पीएम मोदी ने आठ ट्रेनों को दिखाई हरी झंडी, भारतीय रेल और सरदार पटेल के विजन का हुआ संगम

0
6

17 जनवरी – फरीदाबाद । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गुजरात के केवडिया में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को जोड़ने वाली आठ ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई। इस मौके पर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और रेल मंत्री पीयूष गोयल भी मौजूद रहे। ये ट्रेनें केवड़िया (स्टैच्यू ऑफ यूनिटी) से वाराणसी, दादर, अहमदाबाद, हजरत निजामुद्दीन, रीवा, चेन्नई और प्रतापनगर को जोड़ेंगी। केवड़िया रेलवे स्टेशन नई सुविधाओं से लैस है। यह देश का पहला ग्रीन बिल्डिंग सर्टिफिकेट वाला रेलवे स्टेशन है। आठ शहरों से स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के जुड़ जाने से देश के पर्यटकों को आने में यहां काफी सुविधा हो जाएगी। वहीं राज्य के राजस्व में भी काफी वृद्धि होने की संभावना है।

केवड़िया देता है एक भारत-श्रेष्ठ भारत का मंत्र
आज केवड़िया के लिए निकल रही ट्रेनों में एक ट्रेन पुरैच्ची तलैवर डॉ.एमजी रामचंद्रन सेंट्रल रेलवे स्टेशन से भी आ रही है। ये भी सुखद संयोग है कि, आज भारत रत्न एमजी रामचंद्रन की जयंती भी है।
आज का ये आयोजन सही मायने में भारत को एक करती हैं, भारतीय रेल के विजन और सरदार वल्लभ भाई पटेल के मिशन दोनों को परिभाषित कर रहा है।
केवड़िया जगह भी ऐसी है, जिसकी पहचान एक भारत-श्रेष्ठ भारत का मंत्र देने वाले, देश का एकीकरण करने वाले सरदार पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, सरदार सरोवर बांध से है।

भारतीय रेल और सरदार पटेल के विजन का हुआ संगम
आज का आयोजन सही मायने में भारत को एक करता है। आज भारतीय रेल और सरदार पटेल के विजन का संगम हुआ है। भारत रत्म एमजीआर के आदर्शों को पूरा करने का प्रयास।

पहली बार इतनी ट्रेनों को दिखाई गई हरी झंडी
रेलवे के इतिहास में संभवतः पहली बार ऐसा हो रहा है कि, जब एक साथ देश के अलग अलग कोने से एक ही जगह के लिए इतनी ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई गई हैं। केवड़िया में दिख रही है एक भारत, श्रेष्ठ भारत की तस्वीर।

पीएम मोदी ने आठ ट्रेनों को दिखाई हरी झंडी, कहा- भारतीय रेल और सरदार पटेल के विजन का हुआ संगम
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को जोड़ने वाली आठ ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई। ये ट्रेनें आठ शहरों से स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को जोड़ेंगी। इससे पर्यटकों की संख्या बढ़ेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here