LATEST ARTICLES

बेमौसम बरसात से किसानों को भारी नुकसान

28 सितम्बर-हथीन/माथुर | बीते कई दिनों से हो रही बेमौसमी बरसात से बहीन व आसपास के गांव के किसानों की फसल को काफी नुकसान पहुंचा है, जिसके लिए किसानों ने सरकार से मुआवजे की मांग की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बहीन व आसपास के गांव में सोमवार दोपहर बाद तेज बारिश हुई, जिसने किसानों के सारे अरमानो पर पानी फेर दिया, इससे कपास व बाजरे की फसल को काफी नुकसान पहुंचा। किसानों का कहना है कि कई दिनों से हो रही बेमौसम बरसात से कपास व बाजरे की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई।

किसानों के अनुसार बरसात के कारण कपास व बाजरा पूरी तरह से काला पड चुका है, जिसे देखकर सभी किसानों के चेहरे मुरझा गए हैं। किसानों का कहना है कि किसान ऐसे ही महंगाई की चौतरफा मार झेल रहा है, ऊपर से बेमौसम बरसात ने हमें पूरी तरह से तोड कर रख दिया, हम सरकार से मांग करते हैं की
हमारी खराब हुई फसलों का जायजा लेकर हमें उचित मुआवजा दिया जाए।

किसान महेंद्र सिंह ने कहा कि, किसान लेखराज का कहना है कि, मेरी 3 एकड की फसल कपास की है व 3 एकड बाजरे की है, लेकिन कई दिनों से हो रही बेमौसमी बरसात से मेरी पूरी फसल काली पड चुकी है व खराब हो गई, जिसकी बजह मेरा काफी नुकसान हुआ है। मेरी व मेरे भाइयों की 40 एकड की कपास की खेती है व 20 एकड बाजरे की खेती है, इस बार हमने अपनी फसल से अपनी बहुत सारी जरूरतों को पूरा करने के सपने देखे थे, लेकिन बिन मौसम की बरसात ने सारे अरमानों पर पानी फेर दिया।

कांग्रेस पार्टी ने नामंजूर किया नवजोत सिंह का इस्तीफ़ा।

28 सितम्बर 2021 : – नवजोत सिंह सिद्धू के पंजाब कांग्रेस चीफ पद से इस्तीफे के बाद से पार्टी में भूचाल आ गया है। सरकार में मंत्री रजिया सुल्ताना ने भी अपना इस्तीफा दे दिया है। इस घटनाक्रम के बाद कांग्रेस आलाकमान भी हरकत में आ गया है। कांग्रेस पार्टी के सूत्रों का कहना है कि नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफा पार्टी ने नामंजूर किया है। साथ ही बड़ा कदम उठाया है।

कांग्रेस पार्टी के सूत्रों की मानें तो आलाकमान ने प्रदेश नेतृत्व को खुद से इस समस्या को हल करने का आदेश दिया है। जिसके बाद सीएम चरणजीत सिंह चन्नी खुद नवजोत सिंह सिद्धू से मिलने पटियाला के लिए रवाना हो गए हैं। 

उधर, मनजोत सिंह सिद्धू खेमे के कांग्रेसी विधायक भी उनके समर्थन में अपनी आवाज बुलंद कर रहे हैं। कांग्रेस विधायक सुखपाल सिंह खैरा का कहना है कि “सिद्धू पंजाब में भ्रष्टाचार के खिलाफ हैं। वे पार्टी में मौन रहने वाले अध्यक्ष नहीं बने रहना चाहते। इसलिए पार्टी हाईकमान को आगे आकर इस समस्या का हल निकालना होगा। इसके अलावा खुद सिद्धू को अपना इस्तीफा वापस ले लेना चाहिए”।

देवाश्रय पशु चिकित्सालय में ‘विश्व रेबीज दिवस’ के अवसर फ्री पशु वैक्सीनेशन कार्यक्रम का हुआ आयोजन

28 सितंबर-फरीदाबाद | देवाश्रय पशु चिकित्सालय एवं पीपल फॉर एनिमल संस्था के सहयोग से नीमका स्थित एनिमल हॉस्पिटल (सर्वोदय फाउंडेशन द्वारा संचालित ) द्वारा रेबीज और इसकी रोकथाम को लेकर ‘विश्व रेबीज दिवस’ पर एक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 28 सितंबर, प्रतिवर्ष ‘विश्व रेबीज दिवस’ के रूप में मनाया जाता है.

सर्वोदय फाउंडेशन की संस्थापक श्रीमती अंशु गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि रेबीज एक जूनोटिक बीमारी है जो जानवरों से इंसानों में फैलती है. ये रेबीज वायरस की वजह से होता है जो रबडोविरिडे परिवार के लिसावायरस जींस से पैदा होता है. डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, भारत में हर साल तकरीबन 20,000 रेबीज से मौतें होती हैं. रेबीज ने पिछले पांच वर्षों में भारत में COVID-19 से ज्यादा लोगों की जान ली है. एक विशेष दिन पर, वैश्विक रेबीज समुदाय दूसरों के बीच इस संक्रामक बीमारी को सूचित करने और उससे निपटने में मदद करता है।

पीपल फॉर एनिमल संस्थान के संस्थापक अध्यक्ष रवि दुबे ने जानकारी देते हुए बताया कि ‘विश्व रेबीज दिवस’ के लिए इस वर्ष की थीम रेबीज के बारे में तथ्यों को साझा करने पर केंद्रित है, न कि बीमारी के बारे में डर फैलाने पर और इन बातों को ध्यान में रखते हुए ही आज हमने फ्री वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया है, ताकि अधिक से डॉग्स, कैट्स को अधिक से अधिक मात्रा में रेबीज का टीका लगाया जा सके और लोगों को इस बीमारी से बचाया जा सके। कार्यक्रम में लगभग 42 पशुओ को वैक्सीन लगाई गई जिसमें फीमेल डॉग्स, मेल डॉग्स, और कैट सम्मलित है।

कार्यक्रम में मुख्यरूप डॉ सुनील, बृजेश, हिमांशु भट्ट का योगदान रहा।

शहीद-ए-आजम भगतसिंह को आजादी के दीवाने के रूप में याद किया जाता हैं : कृष्ण अत्री


28 सितंबर-फरीदाबाद। आज शहीद-ए-आजम भगत सिंह की जयंती पर एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने पंडित जवाहरलाल नेहरू कॉलेज पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। कार्यक्रम का आयोजन एनएसयूआई हरियाणा के पूर्व प्रदेश महासचिव कृष्ण अत्री की अध्यक्षता में किया गया। इस दौरान छात्रों ने ‘इंकलाब जिंदाबाद’, ‘शहीद भगत सिंह- अमर रहे’ के नारे लगा कर भगत सिंह को याद किया।

एनएसयूआई हरियाणा के पूर्व प्रदेश महासचिव कृष्ण अत्री ने शहीद भगत सिंह के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज के समय में भगत सिंह केवल एक वीर शहीद इंसान ना होकर बल्कि एक विचारधारा बन गये हैं। उन्होंने बताया की 1907 में आज ही के दिन भारत माँ के क्रांतिकारी सपूत ने जन्म लिया था जिसने पूरे देश में आजादी की लड़ाई का बिगुल बजाया था। उन्होंने कहा कि वह 14 वर्ष की आयु से ही पंजाब की क्रांतिकारी संस्थाओं में कार्य करने लगे थे। अमृतसर में 13 अप्रैल, 1919 को हुए जलियांवाला बाग हत्याकांड ने भगत सिंह की सोच पर इतना गहरा प्रभाव डाला कि लाहौर के नेशनल कॉलेज की पढ़ाई छोड़कर भगत सिंह ने भारत की आजादी के लिए नौजवान भारत सभा की स्थापना की। काकोरी कांड में रामप्रसाद ‘बिस्मिल’ सहित 4 क्रांतिकारियों को फांसी व 16 अन्य को कारावास की सजा से भगत सिंह इतने ज्यादा बेचैन हुए कि चन्द्रशेखर आजाद के साथ उनकी पार्टी हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन से जुड़ गए और उसे एक नया नाम दिया ‘हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन’। इस संगठन का उद्देश्य सेवा,त्याग और पीड़ा झेल सकने वाले नवयुवक तैयार करना था।

अत्री ने कहा कि भगत सिंह की शहादत से न केवल अपने देश के स्वतंत्रता संघर्ष को गति मिली बल्कि नवयुवकों के लिए भी वह प्रेरणा स्रोत बन गए। वह देश के समस्त शहीदों के सिरमौर बन गए। आज भी सारा देश उनके बलिदान को बड़ी गंभीरता व सम्मान से याद करता है। देश की जनता उन्हें आजादी के दीवाने के रूप में देखती हैं।


इस मौके पर आरिफ खान, राजबीर सिंह, अमन पंडित, राहुल वर्मा, शिवम शर्मा, रेहान, कृष्ण रावत, पंकज, राहुल, मौसिम, प्रतीक, निशांत कटारिया, जसविंदर, अनिल, अजय, रोहित, अजित, अंकुश, खुशबू चौधरी, अंजली, सोनी, संजना, पायल आदि मौजूद थे।

संतान की लंबी आयु के लिए माताएं रखती है, जीवित्पुत्रिका का कठिन व्रत।

0

जीवित्पुत्रिका व्रत यानि जितिया को महिलाओं के सबसे कठिन व्रतो में शामिल किया जाता है। छठ की तरह तीन दिनों तक चलने वाला यह व्रत बच्चों की लंबी उम्र और संपन्नता के लिए रखा जाता है। इस व्रत में निर्जला यानि बिना पानी के पूरे दिन उपवास किया जाता है।

हिंदु पंचांग के अनुसार जितिया का पावन पर्व आश्विन मास में कृष्ण पक्ष के सातवें से नौवें चंद्र दिवस तक मनाया जाता है। इस पर्व की धूम उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल में अधिक देखने को मिलती है। इस बार जितिया का पावन पर्व 28 से 30 सितंबर तक मनाया जाएगा। पौराणिक कथाओं के अनुसार इस व्रत का महत्व महाभारत काल से जुड़ा हुआ है।छठ की तरह जीवित्पुत्रिका व्रत यानि जितिया को महिलाओं के सबसे कठिन व्रतो में से एक माना जाता है। इस दिन माताएं अपने संतान की लंबी उम्र व सुख शांति की प्राप्ति के लिए निर्जला व्रत करती हैं। व्रत की शुरुआत सप्तमी तिथि से नहाए खाए से होती है। इस दिन महिलाएं सूर्योदय से पहले स्नान कर व्रत का संकल्प लेती हैं। आपको बता दें छठ की तरह इस दिन भी केवल एक बार ही भोजन किया जाता है। तथा अष्टमी के दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं और नवमी के दिन सूर्यदेव को अर्घ्य देकर पारण किया जाता है।

एनएसयूआई ने शहीद-ए-आजम भगतसिंह की जयंती पर श्रद्धासुमन अर्पित किए

28 सितंबर 2021 – फरीदाबाद : आज शहीद-ए-आजम भगत सिंह की जयंती पर एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने पंडित जवाहरलाल नेहरू कॉलेज पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। कार्यक्रम का आयोजन एनएसयूआई हरियाणा के पूर्व प्रदेश महासचिव कृष्ण अत्री की अध्यक्षता में किया गया। इस दौरान छात्रों ने ‘इंकलाब जिंदाबाद’, ‘शहीद भगत सिंह- अमर रहे’ के नारे लगा कर भगत सिंह को याद किया।
एनएसयूआई हरियाणा के पूर्व प्रदेश महासचिव कृष्ण अत्री ने शहीद भगत सिंह के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज के समय में भगत सिंह केवल एक वीर शहीद इंसान ना होकर बल्कि एक विचारधारा बन गये हैं। उन्होंने बताया की 1907 में आज ही के दिन भारत माँ के क्रांतिकारी सपूत ने जन्म लिया था जिसने पूरे देश में आजादी की लड़ाई का बिगुल बजाया था। उन्होंने कहा कि वह 14 वर्ष की आयु से ही पंजाब की क्रांतिकारी संस्थाओं में कार्य करने लगे थे। अमृतसर में 13 अप्रैल, 1919 को हुए जलियांवाला बाग हत्याकांड ने भगत सिंह की सोच पर इतना गहरा प्रभाव डाला कि लाहौर के नेशनल कॉलेज की पढ़ाई छोड़कर भगत सिंह ने भारत की आजादी के लिए नौजवान भारत सभा की स्थापना की। काकोरी कांड में रामप्रसाद ‘बिस्मिल’ सहित 4 क्रांतिकारियों को फांसी व 16 अन्य को कारावास की सजा से भगत सिंह इतने ज्यादा बेचैन हुए कि चन्द्रशेखर आजाद के साथ उनकी पार्टी हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन से जुड़ गए और उसे एक नया नाम दिया ‘हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकन एसोसिएशन’। इस संगठन का उद्देश्य सेवा,त्याग और पीड़ा झेल सकने वाले नवयुवक तैयार करना था।  अत्री ने कहा कि भगत सिंह की शहादत से न केवल अपने देश के स्वतंत्रता संघर्ष को गति मिली बल्कि नवयुवकों के लिए भी वह प्रेरणा स्रोत बन गए। वह देश के समस्त शहीदों के सिरमौर बन गए। आज भी सारा देश उनके बलिदान को बड़ी गंभीरता व सम्मान से याद करता है। देश की जनता उन्हें आजादी के दीवाने के रूप में देखती हैं।

इस मौके पर आरिफ खान, राजबीर सिंह, अमन पंडित, राहुल वर्मा, शिवम शर्मा, रेहान, कृष्ण रावत, पंकज, राहुल, मौसिम, प्रतीक, निशांत कटारिया, जसविंदर, अनिल, अजय, रोहित, अजित, अंकुश, खुशबू चौधरी, अंजली, सोनी, संजना, पायल आदि मौजूद थे।

अपराध जांच शाखा पुलिस ने एक युवक को अवैध हथियार सहित किया गिरफ्तार.

दीपक गहलावत पुलिस अधीक्षक पलवल के कुशल मार्गदर्शन में जिला पलवल पुलिस द्वारा एक विशेष अभियान अवैध हथियार धारकों के खिलाफ चलाया हुआ है इसके मद्देनजर सीआईए ने एक आरोपी को अवैध हथियार देसी पिस्टल सहित गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजने में कामयाबी हासिल की है।

सीआईए होडल इंचार्ज हरदीप सिंह ने बताया कि अवैध हथियार धारकों की धरपकड़ मुहिम के तहत स्टाफ में तैनात हेड कांस्टेबल मान सिह को विश्वसनीय सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई कि एक आरोपी होडल बस स्टैंड चिराग पैलेस के पास मौजूद है, जिसके पास अवैध हथियार है तुरंत  रेड की जाए तो हथियार सहित काबू आ सकता है। सूचना पर मौके पर दबिश देकर आरोपी को काबू कर  तलाशी ली तो, तलाशी लेने पर एक देशी पिस्टल बरामद हुआ। आरोपी की पहचान पवन पुत्र नल सिंह निवासी तीहा पट्टी होडल जिला पलवल के रूप में हुई है। पुलिस द्वारा आरोपी के खिलाफ थाना होडल में शस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई करते हुए आरोपी को पेश अदालत किया गया जहां से अदालत ने आरोपी को बंद कारागार के सादर आदेश फरमाए।

कोताही बरतने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों को बक्शा नहीं जाएगा

बल्लभगढ़, 27 सितंबर। हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने आज सोमवार को बल्लभगढ़ के एसडीएम कार्यालय परिसर में स्थानीय पंचायत भवन में विभिन्न कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया। औचक निरीक्षण के दौरान कैबिनेट मंत्री ने पिछले एक महीने से हो रही रजिस्ट्रियों के कागजात की बारीकी से वेरीफिकेशन की और कहा कि पिछले एक माह से जितनी भी रजिस्ट्रियां हुई है उनकी इंक्वारी की जाए। इसके लिए कैबिनेट मंत्री ने एसडीएम बल्लभगढ़ और एसीपी बल्लभगढ़ की एक कमेटी बनाई है। जो कि अगले दो सप्तता में अपनी इंक्वारी की रिपोर्ट मंत्री को सौपेंगी। इसके अलावा कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि खाद्य एवं आपूर्ति विभाग विभाग द्वारा गरीब परिवारों को सरकार द्वारा फ्री में राशन वितरण करने भी पिछले कई दिनों से शिकायतें आ रही थी। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा 5 किलो अनाज प्रति व्यक्ति प्रति माह गरीब परिवारों को निशुल्क में दिया जा रहा है। उसमें भी धांधलियों की शिकायत मिली है। इसके लिए भी बल्लभगढ़ के सभी 200 राशन डिपो की इंक्वायरी भी एसडीएम बल्लभगढ़ और एसीपी बल्लभगढ़ की कमेटी द्वारा की जाएगी।

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि जो भी दोषी अधिकारी या कर्मचारी होगा उसके खिलाफ सुनिश्चित तौर पर कार्रवाई की जाएगी।

कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने ऑनलाइन किए जा रहे विभिन्न प्रमाण पत्रों और लाईसेंस, आधारकार्ड बनाए जा रहे सीएससी सेंटर का भी निरीक्षण किया। वहां पर उपस्थित अधिकारियों और कर्मचारियों को भी सख्त हिदायतें दी और कहा कि आम जनता को यहां किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो। कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हितायतों के अनुसार आम जनता को अधिक से अधिक ऑनलाइन सुविधाएं प्रदान हो। सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार सभी सुविधाएं ऑनलाइन करना सुनिश्चित करें। इन कार्यों में जो भी अधिकारी या कर्मचारी कोताही बरतेगा उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। दोषियों किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।

आपको बता दें कि हरियाणा के परिवहन एवं खनन मंत्री मूलचन्द शर्मा ने आज सोमवार को अचानक बल्लबगढ तहसील का औचक निरक्षण किया। निरक्षण के लिए आए मंत्री को देख कर अधिकारियों और कर्मचारियों में हड़कंप मच गया था। इस मोके पर एसडीएम त्रिलोक चंद भी मौजूद रहे। कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कर्मचारियों को लताड़ भी लगाई। बल्लभगढ़ तहसील में पिछले एक महीने में हुई रजिस्ट्रियों और इंतकालों की भी जांच की।

निरीक्षण के दौरान एसडीएम त्रिलोक चंद, एसीपी मुनीश सहगल और नायब तहसीलदार कन्हैयालाल भी मौजूद रहे।

तत्पश्चात कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने सेक्टर-2 में सुषमा स्वराज महिला कालेज का भी निरीक्षण किया। वहां प्रिंसीपल श्रीमती कृष्णा श्योरान सहित पूरा स्टाफ मौके पर मौजूद मिला। प्रिंसिपल श्रीमती श्योरान ने महिला कालेज की सारी जानकारी मंत्री जी की विस्तार पूर्वक दी।

किसान व खेतीहर मजदूरों के लिए आर्थिक सहायता योजना लागू : डीसी जितेंद्र यादव

फरीदाबाद, 27 सिंतबर। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि किसान एवं खेतीहर मजदूरों को दिन-रात खेत-खलिहानों में काम करना पड़ता है और उन्हें 24 घंटे कई तरह की दुर्घटनाओं का अंदेशा बना रहता है। ऐसे में अगर परिवार के कमाऊ सदस्य की अकाल मौत हो जाए तो पूरे परिवार के सामने आजीविका का संकट खड़ा हो जाता है।

उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा ऐसे परिवारों को आर्थिक सहायता मुहैया करवाने के लिए मुख्यमंत्री किसान एवं खेतीहर जीवन सुरक्षा योजना चलाई जा रही है। उपायुक्त ने कहा कि किसानों और खेतिहर मजदूरों के लिए लागू कल्याणकारी योजनाओं को प्रभावी ढंग से लागू करने के निर्देश दिए गए है ताकि योजना का लाभ हर पात्र व्यक्ति को मिले और कोई भी इससे वंचित ना रहे।

इस योजना की विस्तृत जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि अगर कृषि कार्यों के दौरान खेतों, गांवों, मार्किट यार्ड तथा ऐसे स्थानों से आते-जाते समय कोई व्यक्ति दुर्घटना का शिकार हो जाता है तो इस योजना के तहत मार्किट कमेटी द्वारा पीड़ितों को वित्तीय सहायता दी जाती है। योजना के तहत दुर्घटना के दौरान मृत्यु होने पर 5 लाख रुपये, रीढ़ की हड्डी टूटने या स्थायी अशक्तता होने पर ढाई लाख रुपये, दो अंग भंग होने पर या स्थायी गंभीर चोट होने पर 1,87,500 रुपये की सहायता दी जाती है। इसी प्रकार, एक अंग भंग होने या स्थायी चोट लगने पर सवा लाख रुपये, पूरी उंगली कटने पर 75 हजार रुपये, आंशिक उंगली भंग होने पर 37 हजार रुपये की राशि मार्किट कमेटी के माध्यम से दी जाती है।

उन्होंने बताया कि मृत्यु के मामले में आर्थिक सहायता हेतु दावा करने के लिए पुलिस रिपोर्ट व पोस्टमार्टम का होना जरूरी है। अशक्तता की स्थिति में प्रमाण पत्र व अंग हानि होने की स्थिति में शेष बचे हुए अंग की फोटो दावे के साथ प्रस्तुत की जानी चाहिए। इसके अलावा, आवेदक को दुर्घटना के दो महीने के अन्दर संबंधित मार्किट कमेटी के सचिव के पास आवेदन करना होगा।

RCF Tulips ने पंचलाइट नामक नाटक का सुंदर मंचन किया

फरीदाबाद, 26 सितम्बर : रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद ट्यूलिप द्वारा पंचलाइट नामक नाटक का मंचन किया गया। इस नाटक का आयोजन छांयास के ग्रामीण बच्चों के प्रशिक्षण के लिए भवन निर्माण को लेकर फंड रेज करने के लिए किया गया। यह जानकारी देते हुए रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद ट्यूलिप्स की प्रधान निधि अग्रवाल ने बताया कि उनका क्लब एक मात्र महिला रोटरी क्लब है जिसने बहुत कम समय में एक अलग पहचान बनायी है जो समय समय पर समाज में सेवा करने के लिए तत्पर रहता है। इसी श्रंृखला में रोटरी ट्यूलिप द्वारा विद्या मंदिर पब्लिक स्कूल सेक्टर 15 में पंचलाइट नामक नाटक का मंचन किया गया। नाटक का निर्देशन राधा भाटी ने किया।

नाटक में गांव के विकास को दिखाया गया जिसमें किस तरह से अंधेरे से जूझ रहे गांव को रोशनी मिलती है, उसका नाट्य रूपांतरण किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में रोटरी 3011 डिप्टी गवर्नर अनूप मित्तल, वरिष्ठ रोटेरियन व उद्योगपति विजय जिंदल मौजूद रहे।

जबकि विद्या मंदिर स्कूल के प्रधानाचार्य आनंद गुप्ता सम्मानीय अतिथि के रूप में मौजूद रहे जबकि विशिष्ट रूप से सचिन जैन, अंजलि जैन, दीपक तलवार, धीरज भूटानी, महेश त्रिखा, समीर गुप्ता, आशीष अग्रवाल, सोनिया लूथरा, ज्योति भल्ला, मीनू गुप्ता, बबीता, सोनिया राय, मधु ने शिरकत की जबकि अनेक रोटेरियन्स व गणमान्य जन बतौर अतिथि उपस्थित रहे और इस नेक कार्य की सराहना की।

इस मौके पर डीजी अनूप मित्तल ने रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद ट्यूलिप के इस प्रयास की सराहना करते हुए कहा कि उन्हें खुशी है कि अब रोटरी क्लब में महिलाएं भी सक्रियता से समाज सेवा के लिए बढ़चढ़ कर काम कर रही हैं और रोटरी ट्यूलिप ने इस मामले में मिसाल कायम की है।

वहीं आनंद गुप्ता ने भी महिला रोटेरियन्स के इस प्रयास की सराहना की। निधि अग्रवाल ने बताया कि इस नाटक में निधि गुुप्ता, पूजा गुप्ता, सुनीता सिंह, हेमा, पूनम मित्तल, गीता बहल, पल्लवी अग्रवाल, राधा भाटी, मुकेश भाटी ने बतौर कलाकार प्रस्तुति दी। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में माधवी येडला, राजेश गुप्ता, अनुज सिंघल, रीटा भाटिया, प्रीति, मनीषा गिल, नीरू बंसल, श्वेता लूथरा आदि का सराहनीय योगदान रहा। बता दें कि राधा भाटी जो छायसा गाँव मेें बच्चों को नाटक ,योगा ,डान्स सब नि शुल्क सिखाती हैं तो उनके लिए एक कार्यशाला भवन इस फंड से बनाया जाएगा ताकि ग्रामीण बच्चों की कला निखरे वे उनका भविष्य उज्जवल हो सके।

आंध्रप्रदेश सरकार ने दिया किसानो को पूर्ण समर्थन।

कृषि कानूनों के खिलाफ भारत बंद को बड़ा समर्थन मिलता जा रहा है। आंध्र प्रदेश सरकार संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में 27 सितंबर को बुलाए गए ‘भारत बंद’ को पूर्ण समर्थन देगी। यह घोषणा राज्य के सूचना एवं परिवहन मंत्री पर्नी वेंकटरमैया (नानी) ने शनिवार को की। इसके अलावा आंध्र सरकार ने विशाखापत्तनम इस्पात संयंत्र के कर्मचारियों का भी समर्थन करने की बात कही है।सूचना एवं परिवहन मंत्री पर्नी वेंकटरमैया ने कहा कि वाईएसआर कांग्रेस सहित आंध्र प्रदेश सरकार किसानों और इस्पात संयंत्र के कर्मचारियों की चिंताओं का समर्थन करेगी। वेंकटरमैया ने संवाददाताओं को बताया कि राज्य सरकार ने 26 सितंबर की मध्यरात्रि से 27 सितंबर की दोपहर तक राज्य भर में आंध्र प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बसों को रोकने का फैसला किया है।उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने स्पष्ट कर दिया है कि वह विशाखापत्तनम इस्पात संयंत्र के निजीकरण के पूरी तरह खिलाफ हैं। मंत्री ने बंद के दौरान लोगों से शांतिपूर्ण तरीक से प्रदर्शन करने की अपील की। गौरतलब है कि वाम दलों, कांग्रेस और तेलुगू देशम पार्टी ने पहले ही भारत बंद को अपना समर्थन देने की घोषणा की है। बता दें कि किसानों की मांग है कि किसी तरह तीनों कृषि कानून वापस हो जाएं।

राज कुंद्रा की जमानत के बाद शर्लिन चोपड़ा ने कसा शिल्पा शेट्टी पर तंज

25 सितंबर-फरीदाबाद | बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा को करीब दो महीने बाद जेल से बाहर निकले हैं। राज कुंद्रा के जेल से छूटने पर जहां उनका समर्थन कर रहे लोग खुश हैं। तो वहीं उनके खिलाफ रहे लोग अब भी उन पर और उनके परिवार पर निशाना साध रहे हैं। ऐसा ही कुछ हाल ही में किया है एक्ट्रेस शर्लिन चोपड़ा ने। शर्लिन चोपड़ा इस मामले में शुरुआत से ही राज कुंद्रा के ऊपर निशाना साध रही हैं। वहीं अब राज के जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद शर्लिन ने एक बार फिर से राज कुंद्रा की पत्नी शिल्पा शेट्टी पर निशाना साधा है।

दरअसल शर्लिन चोपड़ा सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं। अभिनेत्री अक्सर अपनी बात बेबाकी से सोशल मीडिया पर रखती हैं। राज कुंद्रा केस के बाद शर्लिन सोशल मीडिया के जरिए ही अपनी बात को रख रही हैं। हाल ही में शर्लिन चोपड़ा ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के जरिए खुद के इंटरव्यू का एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो को शेयर करते हुए उन्होंने कैप्शन में लिखा, ‘आप टीवी पर साष्टांग दंडवत प्रणाम करती हैं उन कलाकारों को जिनकी कला से आप प्रभावित होती हैं। कृपया, रील लाइफ से बाहर निकलकर, रियल दुनिया में जाकर, पीड़ित महिलाओं को थोड़ी बहुत सहानुभूति दिखाएं यकीन मानिए, सारी दुनिया आप को साष्टांग दंडवत प्रणाम करेगी!’

मुख्यमंत्री मनोहरलाल के मीडिया कोआर्डिनेटर मुकेश वशिष्ठ ने रेस्ट हाऊस पलवल में युवाओं के साथ मीटिंग की

25 सितंबर-फरीदाबाद | यूथ फॉर न्यू हरियाणा की जिला कार्यकारिणी की बैठक पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस पलवल में संपन्न हुई l बैठक में मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री हरियाणा के मीडिया कोऑर्डिनेटर मुकेश वशिष्ठ रहे एवं बैठक की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष दामोदर भारद्वाज ने की l बैठक का संचालन जिला संयोजक योगेश कौशिक ने किया । प्रदेश अध्यक्ष दामोदर भारद्वाज ने यूथ फॉर न्यू हरियाणा के कार्यों के बारे में विस्तार से चर्चा की और आगामी गतिविधियों के बारे में कार्यकर्ताओं को बताया । मुख्यमंत्री के मीडिया कोऑर्डिनेटर मुकेश वशिष्ट ने बताया की यूथ फॉर न्यू हरियाणा एक ऐसे युवाओं का प्लेटफार्म है जो हरियाणा में एक अलग बदलाव की मुहिम को आगे ले जाना चाहता है l सरकार द्वारा युवाओं के लिए कई प्रकार के अच्छे एवं सराहनीय प्रयास किए गए हैं उनमें से विशेष रुप से पारदर्शिता के आधार पर युवाओं को नौकरी देने का स्वागत योग्य फैसला है। पहले पढ़ने वाले युवा रह जाते थे और थर्ड डिवीजन वालों को नेता लिस्ट में शामिल करवा कर नौकरी लगवा देते थे । अब हरियाणा में पर्ची खर्ची का सिस्टम खत्म हो चुका है। युवा अब पढ़ना चाहता है और पढ़कर स्वयं अपने दम पर नौकरी लगना चाहता है यह सकारात्मक माहौल मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा में बनाया है। हरियाणा में बड़े स्तर पर लाइब्रेरी और कोचिंग सेंटर खुले हैं। एचएसएससी में हरियाणा के युवाओं को केवल एक बार ही फीस जमा करने का और फार्म भरने का ऑप्शन उपलब्ध करवाया है। इस तरह के अनेक काम इस बदलते हरियाणा में हुए हैं।

यह परंपरा आगे भी कायम रहे इसके लिए युवाओं को जागरूक होने की आवश्यकता है ताकि आगे आने वाली सरकारें भी कभी बिना मेरिट के नौकरी देने की हिम्मत न जुटा पाए। यूथ फॉर न्यू हरियाणा ऐसे ही जागरूक युवाओं का संगठन है जो इस प्रकार के कार्यों को अंजाम तक पहुंचाने में अपनी सकारात्मक भूमिका निभाता है l इस अवसर पर यूथ फॉर न्यू हरियाणा के जिला संयोजक योगेश कौशिक ने सभी कार्यकर्ताओं का मीटिंग में पहुंचने पर धन्यवाद किया।

इस अवसर पर केशव देव, रोहित शर्मा पटवारी, नीतू सौरोत, दानवीर राणा, लक्ष्य कौशिक, दुर्गेश वशिष्ठ, दिवाकर रावत, सुखदेव भारद्वाज, हेमंत वाधवा, प्रीति सौरोत, कृष्ण भारद्वाज, मोहित गोस्वामी, भारती रावत, नितिन कौशिक, योगेंद्र शर्मा, अमन धनकड़, सुनील, भारत सौरोत आदि उपस्थित रहे ।

तिगांव महाविद्यालय में राष्ट्रीय स्तरीय ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

24 सितंबर-फरीदाबाद | शहीद स्मारक राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय तिगांव में आज राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस के उपलक्ष में राष्ट्रीय स्तरीय ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें हरियाणा के साथ-साथ दिल्ली, तमिलनाडु एवं हिमाचल प्रदेश के भी विभिन्न महाविद्यालयों के विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया।

इस प्रतियोगिता में 30 प्रश्नों के उत्तर 30 मिनट के अंदर देने थे। सबसे अधिक सही उत्तर देने वाले प्रतिभागियों में क्रमशः राजकीय महिला महाविद्यालय सोनीपत की छात्रा साक्षी ने प्रथम पुरस्कार पंडित जवाहरलाल नेहरू राजकीय महाविद्यालय फरीदाबाद के छात्र सूरज शर्मा ने द्वितीय एवं राजकीय महाविद्यालय भट्टू कलां फतेहाबाद के छात्र शिव कुमार ने तृतीय पुरस्कार प्राप्त किया। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ एमके गुप्ता एवं प्रशासनिक प्रभारी डॉक्टर संध्या सूद के कुशल नेतृत्व एवं राष्ट्रीय सेवा योजना की दोनों इकाइयों के प्रोग्राम ऑफिसर डॉ निधि गर्ग एवं डॉ बलराम यादव की देखरेख में विधिवत ढंग से संपन्न हुआ। आयोजन समिति में दो स्वयं सेवक अनुराग दर्पण एवं प्रकाश ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए कार्यक्रम को सफल बनाने में अपना योगदान दिया।

“बनेगा स्वच्छ फरीदाबाद” के तहत आमजन को जागरुक करने के लिए 10 मास्टर ट्रेनर पूरी तरह से तैयार

22 सितंबर -फरीदाबाद | “बनेगा स्वच्छ फरीदाबाद” की कड़ी में आज मास्टर ट्रेनर की विशेष बैठक हुई। जैसा की आप सभी को विदित है, कि म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन फरीदाबाद ने शहर को स्वच्छ बनाने का बीड़ा उठाया है। यह आभियान म्युनिसिपल कमिश्नर यशपाल यादव के दिशा निर्देश पर चल रहा है।

आज की बैठक की अध्यक्षता एडिशनल म्युनिसिपल कमिश्नर इंद्रजीत कुलडिया ने की। बैठक का उद्देश्य फरीदाबाद को स्वच्छ और प्लास्टिक मुक्त बनाना है। आज की बैठक में सरकारी स्कूल को किस तरह से अभियान से जोड़ना है उस पर चर्चा हुई। बैठक में तय किया गया कि सभी 10 मास्टर ट्रेनर स्कूलों में जाकर स्वच्छता से संबंधित लोगों जागरूक करेंगे, और इन सभी ट्रेनर्स को एमसीएफ के द्वारा आइडेंटिटी कार्ड देकर अधिकृत किया जाएगा। आपको बता दें कि इस मुहिम से लोगों को जोड़ने में महावीर इंटरनेशनल के इंटरनेशनल डायरेक्टर ब्लड और थेलीसेमिया उमेश अरोरा का विशेष योगदान है।

वहीं इस बैठक में यह भी चर्चा हुई कि टॉप 10 अधिकृत ट्रेनर्स स्कूलों में अध्यापकों व विद्यार्थियों को ट्रेनिंग देंगे ताकि वो सभी अपने – अपने क्षेत्रों में आमजन को स्वच्छता के प्रति जागरूक कर सकें।

इस बैठक में प्रियंका गर्ग, पूजा बहल, पूजा गुप्ता, मोनिका शर्मा, मीना खन्ना, तुलिका सुनेजा, पिंकी बरार, प्रमोद मिनोचा और एकता रमन ने भाग लिया साथ ही CMGGA अतुल सहगल भी उपस्थित रहे।

महा रोजगार मेला 26 सितंबर को एचएसवीपी कन्वेंशन सेंटर में

फरीदाबाद, 22 सितंबर। हरियाणा कौशल विकास मिशन की परियोजना प्रबंधक अधिकारी नेहा छाबड़ा ने बताया कि हरियाणा कौशल विकास मिशन द्वारा 26 सितंबर 2021 को फरीदाबाद जिले में एक महा रोजगार मेला आयोजित किया जा रह है ! इस अवसर पर जिले की नामी-गिरामी 25 अलग-अलग कंपनियां अपनी जैसे कि हिताची, पुखराज, ऐमेज़ॉन, पेटीएम, रूप ऑटो मोबाइल, जेबीएम आदि अपनी उपस्थित रहेंगी। इस अवसर पर कोई भी विद्यार्थी जिसने दसवीं, 12वीं या ग्रेजुएशन की हो, वह आकर इस अवसर का फायदा उठा सकता है। उन्होंने बताया कि हरियाणा कौशल विकास मिशन का मकसद लोगों को प्रशिक्षित करके बेरोजगारी को दूर भगाना है। जिसके तहत 26 सितंबर 2021 को कन्वेंशन सेंटर, सेक्टर-12, फरीदाबाद मे यह महा रोजगार मेला आयोजित किया जा रहा है।

अक्टूबर माह से सप्ताह के हर बुधवार को प्रशासन द्वारा मनाया जाएगा कार फ्री डे: उपायुक्त जितेंद्र यादव

फरीदाबाद, 22 सितंबर। उपायुक्त जितेंद्र यादव, अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान सहित तमाम अधिकारी आज बुधवार को विश्व कार फ्री डे पर साइकिलों से और पैदल कार्यालय में पहुंचे।

  उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि आज विश्व कार फ्री डे वे स्वयंऔर उनके साथ अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर  भी अपने घर से कार्यालय तक साईकिल पर आए हैं। आज विश्व कार फ्री डे पर हमने इस मुहिम को फरीदाबाद में शुरू किया है। सप्ताह प्रत्येक बुधवार के दिन की यह मुहिम फरीदाबाद को ग्रीन फरीदाबाद, क्लीन फरीदाबाद बनाने में कारगर सिद्ध होगी। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि हमारे बुजर्ग भी इस प्रेरणा के स्रोत है। वे कहते थे कि सप्ताह में एक दिन आदमी को पैदल जरूर चलना चाहिए। हमारे बुजुर्ग पैदल या साइकिल के माध्यम से ही एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाते थे। इससे पर्यावरण को भी शुद्धता मिलती है। कार फ्री डे पर प्रदूषण कम होगा जिसे पर्यावरण में बहुत शुद्धता आएगी। डीसी जितेंद्र यादव ने कहा कि यह कार फ्री डे फरीदाबाद में एक जन आंदोलन बनाया जाएगा। इसके लिए फरीदाबाद के हर नागरिक की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए एक मुहिम की शुरुआत की है। अब इसे जन आंदोलन बनाने  के लिए हर फरीदाबाद के नागरिक को प्रेरित किया जाएगा। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार आज प्रदेश के मुख्यमंत्री तथा अन्य मंत्री भी साइकिल से ही अपने कार्यालयों में आए हैं।

 इसलिए मैं फरीदाबाद की आम जनता से भी अपील करता हूं कि वे भी कार फ्री डे में अपना सहयोग दें और सप्ताह में प्रत्येक बुधवार एक दिन कार फ्री डे जरूर मनाएं ताकि क्लीन फरीदाबाद, ग्रीन फरीदाबाद बनाने के सभी भागीदार है।

 उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि आज कार्यालयों में केवल दिव्यांगजन तथा अन्य ऐसे लोग जो जोकि साइकिल से या पैदल किसी कारण वंश नहीं आ पाए वे लोग जरूर गेट तक अपने वाहनों से आए हैं। बाकी के सभी अधिकारी कर्मचारी साइकिल या पैदल ही अपने कार्यालय में पहुंचे हैं।

 उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि आपात स्थिति के लिए छूट रहेगी। आगामी अक्टूबर से हर बुधवार को कार फ्री डे मनाया जाएगा। जिला के लोगों से पर्यावरण संरक्षण के लिए कार का प्रयोग न करने की अपील की गई है। यह अपील वर्ल्ड कार फ्री डे मना कर की जा रही है।

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि हर वर्ष पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से पूरे विश्व में यह दिवस मनाया जाता है। उन्होंने कार फ्री डे को लेकर लोगों से अपील करते हुए कहा कि वर्ल्ड कार फ्री डे के दिन कम दूरी पर जाने के लिए पैदल जा सकते हैं। इसके साथ ही साईकिल का प्रयोग भी कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि यह शुरूआत जिला प्रशासन द्वारा सबसे पहले की जा रही है। उन्होंने सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश जारी करते हुए कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए वर्ल्ड कार फ्री डे को बेहतरीन ढंग से मनाएं। उन्होंने कहा कि यह पर्यावरण संरक्षण में अहम कदम होगा।

विश्व हिंदू परिषद द्वारा “आत्मनिर्भर भारत ” के अंतर्गत निःशुल्क मेहंदी प्रशिक्षण केंद्र का शुभारंभ

फरीदाबाद – 22 सितंबर। विश्व हिंदू परिषद फरीदाबाद पूर्व महानगर द्वारा “आत्मनिर्भर भारत “के अंतर्गत निःशुल्क मेहंदी प्रशिक्षण केंद्र का शुभारंभ गीता मंदिर सेक्टर 15 में किया गया। आयोजित कार्यक्रम में विहिप  पदाधिकारियों ने प्रभु श्री राम जी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित एवं नारियल फोड़ कर सेवा केंद्र का शुभारंभ किया। इस केंद्र में महिलाओं एवं बालिकाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सिलाई- कढ़ाई और मेहंदी हाथ रचाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

विश्व हिंदू परिषद फरीदाबाद विभाग के सेवा विभाग के अधिकारी आशा गुप्ता ने कहा कि आज के समय में बालिकाओं को अपने हुनर से अपने पाँवों पर खड़ा रहना चाहिए। सेवा केंद्रों से महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा फायदा उठाकर आत्मनिर्भर बनना चाहिए। जिसका लाभ वंचित महिलाएं एवं युवतियां उठा सकती है। उन्होंने कहा की विश्व हिंदू परिषद अपने सेवा कार्य के माध्यम से अपने सामाजिक उत्तरदायित्वों को पूरा करने हेतु पूरी निष्ठा के साथ संलग्न है उन्होंने कहा कि मेहंदी प्रशिक्षण के साथ-साथ यहां मेहंदी प्रशिक्षण ले रही युवतियों में सेवा, संस्कार, समरसता का भाव भी निर्माण किया जाएगा।  

सेक्टर-15 स्थित गीता मंदिर में संचालित निशुल्क मेहंदी प्रशिक्षण शिविर में 13 युवतियां मेहंदी प्रशिक्षण ले रही हैं। आगामी दिनों में विश्व हिंदू परिषद फरीदाबाद पूर्व महानगर सिलाई केंद्र, मेहंदी प्रशिक्षण केंद्र, बस्तियों में स्वास्थ्य जांच शिविर आदि सेवा कार्य करेंगा। इस दौरान विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष एवं हरियाणा प्रांत अध्यक्ष रमेश गुप्ता की गौरवमयी उपस्थिति रही। श्री गीता मंदिर संरक्षक पीएम गर्ग कार्यक्रम में अध्यक्ष के नाते उपस्थित रहे।

इस अवसर पर गीता मंदिर प्रधान आरके बिग, विहिप विभाग संगठन मंत्री साहिल वालिया, विहिप जिला सहमंत्री रितु राज भारद्वाज, जिला कोषाध्यक्ष अनिल गोयल, अरुण वालिया सामाजिक सद्भाव संयोजक, फरीदाबाद पूर्व महानगर, हरि ओम, पंकज आर्य, धर्मपाल सेवा भारती, किरण वर्मा, राधा और जयरथ का सराहनीय योगदान रहा।

World Peace Day celebrated on 21st September across the world, the United Nations gave permission.

Arti bansal : World Peace Day is also known as International Day of Peace and it is observed every year on 21 September. This day signifies promoting global solidarity among people to maintain peace. It also emphasises strengthening peace and intergrity
Recovering better for an Equitable and Sustainable World’ – the theme of this year 2021. This means how we can help everyone to recover fast and better from the various damages faced globally since last year. Damages to lifestyle, work culture, economic development and mental & physical health. It will help us focus on how to transform with equal opportunities to every human being and to make it inclusive, so everyone can participate in building a sustainable and healthier World. So come and let’s take an oath that we all will maintain peace around the world.

दुनियाभर में मनाया गया 21 सितंबर को विश्व शांति दिवस, संयुक्त राष्ट्र ने दी अनुमति। 

कल्पना : हर साल पूरी दुनिया में 21 सितम्बर को विश्व शांति दिवस मनाया जाता है। देशों और लोगों के बीच शांति स्थापित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र ने अंतराष्ट्रीय शांति दिवस को 21 सितंबर को मनाने की अनुमति दी। इस वर्ष विश्व शान्ति दिवस की थीम “एक न्यायासंगत और सतत दुनिया के लिए बेहतर पुनरप्राप्ति हैं।

विश्व शांति दिवस के दिन शांति से ज्यादा अशांति की चर्चा करना इस समय की मजबूरी है। आज दुनिया कितनी शांत है ,इसे यू बयाँ किया जा सकता है की बस कही बड़ी तोपें नही गरज़ रही,क्योंकि जंग ने रूप बदल दिया हैं। भारत एक साथ दो मोर्चों पर खतरा महसुस करता है। पाकिस्तान को चीन अपना सदाबहार दोस्त बताता है,इसलिए भारत को दोनो तरफ से एक साथ संयुक्त होकर हमला होने का खतरा है। पुलवामा हमले के बाद से भारत- पाक संबंध न्यूनतम स्तर पर हैं। 15 जून 2020 को गलवान घाटी में भारत और चीन के रिश्ते भी बेपटरी हो गए अथार्त आज के समय में विश्व शांति सिर्फ एक कहवी मात्र रह गयी है।

सीएलयू सहित अन्य सेवाओं के लिए ऑनलाइन आवेदन लेगा एफएमडीए : डॉ. गरिमा मित्तल

फरीदाबाद, 20 सितम्बर। फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए) की डिप्टी सीईओ डा गारिमा मित्तल ने बताया कि एफएमडीए में सीएलयू के अनुदान के लिए ऑनलाइन सेवा (भूमि उपयोग में परिवर्तन) के लिए आवेदन लिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि फरीदाबाद मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी/ एफएमडीए के तहत वैधानिक प्राधिकरण है। सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार अधिनियम, 2018 के अधिनियम की धारा 32 के अनुसार, एफएमडीए पारदर्शिता सुनिश्चित करेगा और सूचना को अपनाएगा।

 अपनी शक्तियों का प्रयोग करते हुए और अपने कार्यों का निर्वहन करते हुए प्रौद्योगिकी के तहत कार्यो को क्रियान्वित करेगा। उन्होंने बताया कि कार्यो में पारदर्शिता, निगरानी और सुनिश्चित करने के विजन के अनुरूप आगे बढ़ना कैशलेस लेनदेन, एफएमडीए ने परिवर्तन की अनुमति देने के लिए एक ऑनलाइन सेवा शुरू की है। उन्होंने बताया कि यह सेवा भूमि उपयोग और अन्य संबंधित अनुमति आदि के लिए तैयार की गई है। यह सेवा केवल अधिसूचित क्षेत्र के लिए खुली है।

 फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण क्षेत्र सरकार के माध्यम से राजपत्र अधिसूचना गत 03 सितंबर के तहत उपयोगकर्ता को अपनी साख देकर लॉगिन और स्वयं को पंजीकृत करना होगा। इसके माध्यम से आवेदन और ऑनलाइन भुगतान किया जा सकता है।  यह सुविधा कागज रहित, मानव प्रत्यक्ष के बिना एंड टू एंड होगी।

 उन्होंने आगे बताया कि आवेदक दैनिक आधार पर अपनी फाइल की आवाजाही की निगरानी कर सकेंगे और विभाग हर दिन डैशबोर्ड पर पेंडेंसी की जांच भी कर सकता है और जाचं  करने का भी प्रावधान भी है। किसी भी पेंडेंसी के मामले में इलेक्ट्रॉनिक एसएमएस के माध्यम से उपभोक्ता अधिकारी से संपर्क कर सकते हैं। इसके लिए आवेदकों की सहायता, वेबसाइट भरने और जमा करने के लिए निर्देश और मार्गदर्शन प्रदान करती है।

 आवेदन फ़ाइल। मामले की जांच की प्रक्रिया, आवश्यक दस्तावेजों की जांच सूची, सीएलयू उपयोगकर्ता भरे हुए सीएलयू फॉर्म का मैनुअल और नमूना भी इसमें शामिल होगा। इसी तरह एफएमडीए/FMDA ऑनलाइन उपलब्ध कराएगा। ऑनलाइन आवेदन में भवन योजना और व्यवसाय प्रमाण पत्र आदि के अनुमोदन के लिए सेवाएं शामिल होगी।

22 सितंबर को मनाया जाएगा “कार फ्री डे” : डीसी जितेंद्र यादव

फरीदाबाद, 20 सितंबर। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि बुधवार 22 सितंबर को वर्ल्ड कार फ्री डे मनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि हर वर्ष पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से पूरे विश्व में यह दिवस मनाया जाता है। उन्होंने कार फ्री डे को लेकर लोगों से अपील करते हुए कहा कि वर्ल्ड कार फ्री डे के दिन कम दूरी पर जाने के लिए पैदल जा सकते हैं। इसके साथ ही साईकिल का प्रयोग भी कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि कार की बजाए अधिक से अधिक पब्लिक ट्रांसपोर्ट का प्रयोग करें अथवा कार पुलिंग का प्रयोग करें।

राष्ट्रीय कवि संगम फरीदाबाद की राम काव्य पाठ प्रतियोगिता संपन्न

राष्ट्रीय कवि संगम जिला फरीदाबाद के तत्वधान में श्री राम काव्य पाठ प्रतियोगिता 3 भागो में की गई प्रथम भाग में मॉडर्न पब्लिक स्कूल सेक्टर 17 , द्वितीय भाग में रावल पब्लिक स्कूल बल्लभगढ़ और तृतीय भाग में प्रतियोगिता टैगोर एकेडमी सैक्टर ३ में आयोजित की गई ।तदुपरांत सभी भागों के प्रथम ,द्वितीय व तृतीय विजेताओं की सामूहिक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमे फरीदाबाद जिले से कुल चार प्रतिभागियो का चयन किया गया ।

जिला स्तर पर तीन भागों में हुई इस प्रतियोगिता में कार्यक्रम का प्रारंभ हरियाणा प्रांत अध्यक्ष श्री अरुण गोयल जी की शुभकामनाओं के पश्चात सरस्वती वंदना से हुआ।उसके बाद नन्हे कवियों ने कविताओं के माध्यम से श्री राम जी की महिमा का गुणगान कर सबको अभिभूत कर दिया ।। मॉडर्न स्कूल ,रावल पब्लिक स्कूल, टैगोर स्कूल में हुई प्रतियोगिता में अध्यक्षता हरियाणा एवं दिल्ली प्रभारी मनमोहन गुप्ता जी ने की।। हरियाणा प्रांत संयोजक श्रीमती बलजीत कौर तथा एवं फरीदाबाद जिला संयोजक श्री परम सचिन शालीन , एवं संगठन के कार्यकर्ता दीपक अग्रवाल ,अजय अज्ञात ,नसीर अहमद सिद्दीकी ,नीलम गोस्वामी की उपस्थिति में कार्यक्रम सम्पन्न हुआ |

श्री राम, हनुमान व अन्य हस्त निर्मित चित्रों के बीच वंदना के पश्चात प्रतियोगिता सम्पन्न हुई व 4 प्रतिभागियों के चयन कर उन्हें प्रान्त की प्रतियोगिता के लिए चयनित किया गया है विद्यालयों के प्रधानाचार्य व समस्त स्टाफ के सहयोग से बच्चों द्वारा प्रस्तुत कविताएं अत्यंत सुंदर व प्रभावशाली थी जिनसे सारा वातावरण राम मय हो गया
फरीदाबाद से प्रथम द्वितीय एवं तृतीय विजेता प्रांत स्तर पर सोनीपत में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेंगे ।
फरीदाबाद जिले के चार विजेताओ के नाम इस प्रकार हैं – प्रथम- गौरी, द्वितीय – नुपूर एवं टिया, तृतीय- सौम्या

परम सचिन शालीन
अध्यक्ष, फरीदाबाद
राष्ट्रीय कवि संगम

Inner wheel club takes a big leap by completing 3 big projects

Arti bansal : Our father of the nation gave the mantra “Cleanliness is Godliness”.
Cleanliness is very important whether it’s our home, workplace ,temple or public places and keeping all these things in mind women of The Inner Wheel Club Faridabad Industrial Town has taken initiative towards the same .

This is a big step towards making our city clean.That Inner wheel club has built 2 toilets in Kheri Kalan and 1 in Bhopani village.
Not only this,they are still working on 2 more public toilets at Prabhat NGO.

These ladies want to do much more and hence they took the initiative to beautify the temple walls by putting    “Navgraha” pictures. They believe that passers by will attain peace from Navgraha darshan and the youth will get to learn about the rich Indain culture .

Finally in the 3rd project Club distributed 50 large umbrellas to shop walas and vendors who work day and night under open sky.


These umbrella will be useful to them like a medicine to patients.
The motive behind these projects is to make our city look smart and also promote the branding of Inner Wheel Club as well.
These projects were attended by Club President Manju Bansal, Club Secretary Manita Singla, Treasurer Nisha Jain, Editor Ankita Gupta, ISO Ajju Mahana and other club members too.

‘स्वच्छ बनेगा फरीदाबाद’ के तहत सभी स्कूलों में चलेगा प्लास्टिक मुक्त फरीदाबाद अभियान : इंद्रजीत कुलडिया

फरीदाबाद, 19 सितम्बर। स्वच्छ फरीदाबाद अभियान की शुरुआत निगमायुक्त  यशपाल आईएएस के द्वारा की गई जिसके लिए एक पोस्टर भी रिलीज़ किया गया। नगर निगम अतिरिक्त निगम आयुक्त इंद्रजीत कुलडिया ने बताया कि इस अभियान का मकसद बच्चों में रिसाईकिल किये जाने वाले प्लास्टिक को कूड़े में न पहुंचने देने की आदत डालना है और स्कूलो को इसमें सहयोग ले कर जागरूकता किया जाना है।

अतिरिक्त निगमायुक्त ने बताया कि जब हम सड़कों पर चलते हैं तो यहां-वहां, जगह-जगह कूड़ा दिखाई देता है। ये सब ऐसा कूड़ा होता है जिसकी बहुत ही कम या कोई भी कीमत नहीं मिलती जैसे कि दूध की खाली थैली, पूरे फरीदाबाद में लाखों दूध की थैली प्रतिदिन कूड़े में या सड़कों पर फैंक दी जाती है ऐसे ही चिप्स के पैकेट, चॉकलेट के पैकेट पाउच, पानी की बोत्तल इत्यादि ये जब फैंकी जाती है तो इसकी कोई कीमत नही होती और ये कचरे को बढ़ाने का काम करती है,।

सीवर लाइन को जाम करती है और साथ ही मिट्टी में दबने से बारिश के पानी को भी ज़मीन में  जाने से रोकती है। अगर इन सब को अलग से रखा जाए तो सब मिल कर रिसाईकिल किया जा सकता है, यही नगर निगम की पहल है। अतिरिक्त निगमायुक्त इन्द्रजीत कुलड़िया ने इस अभियान के अंतर्गत बच्चों को मास्टर ट्रेनर्स के द्वारा स्कूलो के सहयोग से समझाया जाएगा कि आप सबके परिवारों से ये कूड़ा आगे सड़को पर न जाये। अगले दस दिनों तक ये बच्चे सभी तरह का प्लास्टिक वेस्ट घर से बाहर न फैक कर अपने अपने स्कूलो में ले कर आएंगे।

जो भी बच्चा इसमे सबसे ज़्यादा प्लास्टिक ले कर आएगा और निरंतर लाएगा उसे 21000, दूसरे बच्चे को 11000 और तीसरे बच्चो को 5100  पुरस्कार और सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा। इसी के साथ इस अभियान में जो टीचर भी सहयोग करेंगी उन्हें भी पुरस्कृत किया जाएगा और कैश इनाम के साथ सर्टिफिकेट दिया जाएगा। साथ ही साथ जिस स्कूल के द्वारा सबसे ज्यादा प्लास्टिक एकत्रित होगा उस स्कूल को भी 21000/-,11000/- और 5100/- का इनाम और सर्टिफिकेट दिया जाएगा। ये सभी कैश इनाम स्किलबोल संस्था के द्वारा प्रायोजित किया जाएगा इस अभियान में सहयोग के लिए महावीर इंटरनॅशनल सोशल फाउंडेशन और एजुवर्ल्ड संस्था के द्वारा भी अपना सहयोग दिया जाएगा।

देश की आधी से ज्यादा महिलाएं नहीं हैं जागरूक : चांदनी आज़ादी

19 सितंबर-फरीदाबाद | देश में कई ऐसे मामले सामने आए, जहां पर एक कपड़े को ही पीरियड्स में बार-बार इस्तेमाल करने के कारण महिलाओं को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कई महिलाएं Menstrual Hygience को लेकर जागरूक ही नहीं हैं. लड़कियों को अपने फर्स्ट पीरियड से पहले इसकी सही जानकारी होना जरूरी है. उम्र छोटी होती है, जिसके कारण ऐसे समय में उनकी देखभाल भी बहुत मायने रखती है।

वहीं महिलाओं को इसके प्रति जागरूक होने की जरूरत है, क्योंकि अगर वे जागरूक होंगी तो अपनी जान जोखिम में नहीं डालेंगी। सेनेटरी पैड अभियान को पिछले डेढ़ साल पहले वुमेंस पावर की टीम ने शुरू किया और लगातार वुमेन पावर की टीम इस पर काम कर रही है हर महीने स्लम एरियाज में जाकर 70 परिवारों को सेनेटरी पैड फ्री में वितरण कराती है साथ ही उन्हें जागरूक करती है गंदे कपड़े से होने वाली बीमारी और वूमेंस पावर की प्रेसीडेंट चांदनी आजाद अली का कहना है कि वह इस पर लगातार काम करती रहेंगी आज भी मुझे सर सेक्टर 24 के स्लम एरिया में सेनेटरी पैड वितरण किये गये जिसमें अंजलि राजपूत, मिली शर्मा, साक्षी सिंह प्रेजिडेंट चांदनी आजाद अली के साथ मौजूद रहे और सेनेटरी पैड वितरण किये गये।

7 फेरे लेकर की गई शादी ही होगी लीगल, लव मैरिज पर कोर्ट ने कही ये बात

आजकल ज्यादातर युवा लव मैरिज करना पसंद करते है . कुछ लड़के और लडकिया तो कैसे भी कर के अपने घर वालो को लव मैरिज के लिए मना लेते है. लेकिन कुछ के घरवाले नही मानते. जिसके चलते लड़के -लड़की को घर से भागने जैसा कदम उठाना पड़ता है और वो किसी मंदिर में जाकर भगवान को साक्षी मानकर एक दुसरे को माला पहना कर शादी कर लेते है. प्रेमी जोड़ो के लिए बहुत बड़ी खबर है जिसके चलते माला बदल कर की गयी शादी को नही माना जायेगा.जिसको लेकर कोर्ट द्वारा बड़ा फैसला लिया गया है.

लव मैरिज को लेकर मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) हाई कोर्ट (High Court) ने बड़ा फैसला सुनाया है. ग्वालियर खंडपीठ ने कहा कि सिर्फ माला पहनने से शादी नहीं हो जाती. उसके लिए पूरे विधि-विधान के साथ अग्नि के 7 फेरे लेने जरूरी हैं. हाई कोर्ट ने यह टिप्पणी आर्य समाज मंदिर में शादी करने का दावा कर रहे मुरैना के कपल की सुनवाई के दौरान की. कपल ने शादी के बाद हाई कोर्ट से सुरक्षा मांगी थी.

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि इस याचिका को खारिज किया जाता है. क्योंकि, इसमें एक भी ऐसा साक्ष्य प्रस्तुत नहीं किया गया, जिससे पता चले कि प्रेमी-प्रेमिका को धमकी मिली है या वे पुलिस के पास गए. गौरतलब है कि मुरैना निवासी 23 साल के लड़के ने 21 साल की लड़की के साथ 16 अगस्त को ग्वालियर के लोहा मंडी किलागेट स्थित आर्य समाज मंदिर में लव मैरिज की.

आर्य समाज ने इस मैरिज का सर्टिफिकेट भी दिया. इसके बाद दोनों ने हाई कोर्ट में अपनी सुरक्षा को लेकर एक याचिका दायर की थी. इस दौरान याचिकाकर्ता ने तर्क दिया कि दोनों ने लव मैरिज की है. दोनों के परिजन झूठी शिकायतें कर रहे हैं, जिन पर कार्रवाई न की जाए. वैवाहिक संबंधों को मजबूत बनाने के लिए उनको सुरक्षा प्रदान की जाए. उनकी जान को लोगों से खतरा है.

कोर्ट ने सुनवाई के बाद खारिज की याचिका

शासकीय अधिवक्ता दीपक खोत ने इस याचिका का विरोध किया. उन्होंने कहा कि याचिकाकर्ताओं ने इसके लिए किसी भी थाने में आवेदन नहीं दिया है. उन्हें किससे खतरा है, किसने धमकी दी है, कौन परेशान कर रहा है? नहीं बताया है. सीधे कोर्ट में याचिका दायर कर दी गई है, इसलिए यह याचिका सुनवाई योग्य नहीं लगती. पूरी सुनवाई के बाद कोर्ट ने याचिका खारिज कर दी.

सलमान,अजय और अक्षय कुमार समेत 38 बॉलीवुड हस्तियों पर केस दर्ज,जानिये पूरा मामला

मित्रों जैसा की आप सभी अवगत है कि फिल्मी दुनिया हमेशा ही किसी न किसी वजह से सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनी रही है। अक्सर देखा जाता रहा है कि कई बॉलीवूड एक्ट्रेस अपने नीजी जीवन को लेकर काफी सुर्खियों में रहे है। जैसे इन दिनों बॉलीवुड की बेहतरीन अदाकारा शिल्पा शेट्टी अपने पति राजकुन्द्रा के चलते सुखियों में बनी हुई है। इसी क्रम में आज हम हॉलीवुड और टॉलीवुड की कुछ ऐसी हस्तियों के संबंध में बताने जा रहे है, जिनके खिलाफ केस दर्ज किये गये। आइए जाने आखिर क्या था इसका कारण।          

आपको बता दें कि बॉलीवुड के सुपरस्टार एक्टर सलमान खान, अजय देवगन और अक्षय कुमार समेत टॉलीवुड की हस्तियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इन कलाकारों के खिलाफ ये कार्यवाही दो साल पहले हैदराबाद में हुए ‘दिशा रेप केस’ को लेकर की गई। दिल्ली के वकील ने याचिका दायर कर बॉलीवुड और टॉलीवुड की 38 हस्तियों को गिरफ्तार करने की मांग की है। वकील का आरोप है कि इन हस्तियों ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर रेप पीड़िता के नाम को सार्वजनिक किया है जिससे उसके परिवार की पहचान उजागर हुई है। हैदराबाद में पूरे देश को झकझोर देने वाले ‘दिशा रेप केस’ को दो साल हो चुके हैं। शर्मसार कर देने वाली यह घटना हैदराबाद के बाहरी इलाके में हुई जहा, एक 26 वर्षीय पशु चिकित्सक के साथ चार लोगों ने पहले गैंगरेप किया फिर पीड़िता को जिंदा जलाकर मार दिया। इस मामले को लेकर पूरे देश में बवाल मचा था, इस बीच गिरफ्तार के बाद क्राइम सीन से फरार होने के दौरान पुलिस ने आरोपियों को एनकाउंटर में मार गिराया था।

आपकी जानकारी के लिये बता दें कि एक रिपोर्ट के मुताबिक अब दो साल बाद इस मामले में कई फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े कालाकारों को कानूनी दांवपेंच का सामना करना पड़ रहा है। दिल्ली के एक वकील ने एक याचिका दायर कर बॉलीवुड और टॉलीवुड की 38 हस्तियों को गिरफ्तार करने की मांग की है, जिनमें रवि तेजा, रकुल प्रीत, सलमान खान और अक्षय कुमार जैसे लोकप्रिय नाम शामिल हैं। इस लिस्ट में अनुपम खेर, फरहान अख्तर, अजय देवगन, अक्षय कुमार, सलमान खान का भी नाम शामिल है। याचिका दायर होने के बाद इस मामले में कई टॉलीवुड कलाकारों महाराजा रवि तेजा, रकुल प्रीत सिंह, अल्लू सिरीश, चार्ममे कौर और असली नाम का जिक्र करने वाले अन्य सेलेब्स के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इन सभी ने हैदराबाद की घटना को लेकर ट्वीट किया था। कलाकारों के खिलाफ दिल्ली के निवासी वकील गौरव गुलाटी ने सब्जी मंडी पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 228 ए के तहत शिकायत दर्ज की है और तीस हजारी कोर्ट में एक याचिका भी दायर की है।

वकील गौरव गुलाटी ने आरोप लगाया गया है कि ये जिम्मेदार नागरिक होने के नाते मशहूर हस्तियों ने नियमों को तोड़ा है इन्हें उसकी सजा दी जानी चाहिए। याचिका में आगे कहा गया है कि देश का कानून सभी के लिए समान है ऐसे में किसी को भी स्पेशल ट्रीटमेंट नहीं मिलना चाहिए, चाहे वह सेलिब्रिटी ही क्यों ना हो। सेलेब्स की तत्काल गिरफ्तारी की मांग करते हुए गौरव गुलाटी ने आरोप लगाया है कि उन्होंने पीड़िता की गोपनीयता बनाए रखते हुए कोई सामाजिक जिम्मेदारी नहीं दिखाई है। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार किसी भी रेप पीड़िता या उसके परिवार की पहचान उजागर करना कानूनन जुर्म है। यहां तक की अखबारों और न्यूज़ चैनलों में भी दुष्कर्म पीड़िता की तस्वीरें नहीं दिखाई जा सकती। हाल ही में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को भी ऐसे ही मुश्किलों का सामना करना पड़ा था। भाजपा नेता जितेंद्र गोठवाल ने नौ वर्षीय रेप पीड़िता की पहचान उजागर करने का आरोप लगाते हुए जयपुर सेशन कोर्ट में राहुल गांधी और ट्विटर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इस संबंध में आप लोगों की क्या प्रतिक्रियायें है? मित्रों अधिक रोचक बाते व लेटेस्‍ट न्‍यूज के लिये आप हमारे पेज से जुड़े और अपने दोस्तो को भी इस पेज से जुड़ने के लिये भी प्रेरित करें।

अनुश्री अपार्टमेंट सेक्टर 75 के स्टोर कीपर की बिगड़ी नियत, माल का किया गबन, क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

अनुश्री अपार्टमेंट सेक्टर 75 के स्टोर कीपर की बिगड़ी नियत, माल का किया गबन, क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

आरोपी से 11 कील की बोरी, 8 बंडल वाइंडिंग वायर और 2 बोरी होलपास बरामद

फरीदाबाद:-पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा द्वारा शहर में चोरी के मामलों में संलिप्त अपराधियों पर शिकंजा कसने के लिए दिए गए दिशा निर्देशों के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच 65 की टीम ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है।

आरोपी की पहचान जयप्रकाश निवासी सुल्तानपुर, उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी जयप्रकाश अनुश्री अपार्टमेंट सेक्टर 75 में बतौर स्टोर कीपर की नौकरी करता था। आरोपी ₹13000 महीना की तनख्वाह पर था। आरोपी की स्टोर में माल को देखकर नियत खराब हो गई जिससे उसने स्टोर रूम का सामान मौका देख कर बाहर निकाल लिया।

पुलिस टीम ने बताया कि उपरोक्त आरोपी को सामान निकालते हुए कंपनी के गार्ड ने देख लिया था जिसकी सूचना उसने कंपनी मालिक को दी।

मालिक ने आरोपी को ढूंढा तो वह नहीं मिला जिस पर कंपनी मालिक ने पुलिस को 17 सितंबर को सूचना दी जिस पर थाना बीपीटीपी में मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी।

क्राइम ब्रांच टीम ने बताया कि आरोपी को गुप्त सूत्रों की सूचना से सेक्टर 8 फरीदाबाद से गिरफ्तार किया है।

पूछताछ में आरोपी ने बताया कि स्टोर में रखे सामान को देखकर वह लालच में आ गया और सामान चोरी कर लिया। वह इस सामान को बेचने की फिराक में था कि इससे पहले ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी के कब्जे से आगरा नहर की झाड़ियों से 11 कील की बोरी, 8 बंडल वाइंडिंग वायर और 2 बोरी होल पास बरामद कर लिए गए हैं।

आरोपी को आज पेश अदालत कर नीमका जेल भेज दिया गया है।

बैंक से नीलामी में खरीदी गई प्रापर्टी, मालिक परेशान

0

फरीदाबाद,12 सितम्बर : नैशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल द्वारा खुली बोली में नीलाम किए गए कारखाने को अब खरीदने वाले मालिकों को परेशान किया जा रहा है। मालिक साहिल विरमानी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि एनसीएलटी ने अखबारों में एक विज्ञापन दिया था कि वह मथुरा रोड स्थित एक कारखाने द्वारा बैंक लोन न चुकाने के कारण खुली बोली लगाई जाएगी, जिसमें 3 अन्य बोलीदाताओं के साथ साहिल विरमानी व स्वर्गीय देवेंद्र उर्फ पप्पू ने मार्स इंफ्रा इंजीनियरिंग कंपनी के नाम से 52 करोड 83 लाख की सबसे ज्यादा बोली लगाकर उसे खरीद लिया। उसके बाद कारखाने के मालिक करन गंभीर ऊपरी अदालत में चला गया और कहा कि मेरी जमीन मार्किट भाव से सस्ती बेच दी है, परंतु एनसीएलटी के फैसले को सही मानते हुए अदालत ने गंभीर पर 50 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया जोकि प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करवाने के आदेश दिए। इसके बाद करन गंभीर ने सुप्रीम कोर्ट में अपील की। सुप्रीम कोर्ट ने दोनों पक्षों की बात सुनते हुए जनवरी में फैसला दिया कि निचली अदालत का फैसला सही है और इसमें दखलांदाजी से मना कर दिया। उसके बाद विरमानी ने अदालती आदेश दिखाते हुए तहसील के लिक्विडेटर से बयनामा करवाया और उसका दाखिला खारिज भी करवाया। इसके बावजूद भी दूसरा पक्ष कई तरह के आरोप लगा रहे हैं जोकि गलत है जिसके लिए श्री विरमानी ने कहा कि वह वकीलों से राय लेकर मानहानि का दावा करेंगे। वहीं इस बारे में करन गंभीर ने एप्लेट ट्रिब्यूनल में एक केस फाइल किया है जिसकी सुनवाई के लिए 21 सितंबर की तारीख लगी हुई है।

फिटनेस को प्रोत्साहन देने के लिए फिट इंडिया फ्रीडम रन का आयोजन

9 सितम्बर – फरीदाबाद : जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में युवाओं को फिटनेस के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से फिट इंडिया फ्रीडम रन 2.0 का आयोजन किया। फिट इंडिया फ्रीडम रन में विश्वविद्यालय के एनएसएस स्वयंसेवकों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया।कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने परिसर से दौड़ को झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने प्रतिभागियों से जीवन की प्रतिकूलताओं का सामना करने के लिए फिट रहने और एक मजबूत राष्ट्र के निर्माण में मदद करने की अपील की। इस अवसर पर निदेशक युवा कल्याण डॉ. प्रदीप डिमारी ने विद्यार्थियों को राष्ट्र निर्माण के लिए स्वस्थ और सक्रिय नागरिक बनने की शपथ विश्वविद्यालय परिसर के चारों चक्कर लगाने के बाद फ्रीडम रन का समापन विश्वविद्यालय में जे.सी. बोस की प्रतिमा के समक्ष हुआ।

विश्व समभाव दिवस पर सतयुग दर्शन वसुन्धरा पर आयोजित किया गया एक विशेष कार्यक्रम

09 सितम्बर – फरीदाबाद : विश्व समभाव दिवस के शुभ अवसर पर सतयुग दर्शन वसुन्धरा पर समभाव समदृष्टि की महत्ता को दर्शाते हुए आयोजित किया गया एक विशेष कार्यक्रम सबकी जानकारी हेतु, एक मानव के जीवन में, समभाव-समदृष्टि की महत्ता को जानने-समझने व तदुपरान्त उसे अमल में लाने हेतु सतयुग दर्शन ट्रस्ट द्वारा, प्रतिवर्ष दिनाँक 7 सितम्बर को, विश्व समभाव दिवस के नाम से मनाया जाता है। इस वर्ष भी कोविड-19 सम्बन्धी प्रशासनिक नियामवली को दृष्टिगत रखते हुए सीमित संख्या में विशिष्ट अतिथियों यथा दिल्ली एन.सी.आर के स्कूलों के प्रधानाचार्यों/अध्यापकगणों व अंतर्राष्ट्रीय मानवता-ई-ओलम्पियाड के विजेताओं के संग, सतयुग दर्शन के विशाल सभागार में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसके अतिरिक्त इस अवसर पर बतौर चीफ गेस्ट, फरीदाबाद शहर के कमीशनर यशपाल यादव, जे सी० बोस यूनिवर्सटी के कुलपति प्रोफेसर दिनेश कुमार, डी ई ओ रीतू चौधरी भी उपस्थित थे। इस दिवस पर सभी सजनों को संबोधित करते हुए, ट्रस्ट के प्रवक्ता ने कहा कि मौजूदा समय में जब आधुनिक भौतिकवादी समाज-धर्म, जाति, पंथों आदि के अलगाववाद के टकराव में फँसा हुआ है, ऐसे में सतयुग दर्शन ट्रस्ट, अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित अपने विशिष्ट मानवता-ई-ओलम्पियाड द्वारा समाज का विखंडन करने वाली इन तमाम अवधारणों को लाँघ कर, सर्वोच्च मानव धर्म व समभाव अपनाने का आवाहन दे, पारस्परिक भेदभावों व झगड़ों को मिटाने का व परस्पर भाईचारे, एकता व एक अवस्था में ढ़लने का संदेश फैलाने का भरसक प्रयास कर रहा है।       इसी संदर्भ में समभाव-समदृष्टि का महान महत्त्व बताते हुए ट्रस्ट के प्रवक्ता ने आगे बताया कि समता ही योग है यानि आत्मा-परमात्मा की एक अवस्था का प्रतीक है। समता मूलाधार है-समानता, एकरूपता, निष्पक्षता व धीरता की। इससे मन में विषमता नहीं पनपती। इसीलिए सतवस्तु के कुदरती ग्रन्थ के अनुसार समभाव नज़रों में करने पर, मनुष्य के हृदय में, सजन-वृत्ति का विकास होता है, और फिर वह इसी विचारधारा अनुरूप, सबके साथ समदर्शिता का आचार-व्यवहार करता हुआ, सदा अफुर व आनन्दमय बना रहता है। समभाव के अर्थ को स्पष्ट करते हुए फिर बताया गया कि समभाव राग-द्वेष का उपशमन कर, जन्म-मरण, रोग-सोग, खुशी-गमी, मान-अपमान, अमीरी-गरीबी, दु:ख-सुख, विजय-पराजय, लाभ-हानि आदि में समरस रहने का भाव है। समभाव अपना कर जो समग्र विश्व के प्रति एक सा नज़रिया रखता है, वह न किसी का प्रिय करता है, न अप्रिय। ऐसा समदर्शी अपने-पराए की भेद-बुद्धि व द्वन्द्वों से परे हो अर्थात्‌ समस्त क्लेशों, पापों व संघर्षों से छुटकारा पा, सर्वथा निराकुल व शांत हो जाता है। आगे यह भी कहा कि समभाव की साधना को परिपक्व तभी माना जाता है जब समग्र विश्व एकरूपता से दिखाई देता है। इसीलिए तो जिसका मन समभाव में स्थित हो जाता है वह जीते-जी ही हर शै में परब्रह्म परमेश्वर का अनुभव कर संसार पर विजय प्राप्त कर लेता है। अत: उपस्थित सजनों से अनुरोध किया गया कि ममत्व बुद्धि से रहित होकर, समभाव अनुरूप जीने की पद्धति को ही अपनाओ क्योंकि इससे भिन्न पद्धति को अपनाने पर न तो जगत की और न ही जीवन की सार्थकता को प्राप्त करना संभव हो सकता है और यही अभाव फिर मनगढंत व हानिकारक विचारधारा को अपनाने का हेतु बनता है। इसीलिए जात-पात, ऊँच-नीच आदि के कारण उत्पन्न होने वाली भेद-प्रवृति त्याग दो और समभाव से ओत-प्रोत हो अविलम्ब सबके साथ सहृदयता से सजनतापूर्ण व्यवहार करना आरम्भ कर दो। याद रखो अपने सुख-दु:ख के समान दूसरे के सुख-दु:ख का अनुभव करना मानव जीवन की परम श्रेष्ठ अनुभूति है। यही वास्तव में समता का निर्मल रूप है। संक्षेपत: ट्रस्ट के प्रवक्ता ने कहा कि यदि समभाव को साधना है तो देह अभिमान से ऊपर उठो यानि शरीर और शरीर से सम्बन्धित वस्तुओं के प्रति जो लगाव है, आसक्ति, मोह-ममता व अज्ञान है, उसे त्याग दो। इसके स्थान पर यह सत्य मान लो कि यह शरीर परिवर्त्तनशील है, नश्वर है और आत्मा नित्य एकरस व अजर-अमर-अविनाशी है। फिर इसी सत्य अनुरूप विचार में स्थिर बने रह, मन-वचन-कर्म द्वारा व्यावहारिकता अपनाओ। यह भी कहा गया कि समभाव को अपनाने के लिए अन्य जिस चीज़ की आवश्यकता है वह है शान्ति। शान्ति की उत्पत्ति आत्मा की स्वतन्त्रता यानि आत्मतुष्टि से होती है। इसका सम्बन्ध संतोष से है यानि इच्छाओं के विनाश से है, व हर प्रकार के दंभ, वासनाओं की गंदगी, तुच्छ स्वार्थ व लिप्सा के भाव के त्याग से है। इसके लिए व्यक्तित्व का रूपान्तरण आवश्यक है तथा इसका अन्त परम शान्ति है। शान्ति के लिए आत्मशुद्धि आवश्यक है। अत: सब आत्मविश्लेषण व आत्मनियन्त्रण द्वारा मन में प्रविष्ट दोषों व विकारों का शमन करो। इस प्रकार अपनी भावना को निर्मल करो क्योंकि आत्मसुधार की इस क्रिया में मनुष्य की निर्मल भावना भी अतुल्य भूमिका निभाती है। भावना की तेजस्विता मनुष्य में साहस, तेज, ओज, मनोबल आदि की वृद्धि करती है तथा भावना की दुर्बलता जीवित मनुष्य को भी निर्जीव, दीन-हीन व क्षीण बना देती है। अत: याद रखो सजनों संसार के समस्त जीवों के प्रति मैत्री-भावना यानि सजनता का भाव, चित्त को निर्मल बना, व्यावहारिक जीवन में समभाव का सफल साधक बना सकती है। अंतत: इस शुभ दिन सबसे प्रार्थना की गई कि राग-द्वेष के भाव से बचे रहने हेतु स्व-स्वभाव में रमण करो क्योंकि यही वास्तव में समभाव है।  समभाव-समदृष्टि की युक्ति को पढ़ने-सुनने व समझने के पश्चात्‌, विधिवत्‌ प्रयोग करने में प्रवीण होने पर ही, वांछित सार्थक परिणाम, प्राप्त हो सकते हैं यानि व्यक्तिगत, पारिवारिक, सामाजिक व वैश्विक उत्थान हो सकता है। अत: समभाव समदृष्टि अपनाओ और सुखी हो जाओ।

महिंद्रा ने टेस्ला के प्रस्ताव को किया स्वीकार कहा मोटर वाहन उत्पादन तोड़ना मुश्किल है

0
भारतीय उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने टेस्ला के सीईओ एलोन मस्क के इस प्रस्ताव को स्वीकार किया कि मोटर वाहन उत्पादन को तोड़ना मुश्किल है और सकारात्मक नकदी प्रवाह पैदा करना और भी कठिन है। “और हम दशकों से ऐसा कर रहे हैं। अभी भी पसीना आ रहा है और इससे दूर हो रहा है। यह हमारे जीवन का तरीका है…” महिंद्रा कहते हैं। ब्रिटिश टेक कंपनी डायसन की इलेक्ट्रिक कार बनाने के असफल प्रयास से संबंधित एक कहानी का जवाब देते हुए, एलोन मस्क ने मंगलवार को कहा कि बड़ी विरासत वाहन निर्माता अपनी कारों को कम से कम वास्तविक मार्जिन पर बेचते हैं। मस्क ने कहा, “उनका अधिकांश लाभ अपने बेड़े में प्रतिस्थापन भागों को बेच रहा है, जिनमें से 70% से 80% पिछली वारंटी हैं।” मस्क अपने तर्क को आगे बढ़ाने के लिए रेज़र और ब्लेड का उदाहरण देते हैं। “नई कार कंपनियों में इस लाभ की कमी है। बिक्री और सेवा के बुनियादी ढांचे की भी कमी है,” मस्क कहते हैं। पिछले हफ्ते, महिंद्रा एंड महिंद्रा (एमएंडएम) ने पिछले साल के इसी महीने की तुलना में अगस्त में घरेलू यात्री वाहनों की बिक्री में 17 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 15,973 इकाइयों की वृद्धि दर्ज की। कंपनी ने अगस्त 2020 में 13,651 यूनिट्स की बिक्री की थी, एमएंडएम ने एक बयान में कहा ट्विटर यूजर्स ने विपरीत परिस्थितियों में महिंद्रा के लचीलेपन की तारीफ की। एक ट्विटर यूजर ने कहा, “केवल दूरदर्शी लोगों में ही ऐसा करने की हिम्मत होती है और वह भी इतने जुनून के साथ कि समाज में इसके प्रभाव को देखा जा सकता है।” एक ट्विटर उपयोगकर्ता ने एलोन मस्क के उद्यमशीलता के तप की भी प्रशंसा की, “विरासत कार निर्माताओं के शून्य या कम मार्जिन का हवाला देते हुए, बड़ी कार कंपनियां अपनी कारों की बिक्री से नहीं बल्कि “रेज़र और ब्लेड” जैसे प्रतिस्थापन भागों की बिक्री से अपना मुनाफा कमाती हैं। सही कहा।”

हीरानंदानी अस्पताल में हुआ अक्षय कुमार की माँ का दिहंत

08 सितम्बर – मुंबई : अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया ने आज, 8 सितंबर को अंतिम सांस ली। उन्हें 3 सितंबर को मुंबई के हीरानंदानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उनकी हालत गंभीर थी। अभिनेता ने ट्विटर पर खबर साझा की।उन्होंने लिखा, “मैं अपने अस्तित्व के मूल में एक असहनीय दर्द महसूस करता हूं।” 7 सितंबर को, अक्षय ने अपने प्रशंसकों और प्रियजनों को अपनी मां के लिए शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद दिया। अरुणा भाटिया को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। आज, 8 सितंबर, अक्षय ने अपनी मां के निधन की खबर साझा की और लिखा, “वह मेरी कोर थी। और आज मैं अपने अस्तित्व के मूल में एक असहनीय दर्द महसूस कर रहा हूं। मेरी मां श्रीमती अरुणा भाटिया शांतिपूर्वक आज सुबह इस दुनिया को छोड़ कर मिलीं। दूसरी दुनिया में अपने पिता के साथ फिर से मिला। मैं आपकी प्रार्थनाओं का सम्मान करता हूं क्योंकि मैं और मेरा परिवार इस दौर से गुजर रहा है। ओम शांति । “अपने शुभचिंतकों को अपने संदेश में, अक्षय ने लिखा कि यह उनके और उनके लिए एक कठिन समय है। परिवार। “मेरी माँ के स्वास्थ्य के लिए आपकी चिंता पर शब्दों से परे। यह मेरे और मेरे परिवार के लिए बहुत कठिन समय है। आपकी हर एक प्रार्थना बहुत मदद करेगी।”

वीडियोकांफ्रेंस के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया स्कूली बच्चों को संबोधित

07 सितम्बर – फरीदाबाद : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को जिला फरीदाबाद मे शिक्षक पर्व -2021 कार्यक्रम बारे में आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से खंड शिक्षा अधिकारी, सभी स्कूल मुखिया,सभी शिक्षकगण, अभिभावक, बच्चों को सम्बोधित किया। स्कूल शिक्षा विभाग ,शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 7 से 17 सितंबर 2021 तक शिक्षक पर्व वर्चुअल मोड को मनाया जा रहा है। जिसका विधित उद्दघाटन प्रधानमंत्री ,नरेन्द्र मोदी ने आज किया जाएगा । उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम देश की अपनी सोच वाली नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 से शिक्षा जगत ( शिक्षकों ) अपनी भावी पीढ़ी ( छात्रों ) को अवगत कराएगा। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शिक्षक पर्व के पहले सम्मेलन को संबोधित करते हुआ कहा कि जब समाज मिलकर कुछ करता है, इच्छित परिणाम जरूर मिलते हैं। उन्होंने कहा कि एजुकेशन न केवल समावेशी होनी चाहिए बल्कि न्यायसंगत भी होनी चाहिए। उन्होंने इस अवसर पर राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त करने वाले शिक्षकों को बधाई देते हुए कहा, ‘आप सभी ने कठिन समय में देश में शिक्षा के लिए, विद्यार्थियों के भविष्य के लिए जो एकनिष्ठ प्रयास किया है, वो अतुलनीय है, सराहनीय है।’ इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, ‘आज जो योजनाएं शुरू हो रही है वो भविष्य के भारत को आकार देने में अहम भूमिका निभाएंगी। आज विद्याजंली, 2.0 जैसी कई योजनाएं शुरू की गई हैं।’ऐसा है ‘निष्ठा’ ट्रेनिंग प्रोग्राम्स. प्रधानमंत्री ने कहा, ‘निपुण भारत अभियान में तीन वर्ष से आठ वर्ष तक के बच्चों के लिए फाउंडेशन लिट्रेसी एंड न्यूम्बरेसी मिशन लांच किया गया है। तीन वर्ष की उम्र से ही सभी बच्चे अनिवार्यता प्री स्कूल शिक्षा प्राप्त करें इस दिशा में जरूरी कदम उठाए जाएंगे। तेजी से बदलते इस दौर में हमारे शिक्षकों को भी नई व्यवस्थाओं और तकनीकों के बारे में तेजी से सीखना होता है। ‘निष्ठा’ ट्रेनिंग प्रोग्राम्स के जरिए देश अपने टीचर्स को इन्हीं बदलावों के लिए तैयार कर रहा है।’ पीएम ने बताया कैसी हो शिक्षा आज विद्यांजली 2.0, निष्ठा 3.0, टॉकिंग बुक्स और यूएलडी बेस आईएसएल डिक्शनरी जैसे नए कार्यक्रम और व्यवस्थाएं लॉन्च की गई हैं। उन्होंने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि यह हमारे शिक्षा व्यवस्था को वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धी बनाएगी। अब समय है कि हम अपनी क्षमताओं को आगे बढ़ाएं। हमने कोरोना काल के मुश्किल समय में जो कुछ सीखा है उसे एक नई दिशा दें। आज एक ओर देश के पास बदलाव का वातावरण है तो साथ ही नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति जैसी आधुनिक पॉलिसी भी है। इसीलिए, आज देश टाकिंग बुक्स और ऑडियो बुक्स जैसी तकनीक को शिक्षा का हिस्सा बना रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘अभी हाल ही में संपन्न हुए टोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक में हमारे खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने खिलाड़ियों से अनुरोध किया है कि आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर हर खिलाड़ी कम से कम 75 स्कूलों में जाएं।’ इस दौरान पीएम मोदी ने कहा, ‘आज एक ओर देश के पास बदलाव का वातावरण है, तो साथ ही नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति जैसी आधुनिक और भविष्य की नीति भी है। इसलिए पिछले कुछ समय से देश लगातार एजुकेशन सेक्टर में एक के बाद एक नए निर्णय ले रहा है, एक बड़ा बदलाव होते देख रहा है। देश ने ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ के साथ ‘सबका प्रयास’ का जो संकल्प लिया है, ‘विद्यांजलि 2.0’ उसके लिए एक जीवंत प्लेटफार्म की तरह है। जब समाज मिलकर कुछ करता है, तो इच्छित परिणाम अवश्य मिलते हैं। और आपने ये देखा है कि बीते कुछ वर्ष में जनभागीदारी अब फिर भारत का नेशनल कैरेक्टर बनता जा रहा है। प्रधानमंत्री ने कई योजनाओं का आरंभ करते हुए कहा, ‘आज शिक्षक पर्व पर विद्यांजलि 2.0, निष्ठा 3.0 जैसी अनेक नई परियोजनाओं का शुभारंभ हुआ है। ये पहल इसलिए भी जरूरी है, क्योंकि देश अभी आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। आज जो योजनाएं शुरु हुई हैं, वो भविष्य के भारत को आकार देने में अहम भूमिका निभाएंगी। इस बार की थीम शिक्षक पर्व-2021’ का विषय ‘गुणवत्ता और सतत विद्यालय: भारत में विद्यालयों से ज्ञान प्राप्ति गुणवत्ता है। यह सम्मलेन न केवल सभी स्तरों पर शिक्षा की निरंतरता सुनिश्चित करने, बल्कि देश भर के स्कूलों में गुणवत्ता, समावेशी प्रथाओं और स्थायित्व में सुधार के लिए नवीन तौर-तरीकों को प्रोत्साहित करेगा।

क्राइम ब्रांच ने चोरी की मोटरसाईकिल सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

08 सितम्बर – फरीदाबाद : पुलिस कमिश्नर विकास कुमार अरोड़ा के दिशा निर्देश पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच सेन्ट्रल की टीम ने चोरी की मोटरसाईकिल सहित एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। क्राईम ब्रांच प्रभारी ने बताया कि आरोपी के खिलाफ गुप्त सूत्रों से सूचना मिली जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए पुलिस टीम ने आरोपी को मोहना रोड बल्लबगढ़ से चोरी की मोटरसाईकिल सहित गिरफ्तार किया है। आरोपी सावन उर्फ बंटी राजस्थान के भरतपुर के सहनका थाना सीकरी का रहने वाला है। आरोपी ने बताया कि उसने 3 जून को तिगांव रोड बल्लबगढ़ से मोटरसाईकिल चोरी की थी। मोटरसाईकिल का चोरी का मुकदमा थाना शहर बल्लबगढ में दर्ज है। जिसको उपयोग कभी कभी आरोपी अपने काम पर आने जाने के लिए प्रयोग कर रहा था। उपरोक्त आरोपी से चोरी शुदा मोटरसाईकिल बरामद कर लिया आरोपी को आज पेश अदालत कर बंद नीमका जेल करा दिया गया है।  

शिखर धवन और उनकी पत्नी आयशा मुखर्जी शादी के आठ साल बाद हुवे अलग

0
भारतीय क्रिकेटर शिखर धवन और उनकी पत्नी आयशा मुखर्जी आठ साल बाद हो रहे है अलग घटनाक्रम की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने एएनआई को खबर की पुष्टि की। धवन को आखिरी बार जुलाई में श्रीलंका दौरे के दौरान युवा भारतीय टीम का नेतृत्व करते हुए देखा गया था। एक अनुभवी प्रचारक और मेन इन ब्लू की सीमित ओवरों की टीम के महत्वपूर्ण दल, धवन लगभग एक दशक से टीम की दुर्जेय बल्लेबाजी की अगुवाई कर रहे हैं। उन्होंने श्रीलंका में सफेद गेंद के छह मैचों में भारत की कप्तानी की। टीम में छह अनकैप्ड खिलाड़ी थे और उन्हें राहुल द्रविड़ ने कोचिंग दी थी। उनकी पत्नी आयशा मुखर्जी। धवन ने आठ साल पहले ऑस्ट्रेलिया मैं शादी की थी और कई बार साथ देखा करते थे। हालाँकि, घटनाओं के नवीनतम मोड़ में, दोनों को सार्वजनिक रूप से नहीं देखा गया और यहां तक कि उन्होंने सोशल मीडिया पर एक साथ कुछ भी पोस्ट नहीं किया। धवन की पत्नी, आयशा ने अपने नए आईजी खाते से अपने तलाक के बारे में पोस्ट किया था और कहा था कि वह वर्तमान आघात से कैसे निपट रही है। उसके आईजी पद के माध्यम से यह बहुत स्पष्ट था कि उसने हाल के घटनाक्रमों में क्रिकेटर के साथ संबंध तोड़ लिया है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि आयशा की यह दूसरी शादी थी क्योंकि इस शादी से पहले उसकी शादी एक ऑस्ट्रेलियाई व्यवसायी से हुई थी। उनकी पहली शादी से उनकी दो बेटियां भी हैं जिन्हें धवन ने खुशी-खुशी गोद लिया था। आयशा, जोरावर के साथ धवन का एक बच्चा था, जिसे कई मौकों पर उनके साथ देखा भी गया था। घटनाओं के नवीनतम मोड़ में, उन्हें एक साथ बिल्कुल भी नहीं देखा गया था और उनके तलाक की रिपोर्टों का भी अनुमान लगाया गया था। और अब तक, यह लगभग तय है कि दोनों अलग हो गए हैं।

अफगान महिला ने निडरता के साथ किया तालिबान का सामना तियानमेन स्क्वायर मोमेंट की पहल

अफगानिस्तान संकट: तालिबान के खिलाफ अवज्ञा के एक अभूतपूर्व प्रदर्शन में कम से कम तीन रैलियां आयोजित की गईं, जो सत्ता में अपने अंतिम कार्यकाल में, विशेष रूप से महिलाओं के प्रति क्रूरता के लिए जानी जाती हैं। कट्टरपंथी समूह के खिलाफ मंगलवार को काबुल में विरोध प्रदर्शन से उभरी कई सम्मोहक छवियों में से एक में एक अफगान महिला एक सशस्त्र तालिबान व्यक्ति का सामना करती है। तालिबान ने अफगान राजधानी की सड़कों पर कई रैलियों में जमा हुए सैकड़ों लोगों को तितर-बितर करने के लिए गोलियां चलाईं। तालिबान के खिलाफ अवज्ञा के एक अभूतपूर्व प्रदर्शन में कम से कम तीन रैलियां आयोजित की गईं           जो सत्ता में अपने अंतिम कार्यकाल में, विशेष रूप से महिलाओं के प्रति क्रूरता के लिए जानी जाती हैं। ज्यादातर महिलाओं ने पाकिस्तान दूतावास के बाहर विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया। टोलो न्यूज की पत्रकार ज़हरा रहीमी द्वारा ट्वीट की गई अफगान महिला पर प्रशिक्षित बंदूक की रॉयटर्स की तस्वीर में 1989 में चीन के तियानमेन स्क्वायर पर टैंकों को अवरुद्ध करने वाले एक अकेले आदमी की परिभाषित छवि की गूँज थी। सुश्री रहीमी ने लिखा, “एक अफगान महिला निडरता से तालिबान के हथियारबंद व्यक्ति के साथ आमने-सामने खड़ी होती है, जिसने उसकी छाती पर बंदूक तान दी थी।” पिछले एक हफ्ते में देश भर में विरोध प्रदर्शनों की बढ़ती संख्या सामने आई है, जिसमें अफगानों ने तालिबान के पिछले दमनकारी शासन को दोहराने की आशंका जताई थी जब लोगों को सार्वजनिक रूप से स्टेडियमों में मार दिया गया था। सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए वीडियो में बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर मार्च करते हुए, बैनर पकड़े हुए और नारे लगाते हुए दिख रहे हैं, जिन्हें तालिबान के सशस्त्र सदस्य देख रहे हैं। पत्रकारों ने आरोप लगाया कि तालिबान ने उनके साथ बदसलूकी की और उनकी आईडी और कैमरे छीन लिए। काबुल स्थित अफगान इंडिपेंडेंट जर्नलिस्ट्स एसोसिएशन ने कहा कि 14 पत्रकारों – अफगान और विदेशी – को रिहा होने से पहले विरोध प्रदर्शन के दौरान कुछ समय के लिए हिरासत में लिया गया था। ऑनलाइन तस्वीरों में पत्रकारों के हाथों और घुटनों में कट और चोट के निशान देखे गए। विरोध के कुछ घंटों बाद, तालिबान ने अपनी सरकार की घोषणा की, जिसमें संयुक्त राष्ट्र द्वारा ब्लैक लिस्टेड मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंड को प्रधान मंत्री और तालिबान के सह-संस्थापक अब्दुल गनी बरादर को उनके डिप्टी के रूप में शामिल किया गया। पर्यवेक्षकों का कहना है कि अंतरिम अफगान सरकार में महिलाओं की अनुपस्थिति अफगान महिलाओं और लड़कियों के अधिकारों की रक्षा और सम्मान के बारे में तालिबान की घोषणाओं पर सवाल उठाती है।

कोरोना महामारी से बचाव के लिए हर व्यक्ति जिम्मेदार

फरीदाबाद07 सितंबर : कोरोना महामारी से बचने के लिए हर व्यक्ति को टीकाकरण करवाने के लिए आगे आना चाहिए। यह विचार एसजीएम नगर में स्थित कमला नेहरू स्कूल में आयोजित टीकाकरण शिविर के उदघाट्न के कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए जननायक जनता पार्टी के प्रदेश सचिव प्रेम सिंह धनखड़ ने व्यक्त किए। धनखड़ ने कहा कि कोरोना एक विश्वव्यापी महामारी है इससे बचने के उपाय आपनाकर व जनता को प्रेरित करने से ही इस महामारी से बचा जा सकता है इसमें टीकाकरण एक प्रभावशाली कदम है। जिसके लिए आमजन को आगे आना होगा तथा उन्हें खुद को तथा अपने परिवार को टीकाकरण का लाभ दिलवाकर उन्हें खुद को तथा अपने परिवार को कोरोना महामारी की बीमारी से बचाया जा सकता है।   धनखड़ ने कहा कि कोरोना महामारी के बचाव के सभी उपायों को सरकारी हिदायतों अनुसार अपनाएं तथा साफ सफाई, स्वच्छता व बचाव सम्बन्धी उपाय अपनाकर खुद को तथा अपने परिवार को सुरक्षित रखा जा सकता है। धनखड़ ने स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को इस कार्य के लिए प्रोत्साहित किया व उनका धन्यवाद भी किया तथा स्थानीय जनता को टीकाकरण करवाने में सहभागिता बढ़ाने के लिए प्रेरित किया। इस मौके पर जजपा नेता दयाचंद सैनी, हसन अली, जेपी चौधरी तथा कमला नेहरू स्कूल की प्रिंसिपल ज्योति आर्य, प्रीति रावत, सुषमा पोखरियाल, सुषमा पंवार, मंजू रावत, दिलीप रावत, सीमा, सुलु नेगी इत्यादि मौजूद रहे।

महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा को 20 सितंबर तक बढ़ाया गया

07 सितंबर -फरीदाबाद : उपायुक्त एवं जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के चेयरमैन जितेंद्र यादव ने बताया कि जिला फरीदाबाद में महामारी अलर्ट- सुरक्षित हरियाणा के आदेशों को अब 06 सितंबर 2021 सुबह 05:00 बजे से दिनांक 20 सितंबर 2021 सुबह 05:00 बजे तक बढ़ाने के आदेश जारी किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इन आदेशों में समय की पाबंदी हटाते हुए कई छूट भी प्रदान की गई हैं। अपने आदेशों में उन्होंने कहा कि राज्य में आवासीय विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को निर्देश दिया जता है कि वह 15 अक्टूबर 2021 तक आनलाईन कक्षाओं का संचालन जारी रखें। आवासीय विश्वविद्यालयों में छात्रों को शारीरिक रूप से कक्षाओं में भाग लेने की अनुमति देने का निर्णय 15 अक्टूबर 2021 को प्रचलित कोविड स्थिति का आंकलन करने के बाद लिया जाएगा। इस बीच विश्वविद्यालय प्रशासन सभी छात्रों, संकाय सदस्यों और कर्मचारियों (आउटसोर्स किए गए सहित) को पूरी तरह से टीकाकरण सुनिश्चित करने का प्रयास कर सकता है। इसके साथ ही उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, चिकित्सा शिक्षा, अनुसंधान विभाग जैसे भी मामले हों उनके साथ प्रगति सांझा कर सकता है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय, महाविद्यालयों को छात्रों के लिए संदेह कक्षाओं, प्रयोगशालाओं में व्यवहारिक कक्षाओं, व्यवहारिक परिक्षाओं व आनलाईन परिक्षाओं के लिए आवश्यक सामाजिक दूरियों के मापदंडों का कड़ाई से पालन करने के साथ अनुमति दी जाती है। उन्होंने कहा कि इसमें स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी एसओपी में दर्शाए गए कोविड-19 के प्रयास को रोकने के लिए निवारक उपायों एवं मापदंडों के संबंध के अनुरूप होगी और परिसर का नियमित सेनेटाईजेशन भी किया जाएगा। छात्रावास, कालेजों व विश्वविद्यालयों में केवल उन्हीं छात्रों के लिए खोलने की अनुमति है जो परिक्षा दे रहे हैं। उच्च शिक्षा विभाग हरियाणा इन आदेशों के क्रिवान्वयन के लिए तत्काल दिशा-निर्देशों के साथ आदेश जारी करेगा। उन्होंने कहा कि शाॅपिंग माल व सभी दुकानों को खुलने की इजाजत होगी, माॅल में आगमन और निकासी में सामाजिक दूरी का ख्याल रखा जायेगा और बार एवं रेस्तरां 50 प्रतिशत क्षमता के साथ सामाजिक दूरी एवं अन्य सुरक्षा नियमों के साथ खोलने की इजाजत होगी एवं होम डिलीवरी मान्य होगी। उन्होंने कहा कि व्यायामशाला एवं स्पा केन्द्रों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ सभी तरह की सामाजिक दूरी एवं अन्य सुरक्षा नियमों के साथ खोलने की इजाजत होगी। गोल्फ कोर्स में स्थित कल्ब हाउस/रेस्तरां/बार को खोलने की इजाजत 50 प्रतिशत क्षमता के साथ सभी तरह की सामाजिक दूरी एवं अन्य सुरक्षा नियमों के साथ खोलने की इजाजत होगी। हालांकि प्रबंधन इस बात को सुनिश्चित करेगा कि सभी सदस्य व अन्य आगंतुक अलग-अलग समय पर खेलें ताकि भीड़ भाड़ से बचा जा सके। अपने आदेशों में जिला मैजिस्ट्रेट जितेंद्र यादव ने कहा कि बंद स्थानों पर अधिकतम 100 व्यक्तियों और खुले स्थानो में अधिकतम 200 व्यक्तियो को सामाजिक दूरी एवं कोविड से संबंधित अन्य नियमित निर्देशों की पालना के साथ इक्कठा होने की इजाजत होगी। स्विमिंग पूल को केवल ऐसे एथलीटों/तैराको के लिए खोलने की अनुमित है जो किसी प्रतियोगिता के लिए प्रतिस्पर्धा/अभ्यास कर रहें हैं। प्रबंधन इस बात को सुनिश्चित करेगा कि सामाजिक दूरी एवं अन्य सुरक्षा नियमों का पालन हो। स्विमिंग पूल में आने वाले सभी एथलीटों/तैराकों एवं स्टाफ के लिए कोविड़-19 के दोनों टिकाकरण अनिवार्य होंगें। बंद स्थानों पर अधिकतम 100 व्यक्तियों और खुले स्थानों में अधिकतम 200 व्यक्तियों को सामाजिक दूरी एवं कोविड से संबंधित अन्य नियमित निर्देशों की पालना के साथ इकट्ठा होने की इजाजत होगी। उन्होंने कहा कि जिला में विभिन्न सिनेमा हाॅल (माॅल और स्टैंड अलोन की अवस्था में) को अधिकतम 50ः क्षमता के साथ खोलने कि अनुमति है, जिसमें स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी एस0ओ0पी0 मे दर्शाए गए कोविड़-19 के प्रसार को रोकने के लिए निवारक उपायों एवं मानदंडों के संबंध के अनुरूप होगी तथा परिसर का नियमित सैनिटाइजेशन भी किया जाएगा। अपने आदेशों में उन्होंने कहा कि हरियाणा कौशल विकास मिशन के अन्तर्गत हरियाणा राज्य में खुले प्रशिक्षण केद्रों को भी खोलने की अनुमति है, जिसमें गृह मंत्रालय भारत सरकार, राज्य आपदा प्रबंधन हरियाणा सरकार, हरियाणा राष्ट्रीय कौशल विकास और स्थानीय प्रशासन द्वारा समय-समय पर जारी निर्धारित स्थायी संचालन प्रक्रियाओं और दिशानिर्देशों के अनुसार सामजिक दूरी बनाए रखने के लिए प्रशिक्षुओ को क्रमबध करें। उन्होंने कहा कि कोचिंग संस्थानों, पुस्तकालयों और प्रशिक्षण संस्थानों (चाहे सरकारी हों या निजी) को भी अपेक्षित सामाजिक दूरी के मानदंडों का कडाई से पालन करने के साथ खोलने की अनुमति है, जिसमें स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी एस0ओ0पी0 मे दर्शाए गए कोविड़-19 के प्रसार को रोकने के लिए निवारक उपायों एवं मानदंडों के संबंध के अनुरूप होगी तथा परिसर का नियमित सैनिटाइजेशन भी किया जाएगा। इसके साथ ही औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में छात्रों के लिए संदेह कक्षाओं, व्यावहारिक कक्षाओं के लिए आवश्यक सामजिक दूरियों के मानदंडों का कड़ाई से पालन करने की हिदायतानुसार अनुमति दी जाती है, जिसमें स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी एस0ओ0पी0 मे दर्शाए गए कोविड़-19 के प्रसार को रोकने के लिए निवारक उपायों एवं मानदंडों के संबंध के अनुरूप होगी। कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग, हरियाणा इन आदेशों के क्रियान्वयन के लिए तत्काल दिशा-निर्देश जारी करेगा। अपने आदेशों में जिला मैजिस्ट्रेट ने कहा कि धार्मिक स्थलों को एक समय में 50 व्यक्तियों के साथ इस शर्त के साथ खोलने की अनुमति है, जिसमें स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी एस0ओ0पी0 मे दर्शाए गए कोविड़-19 के प्रसार को रोकने के लिए निवारक उपायों एवं मानदंडों के संबंध के अनुरूप होगी। उन्होंने कहा कि काॅरपोरेट कार्यालयों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पुरी उपस्थिति के साथ खोलने की अनुमति दी गई है, जिसमें स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी एस0ओ0पी0 मे दर्शाए गए कोविड़-19 के प्रसार को रोकने के लिए निवारक उपायों एवं मानदंडों के संबंध के अनुरूप होगी। जिला में सभी उत्पादन इकाईयों, प्रतिष्ठानो और उद्योगों को कार्य करने की अनुमति होगी। प्रबंधन इस बात को सुनिश्चित करेगा कि सामाजिक दूरी एवं अन्य सुरक्षा नियमों का पालन हो। इसके साथ ही खेल परिसर, स्टेडियम को कान्टैक्ट स्पोटर्स को छोड़कर अन्य प्रकार के खेलो के लिए खोलने की अनुमति है (दर्शको की अनुमति नही होगी)। खेल प्राधिकरण इस बात को सुनिश्चित करेगा कि सामाजिक दूरी एवं अन्य सुरक्षा नियमों का पालन हो।

The Art of ‘GAJGAMINI’

 Saloni Chawla : When the famous painter Maqbool Fida Husain’s movie ‘Gajgamini’, hit the silver screens, newspapers reported majority of the audience getting confused and puzzled. However, an artistic mind with the vision to understand and appreciate this beautiful piece of art is required. A combination of thoughts and portraits, ‘Gajgamini’ is an abstract and artistic presentation of Indian womenhood in its totality : beauty and grace; simplicity and innocence; intelligence and talent; strength, tolerance and amiability (subject to change); passion and romance etc. It’s about an Indian woman and her journey to modernity – her transition from a burdened woman to a free and independent woman. The luggage on Madhuri Dixit’s head depicts a package of tasks, responsibilities, worries and values which she skillfully holds as she treads along her life. The kick and the downward fall of this luggage depicts the shift of this package and the transition period. The film depicts the simplicity of the spirit of womanhood across traditions. Several scenes communicate a simple message – ‘Beauty lies in the eyes of the beholder’ – and you can see the same woman (i.e. spirit – inner beauty, strength and simplicity) in every woman. And to put this message across, Husain has very intelligently brought into action a collection of his portraits of Madhuri Dikshit in different poses. The scene also looks like Dikshit unveiling her own portraits with her own hands. He has cast Dikshit throughout the movie because the message mentioned above i.e. the film is not about different women but the same spirit in every woman – the spirit of womanhood. Hence a single cast seems to be an intelligent decision. Throughout the film, Husain prefers to be an Indian as he portrays only Indian womanhood. I do not know about the rest of the audience, but I loved watching this film. All that I could say after watching ‘Gajgamini’ is : Hats off to this great artist and genius M.F. Husain ! His soul shall smile for a long while if the country that he loved so much and longed to return to, appreciates this masterpiece of his and salutes it.

शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में जनहित सेवा संस्था ने सुलेख प्रतियोगिता का कराया आयोजन

06 सितम्बर – फरीदाबाद : राजकीय माध्यमिक विद्यालय मलेरना के प्रांगण में शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में जनहित सेवा संस्था के सौजन्य से सुलेख प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।  कार्यक्रम में मुख्य अतिथि भारत भूषण शर्मा निदेशक कुंदन ग्रीन वैली स्कूल बल्लभगढ़ का मुख्य अध्यापक समर देशवाल,गांव के सरपंच कृष्ण पाल यादव व जनहित सेवा संस्था की टीम ने पौधा भेंट कर स्वागत किया ।मुख्य अतिथि भारत भूषण शर्मा ने प्रतिभावान विद्यार्थियों व विद्यालय के सभी शिक्षकों को पुरस्कार व  स्मृति चिन्ह देकर  सम्मानित किया और कहां की शिक्षक  की राष्ट्र निर्माण में अहम भूमिका होती है। सरकारी विद्यालयों में भी प्रतिभाशाली विद्यार्थियों की कोई कमी नहीं है ।सरकारी विद्यालयों में शिक्षा का स्तर काफी बड़ा है ।कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विद्यालय के प्रभारी समर देशवाल ने मुख्य अतिथि भारत भूषण शर्मा वह जनहित सेवा संस्था की टीम का आभार प्रकट किया ।गांव के सरपंच कृष्ण पाल यादव ने भी मुख्य अतिथि व संस्था का धन्यवाद किया। सरकारी स्कूल के बच्चो व  शिक्षको को सम्मानित करने के लिए।  जनहित सेवा संस्था के अध्यक्ष संत सिंह हुड्डा ने बताया कि सुलेख प्रतियोगिता में प्रथम स्थान कक्षा 8 से रोनित, द्वितीय स्थान कक्षा 8 से सचिन व तृतीय स्थान कक्षा 7 से भावना ने प्राप्त किया।  कार्यक्रम में मुख्य रूप से विद्यालय के प्रभारी समर देशवाल,श्रीमती अंजू बाला, मास्टर कृष्ण कुमार, मास्टर संजय शर्मा, मास्टर राकेश कुमार, मास्टर संत सिंह हुड्डा ,श्रीमती मनजीता रानी, विनोद लिपिक गांव के सरपंच कृष्ण पाल यादव संस्था के सचिव देवीचरण वैष्णव ,रामकिशन फौजी ,सुधीर गौतम, लक्की वर्मा,  समाजसेवी दीपक डागर,विनोद छाबड़ा, महासचिव सुभाष गहलोत विशेष रूप से मौजूद थे।

फरीदाबाद में सोमवार को कोविड-19 का कोई मामला पोजिटिव नहीं आया

06 सितम्बर – फरीदाबाद : जिला में आज सोमवार को कोरोना वायरस कोई भी मामला पोजिटिव सामने नहीं आया है। वहीं कोरोना के दो मरीज़ स्वस्थ होकर अपने घरों को भी लौटे। सोमवार को जिला में रिकवरी रेट भी 99.27 प्रतिशत पर पहुंच गया है। कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डा. रामभक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में अब तक 984225 लोगों को अब तक सर्वेलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्वेलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 984122 हो गई है। इसके अलावा 99836 कोराना पोजिटिव लोगों को सर्वेलांस पर रखा गया है। अब तक जिला फरीदाबाद में कोरोना के एक पोजिटिव केस को अस्पताल में दाखिल किया गया है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि होम आईसोलेशन पर जिला मे 10 लोगों को रखा गया है। जबकि एक्टिव केसों की संख्या 11 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्शीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में पिछले 24 घंटे में 3210 लोगों टेस्ट किए गए। जबकि अब तक जिला फरीदाबाद में 1089618 लोगों ने अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 99836 लोग कोराना पोजिटिव पाए गए। जबकि 988439 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 876 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला फरीदाबाद में आक्सीजन और वैंटीलेटर पर कोई केस नहीं है। जिला में सैम्पल पोजिटिव रेट 0.00 प्रतिशत है। जबकि रिकवरी रेट 99.27 प्रतिशत है। जिला मे एक्टिव केस रेट 0.01 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें कि अपने घर के अंदर ही रहे। जब तक बहुत जरूरी ना हो, तब तक घर से बाहर ना निकले और बाहर निकलते समय अपने मुंह और नाक को कवर करते हुए फेस मास्क का प्रयोग अवश्य करें। इसके अलावा, एक दूसरे के बीच दो गज की दूरी जरूर रखें। हाथों को बार बार साबुन से धोते रहें या सनेटाइजर करते रहे। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो कॉविड हेल्पलाइन नंबर 1950 पर डायल करें जो कि सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे संचालित की जा रही है। इसके अलावा, जिला प्रशासन ने मोबाइल नंबर पर व्हाट्सएप चैट बोट के माध्यम से सूचनाएं देने की व्यवस्था की गई है।

अधिकारी आपस में तालमेल बनाकर फरीदाबाद का विकास कार्य करेंगे सुनिश्चित

6 सितंबर – फरीदाबाद : भारत सरकार के भारी उद्योग एवं ऊर्जा राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि जिला के प्रशासनिक अधिकारी, एमसीएफ के अधिकारी और एफएमडीए के अधिकारी आपस में तालमेल बनाकर फरीदाबाद के चहुमुखी विकास को क्रियान्वित करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि प्राय: देखने में आता है कि एक विभाग दूसरे विभाग पर आरोप और प्रत्यारोप लगाकर विकास कार्यों में स्वयं ही बाधा बन जाते हैं। अधिकारी ऐसा न करें बल्कि विकास कार्य का सही क्रियान्वयन बेहतर तरीके से कैसे सुनिश्चित हो उस उद्देस्य से आपस में मिल बैठ कर उसका निवारण करके विकास कार्य को निर्धारित समय पर पूरा करें। केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने यह बात आज सोमवार को यहां सैक्टर-12 स्थित लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में जिला प्रशासन, एमसीएफ और एफएमडीए के अधिकारियों की जिला विकास समन्वय एवं समीक्षा कमेटी की बैठक को सम्बोधित करते हुए कहीं । बैठक में बड़खल की विधायक सीमा त्रिखा, तिगांव के विधायक राजेश नागर, फरीदाबाद के विधायक नरेंद्र गुप्ता, पृथला के विधायक एवं हरियाणा सरकार में हैफेड के चेयरमैन नयनपाल रावत, उपायुक्त जितेंद्र यादव, एफएमडीए की सीईओ डॉ गरिमा मित्तल, एडीसी सतबीर मान, एसडीएम परमजीत व नगराधीश पुलकित मल्होत्रा सहित जिला के सभी संबंधित विभागों के अधिकारी, एमसीएफ के प्रशासनिक व तकनीकी अधिकारी और एफएमडीए के भी प्रशासनिक और तकनीकी अधिकारी उपस्थित थे। कृष्णपाल गुर्जर ने सरकार की अमृत योजना, सॉलि़ड वेस्ट मैनेजमेंट, पब्लिक प्राइवेट टॉयलेट, गार्बेज प्लांट, पेयजल सप्लाई, सीवरेज व्यवस्था, बरसाती पानी की ड्रेनेज, प्रधानमंत्री आवास योजना, शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र नेशनल हेल्थ मिशन, एचएस आरएलएम सहायता समूह, दीनदयाल उपाध्याय, आयुष्मान भारत, स्वच्छ भारत मिशन, श्यामा प्रसाद मुखर्जी अर्बन मिशन, पार्लियामेंट लोकल एरिया डेवलपमेंट स्कीम, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण क्षेत्र, महात्मा गांधी राष्ट्रीय एंप्लॉयमेंट गारंटी स्कीम/ मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय सामाजिक विकास प्रोग्राम, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय किसान विकास योजना, किसान सोयल हेल्थ कार्ड, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल सप्लाई प्रोग्राम, प्रधानमंत्री रोजगार गारंटी योजना, सुगम्य भारत अभियान, आपकी बेटी-हमारी बेटी, बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ, प्रधानमंत्री मातृत्व योजना, पोषक अभियान, सर्व शिक्षा अभियान, मिड डे मील स्कीम, प्रधानमंत्री उजाला योजना, डिजिटल इंडिया लैंड रिकॉर्डिंग, डिजिटल इंडिया पब्लिक इंटरेस्ट एसएस प्रोवाइड इन कॉमन सर्विस सेंटर, प्रधानमंत्री आवास योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना, बिजली विकास योजना सहित तमाम सरकारी योजनाओं और परियोजनाओं पर एक-एक करके संबंधित अधिकारियों से हर विकास कार्य के हर पहलू पर बारीकी से जानकारी लेकर बेहतर क्रियान्वयन बारे जवाबदेही तय की। केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि जिस किसी भी अधिकारी को जो दिशा-निर्देश बैठक में दिए गए हैं वह निर्धारित समय पर पूरा करके उपायुक्त को अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि जो भी प्राइवेट एजेंसी विकास कार्य में बाधा बन रही है उन्हें ब्लैक लिस्ट करके टर्मिनेट करें और किसी अन्य योग्य एवं उपयुक्त विकास एजेंसी को कार्य सौंप दे। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि विकास कार्यों में कोताही बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार विकास कार्यों को अमलीजामा पहनाने में कोई कोर कसर न छोड़े। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री घोषणा में किए गए विकास कार्यों को निर्धारित समय पर पूरा करना संबंधित विभागों के अधिकारी सुनिश्चित करें अन्यथा उनके खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। बैठक में विधायक सीमा त्रिखा, विधायक नरेंद्र गुप्ता, विधायक नयनपाल रावत, विधायक राजेश नागर ने भी अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में विकास कार्यों की चर्चा करके उन्हें दूर करने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर सहित सभी विधायकों का बैठक में पहुंचने पर स्वागत एवं आभार व्यक्त किया। उन्होंने आश्वासन दिया कि आज की इस बैठक में केंद्रीय मंत्री श्री कृष्ण पाल गुर्जर सहित अन्य उपस्थित सभी विधायकों ने जो भी दिशा-निर्देश अथवा सुझाव दिये हैं उन्हे आगामी बैठक से पहले ही बेहतर तरीके से क्रियान्वित करना सुनिश्चित किया जाएगा। बैठक में सीटीएम पुलकित मल्होत्रा ने एक-एक करके विभिन्न एजेंडो बारे जानकारी प्रस्तुत की और संबंधित विभाग के अधिकारियों ने अपने-अपने विकास कार्यों से संबंधित तकनीकी अड़चनों बारे बारीकी से केंद्रीय राज्य मंत्री श्री कृष्ण पाल गुर्जर को अवगत करवाया।

तालिबान ने किया पंजशीर घाटी पर पूरा कब्ज़ा

0
काबुल: कई दिनों की लड़ाई के बाद, तालिबान द्वारा सोमवार को उत्तरपूर्वी अफगानिस्तान में पंजशीर प्रांत पर पूर्ण नियंत्रण करने के बाद अफगान नेशनल रेसिस्टेंस फ्रंट आखिरकार ध्वस्त हो गया। इस्लामी चरमपंथी समूह के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने मीडिया रिपोर्टों के हवाले से कहा, “तालिबान ने पंजशीर प्रांत पर पूरी तरह से नियंत्रण कर लिया है, अफगानिस्तान में अंतिम क्षेत्र प्रतिरोध बलों के कब्जे में है। इसके साथ ही अब देश के पूरे 34 प्रांतों पर अफगान तालिबान का कब्जा है। सोशल मीडिया पर तस्वीरों में तालिबान के सदस्य पंजशीर प्रांतीय गवर्नर के परिसर के गेट के सामने खड़े नजर आ रहे हैं। हालांकि, प्रतिरोध के नेताओं ने तालिबान के पंजशीर प्रांत पर कब्जा करने से इनकार किया है। “तालिबान का पंजशीर पर कब्जा करने का दावा झूठा है। एनआरएफ बल लड़ाई जारी रखने के लिए घाटी भर में सभी रणनीतिक पदों पर मौजूद हैं। हम अफगानिस्तान के लोगों को आश्वस्त करते हैं कि तालिबान और उनके सहयोगियों के खिलाफ संघर्ष तब तक जारी रहेगा जब तक न्याय और स्वतंत्रता नहीं मिलती।” ‘ अफगान नेशनल रेसिस्टेंस फ्रंट के हवाले से ज़ी मीडिया ने कहा। तालिबान बलों का विरोध करने वाले विपक्षी समूह के नेता अहमद मसूद की ओर से तत्काल कोई शब्द नहीं आया। अफगान नेशनल रेजिस्टेंस फ्रंट ने सोमवार को स्वीकार किया था कि विद्रोही बलों और तालिबान के बीच गतिरोध के दौरान उनके समूह के एक अन्य वरिष्ठ सदस्य जनरल अब्दुल वुडोद ज़ारा मारे गए हैं। जनरल वुडोद पंजशीर प्रतिरोध के नेता अहमद मसूद के भतीजे थे। समा न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, कुछ रिपोर्टों में यह भी दावा किया गया है कि एक हेलीकॉप्टर द्वारा उनके घर पर हमला किए जाने के बाद अमरुल्ला सालेह सुरक्षित स्थान पर चले गए हैं। अफगान प्रतिरोध बल के प्रवक्ता फहीम दशती के विभिन्न अफगानिस्तान मीडिया द्वारा मृत घोषित किए जाने के तुरंत बाद यह घटनाक्रम सामने आया।”अफगानिस्तान के राष्ट्रीय प्रतिरोध ने आज दमन और आक्रामकता के खिलाफ पवित्र प्रतिरोध में दो साथियों को खो दिया। फहीम दश्ती, एनआरएफ के प्रवक्ता, और जनरल अब्दुल वुडोद ज़ारा शहीद हो गए। उनकी स्मृति शाश्वत हो,” अफगान प्रतिरोध मोर्चे के हवाले से कहा गया था। समा समाचार द्वारा। एक दिन पहले, अफगानिस्तान के उत्तरपूर्वी प्रांत पंजशीर में प्रतिरोध बलों के नेता अहमद मसूद ने कहा कि तालिबान के प्रांत छोड़ने पर प्रतिरोध बल लड़ाई बंद करने और बातचीत शुरू करने के लिए तैयार हैं, स्पुतनिक ने रविवार को सूचना दी। पंजशीर घाटी काबुल से लगभग 90 मील उत्तर में हिंदू कुश पहाड़ों में स्थित है। कुछ ही महीनों में सरकार समर्थक टुकड़ियों में घुसने के बाद तालिबान प्रतिरोध की इस बड़ी पकड़ को लेने में असमर्थ रहा है। पंजशीर प्रांत को लेकर शुक्रवार रात से जंग तेज हो गई है.

मानव रचना में खेल और फिटनेस शिक्षा में कैरियर के अवसरों पर वेबिनार

03 सितंबर – फरीदाबाद : मानव रचना इंटरनेशन इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज के फैकल्टी ऑफ एलाइड हेल्थ साइंसिस द्वारा वेबिनार का आयोजन किया गया, जिसमें स्पोर्ट्स और फिटनेस एजुकेशन की चर्चा हुई। वेबिनार में खेल जगत में अपना भविष्य बनाने में इच्छुक छात्रों को मानव रचना के फैकल्टी ऑफ स्पोर्ट्स की ओर से शुरू किए गए बैचलर्स इन स्पोर्ट्स एंड कंडीशनिंग कोर्स की जानकारी दी गई। फिजिकल एजुकेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के डॉ. पीयूष जैन ने बतौर गेस्ट ऑफ ऑनर हिस्सा लिया। उन्होंने कहा हमारे देश में खेल जगत में बेहतरीन अवसर हैं। आज सिर्फ बीपीएड की नहीं बल्कि स्पोर्ट्स इंजीनियरिंग और स्पोर्ट्स इन्फ्रास्ट्रक्चर की पढ़ाई की भी जरूरत है। हमें स्पोर्ट्स की डिमांड और सप्लाई पर ध्यान देना होगा साथ ही सरकारी पॉलिसी पर काम करना होगा। स्पोर्ट्स, फिजिकल एजुकेशन, फिटनेस और लेजर के सीईओ तहसीन जाहिद ने बताया, FICCI, एसपीईएफएल, एनएसडीसी और एमएसडीई द्वारा किए गए सर्वे के मुताबिक देश में 2023-2024 तक खेल क्षेत्र में 2.1 मिलियन नौकरियां होंगी। उन्होंने कहा सिर्फ कोच बनना ही स्पोर्ट्स नहीं है बल्कि, खिलाड़ी, स्टेडियम संचालक, स्टेडियम की घास काटना भी स्पोर्ट्स का बहुत बड़ा हिस्सा है। उन्होंने कहा पहले लोग कहते थे ‘खेलोगे कूदोगे बनोगे खराब, पढ़ोगे लिखोगे बनोगे नवाब’ आज हमारे देश इस कहावत से कई आगे निकल गया है। द्रोणाचार्य अवार्डी भूपेंद्र धवन ने अपने शब्दों से युवाओं में जोश भरा। उन्होंने कहा, एक अच्छे स्पोर्ट्स प्रोफेशनल बनने के लिए पढ़ाई करनी है और सर्टिफाइड होना होगा। आज के युवा शॉर्टकट चाहते हैं साथ ही 12वीं पास करते ही अपने अभिभावकों से 70-80 हजार के फोन की डिमांड करते हैं, यही पैसे उन्हें अपनी पढ़ाई में इस्तेमाल करना चाहिए। कार्यक्रम में एमआरआईआईआरएस के वीसी डॉ. संजय श्रीवास्तव, फैकल्टी ऑफ एलाइड हेल्थ साइंसस के डीन प्रोफेसर (डॉ.) मोत्तार रजा रिजवी, पीवीसी प्रोफेसर (डॉ) जीएल खन्ना, डॉ. लखविंदर कौर, नेशनल स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी के डीन प्रोफेसर (डॉ.) आर. सुब्रमण्यम, किरोरी मल कॉलेज, दिल्ली के डिपार्टमेंट ऑफ फिजिकल एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स की असिस्टेंट प्रोफेसर और हेड डॉ. बीनू गुप्ता, नेताजी सुभाष नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्ट्स के एकेडमिक इंचार्ज डॉ. आईपी नागी, द्रोणाचार्य वॉर्डी और पर्व हॉकी चीफ डॉ. अजय कुमार बंसल, सौराष्ट्र यूनिवर्सिटी राजकोट के डायरेक्टर डॉ. जतिन सोनी समेत फैकल्टी मेंबर्स और कई छात्र मौजूद रहे।

स्वीप के तहत अनखीर गांव की गलियों से जागरूकता रैली निकाली गई

3 सितंबर – फरीदाबाद : शुक्रवार को अनखीर गांव के राजकीय स्कूल में जिला बाल परियोजना अधिकारी मीनाक्षी चौधरी के दिशा निर्देशन में आंगनवाड़ी वर्कर तथा बी एल ओ के लिए स्वीप कार्यक्रम का आयोजन किया गया। स्वीप के कोऑर्डिनेटर डॉ एमपी सिंह इस अवसर पर बताया कि 18 साल से बड़ी उम्र के सभी लोगों की वोट बनवानी हैं और जो वोट बन चुकी हैं उनको उनके पास पहुंचाना है।         डॉ एमपी सिंह ने मतदान लिस्ट को सही और दुरस्त करने तथा एनवीएसपी पोर्टल और 1950 टोल फ्री नंबर के बारे में बताने की अपील की। उन्होंने कहा कि जिन वयस्कों तथा नागरिकों के नाम वोटर लिस्ट में ठीक नहीं है उन नामों को ठीक किया जा सके तथा पता बदलने और विधानसभा बदलने की समस्याओं से छुटकारा पाया जा सके। डॉ सिंह ने पूर्ण जानकारी देते हुए जिला प्रशासन का साथ और सहयोग करने की अपील की। सभी बी एल ओ ने आश्वस्त किया कि हम अपने कार्य को पूर्ण जिम्मेदारी निष्ठा लगन और समर्पण के साथ कर रहे हैं और भविष्य में भी करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि हमारे बूथ लेवल पर अन्य बूथों के लोग भी आकर अपनी वोट बनवा रहे हैं हम उनका भी सहयोग कर रहे हैं। अंत में सभी ने वोट बनवाने और वोट डलवाने की शपथ ली। इसके बाद कमला दलाल के नेतृत्व में अनखीर गांव की गलियों से जागरूकता रैली निकाली गई। इसमें शकुंतला, विमला, कमला, स्नेहलता, सरोज बाला, इंदिरा रानी आदि का विशेष सहयोग रहा।

कोविड वैक्शीनेशन लगवा कर बने कोरोना बचाव अभियान के भागीदार

3 सितम्बर – बल्लबगढ : हरियाणा के परिवहन, खनन एवं कौशल विकास विभाग के कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने आम जनता से आह्वान करते हुए कहा कि वे कोविड वैक्शीनेशन की दोनों डोज लगवा कर सरकार के कोरोना बचाव अभियान के भागीदार बनें। कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने स्थानीय चावला कालोनी शिव मंदिर बल्लबगढ में आज शुक्रवार को जिला चिकित्सा विभाग द्वारा वेक्सिनेशन कैम्प में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए यह बात कही। परिवहन मंत्री मूलचन्द शर्मा ने विशाल वेक्सिनेशन कैम्प की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलित करके की। उन्होंने वेक्सीन लगवाने आये लोगो से बातचीत की और उनका हाल चाल भी जाना। उन्होंने कहा कि आज डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ पूरी मेहनत के साथ कार्य कर रहे है। डॉक्टरों की कड़ी मेहनत और सरकार द्वारा मुफ्त वैक्सीन लगाकर लोगो का जीवन बचाने का काम किया जा रहा हैं। परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने डॉक्टरों की टीम को दिशा निर्देश देते हुए कहा कि बल्लभगढ़ स्थित जनता कॉलोनी, राजीव नगर ,हरि बिहार सहित कालोनियों में ज्यादा से ज्यादा कैम्प लगाए ताकि सभी को यह वेक्सीन लगाई जा सके। उन्होंने कहा कि हर घर में बैठी जनता को वैक्शीनेशन के दोनों डोज लगेंगी तभी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना साकार होगा। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि नोवल कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए टीकाकरण एक सशक्त माध्यम है। उन्होंने कहा कि लोगों को कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए वैक्शीन की डोज निरन्तर लगाई जा रही है। उन्होंने कहा कि बल्लभगढ़ की जनता को बिना किसी डर के वैक्सीनेशन करवाना चाहिए। टीकाकरण से स्वास्थ्य पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता,कोविशील्ड व कोवैक्सीन का एक समान प्रभाव है। आपको बता दें टीकाकरण करवाने के लिए अब पहले की अपेक्षा ज्यादा उत्साह जिला में देखा जा रहा है। वैक्सीनेशन के साथ-साथ हमें कोविड-19 प्रोटोकोल नियमों की भी शत- प्रतिशत पालना करनी चाहिए। यह वैक्सीन शत-प्रतिशत सुरक्षित एवं नोवल कोराना वायरस के बचाव के लिए प्रभावी है। स्वास्थ्य विभाग की गाइड लाइन के अनुसार पहली वैक्शीनेशन के बाद दूसरी वैक्शीनेशन 12 से 16 सप्ताह में लगवाने पर ईम्युनिटी पावर ओर भी बेहतर कारगर साबित हो रही है। जनता स्वैच्छा टीकाकरण करवाएं तथा दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें। वे भी वैक्सीन लगने के बाद भी प्रोटोकोल नियमों की पालना जैसे मास्क पहनना, सोशल डिस्टैंसिग व सैनीटाईजेशन नियमित रूप से करते रहे और वैक्शीन अवश्य लगवाए। इस कैम्प की शुरुआत के मौके पर हरियाणा के परिवहन एवं खनन मंत्री मूलचन्द शर्मा ने डॉक्टर और उनकी पूरी टीम को शाल ओढा कर सम्मानित किया। परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने डॉक्टर मानसिंह सहित उनकी टीम को सम्मानित किया इस अवसर पर पूर्व पार्षद के पुत्र विनोद गोस्वामी ,शिव मंदिर के महन्त श्री प्रेम प्रकाश, अमित गर्ग सुदर्शन सहित साला कॉलोनी के गणमान्य लोग मौजूद रहे।

फरीदाबाद में वीरवार को कोविड-19 के दो मामले पोजिटिव आए

2 सितम्बर – फरीदाबाद : जिला में आज वीरवार को कोरोना वायरस के दो मामले पोजिटिव सामने आए हैं। वहीं बुधवार को जिला में रिकवरी रेट भी 99.27 प्रतिशत पर पहुंच गया है। कोरोना के जिला नोडल अधिकारी डा. रामभक्त ने बताया कि जिला स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में अब तक 979032 लोगों को अब तक सर्वेलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्वेलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 978947 हो गई है। इसके अलावा 99829 कोराना पोजिटिव लोगों को सर्वेलांस पर रखा गया है। अब तक जिला फरीदाबाद में कोराना का कोई पोजिटिव केस को अस्पताल में दाखिल किया नहीं गया है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने बताया कि होम आईसोलेशन पर जिला मे 9 लोगों को रखा गया है। जबकि एक्टिव केसों की संख्या 9 है। जबकि कई लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग और वैक्शीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। जिला में पिछले 24 घंटे में 2438 लोगों टेस्ट किए गए। जबकि अब तक जिला फरीदाबाद में 1080401 लोगों ने अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 99829 लोग कोराना पोजिटिव पाए गए। जबकि 979575 लोग नेगेटिव मिले। अब तक जिला में 673 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। जिला फरीदाबाद में आक्सीजन और वैंटीलेटर पर कोई केस नहीं है। जिला में सैम्पल पोजिटिव रेट 0.01 प्रतिशत है।जबकि रिकवरी रेट 99.28 प्रतिशत है। जिला मे एक्टिव केस रेट 0.00 प्रतिशत है। इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे अब भी निरन्तर कोरोना को मात देने के लिए सावधानी लगातार बरतते रहें और कोशिश करें कि अपने घर के अंदर ही रहे। जब तक बहुत जरूरी ना हो, तब तक घर से बाहर ना निकले और बाहर निकलते समय अपने मुंह और नाक को कवर करते हुए फेस मास्क का प्रयोग अवश्य करें। इसके अलावा, एक दूसरे के बीच दो गज की दूरी जरूर रखें। हाथों को बार बार साबुन से धोते रहें या सनेटाइजर करते रहे। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो कॉविड हेल्पलाइन नंबर 1950 पर डायल करें जो कि सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे संचालित की जा रही है। इसके अलावा, जिला प्रशासन ने मोबाइल नंबर पर व्हाट्सएप चैट बोट के माध्यम से सूचनाएं देने की व्यवस्था की गई है।  

निगम कर्मचारियों ने सरकार के विरोध मैं की जोरदार नारेबाजी

2 सितम्बर – फरीदाबाद : दो महीने से वेतन व पैंषन का भुगतान न किए जाने से गुस्साए फरीदाबाद, नगर निगम के समस्त कर्मचारियों ने आज नगर निगम मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन करते निगम प्रशासन व हरियाणा सरकार के विरोध में जोरदार नारेबाजी की। आज के विरोध प्रदर्षन की अध्यक्षता म्युनिंस्पिल कॉरपोरेशन ईम्पलाईज फेडरेशन फरीदाबाद के प्रधान रमेश जागलान ने की। आज के इस विरोध प्रदर्शन में निगम के स्थाई कर्मचारी व आउटसोर्सिंग कर्मचारियों सहित सेवानिवृत्त अधिकारियों व कर्मचारियों ने भी बढ़-चढ़कर भाग लिया, यदि आज शाम तक कर्मचारियों व पैंषनरों को दो महीने के वेतन व पेंशन का भुगतान नहीं किया गया तो ये कर्मचारी कल 3 सितंबर को भी प्रातः 9:00 बजे से 11:00 बजे तक निगम के तीनों जौनों में प्रदर्शन करेंगे और इसके बाद आंदोलन को तेज किया जाएगा। फेडरेषन के अघ्यक्ष रमेश जागलान, महासचिव महेंद्र चैटाला व वरिष्ठ उप-प्रधान शाहावीर खान ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए नगर निगम प्रशासन पर कर्मचारियों को समय पर वेतन व पेंशन का भुगतान ना करके कर्मचारियों को आंदोलन के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि नगर निगम के इतिहास में यह पहली बार हुआ है कि कर्मचारियों व सेवानिवृत्त कर्मचारियों को लगातार 2 महीने से वेतन व पेंशन का भुगतान नहीं किया गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि सैकडों सेवानिवृत्त कर्मचारी अपने सेवानिवृत्ति लाभों की प्राप्ति के लिए पिछले 2 साल से अधिक समय से निगम मुख्यालय के धक्के खाने को मजबूर हैं और इनमें से केई तो स्वर्ग सिधार कर जा चुके है। फेडरेशन ने निगमायुक्त यशपाल यादव से भी अपील की है कि वह बिना कोई देरी के वेतन व पेंशन का भुगतान करे। प्रदर्शन को अन्य के इलावा सेवानिवृत्त कर्मचारी संध, हरियाणा के जिला प्रधान नवल सिंह, जिला सचिव जयपाल सिंह, यू0एम0 खान, नरेश बैंसला, सुरजीत नागर, राम बिहारी, रमेश पहलवान, प्रमोद रोहिल्ला, राजपाल तेवतिया, शषी अधाना, दयानन्द पाली, लालाराम नरवत, राजेंद्र सिंह, विजयपाल पटवारी, धीर सिंह, हरेराम सौरोत ने भी सम्बोधित किया।