कोरोना से बढ़ने लगा ट्रेनों पर दबाव भारी संख्या में लोग कर रहे है पलायन

0
18

14 अप्रैल, फरीदाबाद । कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ शहरों से अपने गांव की तरफ लौटने वाले यात्रियों की भीड़ से रेलवे पर काफी दबाव बढ़ने लगा है। हालांकि रेलवे ने पहले से ही गर्मियों के मौसम के मद्देनजर बहुत बड़ी संख्या में ट्रेनों को चलाने की तैयारी कर रखी है। रेलवे एक ही दिन बड़ी संख्या में लोगों के स्टेशन आने पर भी नजर रखे हुए हैं। उसने अभी साफ कर दिया है कि अगर राज्य सरकारें चाहें तो वह विशेष श्रमिक ट्रेनें भी चलाने को तैयार है।

पिछले एक हफ्ते से दिल्ली, मुंबई और गुजरात के विभिन्न शहरों से उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, राजस्थान की तरफ जाने वाले यात्रियों की संख्या तेजी से बढ़ी है। जिस तरह से विभिन्न राज्यों में आंशिक या कुछ दिनों के लिए अलग क्षेत्रों में लॉकडाउन लगाए जा रहे हैं, उससे घबराए मजदूर अपने घरों की तरफ लौट रहे हैं।

सबसे ज्यादा दबाव मुंबई के स्टेशनों पर देखने को मिल रहा है, हालांकि पश्चिम रेलवे और मध्य रेलवे ने पहले से ही काफी तैयारी कर रखी है। लेकिन एक ही दिन अचानक भीड़ से उनको भी दिक्कतें आ रही हैं। वेट लिस्ट बढ़ने पर अतिरिक्त ट्रेनों को चलाने की तैयारी भी है, लेकिन अनारक्षित यात्रियों के पहुंचने से भीड़ बढ़ रही है।

ऐसे में रेलवे राज्य सरकारों के साथ समन्वय बनाए हुए है और उसकी कोशिश है कि एक समय में स्टेशन पर ज्यादा भीड़ न हो। रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अगर राज्य सरकारें चाहेंगी तो रेलवे पिछली साल की तरह श्रमिक विशेष ट्रेनें चलाने को भी तैयार है। हालांकि अभी वैसी स्थिति नहीं है। इस बीच रेलवे ने पिछले साल तैयार किए अपने विशेष आइसोलेशन कोच को भी तैयार कर रखा है ताकि अगर राज्य सरकार मांग करती हैं तो विभिन्न स्टेशनों पर उनको भी उपलब्ध कराया जा सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here