जे.सी. बोस विश्वविद्यालय दे रहा है छात्रों के स्टार्टअप को प्रोत्साहन : कुलपति प्रो. दिनेश कुमार

0
9

28 दिसम्बर – फरीदाबाद | जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय वाईएमसीए फरीदाबाद के कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने ‘स्टार्टअप फॉर न्यू इंडिया’ नामक एक पुस्तक का विमोचन किया, जिसे स्टार्टअप पर शोध कर रहे शोधार्थी मोहन कुमार द्वारा लिखा गया है। कुल 82 पृष्ठों की पुस्तक में प्रौद्योगिकी पर आधारित 10 अभिनव स्टार्टअप के बारे में जानकारी दी गई है जोकि भविष्य के स्टार्टअप बन सकते हैं। स्टार्टअप को लेकर पुस्तक लिखने के लिए मोहन कुमार के प्रयासों की सराहना करते हुए कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने कहा कि स्टार्टअप इंडिया भारत सरकार के प्रमुख कार्यक्रमों में से एक है, जिसका उद्देश्य युवाओं में उद्यमशीलता की भावना पैदा करना और एक पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करना है जोकि युवाओं को उद्यमशील बनने के लिए तैयार करे।

इस मिशन के अंतर्गत जे.सी. बोस विश्वविद्यालय ने विद्यार्थियों की स्टार्टअप को लेकर अभिनव विचारों का समर्थन करने और प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से अपनी स्टार्टअप नीति लागू की है और विश्वविद्यालय में टेक्नोलॉजी बिजनेस इन्क्यूबेशन सेंटर की स्थापना की है। मोहन कुमार जोकि वित्त एवं कराधान में 15 वर्षों से अधिक का कॉर्पोरेट अनुभव रखते है, ने बताया कि यह पुस्तक स्टार्टअप की शुरूआत करने के इच्छुक युवाओं को अपने स्टार्टअप सही दिशा देने तथा इससे संबंधित चुनौतियों से अवगत करवाने में मदद करेगी। उन्होंने कहा कि एक अच्छे इनोवेटिव आइडिया का कोई औचित्य नहीं, यदि इसे संबंधित क्षेत्र के सही व्यक्ति तक न पहुंचे।

मोहन कुमार की यह दूसरी पुस्तक है क्योंकि पहले उन्होंने मार्केटिंग पर एक किताब लिखी है। उनके अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय पत्रिकाओं में कई शोध पत्र भी प्रकाशित हैं। इस अवसर पर प्लेसमेंट एलुमनाई एवं कॉर्पोरेट मामलों डीन प्रो. विक्रम सिंह, इंडिया ग्लाइकोल्स लिमिटेड के महाप्रबंधक संजीव शर्मा, बालाजी कॉलेज ऑफ एजुकेशन के निदेशक जगदीश चैधरी और राकेश त्यागी भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here