान से अंतिम संस्कार के लिए पर्याप्त पैसे नहीं होते हैं। पुलिस द्वारा समिति को लावारिस लाश संबंधी सूचना दी जाती है तो समिति पदाधिकारी श्मशान स्थल पर पहुंचकर करीब चार क्विंटल लकड़ी, दो किलो घी, हवन सामग्री आदि लेकर शव का दाह संस्कार करते हैं। बाद में अस्थियां भी चुनते हैं। इन अस्थियों को लेकर संस्था का कोई एक पदाधिकारी हरिद्वार जाकर विसर्जन, तर्पण करवाकर बाकायदा पूजा पाठ के साथ पांच गरीब लोगों को भोजन करवाता है।
इस मौके पर मोहन लाल अरोड़ा जी प्रधान, परसोत भाटा जी वरिष्ठ उप प्रधान, ओमप्रकाश छाबड़ा जी उप प्रधान, विजय कालड़ा जी, राजेंद्र भाटिया जी महासचिव, रवि भाटिया की सह सचिव, केवलराम भाटिया जी कप्तान, महेंद्र भाटिया जी उप कप्तान वह समस्त सदस्यगण उपस्थित रहे।

सेक्टर-16 में टीम दुर्गा शक्ति के साथ महिला कालिज में इन्स्पेक्टर गीता ने दिया सेल्फ़ सुरक्षा का डेमो

पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा के दिशा निर्देश के तहत कार्य करते हुए महिला थाना सेक्टर-16 प्रभारी इंस्पेक्टर गीता की अगुवाई में फरीदाबाद के सरकारी महिला कॉलेज सेक्टर-16 में जाकर बच्चों को महिला सुरक्षा, नारकोटिक्स, साइबर, यातायात, महिला विरुद्ध अपराध इत्यादि कानूनों के बारे में जानकारी देकर समाज में होने वाले महिलाओं के शोषण के विरुद्ध जागरूक किया।पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि इंस्पेक्टर गीता टीम के साथ छात्राओं को जागरुक कर रही है। महिला कॉलेज सेक्टर-16 के सभागार में सभी छात्राओं को महिला विरुद्ध क्राइम, नारकोटिक्स, साइबर, यातायात के प्रति जागरुक करने का काम कर रही है। उन्होंने छात्राओं को जागरूक करते हुए कहा कि महिलाओं का कार्य केवल घर तक ही सीमित नहीं है बल्कि वह पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर इस समाज निर्माण में अपना योगदान दे सकती हैं। बहुत सी महिलाएं शिक्षा के अभाव में शोषण का शिकार होती हैं क्योंकि उन्हें इस समाज और अपने रिश्तेदारों में अपनी बदनामी का डर रहता है। एक पति शराब पीकर अपनी पत्नी के साथ दुर्व्यवहार करता है उसके साथ मारपीट करता है और उसे बहुत ही अति भद्दी गालियां भी देता है परंतु पत्नी इन सब को सिर्फ इसलिए सहन करती है कि यदि उसने अपने पति के खिलाफ कुछ भी बोला या कोई भी कार्य किया तो उसका पति वापिस उसे छोड़ देगा और उसे वापस अपने मायके जाना पड़ेगा इसी वजह से महिलाएं शोषण का शिकार होती हैं और अपने अधिकारों जागरूकता के अभाव में पूरी उम्र दबाव में व्यतीत कर दी हैं। उन्होंने बताया कि एक पढ़ी-लिखी नारी अपने अधिकारों को जानती है और वह किसी भी प्रकार के शोषण के विरुद्ध अपनी आवाज उठाने में असमर्थ होती है इसलिए आवश्यक है कि प्रत्येक बच्चे को अपने अधिकारों का ज्ञान होना चाहिए ताकि वह इस समाज की बुराइयों से लड़ सके और अपने हक के लिए आवाज उठा सकें।नारकोटिक्स टीम द्वारा छात्राओं को नशे से दूर रहने के लिए जागरूक किया गया जिसमें पुलिसकर्मियों ने उन्हें बताया कि नशे का सेवन करना न केवल शरीर के लिए हानिकारक बल्कि यह हमारे मस्तिष्क के साथ समय और धन की भी हानि होती है। इसके पश्चात यातायात नियमों के बारे में बच्चों को जागरूक करते हुए ट्रैफिक ताऊ ने उन्हें यातायात नियमों का पालन करने के बारे में जागरूक करते हुए कहा कि सड़क पर यात्रा करते समय सीट बेल्ट, हेलमेट इत्यादि सभी सुरक्षा उपकरण पहनना जरूरी है और तेज गति में वाहन बिल्कुल ना चलाएं क्योंकि इसकी वजह से सड़क दुर्घटना घटित हो सकती है। साइबर अपराधों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि आजकल बच्चे मोबाइल फोन का बहुत ज्यादा उपयोग करते हैं परंतु जानकारी के अभाव में कई बार वह साइबर अपराधियों द्वारा भेजे गए लिंक पर क्लिक कर देते हैं जिसकी वजह से उनके या उनके माता-पिता के बैंक खाते से बहुत बड़ी रकम साइबर ठगों के पास चली जाती है। इसलिए मोबाइल फोन का प्रयोग करते समय यह ध्यान रखें कि किसी भी प्रकार के लिंक पर क्लिक ना करें तथा साइबर अपराध के प्रति जागरूक होकर अपने साथियों को भी साइबर अपराधियों के जाल में फंसने से बचाएं।
दुर्गा शक्ति की टीम ने सेल्फ सुरक्षा का डेमो देकर छात्राओं को जागरुक किया। अगर आप अकेले है तो कैसे अपना बचाव करना है। बचाव के बाद तुरंत पुलिस से सम्पर्क कर सकते है।अंत में पुलिस से संपर्क करने के माध्यमों के बारे में बच्चों को जागरूक करते हुए पुलिस टीम ने बताया कि वह किसी भी प्रकार के अपराध की सूचना 112 पर दे सकते हैं। इसके अलावा महिला हेल्पलाइन 1091, साइबर अपराधों से संबंधित शिकायतें 1930 और बच्चों से संबंधित किसी भी अपराध के लिए वह 1098 पर संपर्क कर सकते हैं। इंस्पेक्टर सविता ने फरीदाबाद के सभी थानों के फोन नम्बर और इमेल एसएचओ के नम्बर सहित लिस्ट प्रोवाईड कराई ।इसी के साथ इस जागरूकता कैंपेन का समापन किया गया जिसमें बच्चों द्वारा पूरी पुलिस टीम का तहे दिल से धन्यवाद किया।

मनोहर सरकार के सारे दावे हुए फेल, बिजली-पानी के लिए तरस रही जनता : मनोज अग्रवाल

बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र सहित पूरे फरीदाबाद जिले में बिजली आपूर्ति पूरी तरह से चरमरा चुकी है। जनता की परेशानियों को देखते हूए शुक्रवार को बल्लभगढ़ के वरिष्ठ कांग्रेस नेता व हरियाणा कांग्रेस के स्टेट सोशल मीडिया इंचार्ज मनोज अग्रवाल ने बल्लभगढ़ डिवीजन के कार्यकारी अभियंता (बिजली विभाग) नीरज दलाल से मुलाकात कर उन्हें हरियाणा सरकार के बिजली मंत्री रणजीत सिंह चौटाला के नाम ज्ञापन सौंप कर तत्काल प्रभाव से विद्युत आपूर्ति को नियमित करने की मांग रखी। इस दौरान मनोज अग्रवाल ने कहा की अघोषित बिजली कटौती से आम जनमानस के साथ ही औद्योगिक जगत भी त्राहि-त्राहि कर रहा है, बिजली की कमी के चलते पानी की किल्लत भी बढऩे लगी है, जिसके चलते लोग पानी खरीदने को मजबूर हो रहे है, जिसके चलते उनकी जेबों पर अतिरिक्त बोझ पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के कारण पहले से ही आर्थिक मंदी झेल रहे उद्योगों पर इस बिजली कटौती ने एक और अनावश्यक बोझ डालने का काम किया है। उद्योगों में उत्पादन क्षमता पूरी तरह से प्रभावित हो रहे है, जिसके चलते उनके ऑर्डर तक कैंसिल हो रहे है। चरमराई हुई बिजली आपूर्ति व्यवस्था के कारण आज बल्लभगढ़ में अस्पतालों, स्कूलों, उद्योगों और किसानों को भयावह संकट का सामना करना पड़ रहा है। आज पूरे बल्लभगढ़ में जनता को मुश्किल ही बिजली के दर्शन हो रहे हैं जिसके कारण इस झुलसाती हुई गर्मी से पीने के पानी तक कि किल्लत हो रही है। कांग्रेसी नेता मनोज अग्रवाल ने कहा कि बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न इलाकों से लोग उनसे लगातार मुलाकात कर अपनी समस्याएं बता रहे हैं। आज बल्लभगढ़ की जनता बिजली और पानी जैसी बुनियादी सुविधाओं तक के लिए तरस रही है, भाजपा-जजपा सरकार की इससे बड़ी नाकामयाबी और क्या होगी। व्यापक जनहित के मद्देनजर अगर तत्काल प्रभाव से बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र में बिजली आपूर्ति को सुचारू रूप से नियमित नहीं किया गया तो कांग्रेस पार्टी क्षेत्र की आक्रोशित जनता के साथ आंदोलन करने के लिए बाध्य होगी। इस मौके पर बल्लभगढ़ इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रताप शर्मा, महिला कांग्रेस के प्रदेश सचिव प्रियंका अग्रवाल, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष सोनू चौधरी, वरिष्ठ कांग्रेस नेता स्वर्ण सिंह आर्य, युवा कांग्रेस नेता शुभम कसाना, कवि राजेन्द्र शर्मा, शिशुपाल सिंह सहित अन्य गणमान्य जन उपस्थित रहे।

जिला में आज वीरवार को 58 टीकाकरण केन्द्रों पर लोगों को लगाई गई कोरोना रोधी वैक्सीन।

उपायुक्त जितेन्द्र यादव के कुशल मार्गदर्शन में आजादी के अमृत महोत्सव की श्रंखला में स्वास्थ्य विभाग द्वारा टीकाकरण अभियान के तहत आज वीरवार को जिला में 49 सरकारी और 9 प्राइवेट अस्पतालों सहित 58 स्थानों पर वैक्सीनेशन कैम्पों का आयोजन किया गया। जिसमें समाचार लिखे जाने तक 45967 लोगों को बुस्टर डोज वैक्सीन भी लगाई गई है। वहीं वैक्सीन की पहली व दूसरी डोज़ सहित 3956597 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। आज के आंकड़ो को मिलाकर जिला में वैक्सीन की कुल 39 लाख 56 हजार 597 डोज़ दी जा चुकी है।जिला में वैक्सीनेशन अभियान की कमान संभाल रहे डॉ मान सिंह ने बताया कि आज वीरवार को टीकाकरण कार्यक्रम के तहत आज जिला के वैक्सीनेशन सेंटर्स में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के 1361488 लोगों को पहली और 1100633 लोगों को दूसरी और 982 लोगों को बुस्टर डोज़ दी गई।डॉ सिंह ने आगे बताया कि आज 40144 हेल्थ वर्कर्स को प्रथम ,39800 को दूसरी और 7009 लोगों को बुस्टर डोज लगाई गई व फ्रंट लाइन के वर्कर्स को 13373 को प्रथम ,13600 को दूसरी और 1630 लोगों को बुस्टर डोज लगाई गई। वहीं बूस्टर डोज़ अभियान के तहत आज 18 से 59 व 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 37328 लोगों को कोरोना रोधी वैक्सीन के टीके लगाए गए। डॉ मान सिंह ने आगे बताया कि जिला में आज 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के 49327 बच्चों को पहली तथा 8282 बच्चों को दूसरी डोज लगाई गई। कोरोनारोधी वैक्सीन की 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग के 108344 किशोरों को पहली व 66222 को दूसरी डोज़ के टीके लगाए गए।डॉ मान सिंह ने बताया कैम्प में आने वाले लोगों को किसी प्रकार के रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं थी। सभी लोगों का पहले आओ पहले लगवाओ की तर्ज पर मौके पर ही रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। वहीं वीरवार को जिला में वैक्सीनेशन अभियान के तहत 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के नागरिकों को सभी टीकाकरण केन्द्रों पर 1940535 लोगों को कोविशिल्ड की पहली,1631003 लोगों को दूसरी व 37328 लोगों को बूस्टर डोज अब तक लगी।सभी केंद्रों पर पहले आओ पहले लगवाओ की तर्ज पर वैक्सीन लगाई जा रही है।जिला में वैक्सीनेशन अभियान के तहत वीरवार को केन्द्रों पर 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के नागरिकों को कोविशिल्ड की पहली व दूसरी डोज़ लगाई जा रही है । वहीं बूस्टर डोज़ के माध्यम से स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स व 60 वर्ष से अधिक आयु के वे लोग जो गम्भीर बीमारियों से ग्रस्त हैं, उनको भी उपरोक्त केन्द्रों पर कोविशिल्ड के टीके लगाए जाएंगे। वहीं सेक्टर स्थित में स्पूतनिक वैक्सीन की दूसरी डोज़ लगाई जाएगी।शिक्षा व नौकरी के लिए विदेश जाने के लिए चयनित नागरिक अस्पताल/बीके में जाकर अपना कोविशिल्ड का दूसरा टीका लगवा सकते हैं। सभी केंद्रों पर वैक्सीन के स्लॉट उपलब्ध रहेंगे। इसके साथ ही इस स्वास्थ्य केंद्र पर स्पूतनिक वैक्सीन की दूसरी डोज भी लगाई जा रही है । यहाँ दूसरी डोज़ के रूप में भी स्लॉट उपलब्ध रहेंगे।इसके अतिरिक्त जिन नागरिकों को कोविशिल्ड का पहला या दूसरा टीका लगवाना है वह अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर अपनी कोरोना रोधी वैक्सीन लगवा सकता है। वीवार को 58 टीकाकरण केंद्रों पर वैक्सीन के कुल स्लॉट उपलब्ध कराए गए हैं। इसमें स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स व 60 वर्ष से अधिक आयु के वे लोग जो कॉर्बिटी से प्रभावित उनके लिए ऑफलाइन माध्यम से स्लॉट उपलब्ध रहेंगे। बूस्टर डोज़ के लिए किसी प्रकार के नए रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं है। इसके साथ साथ स्वास्थ्य विभाग द्वारा पुनः शुरू किए गए हर घर दस्तक अभियान के तहत कल जिला के विभिन्न आयु वर्ग के लोगों का स्थानों पर टीकाकरण किया जा रहा है ।वैक्सीनेशन कार्य देख रहे फरीदाबाद के उप सिविल सर्जन डॉक्टर मान सिंह ने बताया कि सभी सेंटरों पर पहले आओ पहले लगवाओ की नीति के आधार पर वैक्सीन लगेगी।वहीं वीरवार को जिला में 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को व 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों को भी कोरोना रोधी वैक्सीन लगाई गई।जिला में विभिन्न आयु वर्ग के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान के तहत बुधवार को 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को स्वास्थ्य केंद्र व जिला के विभिन्न स्कूलों में बनाए गए टीकाकरण केन्द्रों पर कॉर्बेवैक्स वैक्सीन का पहला व दूसरा व 15 से 18 वर्ष आयु वर्ग के किशोरों को केन्द्रों पर कॉवेक्सीन का पहला, दूसरा व बूस्टर डोज़ टीका लगाया गया। जिला में वैक्सीनेशन अभियान के नोडल अधिकारी एवं उप सिविल सर्जन डॉ मान सिंह ने बताया कि बुधवार को जिन स्वास्थ्य केंद्रों पर टीकाकरण कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। वह इस प्रकार है। अन्य जगहों पर बनायें गए अस्थायी केन्द्रों पर कॉर्बेवैक्स वैक्सीन की व केन्द्रों पर कॉवैक्सीन की पहली, दूसरी व बूस्टर डोज़ के रूप में स्लॉट उपलब्ध रहेंगी। डॉ सिंह ने सभी जिलावासियों से अपील करते कहा कि वे अपने परिवार व परिचितों में उपरोक्त आयु वर्ग के किशोरों व बच्चों का टीकाकरण करवाना सुनिश्चित करें।

फरीदाबाद में वीरवार को कोविड-19 के 65 पॉजिटिव मामले आए।

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला में आज वीरवार को कोरोना वायरस के 65 मामले पॉजिटिव आए हैं। जबकि अच्छी बात यह है की 57 लोगों को ठीक होने पर घर भेज दिया गया है। वहीं जिला में कोरोना का रिकवरी रेट भी 99.03 प्रतिशत पर पहुंच गया है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि कोरोना पॉजिटिव के 10 केस अस्पताल में भर्ती है। जबकि होम आइसोलेशन पर जिला में 496 लोगों को रखा गया है तथा एक्टिव केसों की संख्या 506 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में आज 1754 लोगों के टेस्ट किए गए। जबकि जिला फरीदाबाद में 1579236 लोगों द्वारा अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 127891 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जबकि 1449147 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 1834 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला में सैंपल पॉजिटिव रेट 8.10 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 99.03 प्रतिशत है। जिला में एक्टिव केस रेट 0.40 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो स्वास्थ्य विभाग के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2415623 और 8882916056 डायल करें। इसके अलावा, जिला प्रशासन के कोविड हेल्पलाइन नंबर 0129-2221000 पर भी संपर्क कर सकते हैं। सरकार द्वारा जारी की गई । कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राम भक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में 1742301 लोगों को अब तक सर्विलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 1737262 हो गई है।

एसीएस देवेंद्र सिंह ने दिए जिला वार अमृत सरोवर के बारे में अधिकारियों को दिशा निर्देश|

सरकार द्वारा आगामी एक मई को मजदूर दिवस आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में मनाया जाएगा। इस दिन प्रदेश के 111 गांवों में अमृत सरोवर के कार्यो का शुभारंभ किया जाएगा। अमृत सरोवर के शुभारंभ कार्यक्रमों के लिए हरियाणा सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव व पंचायत एवं विकास विभाग के महानिदेशक देवेंद्र सिंह ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए जिला वार जिला उपायुक्तों व अन्य अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कि पंचायती राज विभाग के अधिकारी टेंट की व्यवस्था, पार्किंग, पब्लिक के बैठने का स्थान, डीआईओ तकनीकी व्यवस्था और डीआईपीआरओ माइक सर्विस व अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों की व्यवस्था करना सुनिश्चित करेंगे। इसके अलावा मीडिया तथा वीआईपी के बैठने की व्यवस्था का भी समुचित प्रबंध करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 111 स्थानों पर जिला वार अमृत सरोवर का शुभारंभ किया जाएगा। इसके लिए सभी विधायक गण, सांसद गण, लोकसभा सदस्य और मंडल आयुक्त एक-एक गांव में जाकर अमृत सरोवर के निर्माण कार्यों का शुभारंभ करेंगे। अमृत सरोवर कार्यक्रम का आयोजन 1 मई को प्रातः 11:00 बजे प्रदेश के 111 गांव में आयोजित किए जाएंगे। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल करनाल से इसका विधिवत शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव एवं सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डॉ अमित अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश में सभी अमृत सरोवर स्थलों के शुभारंभ स्थलों पर इंटरनेट व्यवस्था, माइक व्यवस्था, एलईडी तथा अन्य इंटरनेट तकनीकी की व्यवस्था बारे सभी जिलों के डीआईओ और डीआईपीआरओ के साथ तालमेल करके बेहतर करना सुनिश्चित करें। फरीदाबाद में आजादी के अमृत महोत्सव की श्रंखला में अमृत सरोवर के शुभारंभ कार्यों की विस्तृत जानकारी अतिरिक्त उपायुक्त इमरान रजा ने दी। उन्होंने बताया कि जिला में केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर गांव अटाली में, कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा गांव गढ़खेड़ा में, बड़खल की विधायक सीमा त्रिखा धौज में, फरीदाबाद के विधायक नरेंद्र गुप्ता मोहल्ला में, तिगांव के विधायक राजेश नागर तिगांव में, एनआईटी के विधायक नीरज शर्मा पाली में और मंडल आयुक्त संजय जून गांव भनकपुर में अमृत सरोवर के कार्यक्रमों का विधिवत शुभारंभ करवाएंगे। अतिरिक्त उपायुक्त इमरान रजा ने बताया कि मंत्री गण, विधायक गण और मंडल आयुक्त से सीधे तौर पर फोन पर सहमति बारे बातचीत हो चुकी है और निर्धारित समय व स्थान पर कार्यक्रमों को बेहतर तरीके से विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ आपस में तालमेल करके अमृत सरवरों का विधिवत शुभारंभ करवाया जाएगा। वीडियो कांफ्रेंस में जिला परिषद के सीईओ सतेन्द्र दूहन, एसडीएम फरीदाबाद परमजीत चहल, एसडीएम बड़खल त्रिलोकचंद, पंचायती राज विभाग के कार्यकारी अभियंता गजेंद्र सिंह, डीआईपीआरओ राकेश गौतम, डीआईओ मुनीष बाबू गुप्ता सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

सी.एम.फ्लाइंग द्वारा अवैध रूप से नशा बेचने पर मारा गया छापा, NDPS कर सकता है केस दर्ज ।

मुख्यमंत्री उड़न दस्ता (ह०) फरीदाबाद को सूचना प्राप्त हुई थी कि मकान no 59 आदर्श नगर कॉलोनी बल्लभगढ़ में अवैध रूप से भांग की गोली, बीड़ी सिगरेट, पान मसाला व गुटके इत्यादि का गोदाम बना रखा है जिसमें टैक्स चोरी की जा रही है। इस सूचना के आधार पर श्री राजेश चेची DSP मुख्यमंत्री उड़नदस्ता द्ारा कराधान विभाग, डॉ सुशील अहलावत, उप सिविल सर्जन फरीदाबाद, डॉ सचिन खाद्य सुरक्षा अधिकारी फरीदाबाद, डॉ पंकज कौशिक आयुष विभाग फरीदाबाद व स्थानीय पुलिस के साथ मौका का संयुक्त औचक निरीक्षण किया गया। मौका पर सँयुक्त टीम मकान नंबर 59 गली नंबर 3 आदर्श नगर बल्लभगढ़ पर पहुंचे जहां मौके पर महावीर गुप्ता हाजिर मिला जिसने बतलाया कि वह परचून की दुकान चलाता है तथा इस मकान में दुकान का सामान रखने के लिए गोदाम बनाकर प्रयोग किया जा रहा है।संबंधित विभाग की टीम द्वारा महाबीर गुप्ता की हाजरी में गोदाम को चैक किया गया जिसमें अलग अलग तरह के तम्बाकू, सिगरेट व गुटखा इत्यादि मिले। मौका पर स्थानीय पुलिस द्वारा चेकिंग के दौरान गोदाम में एक साइड में काफी कट्टे मुनक्का आयुर्वेदिक वटी रखी हुई मिली। जिसमे भांग का मिश्रण पैकेट के ऊपर ही लिखा हुआ था। जबकि भांग हरियाणा में प्रतिबंधित है। इस सम्बंध में स्थानीय पुलिस द्वारा आवश्यक कार्यवाही करने के लिए ड्यूटी मजिस्ट्रेट को सूचना देकर मौका पर बुलाया गया तथा आयुष विभाग फरीदाबाद से डॉ पंकज कौशिक को मौके पर बुलाया गया। डॉ पंकज द्वारा चैक करने उपरांत मोके पर पाए गये दो अलग अलग मार्का के 17 कट्टे से भांग मिश्रित गोलियां के सैम्पल लिए गए। 17 कट्टो में रखे पैकटों पर लिखी मात्रा अनुसार कुल वजन करीब 500 किलोग्राम जिसमे करीब 18 किलोग्राम भांग की मात्रा का अनुमान है पाई गई। मौका पर चेकिंग के दौरान गोदाम में करीब 1,60,000 पाउच पान मसाला अलग अलग कट्टो में रखे हुए मिले, जिनमे से दो प्रकार के पान मसाला के सैम्पल डॉ सचिन शर्मा खाद्य सुरक्षा अधिकारी फरीदाबाद द्वारा लिए गए। जिन्हें परीक्षण हेतु प्रयोगशाला भेजा जाएगा व नियमानुसार कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। मौका पर विभिन्न प्रकार की सिगरेट के पैकेट डिब्बों में करीब 18 हजार सिगरेट तथा तीन प्रकार के गुटके के करीब 99 हजार पाउच कट्टे/बॉक्स में रखे हुये मिले। इन तम्बाकू उत्पादों को COTPA टीम में शामिल डॉ सुशील अहलावत उप सिविल सर्जन फरीदाबाद द्वारा अपने कब्जे में लेकर आवश्यक कार्यवाही के लिए स्थानीय पुलिस के हवाले किया गया। चेकिंग के दौरान आयुष विभाग फरीदाबाद से डॉ पंकज कौशिक को मौके पर बुलाया गया। डॉ पंकज द्वारा चैक करने उपरांत मोके पर पाए गये दो अलग अलग मार्का के 17 कट्टे से भांग मिश्रित गोलियां के सैम्पल लिए गए। महाबीर गुप्ता पुत्र रमेश चंद्र निवासी मकान न. 825 सुभाष कॉलोनी बल्लबगढ़ द्वारा हरियाणा प्रदेश में प्रतिबंधित भांग को इतनी मात्रा में अपने कब्जे में रखने पर प/SI प्रदीप कुमार थाना आर्दश नगर बल्लबगढ़ की तहरीर अभियोग संख्या 215 दिनांक 27.04.2022 धारा 20-61-85 NDPS एक्ट व धारा 5 COTPA एक्ट के तहत थाना आदर्श नगर फरीदाबाद में अभियोग अंकित किया गया है। यह कार्रवाई राजेश चेची डीएसपी सीएम फ्लाइंग स्क्वायड के नेतृत्व में की गई है जो सीएम फ्लाइंग टीम में इंस्पेक्टर जगदीश सब इंस्पेक्टर सतबीर सिंह सब इंस्पेक्टर राजेंद्र कुमार, HC प्रभु दयाल व राजीव शामिल थे।DSP सीएम फ्लाइंग के अनुसार गोदाम में मिली भांग की गोलियां व अन्य तंबाकू उत्पाद हमारे नौजवान पीढ़ी को मॉडर्न बनने की आड में खोखला कर रहे हैं जो कुछ चंद लोग ज्यादा पैसे कमाने की आड़ में समाज में नशे को बढ़ावा दे रहे हैं। लेकिन इस प्रकार के गलत कार्य करने वाले लोगों पर सीएम फ्लाइंग की पैनी नजर है। कोई भी व्यक्ति किसी भी गैर कानूनी काम बारे डीएसपी सीएम फ्लाइंग को सूचित कर सकता है जी।

मोटिवेशनल स्पीकर जन्नत खत्री ने किया सेमिनार का आयोजन।

डी ए वी कॉलेज फ़रीदाबाद में 28 अप्रैल 2022 को शहर की प्रमुख संस्था सोनू नव चेतना फ़ाउंडेशन व टीचर कूल की फ़ाउंडर जन्नत खत्री द्वारा मोटिवेशनल सेमिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आयोजन प्रचार्या श्रीमती सविता भगत जी के मार्गदर्शन में कॉलेज की विभागाध्यक्ष श्रीमती रेखा शर्मा ने किया। जन्नत खत्री ने “Teacher Cool” के माध्यम से “DARE TO FOLLOW YOUR DREAMS” विषय पर निबंध, स्लोगन, व पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। जन्नत खत्री ने विद्यार्थियों का मनोबल बढ़ाया और राष्ट्र निर्माण में भूमिका निभाने के लिए युवाओं का आह्वान किया। प्रतियोगिता में 123 विद्यार्थियों ने भाग लिया। प्रायोजक के रूप में सोनू नव चेतना फ़ाउंडेशन को शामिल किया गया जिनकी तरफ़ से सभी बच्चों को सर्टिफ़िकेट और शील्ड दी गयीं। डॉ दुर्गेश शर्मा ने स्वस्थ प्रगतिशील, विकसित समाज के निर्माण में युवाओं के दायित्व, कार्यशैली व रचनात्मक भूमिका से अवगत कराया। इस मौके पर प्रचार्या डा. सविता भगत जी ने आयोजन के प्रबन्धन से खुश हो कर छात्र छात्राओं, आयोजक जन्नत खत्री, डॉ दुर्गेश शर्मा व विभागाध्यक्ष रेखा शर्मा को बधाई दी और सभी प्रतिभागी विजेताओं को इनाम दिए। रेखा शर्मा जी ने सभी को सन्देश दिया कि अच्छी शिक्षण शैली, अच्छे संस्कारों की शिक्षा से ऐसे समाज का निर्माण करें जिसमें नैतिक मूल्यों का स्थायित्व रहे। निबंध लेखन में ज्योति प्रथम, भावना ने दूसरा, सनत मिश्रा ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। पोस्टर मेकिंग में कृतिका शर्मा ने प्रथम, अंकिता दिवेदी ने दूसरा, ईशिता शुक्ला व दीक्षा भाटिया ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। स्लोगन में पूजा यादव ने प्रथम, अभिषेक झा ने दूसरा, तरुण धनकड व आशीष कुमार ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। क्विज़ के आयोजन स्वरूप भी बहुत से विद्यार्थियों को विशेष उपहार दिए गए। इस मौक़े पर कॉलेज के प्रोफ़ेसर डॉ नीरज, डॉ ममता, श्रीमती वंदना, श्रीमती नीलिमा, श्रीमती ज्योति शर्मा, श्री अंसारी, आदि उपस्थित रहे। सभी ने युवाओं की जागरूकता हेतू विद्यार्थियों का मनोबल बढ़ाया।

अक्षय तृतीया पर बाल विवाह होता दिखे तो डायल करे 1098 नंबर

फरीदाबाद, 27 अप्रैल। जिला कार्यकारी व महिला संरक्षण एवं बाल विवाह निषेध अधिकारी हेमा कौशिक ने कहा कि जिला में सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में बाल विवाह करवाने वालों की अब जिला फरीदाबाद खैर नहीं है। ऐसे लोगों को जेल होगी और उन पर जुर्माना भी लगेगा।

हेमा कौशिक ने बताया कि जिला के ग्रामीण क्षेत्रों में बाल विवाह निषेध अधिनियम को लेकर जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिला में बाल विवाह नहीं होने देंगे, क्योंकि बाल विवाह कानूनी अपराध है।

उन्होंने कहा कि अक्षय तृतीया पर बाल विवाह होता दिखे तो तुरंत 1098 नंबर पर फोन करें , जिला में उपायुक्त जितेंद्र यादव के कुशल मार्गदर्शन में और सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव के तत्वावधान में अक्षय तृतीया पर बाल विवाह रोकने के लिए जागरूकता अभियान जारी है।

हेमा कौशिक ने आज बुधवार को गांव पखेल, कुरेशीपुर में महिलाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि बाल विवाह करवाने वालों की दो साल की जेल और एक लाख रुपये का जुर्माना होगा। उन्होंने कहा कि लोगों के सहयोग से फरीदाबाद जिला में बाल विवाह नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि बाल विवाह निषेध अधिनियम को लेकर जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बाल विवाह कानूनी अपराध है। अक्षय तृतीया पर बाल विवाह होता दिखे तो टोल फ्री 1098 नंबर डायल करें। जिला फरीदाबाद में आजादी के अमृत महोत्सव के तत्वावधान में अक्षय तृतीया पर बाल विवाह रोकने के लिए जागरूकता अभियान जारी है।

सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव के तत्वावधान में जिला मे महिलाओं को बाल विवाह कानूनी अपराध है बारे जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इसकी उल्लंघन करने पर बाल विवाह निषेध अधिनियम 2006 के अनुसार सजा का प्रावधान किया गया है। दोषी पाए जाने पर बाराती, घराती और पण्डित जी सहित अन्य लोगों पर भी कानूनी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि दोषियों को सजा जरूर दिलवाई जाएगी।

इस अधिनियम के अनुसार विवाह के लिए लड़की की आयु 18 वर्ष और लड़के की आयु 21वर्ष होनी चाहिए । उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रंखला में अक्षय तृतीया पर जिला बाल संरक्षण विभाग द्वारा एक विशेष जन जागरण अभियान चलाया जा रहा है।

इस अभियान के तहत यदि आपको जिला मे बाल विवाह होता दिखे तो 1098 नंबर पर फोन करें। उन्होंने बताया कि जिला फरीदाबाद में अक्षय तृतीया पर बाल विवाह रोकने के लिए जागरूकता अभियान शुरू किया गया है। बाल विवाह रोकने के लिए प्रशासन सख्त हो गया है और शादियों पर नजर रहेगी। बाल विवाह करते पाए जाने पर घराती के साथ-साथ बाराती, पंड़ित व अन्य भी नपेंगे।

जिला कार्यकारी व महिला संरक्षण एंव बाल विवाह निषेध अधिकारी हेमा कौशिक ने कई विभागों के साथ बैठक कर बेहतर तालमेल करके खंड स्तर पर जागरूकता कार्यक्रमों द्वारा इस अभियान की शुरूआत की है। बाल विवाह के खिलाफ महिलाओं के साथ बैठक की गई व ग्रामीण क्षेत्र में जागरूकता रैली निकाली जा रही है। कार्यक्रम के दौरान महिलाओं को आह्वान किया गया कि वे बाल विवाह जैसी बुराई को जड़ से खत्म करने में अपना सहयोग दे। उन्होंने कहा कि बाल विवाह दंडनीय अपराध है और बाल विवाह से बच्चों का भविष्य भी बर्बाद होता है। महिला संरक्षण और बाल विवाह निषेध अधिकारी ने जिला कार्यक्रम अधिकारी के साथ मिलकर जिला बाल कल्याण समिती बाल कल्याण इकाई के साथ अभियान चलाया जा रहा है।

महिला संरक्षण एवं बाल विकास निषेध अधिकारी द्वारा जिला शिक्षा अधिकारी व पुलिस अधीक्षक से भी मुलाकात करके बाल विवाह रोकने की अपील की है। संरक्षण बाल विवाह निषेध अधिकारी द्वारा सभी नागरिकों से अपील है कि यदि उनके संरक्षण में बाल विवाह का कोई मामला आता है तो तुरंत पुलिस हेल्पलाइन 112महिला हेल्पलाइन 181 संरक्षण एवं बाल विवाह निषेध अधिकारी के नंबर 9210474464 चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 पर सूचना दें। ताकि समय-समय पर नाबालिग के विवाह को रुकवाया जा सके। जागरूकता अभियान में जिला में बाल विवाह नहीं होने देंगे की शपथ भी दिलवाई गई।

वरिष्ठ पत्रकार राजेंद्र सिंह बने हरियाणा प्रेस क्लब के जिला प्रधान

17 जनवरी-फरीदाबाद । हरियाणा प्रेस क्लब के तत्वाधान में रविवार को बड़खल के ग्रेफाल्कन में बैठक का आयेाजन किया गया। जिसमें सर्वसम्मति से वरिष्ठ पत्रकार राजेंद्र सिंह को हरियाणा प्रेस क्लब का जिला प्रधान मनोनीत किया गया। इस मौके पर क्लब के प्रमुख सदस्यों ने क्लब की योजनाओं एवं नीतियों से अवगत कराते हुए कहा कि हरियाणा प्रेस क्लब पूरे हरियाणा में अपना संगठन खड़ा करेगा और पत्रकारों के हित की बात मजबूती से करेगा। क्लब का उद्देश्य पत्रकारों के हितों को सुरक्षित करना और उनके कल्याण के लिए कार्य करना है। नवनियुक्त प्रधान राजेंद्र सिंह ने अपनी नियुक्ति पर क्लब के पदाधिकारी एवं सदस्यों का आभार जताया और कहा कि जो जिम्मेदारी उनको दी है, वह उसको पूरी ईमानदारी एव मेहनत से निभाएंगे। उन्होंने जल्द ही फरीदाबाद में कार्यकारिणी की घोषणा किए जाने की बात की।

फरीदाबाद जिला कार्यकारणी सदस्य नवनियुक्त प्रधान राजेंद्र सिंह को बधाई देते हुए

इस अवसर पर संस्था के प्रदेश अध्यक्ष राकेश देव, उप प्रधान सुभाष शर्मा एवं कोषाध्यक्ष किशोर शर्मा एवं  जिला के सदस्य जय शंकर सुमन, धमेन्द्र यादव , रविन्द्र बिधुडी, ब्रिजेश चावला, सुधीर वर्मा, मनीष शर्मा, निश्चिंत शर्मा, रूपेश देव, विनोद कुमार ,हरजिंदर शर्मा, पंकज अरोड़ा, अजय वर्मा, मुकेश मंडल, आरती, मीनू, ज्योति शर्मा, राकेश सुखवारिया, मोनू पांचाल, मनोज सूर्यवंशी, जय कुमार गोला, नितिन कथूरिया, विपिन शर्मा, धीरज कौशिक, मनोज, राधिका बहल, राजकुमार, जितेंद्र वत्स, शेखर दास, धर्मेंद्र यादव, प्रताप चौधरी, राहुल चौधरी आदि मौजूद रहे।

बेमौसम बरसात से किसानों को भारी नुकसान

28 सितम्बर-हथीन/माथुर | बीते कई दिनों से हो रही बेमौसमी बरसात से बहीन व आसपास के गांव के किसानों की फसल को काफी नुकसान पहुंचा है, जिसके लिए किसानों ने सरकार से मुआवजे की मांग की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बहीन व आसपास के गांव में सोमवार दोपहर बाद तेज बारिश हुई, जिसने किसानों के सारे अरमानो पर पानी फेर दिया, इससे कपास व बाजरे की फसल को काफी नुकसान पहुंचा। किसानों का कहना है कि कई दिनों से हो रही बेमौसम बरसात से कपास व बाजरे की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई।

किसानों के अनुसार बरसात के कारण कपास व बाजरा पूरी तरह से काला पड चुका है, जिसे देखकर सभी किसानों के चेहरे मुरझा गए हैं। किसानों का कहना है कि किसान ऐसे ही महंगाई की चौतरफा मार झेल रहा है, ऊपर से बेमौसम बरसात ने हमें पूरी तरह से तोड कर रख दिया, हम सरकार से मांग करते हैं की
हमारी खराब हुई फसलों का जायजा लेकर हमें उचित मुआवजा दिया जाए।

किसान महेंद्र सिंह ने कहा कि, किसान लेखराज का कहना है कि, मेरी 3 एकड की फसल कपास की है व 3 एकड बाजरे की है, लेकिन कई दिनों से हो रही बेमौसमी बरसात से मेरी पूरी फसल काली पड चुकी है व खराब हो गई, जिसकी बजह मेरा काफी नुकसान हुआ है। मेरी व मेरे भाइयों की 40 एकड की कपास की खेती है व 20 एकड बाजरे की खेती है, इस बार हमने अपनी फसल से अपनी बहुत सारी जरूरतों को पूरा करने के सपने देखे थे, लेकिन बिन मौसम की बरसात ने सारे अरमानों पर पानी फेर दिया।

हर घर तिरंगा के लिए जज़्बा फाउन्डेशन ने गांव जुन्हैडा में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए किया प्रेरित

05 अगस्त- फरीदाबाद : देशभर में आजादी के अमृत महोत्सव (75 वर्ष) का आगाज़ 15 अगस्त 2021 को प्रारंभ हुआ था, जिसके अंतर्गत सरकार, प्रसाशन व सामाजिक संस्थाओं द्वारा प्रत्येक कार्यक्रम “आजादी के अमृत महोत्सव” की श्रृंखला में किया गया।

इसी कड़ी में अब केंद्र सरकार द्वारा जारी आदेश अनुसार “हर घर तिरंगा” कार्यक्रम का आगाज़ किया जा रहा है, जिसके अनुरूप खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग भारत सरकार के उपक्रम “नेहरू युवा केंद्र” संगठन द्वारा देश के प्रत्येक राज्यो की जिला इकाइयों में “हर घर तिरंगा” अभियान का आगाज़ किया जा रहा है।

कार्यक्रम के अंतर्गत आज “नेहरू युवा केंद्र” जिला फरीदाबाद व “जज्बा फाउंडेशन” द्वारा ग्राम पंचायत जुनहेड़ा स्थित कौशल विकास केंद्र पर प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे युवाओं को जिला युवा अधिकारी प्रियंका ने विभाग से जुड़ी हुई जानकारी साझा की व साथ – साथ युवा क्लबो के गठन पर जोर दिया ताकि अधिक से अधिक युवा क्लबो के साथ जुड़ कर समाज सेवा की भावना के समाज व देश हित के लिए कुछ करे।

इस अवसर जज्बा फाउंडेशन अध्यक्ष हिमांशु भट्ट ने युवाओं को जानकारी देते हुए बताया कि देश भर में आजादी के अमृत महोत्सव का आगाज़ अलग अलग संगठनों द्वारा अलग अलग तरीकों से किया जा रहा जिस कड़ी में हम सभी को इस वर्ष स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अपने अपने घरों की छतों पर अपना राष्ट्रीय ध्वज फेरना है एवं अपने गाँव, शहर, क़स्बा, अदि में रहने वाले सभी लोगों को अपने साथ इस अभियान में जोड़ना है।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से नेहरू युवा केंद्र से केशव, राकेश टोंगर, जसवन्त पंवार, आशा रानी, विजयपाल, राहुल वर्मा अदि का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

जनहित सेवा संस्था फरीदाबाद ने आदर्श नगर थाने में किया पौधरोपण

05 अगस्त- फरीदाबाद|सामाजिक संस्था जनहित सेवा संस्था फरीदाबाद के सौजन्य से आदर्श नगर थाने के प्रांगण में पौधरोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे थाना प्रभारी कुलदीप ने कहा कि पेड़ है तो कल है। पौधे लगाने के साथ-साथ उनकी देखरेख करना भी बहुत जरूरी है ।इस अवसर पर संस्था के अध्यक्ष संत सिंह हुड्डा ने कहा कि सांसे विकास से ज्यादा कीमती है। हमें शुद्ध वायु व स्वास्थ्य के लिए ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने चाहिए ।व उनकी देखरेख भी करनी चाहिए ।संस्था के महासचिव सुभाष गहलोत ने कहा कि वृक्ष धरती का श्रृंगार है। संस्था ने आज पुलिस प्रशासन के सहयोग से आदर्श नगर थाने में पौधरोपण कार्यक्रम का आयोजन किया है । पौधरोपण कार्यक्रम लगातार चलते रहेंगे। आपसी सहयोग से । पौधरोपण कार्यक्रम में विशेष रुप से जामुन, आंवला, अनार, नींबू के फलदार पौधे रोपे गए।कार्यक्रम में मुख्य रूप से थाना प्रभारी कुलदीप, संस्था के अध्यक्ष संत सिंह हुड्डा, महासचिव सुभाष गहलोत, उपाध्यक्ष ओम दत्त शास्त्री, रामकिशन फौजी, राधारमण मिश्रा ,सुंदर तेवतिया एवं थाने का स्टाफ मौजूद था।

फरीदाबाद की तथाकथित समाजसेविका हिना माथुर को सीएम फ्लाइंग ने मासूम बच्चों की खरीद फरोख्त के आरोप में रंगे हाथों किया गिरफ्तार

03 अगस्त- फरीदाबाद|मुख्यमंत्री उड़न दस्ता फरीदाबाद को गुप्त सूचना प्राप्त हुई कि एक NGO संस्था की संचालक हिना माथुर व उसका साथी पवन शर्मा गरीब परिवारो से सम्पर्क करके उन्हें अच्छी परवरिश कराने का झांसा देकर एक से दो लाख रुपए में नवजात शिशुओं को बेच देते हैं। जिन्होंने अभी तक कई बच्चों को बेच दिया है।

इस सूचना के आधार पर उपायुक्त फरीदाबाद से पत्राचार करके ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त कराया गया। जिस सम्बध में राजकुमार SDO सिचाई विभाग फरीदाबाद को ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया। कार्यवाही करने के लिए उप निरीक्षक सतबीर सिंह मुख्यमंत्री उड़न दस्ता फरीदाबाद व महिला सहायक उप निरीक्षक राजेश को फर्जी ग्राहक के तौर पर तैयार करके निसंतान दम्पति बनकर शिशु बेचने वालों से बात करने के लिए कहा गया। जिस पर पवन शर्मा व हिना ने एक लाख रुपये में बच्चा देने की बात तय की।
ड्यूटी मजिस्ट्रेट द्वारा उप निरीक्षक सतबीर सिंह को 500-500 रुपये के 4 नम्बरी नोटों को हवाले करके बीच में सादा कागज की 2 गड्डी तैयार करने बारे कहा व उनके ऊपर नीचे 500-500 रुपये के नोट लगाने बारे कहा व रेडिंग पार्टी अलग से तैयार कराई गई।

बातचीत होने उपरांत हिना व पवन शर्मा ने उप निरीक्षक सतबीर को सर्वोदय अस्पताल सेक्टर 8 फरीदाबाद के गेट पर आने को कहा। SI सतबीर सिंह व महिला ASI के साथ परिवार के सदस्य के तौर पर श्री राजकुमार SDO कम ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी सर्वोदय अस्पताल साथ गए। जहां सर्वोदय अस्पताल की कैंटीन में पवन शर्मा व हिना ने फर्जी ग्रहक व अन्य सदस्यों को अटल पार्क सेक्टर 2 फरीदाबाद के सामने हुडा मार्केट में बच्चा देने व पैसे लेने बारे बात की व पवन में सभी को अपने पीछे आने बारे कहा। जिस पर पवन व हिना अपनी कार से आगे आगे थे व टीम पीछे थी। अटल पार्क के पास जाकर पवन व हिना ने SI सतबीर व अन्य से वही रुकने को कहा व स्वयं बच्चे को लेकर आने को बोला व कुछ देर बाद हिना व पवन बालिका लेकर मौका पर हाजिर आये व ड्यूटी मजिस्ट्रेट व SI सतबीर के साथ महिला ASI को लाकर बच्चा सौप दिया व पैसे मांगे जिस पर SI सतबीर सिंह द्वारा लिफाफे में रखे पैसे पवन को दिए व रेडिंग पार्टी को आरोपीयों को मौका पर ही काबू कर लिया गया।

हिना व पवन शर्मा द्वारा गरीब परिवारो को बहला फुसलाकर पैसे के लालच में बच्चे का सौदा करने पर थाना शहर बल्लबगढ़ में जगदीश निरीक्षक मुख्यमंत्री उड़न दस्ता फरीदाबाद की तरहरीर पर अभियोग अंकित किया जा रहा हैं ।

रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद ईस्ट की महिला विंग ने स्लम एरिया की महिलाओं को बांटे सेनेटरी नेपकिन

24 जुलाई – फरीदाबाद|रोटरी फरीदाबाद ईस्ट के अध्यक्ष कुलबीर सचदेवा की अध्यक्षता और रोटेरियन वीरेंद्र मखीजा के मार्गदर्शन में रोटरी महिला स्वच्छता अभियान की संयोजक रोटेरियन गुरनीत चावला ने अपनी टीम के साथ 450 सेनेटरी नेपकिन (पैड) फ्री बांटे। कार्यक्रम का आयोजन पंडित अमरनाथ स्कूल एसी नगर फरीदाबाद में किया। स्कूल की प्रिंसिपल प्रियंका वानखेड़े ने रोटरी क्लब की सभी महिला शक्ति का बुक्का देकर सम्मानित किया। गुरनीत चावला ने बताया की झुग्गियों में रहने वाली महिलाओं को व स्कूल की बच्चियों को पैड लगाने के लिए जागरूक किया। क्योंकि महिलाएं अपनी सफाई का ध्यान रखेगी तो वह स्वस्थ रहेगी। कई प्रकार की बीमारियों से भी बचा जायेगा। कमलेश सचदेवा और चारु गुप्ता ने बताया की आज महिलाओ में जा