स्वास्थ्य विभाग ने किया दिल्ली रानी बाग में अवैध लिंक व गर्भपात जाँच का भंडाफोड़

0
6

1 फरवरी – फरीदाबाद । स्वास्थ्य विभाग की टीम ने भ्रूण लिंग जांच व अवैध गर्भपात का भंडाफोड़ किया और उसमे 3 लोग पकड़े गए और उनके खिलाफ FIR कराई गयी I सिविल सर्जन डॉ ब्रह्मदीप के आदेश अनुसार तुरंत प्रभाव से एक टीम का गठन किया गया I उस टीम में डॉ. प्रवीण कुमार SMO, डॉ. प्रियंका LMO, किशन गर्ग और उनके साथ पलवल स्वास्थ्य विभाग के लीगल एडवाइजर, मेल कॉन्स्टेबल और एक फीमेल कांस्टेबल व एएसआई भी मौजूद रहे I टीम सुबह 6:00 बजे तुरंत प्रभाव से पलवल से निकल पड़ी और सिन्हा इमागिनिंग सेन्टर के आस-पास पहुँच गयी I decoy ने टीम को बताया कि पिंकी और राधा मीडिएटर ने उसका अल्ट्रासाउंड कराने के लिए 60,000 में तय किया I जिसमे से 5,000 रुपए पहले ही पिंकी ने अपने अकाउंट में ट्रान्सफर करा लिए I उसके बाद तय तिथि के अनुसार वो दोनों उसे ऑटो में बिठा कर सिन्हा इमागिनिंग सेन्टर ले गयी और रस्ते में उसे 55,000 रुपए ले लिए I इस दौरान पलवल स्वास्थ्य विभाग की टीम उनका चुप-चाप पीछा करती रही I उसके बाद उन्होंने सिन्हा इमागिनिंग सेन्टर पर उसका अल्ट्रासाउंड कराया और ऑटो में वापस बिठाकर बताया की उसके गर्भ में लड़की पल रही है I उसके बाद वे उसे कथिक डॉक्टर सुदेश के पास ले जाने लगे तुरंत ही पलवल स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पीर गाड़ी चौक के पास ही धर दबोचा I और मौके पर ही उनसे 54500 रुपए बरामद कर लिए I टीम उनको लेकर अल्ट्रासाउंड सेंटर रेलवे रोड सिन्हा इमागिनिंग सेन्टर , पितम पूरा दिल्ली, लेकर वापस पहुँची व वहां पर डिस्ट्रिक्ट दिल्ली ऑथोरिटी PNDT को बुलाया और साथ में दिल्ली के कार्यकारी मजिस्ट्रेट के साथ मिलकर कार्यवाही की व तीनो औरतों (सुदेश,पिंकी,राधा) के खिलाफ FIR दर्ज करा दी I और उन्हें पुलिस कस्टडी में देकर अल्ट्रासाउंड सेंटर को सील कर दिया I ज्ञात हुआ कि यह अल्ट्रासाउंड सेंटर डॉक्टर सत्यजीत (MD रेडियोलोजिस्ट) चालते है I सिविल सर्जन ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग पलवल कन्या भ्रूण हत्या व लिंग जांच का सख्ती से विरोध करता है व सिविल सर्जन ने कहा बेटी बचाओ, बेटी पढाओ पर जोर देते हुए कहा कि भविष्य में कोई ऐसा कार्य करता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी और उसे बख्शा नहीं जाएगा I

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here