21.1 C
Delhi
Tuesday, October 19, 2021

Latest Posts

ग्रीन ‌फील्ड कॉलोनी निवासियों को प्रतिदिन ढाई लाख लीटर पेयजल: दुष्यंत चौटाला

फरीदाबाद, 11 अक्टूबर। ग्रीन फील्ड कालोनी के लोगों को अब प्रतिदिन ढाई लाख लीटर पेयजल की आपूर्ति होगी। नगर निगम के अधिकारी एक सप्ताह के अंदर इस व्यवस्था को सुनिश्चित करके उन्हें रिपोर्ट करेंगे। यह निर्देश प्रदेश के उपमुख्यमंत्री एवं फरीदाबाद जिला की जिला परिवेदना एवं कष्ट निवारण समिति के अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला ने सोमवार को समिति की मासिक बैठक के दौरान दिए। बैठक 20 मामले रखे गए जिनमें से 10 मामलों का उन्होंने मौके पर ही निपटारा कर दिया गया। पांच मामलों में कमेटी गठित की गई और पांच मामलों में कार्रवाई के निर्देश देते हुए आगामी बैठक में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए कहा गया।

इस दौरान आए प्रमुख मामलों में ग्रीन फील्ड कालोनी निवासी राजेश कौशल ने शिकायत रखी थी कि उनकी कालोनी में पर्याप्त मात्रा में पानी की सप्लाई नहीं हो रही है। पिछले कई महीने से तो पानी आया ही नहीं। इस पर नगर निगम के अधिकारियों ने बताया कि कालोनी के लिए 2.80 लाख लीटर पानी की प्रतिदिन जरूरत है और वह तीन दिन में एक बार 2.50 लाख लीटर पानी सिर्फ चार घंटे के लिए ही दे सकते हैं। इस पर उपमुख्यमंत्री ने सख्त लहजे में निर्देश देते हुए कहा कि कालोनी के लोगों को प्रतिदिन 2.50 लाख लीटर पेयजल की आपूर्ति की जाए। इसके लिए कोई अलग से प्रपोजल तैयार करें अथवा अन्य काई रास्ता निकालें।

इसके साथ ही सोमवार को एक पिछले चार वर्षों से लंबित मामले का भी निपटारा कर दिया गया। यह मामले फेरस मैगापोलिस सिटी सेक्टर-70 का था। यहां पर 400 से ज्यादा निवेशकों के साथ कंपनी द्वारा धोखाधड़ी करने का मामला था। इस संबंध में पिछली ‌मीटिंग में निर्देश दिए गए थे कि निवेशकों के पैसे उपलब्ध करवाए जाएं। इस पर सोमवार को मीटिंग में निवेशकों ने बताया कि 90 प्रतिशत लोगों के करीब 250 करोड़ रुपये कंपनी द्वारा वापिस कर दिए गए हैं। बाकी लोगों का भुगतान भी जल्द मिल जाएगा। इसके लिए निवेशकों ने उपमुख्यमंत्री का धन्यवाद भी किया।

इसके साथ ही धौज गांव में मिट्टी की खुदाई व पेड़ों की कटाई से संबंधित मामले में भी उन्होंने कहा कि इस मामले में उपायुक्त फरीदाबाद द्वारा मौके पर जाकर पुनः जांच की जाएगी और मामले में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवा की जाएगी। इसके अलावा श्रीरामजी हास्पिटल चैरीटेबल सोसायटी के मामले को लेकर कहा कि इस संबंध में एसडीएम बड़खल को प्रशासक नियुक्त किया गया है। वह इस संबंध में 11 लोगों की कमेटी बनाकर इसका सही संचालन सुनिश्चित करें। इसके साथ ही एनआईटी के विधायक नीरज शर्मा द्वारा रखी गई शिकायत के संबंध में निर्देश देते हुए कहा कि पीडब्लूडी अधिकारी व नगर निगम अधिकारी इस संबंध में बैठक वित्तिय मामले का निपटारा करें और जल्द जल्द सड़क का निर्माण करें। इसके साथ ही वित्तिय अनियमितताओं की एक माह के अंदर जांच भी सुनिश्चित करें। इसके अलावा कई अन्य मामलों का निपटारा भी जिला परिवेदना एवं कष्ट निवारण समिति की मीटिंग में किया गया।

इस अवसर पर बड़खल की विधायक सीमा त्रिखा, फरीदाबाद के विधायक नरेंद्र गुप्ता, पृथला के विधायक नयनपाल रावत, तिगांव के विधायक राजेश नागर, एनआईटी के विधायक नीरज शर्मा, मेयर सुमनबाला, जेजेपी के जिलाध्यक्ष (ग्रामीण) तेजपाल डागर, जेजेपी के जिलाध्यक्ष (शहरी) अरविंद भारद्वाज, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य धर्मवीर तेवतिया, प्रेम सिंह धनखड़, नलिन हुड्डा, संदीप कपसियां, अनिल खुटैला, सतीश फौगाट, नेपाल फौजी, सुनील पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा, उपायुक्त जितेंद्र यादव, नगर निगम आयुक्त यशपाल, पुलिस उपायुक्त डा. अंशुल सिंगला, पु‌लिस उपायुक्त राकेश मल्होत्रा, अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर सिंह मान, एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया, एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोक चंद, सीटीएम पुलकित मल्होत्रा सहित कई गणमान्य व्यक्ति, सभी विभागों के अधिकारी व जिला परिवेदना एवं कष्ट निवारण समिति के सदस्य भी मौजूद थे।

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.