सनफ्लैग को सरकारी अस्पताल बनाने के लिए विधायिका सीमा तिरखा,विधायक नीरज शर्मा को दिया ज्ञापन

0
15

18 जुलाई-फरीदाबाद | सनफ्लैग अस्पताल को सरकारी अस्पताल बनाने की मुहिम लगातार जोर पकड़ती जा रही है लगातार फरीदाबाद के युवा सनफ्लैग अस्पताल को सरकारी अस्पताल बनाने को लेकर कभी सनफ्लैग अस्पताल के सामने, तो कभी सड़कों पर शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे हैं इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए आज युवाओं ने बडकल से विधायिका श्रीमती सीमा त्रिखा और एनआईटी से विधायक श्री नीरज शर्मा को ज्ञापन दिया।

ज्ञापन देते समय युवा समाजसेवी जसवंत पवार ने कहा की फरीदाबाद वासियों की स्वास्थ्य सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए सनफ्लैग अस्पताल को सरकारी अस्पताल बनाया जाना चाहिए क्योंकि फरीदाबाद की आबादी 30 लाख के तकरीबन है लेकिन स्वास्थ्य सुविधाओं के नाम पर एकमात्र बी.के. नागरिक अस्पताल है जबकि फरीदाबाद में अनेकों प्राइवेट हॉस्पिटल खुल रहे हैं लेकिन वह गरीब लोगों की पहुंच से बहुत दूर हैं क्योंकि गरीब और मध्यम परिवार प्राइवेट अस्पतालों की फीस भरने में असमर्थ रहते हैं वही प्राइवेट अस्पताल अब कमाई का धंधा बन कर रह गए हैं।

इस पर बडकल से विधायिका सीमा त्रिखा शर्मा जी ने हमें आश्वासन दिया कि में माननीय मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी से इस मामले को लेकर बात करूंगी की सनफ्लैग अस्पताल को प्राइवेट हाथों में नहीं दिया जाए बल्कि इसे फरीदाबाद जनहित में सरकारी अस्पताल बनाया जाए वही एनआईटी से विधायक नीरज शर्मा जी ने कहा कि सनफ्लैग अस्पताल आज फरीदाबाद शहर की जरूरत है और हरियाणा सरकार को फरीदाबाद के जनहित में इसे सरकारी अस्पताल बनाया जाना चाहिए।

में पूरे जोर तरीके से इसका समर्थन करता हूं और जब तक यह सरकारी अस्पताल नहीं बन जाता इसकी आवाज आगे तक उठाता रहूंगा। मौके पर दीपक आजाद ने कहां की ग्रेटर फरीदाबाद के रूप में एक नया फरीदाबाद बसाया जा रहा है लेकिन स्वास्थ्य सुविधाओं की बात करें तो एक भी बड़ा सरकारी अस्पताल ग्रेटर फरीदाबाद में नहीं है जबकि सेक्टर 16 सनफ्लैग अस्पताल ग्रेटर फरीदाबाद वासियों के लिए बिल्कुल उपयुक्त और नजदीक है इसलिए सरकार को सनफ्लैग अस्पताल को निजी हाथों में ना देकर सरकारी अस्पताल बनाना चाहिए इस मौके पर दीपक आजाद, अभिषेक गोस्वामी, मनवीर भढ़ाना, भगत सिंह, जसवंत पवार मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here