कोविड-19 का खतरा अभी टला नहीं सावधानी बरतने की जरूरत

0
8

8 जुलाई- फरीदाबाद। जिला सत्र एवं न्यायाधीश वाईएस राठौड़ के दिशा निर्देश पर सीजेएम कम् जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव मंगलेश कुमार चौबे ने बताया कि जिला फरीदाबाद के न्यायालय परिसर में आम जनता के लिए कई श्रेणी के मामलों की सुनवाई शुरू हो गई है। उन्होंने बताया कि कोविड-19 वैश्विक महामारी कोरोना वायरस अभी तक आधिकारिक रूप से खत्म नहीं हुआ है, हालांकि मामलों में काफी गिरावट आई है। उन्होंने एल.डी. सदस्य सचिव, हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, पंचकूला को लिए जानकारी, एल.डी. जिला एवं सत्र न्यायाधीश-सह-अध्यक्ष, सूचना के लिए, उपायुक्त फरीदाबाद, सूचना एवं आवश्यक कार्रवाई के लिए, अतिरिक्त उपायुक्त फरीदाबाद एवं नोडल अधिकारी सूचना एवं आवश्यक कार्रवाई करने तथा पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय) फरीदाबाद को सूचना एवं आवश्यक कार्रवाई के लिए तथा एसएचओ, सेंट्रल, सेक्टर-12 को मास्क न लगाने वाले और सरकार द्वारा जारी सोसल डिस्टेंस व अन्य हिदायतो की पालना न करने वाले लोगों के चालान काटने बारे लिखित में भेजा गया है।

सीजेएम मंगलेश कुमार चौबे ने बताया कि कोर्ट परिसर में आने वाली जनता ने फिर से सरकार द्वारा जारी कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन करना शुरू कर दिया है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में समुदाय और जागरूकता का कोई सवाल नहीं है। सीजेएम मंगलेश कुमार चौबे ने बताया कि आईएसओ की रिपोर्ट के अनुसार कोविड-19 वैश्विक महामारी की तीसरी लहर जल्द ही आने के डर से सख्त कदम उठाने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि पूरी तरह से इन परिस्थितियों में, वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण को रोकने और मौजूदा स्थिति को बनाए रखने के लिए और सामान्य स्थिति को लागू करने के लिए उपयुक्त रैंक के कुछ पुलिस अधिकारियों को तैनात करने के बारे प्रतिदिन कोर्ट परिसर में कोविड-19 प्रोटोकॉल के नियमों की उलंघना वांछनीय होगी कि वे सिविल ड्रेस में रहें तथा उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना लगाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here