बल्लभगढ़ के शहरी क्षेत्र में आज मनाया गया बालिका दिवस, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत चलाई गई नई स्कीम

0
4

12 फरवरी, फरीदाबाद। महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम डब्ल्यू सीडीपीओ अनीता शर्मा ने बताया कि आंगनबाड़ी वर्करों को अपने आसपास के एरिया में होने वाले लिंग जांच व कन्या भ्रूण हत्या की जानकारी देने पर सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार तीस हजार रुपये की धनराशि इनाम स्वरूप प्रदान की जाएगी और यह जानकारी गुप्त रखी जाएगी। उन्होंने बताया कि यदि कोई लाभार्थी किसी समय गलत तथ्यों के आधार पर आपकी बेटी, हमारी बेटी स्कीम का पंजीकरण करवा लेते है या लाभ प्राप्त कर लेते है, तो धोखाधड़ी की पुष्टि हो जाने पर उसकी सदस्यता रद्द करके सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार उचित कानून कार्यवाही भी की जाएगी।
उन्होंने बताया कि महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा उपायुक्त यशपाल के दिशा निर्देश अनुसार और उपमंडल में एसडीएम अपराजिता के मार्गदर्शन में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान जोर-शोर से चलाया जा रहा है।
अनीता शर्मा ने बताया कि बेटियों के जन्मोत्सव कार्यक्रम में महिलाओं को आपकी बेटी हमारी बेटी सकीम के बारे में भी जागरूक किया जा रहा है। इसके अलावा महिलाओं को कन्या भ्रूण हत्या रोकने, बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने, बेटा बेटी में भेद को रोकने और बेटियों को बचाना व सुरक्षा प्रदान करने के बारे में जागरूक किया जा रहा है।
पोषण अभियान के तहत भी महिलाओं को अच्छे पोषण व पोषण के 5 सूत्रों सहित किशोरियों की स्वच्छता एवं महामारी के दौरान खानपान संबंधी जानकारी विस्तार पूर्वक दी जा रही है। सूपरवाइजर पूनम, सुनीता रावत, शीला देवी की सयुंक्त अध्यक्षता में बल्लभगढ़ के शहरी क्षेत्र 36 गज एरिया में आज बालिका दिवस मनाया गया। बालिका दिवस कार्यक्रम में बेटियों के जन्मदिन पर माताओं को सम्मानित किया गया और उन्हें सरकार की तरफ से बेटी के जन्म पर बधाई भी दी गई।
इसी कड़ी में आंगनबाड़ी सुपरवाइजर द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में जाकर महिलाओं को बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान के बारे जागरूक किया जा रहा है।
महिला एवं बाल विकास विभाग की सूपरवाइजर पूनम ने बताया कि सरकार द्वारा जारी हिदायतो के अनुसार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत आपकी बेटी हमारी बेटी स्कीम चलाई गई है। इस स्कीम के तहत अनुसूचित जाति और बीपीएल परिवार की पहली बेटी पैदा होने पर तथा दूसरी व तीसरी बेटी पैदा होने पर सभी वर्गो की जातियों के परिवारों की बेटियों को इस स्कीम में शामिल किया गया है।
उन्होंने बताया कि इस स्कीम के अनुसार सरकार द्वारा आपकी बेटी हमारी बेटी योजना के तहत बालिका के जन्म पर 21 हजार रुपये की धनराशि की एकमुश्त किस्त एलआईसी में बीमा पॉलिसी के लिए जमा करवाई जाती है। यह 21 हजार रुपये की धनराशि महिला एवं बाल विकास विभाग की तरफ से एलआईसी को जमा करवाई जाती है। यह एलआईसी पॉलिसी बालिका के 1 वर्ष की आयु होने तक करवाई जानी सुनिश्चित की है।
उन्होंने आगे बताया कि एलआईसी पॉलिसी के लिए लाभार्थी बालिका के माता-पिता द्वारा जन्म प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र आधार कार्ड सहित अन्य जरूरी कागजात महिला एवं बाल विकास विभाग के कार्यालय में आंगनवाड़ी वर्कर के माध्यम से भिजवाए जाये यह सुनिश्चित किया जाता हैं। उन्होंने बताया कि 18 वर्ष की आयु के उपरांत यह एलआईसी बीमा पॉलिसी मैच्योर होने के बाद लाभार्थी बालिका को मिलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here