अब देश भर में फैलेगा किसान आंदोलन, 40 नेता करेंगे पूरे भारत का दौरा

0
1

15 फरवरी, फरीदाबाद । भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत ने रविवार को कहा कि केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन की अगुवाई कर रहे 40 नेता समर्थन के लिए देश भर में दौरा करेंगे। करनाल के इंद्री में किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए टिकैत ने बोला कि किसान संगठन केंद्र सरकार को तब तक चैन से नहीं बैठने देंगा, जब तक किसानों की मांग पूरी नहीं हो जाती।
उन्होंने बोला, “ट्रैक्टर परेड के लिए इस बार ट्रैक्टरो की सख्यां का लक्ष्य 40 लाख होंगा। हम सभी 40 नेता समर्थन हासिल करने के लिए पूरे देश का दौरा करेंगे। हर कोई आंदोलन के लिए एकजुट है। अब, किसान देश का भविष्य तय करेंगे।”
उन्होंने बोला, “जब तक सरकार हमारी मांगों को पूरा नहीं करती है और हमसे बात नहीं करती है, तब तक हम केंद्र को शांति से नहीं बैठने देंगे। यदि न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर कानून बनाया जाता है, तो पूरे देश को लाभ होगा। सभी तीन कृषि कानूनों को वापस ले लिया जाए। किसान संघ द्वारा जो भी निर्णय लिए जाएं, वे सभी को स्वीकार्य होंगे हैं।”
भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता ने बोला कि ‘पंच’ और ‘मंच’ वही रहेंगे। उन्होंने बोला कि, “हमारे दिमाग को खराब मत करो। किसान और जवान दोनों ने कहा है कि बिल वापस लो, हमने अभी तक ‘गड्डी’ वापस करने का नारा नहीं उठाया है, इसलिए बेहतर है कि आप हमारा काम करते रहो।” टिकैत ने यह भी आरोप लगाया कि कृषि कानून सार्वजनिक वितरण प्रणाली को समाप्त कर देंगे।
इस अवसर पर टिकैत के अलावा किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल, दर्शन पाल और हरियाणा बीकेयू प्रमुख गुरनाम सिंह चारुणी भी उपस्थित थे।
आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने 12 से 18 महीनों के लिए कृषि कानूनों को रोककर रखने की पेशकश की है। किसानों के यूनियनों द्वारा कानूनों के खिलाफ विरोध करने वाले प्रस्ताव को खारिज कर दिया गया है। तीन नए कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर किसानों के साथ कई दौर की बातचीत हो चुकी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here