31.1 C
Delhi
Thursday, August 18, 2022

Latest Posts

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की अनुपालना में समीक्षा बैठक का आयोजन

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की अनुपालना में माननीय उपायुक्त श्री जितेंद्र यादव की अध्यक्षता में योजना से संबंधित एक समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि शिक्षा अधिकारी आत्मप्रेरित रहें और सभी प्राचार्यों को भी समय-समय पर प्रेरित करें। सभी स्कूलों के प्रिंसिपल भी अपनी योग्यता अनुसार सब्जेक्ट का चयन करके बच्चों के रोजाना दो पीरियड अवश्य ले। उन्होंने सभी टीचरों को निर्देश देते हुए कहा कि स्कूल खुलने से पहले सभी कक्षाओं की छतों और पानी की टंकियों की सफाई अवश्य करवाएं। अगर किसी स्कूल की चारदीवारी टूटी हुई हो, स्कूल में बारिश के समय पानी भरता हो, स्कूल आने जाने का रास्ता खराब हो तो ऐसे स्कूलों की सूची बनाकर हमें दे ताकि समय रहते सब ठीक किया जा सके। उन्होंने कहा कि सभी स्कूल लिस्ट बनाकर टीचरों का हेल्थ डाटा बनाएं। सभी शिक्षक और गैर शिक्षक कर्मचारी शारीरिक फिटनेस पर विशेष ध्यान दें। सभी टीचर्स और स्टाफ समय पर स्कूल आए। स्कूल में अपने समयानुसार 15 मिनट का रेस्ट ले और टीचर्स अपनी कक्षाओं खुद भी योग करे और बच्चों को भी योग कराए। आठवीं कक्षा से ऊपर की कक्षाओं के विद्यार्थियों की पढ़ाई के साथ साथ उनके स्किल डेवलमेंट पर भी ध्यान दे ताकि जब बच्चा बारहवीं पास करे तो उसके पास उसकी योग्यता अनुसार हुनर भी हो। कूलों के अंदर और बाहर बाउंडरी की दीवार के चारों तरफ कोई रेहड़ी या दूकान का कोई कब्ज़ा न हो। आधारभूत संरचनाओं को लेकर कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी के तहत सहायता की जाएगी जो भी विद्यालय इस बाबत प्रस्ताव भेजेंगे। विद्यालय के अंदर विद्यार्थी साफ सफाई की जिम्मेदारी लें और शिक्षक की देखरेख में यह सब कार्य किए जाएं। अधिकारियों की एक टीम गठित की जाएगी जो विभिन्न विद्यालयों का दौरा करेगी। माननीय उपायुक्त महोदय ने इस बात पर बल दिया कि सभी मुखिया एक लीडर के तौर पर काम करें उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण अभियान को सफल बनाने के लिए सभी अपने-अपने विद्यालयों में 50 पौधे लगाए। पहले जगह पौधरोपण के लिए ऐसी जगह चयनित करे जिसका वर्तमान और भविष्य में कोई और उपयोग न हो। अधिकारियों की एक टीम गठित की जाएगी जो समय-समय पर विभिन्न विद्यालयों का दौरा करेगी। इस दौरान जुलाई 2022 से जनवरी 2023 तक की योजनाओं के महत्वपूर्ण हस्तक्षेप पर दीपेंद्र चौहान ने एक प्रस्तुति के माध्यम से निपुण हरियाणा मिशन, सेट रिजल्ट, राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वेक्षण, प्रोजेक्ट उड़ान, ई-अधिगम व जिले में चल रही विभिन्न शैक्षणिक गतिविधियों का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया। यह सभी राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन की तरफ कुछ महत्वपूर्ण कदम हैं। राष्ट्रीय शिक्षा नीति में प्रारंभिक देखभाल, बुनियादी साक्षरता एवं संख्यात्मक ज्ञान, पाठ्यक्रम और शिक्षण अधिगम आदि पर भी चर्चा हुई। इस समीक्षा बैठक में एसडीएम पंकज सेतिया, एसडीएम परमजीत चहल, एसडीएम त्रिलोक चंद, जिला शिक्षा अधिकारी डॉ मुनेश चौधरी, जिला समन्वयक समग्र शिक्षा आनंद सिंह, जिला शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य राजेश कुमार, जिला खंड शिक्षा अधिकारी मनोज मित्तल, जिला खंड शिक्षा अधिकारी बल्लभगढ़ सतीश चौधरी, विभिन्न विद्यालय संकुल केंद्र के मुखिया, मेंटर्स, डाइट के प्रवक्ता गण उपस्थित थे।

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.