13.1 C
Delhi
Friday, December 2, 2022
No menu items!
More
    No menu items!

    Latest Posts

    लखीमपुर की घटना तथा मनोहरलाल खट्टर के बयान को लेकर एनएसयूआई ने फूंका योगी-खट्टर का पुतला

    5 अक्टूबर – फरीदाबाद : आज एनएसयूआई फरीदाबाद के कार्यकर्ताओं तथा छात्रों ने लखीमपुर में किसानों की हत्या और मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा दिए गए भड़काऊ बयान के खिलाफ जोरदार रोष प्रदर्शन करते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर व उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला दहन किया। इस प्रदर्शन का नेतृत्व एनएसयूआई हरियाणा के पूर्व प्रदेश महासचिव कृष्ण अत्री ने किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की एनएसयूआई हरियाणा के पूर्व प्रदेश महासचिव कृष्ण अत्री ने कहा कि लखीमपुर में हुई घटना की खबर सुनकर जब अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी, राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा तथा अन्य कांग्रेस नेता शहीद किसानों के परिवार से मिलने जा रहे थे तो उन्हें यूपी की दमनकारी भाजपा सरकार द्वारा गैर कानूनी तरीके से हिरासत में ले लिया जोकि एक अलोकतांत्रिक कृत्य है। भाजपा सरकार के इशारों पर उत्तर प्रदेश की पुलिस ने प्रियंका गांधी और दीपेंद्र सिंह हुड्डा के साथ जो अभद्र व्यवहार किया है उसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। भाजपा सरकार देश के लोकतंत्र पर प्रहार कर रही है तथा अधिकारों को कुचल रही है।
    कृष्ण अत्री ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री द्वारा भी किसानों के खिलाफ अमर्यादित बयान दिया जा रहा हैं। मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर एक वीडियो में कुछ लोगों को किसानों के खिलाफ भड़काते हुए नजर आ रहें हैं। एक मुख्यमंत्री द्वारा ऐसे बयान की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ऐसे बयानों से प्रदेश का तानाबाना बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं और प्रदेश को हिंसा की तरफ झोंक रहे हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के इस बयान के लिए उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही होनी चाहिए कृष्ण अत्री ने कहा कि 10 महीने से बैठे हुए किसानों की मांगों पर ध्यान देते हुए तीनो कानून को वापिस लेना चाहिए तथा लखीमपुर नरसंहार में जो भी दोषी हैं उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही होनी चाहिए।

    Latest Posts

    Don't Miss

    Stay in touch

    To be updated with all the latest news, offers and special announcements.