मानव रचना शिक्षण संस्थान में केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने खो खो प्रशिक्षण शिविर का किया शुभारंभ

0
3

19 जनवरी – फरीदाबाद | हमेशा से ही मानव रचना शिक्षण संस्थान में खेल को बढ़ावा दिया जाता है, और यही वजह है कि कई छात्रों ने खेल के मैदान में अपना परचम लहराया है और मानव रचना शिक्षण संस्थान का सिर गर्व से ऊंचा किया है| जिसका उदाहरण आज मानव रचना शिक्षण संस्थान में अल्टीमेट खो- खो प्रशिक्षण शिविर उद्घाटन समारोह में नजर आया, इस मौके पर केंद्रीय खेल मंत्री रिजिजू ने मशाल जलाकर अल्टीमेट खो-खो प्रशिक्षण लीग को हरी झंडी दिखाई। वहीं दूसरी ओर केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने मानव रचना में 25 मीटर और 50 मीटर शूटिंग रेंज का उद्घाटन किया और खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाया। यह शूटिंग रेंज अपने आप में इसलिए भी खास है क्योंकि दिल्ली एनसीआर में इस तरह का पहला शूटिंग रेंज अब मानव रचना शिक्षण संस्थान में देखने को मिलेगा| इस शूटिंग रेंज की खास बात यह है कि यह रेंज इलेक्ट्रॉनिक और मैनुअल दोनों तरह से बनाया गया है, जिसमें 10 लेन हैं।

SIUS SCOR इलेक्ट्रॉनिक टारगेट और 0.22 हथियारों से लैस, यह रेंज सभी के लिए खुला है। खास बात यह है कि इसमें जो शूटिंग के क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं उनके लिए विशेष तौर पर प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है। वहीं अल्टीमेट खो-खो प्रशिक्षण शिविर की बात करें तो इसमें कुल 73 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं जिसको खेल विशेषज्ञों द्वारा ट्रेनिंग दी जा रही है। उद्घाटन समारोह में खो-खो महासंघ के महासचिव सुधांशु मित्तल, मानव रचना शिक्षण संस्था के उपाध्यक्ष अमित भल्ला, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज सुरेश रैना, देश के लिए ओलंपिक में लगातार दो पदक जीतने वाले एकमात्र पहलवान सुशील कुमार, भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी भी उपस्थित रहे। इस दौरान खो-खो प्रदर्शनी मैच का आयोजन किया गया| जिसमे पहली टीम केंद्रीय खेल किरण मंत्री रिजिजू का तो वहीं दूसरी टीम पूर्व क्रिकेटर सुरेश रैना के बीच खो-खो मैच का आयोजन किया गया।

इस मौके पर केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि मुझे लगता है कि खेल विज्ञान ही खेलो का भविष्य है और उसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अहम योगदान रहा है| जिस समय रेडियो के माध्यम से खेलो को सुनता था उस समय बहुत ही गर्व होता था कि हमारे देश के खिलाड़ी व देश के लिए मैदान लेकर आ रहे हैं और जब मुझे खेल मंत्री बनाया गया तो मैंने भी जी-जान से खेल को आगे बढ़ाने के लिए हमेशा प्रयास किया और बात की जाए खो-खो की तो यह हमारे देश का खेल है और इसे आगे ले जाना हम सब का कर्तव्य है और आने वाले समय में भी खो-खो खेल के लिए हमारे पास बजट की व्यवस्था है| धन्यवाद देता हूं मानवता शिक्षण संस्थान का जो इस तरह से और इतने बड़े स्तर पर वैज्ञानिक तरीकों से अल्टीमेट खो-खो लीग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जा रहा है और मुझे पूरा विश्वास है कि, इसमें से कई खिलाड़ी निखर कर सामने आएंगे और देश विदेशों में अपना डंका बजाएंगे और देश का नाम विदेशों में गर्व से ऊंचा करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here