29.1 C
Delhi
Tuesday, September 28, 2021

Latest Posts

कोरोना संकट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक

23 अप्रैल – फरीदाबाद | देश में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की है। बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऑक्सीजन की किल्लत का जिक्र किया और कहा, ‘इस वक्त दिल्ली में ऑक्सीजन का बहुत बड़ा संकट चल रहा है। केंद्र सरकार का दिल्ली का ऑक्सीजन का कोटा बढ़ाने के लिए मैं प्रधानमंत्री जी आपका धन्यवाद करता हूं, इस बढ़े हुए कोटे को दिल्ली तक पहुंचाने में हमारी मदद करें।’ उन्होंने कहा, ‘यदि ऑक्सीजन निर्माता कंपनियां नहीं हुई तो क्या दिल्ली की जनता को ऑक्सीजन नहीं मिलेगा? कृपया सुझााव दें कि दिल्ली के लिए भेजे गए ऑक्सीजन टैंकर को दूसरे राज्य में रोके जाने पर मुुझे किससे बात करनी चाहिए।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा की। प्रधानमंत्री मोदी के साथ बैठक में दस राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हुए। ये राज्य हैं- महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, गुजरात, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, केरल। देश में घातक कोरोना वायरस संक्रमण के कारण जानलेवा खतरे के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार बैठक कर रहे हैं। देश के अधिकांश राज्यों में महामारी का जानलेवा खतरा बना हुआ है। यहां तक कि ऑक्सीजन, दवाओं व अस्पतालों में बेड की कमी हो गई है। लोगों की जान पर्याप्त और उचित चिकित्सा व्यवस्था न होने के कारण भी जा रही है। इस किल्लत को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने भी संज्ञान लिया है और केंद्र को नोटिस जारी कर जवाब की मांग की है।

मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के बाद अब वे दोपहर 12.30 बजे ऑक्सीजन बनाने वाली कंपनियों के साथ बैठक करेंगे। बताया जा रहा है कि पीएम मोदी बैठक के बाद देश में तेजी से फैल रही कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर को लेकर अहम फैसला ले सकते हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, सुबह 8 बजे तक दर्ज किए गए आंकड़ों में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 3,32,730 नए मामले आए और 2,263 नई मौतें हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, देश में कोरोना वायरस के 59.12 फीसद सक्रिय मामले पांच राज्यों महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक और केरल से हैं।

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.