28.1 C
Delhi
Thursday, August 11, 2022

Latest Posts

पराली के धुएं से खराब हुई दिल्ली की हवा, केवल 24 घंटे में हुई 93 अंकों की बढ़ोतरी, इन इलाकों की स्थिति सबसे खराब

28 अक्टूबर – दिल्ली : पराली के धुएं से बुधवार को दिल्ली की वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में पहुंच गई। चिंता की बात यह है कि दिल्ली के दो इलाके ऐसे हैं, जहां वायु गुणवत्ता सूचकांक 300 अंक के पार यानी बेहद खराब श्रेणी में पहुंच गया। जबकि, 27 निगरानी केंद्रों पर वायु गुणवत्ता खराब श्रेणी में दर्ज की गई।हवा की दिशा में बदलाव होने के साथ ही राजधानी की वायु गुणवत्ता तेजी से खराब हो रही है। एक दिन पहले मंगलवार को सूचकांक 139 अंक पर रहा था। इसे मध्यम श्रेणी में रखा जाता है। बुधवार को दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 232 अंक पर पहुंच गया। यानी सिर्फ चौबीस घंटों के भीतर ही इसमें 93 अंकों की बढ़ोतरी हुई है।

बुधवार को दिल्ली के ज्यादातर इलाके ऐसे रहे, जहां का वायु गुणवत्ता सूचकांक 200 अंक के ऊपर यानी खराब श्रेणी में रहा। शादीपुर और आनंद विहार स्थित निगरानी केंद्रों में सूचकांक 300 अंक के पार यानी बेहद खराब श्रेणी में रिकॉर्ड किया गया।
क्या परेशानी केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक, बुधवार को शाम चार बजे दिल्ली की हवा में प्रदूषक कण पीएम 10 का स्तर 232 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर और पीएम 2.5 का स्तर 102 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर पर रहा। पता हो कि मानकों के मुताबिक, हवा में पीएम 10 का स्तर 100 से नीचे और पीएम 2.5 का स्तर 60 से नीचे रहना चाहिए।
तेजी से बढ़ रही हिस्सेदारी
दिल्ली की हवा में पराली के धुएं की हिस्सेदारी तेजी से बढ़ रही है। सफर के मुताबिक, एक दिन पहले यानी मंगलवार को दिल्ली की हवा में पराली के धुएं की हिस्सेदारी आठ फीसदी रही थी। बुधवार को यह 16 फीसदी हो गई है। एक दिन पहले पंजाब और हरियाणा के खेतों में पराली जलाने की 656 घटनाएं दर्ज की गईं।

और खराब होने की संभावना

सफर का अनुमान है कि हवा की रफ्तार कम होने और दिशा उत्तर पश्चिमी होने के चलते अभी हवा की गुणवत्ता और खराब होगी। फिलहाल हवा पंजाब और हरियाणा की ओर से दिल्ली की तरफ आ रही है। यह हवा पराली का धुआं भी ला रही है, जबकि हवा की रफ्तार कम होने के चलते प्रदूषक कण ज्यादा देर तक वातावरण में जमे रह रहे हैं। इन कारकों के चलते अगले दो दिनों के बीच गुणवत्ता के और खराब होने की संभावना है। यहां सबसे खराब स्थिति
आनंद विहार और शादीपुर निगरानी केंद्रो पर बुधवार को वायु गुणवत्ता सबसे खराब रही। आनंद विहार का वायु गुणवत्ता सूचकांक 313 और शादीपुर का सूचकांक 312 के स्तर पर रहा। इसके अलावा, 27 केंद्र ऐसे हैं, जहां का सूचकांक 200 के अंक के ऊपर यानी खराब श्रेणी में रहा।

प्रदूषण मीटर
वायु गुणवत्ता सूचकांक
26 अक्तूबर 139
27 अक्तूबर 232

यहां की हवा सबसे खराबः
आनंद विहार 313
शादीपुर 312
जहांगीरपुरी 285
सोनिया विहार 281
चांदनी चौक 280

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.