जीवा आयुर्वेद के निदेशक डॉ. प्रताप चौहान को मिला भारत के सबसे सम्मानित आयुर्वेदाचार्य का अवॉर्ड

0
2300
न्यूज़ एनसीआर, 09 जनवरी-फरीदाबाद | आयुर्वेदाचार्य, डॉ. प्रताप चौहान और जीवा आयुर्वेद को इलाज और स्वास्थ्य के वैदिक भारतीय विज्ञान को पुनर्जीवित करने और हर घर में आयुर्वेद को ले जाने के लिए लगभग तीन दशकों के काम के लिए कुछ पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है। इंडियन हेल्थकेयर समिट में, जीवा आयुर्वेद को भारत के सबसे सम्मानित आयुर्वेद क्लिनिक और डॉ. प्रताप चौहान को हेल्थकेयर में भारत के सबसे सम्मानित आयुर्वेदाचार्य के रूप में सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर विभिन्न श्रेणियों में भारत के विभिन्न क्षेत्रों के पचास से अधिक हेल्थकेयर ब्रांड और उनके अगुगाओं को उनके उल्लेखनीय काम और नेतृत्व के लिए सम्मानित किया गया। एक अलग कार्यक्रम में, जीवा आयुर्वेद के निदेशक डॉ. प्रताप चौहान को ‘संकल्प से सिद्धि’ पुरस्कार प्रदान किया गया। यह पुरस्कार भारत के पूर्व प्रधान मंत्री, अटल बिहारी वाजपेयी की 94 वीं जयंती पर शुरू किया गया था, ताकि उद्योग और सामाजिक अगुगाओं की असाधारण उपलब्धियों की पहचान कर उनके विचारों और मूल्यों को याद किया जा सके। पुरस्कार प्राप्त करने पर, जीवा आयुर्वेद के निदेषक डॉ. प्रताप चौहान ने कहा – “मैं जीवा के लिए यह सम्मानित पुरस्कार प्राप्त कर खुद को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। हमने 2018 में कई महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल की है। हमने अपने मरीजों के लिए अधिक सटीक, व्यक्तिगत देखभाल के लिए आयुनिकटीएम उपचार प्रोटोकॉल लॉन्च किया है। इससे हमने अपने जीवा हेल्थ ऐप से हर किसी के लिए आयुर्वेदिक उपचार आसान बना दिया है। हम आयुर्वेद के दस्तावेज़ीकरण और इसे हर जगह सुलभ बनाने के लिए अग्रणी अनुसंधान संस्थानों के साथ भी लगातार काम कर रहे हैं। इस तरह के सम्मान हर घर में उच्च गुणवत्ता वाले, प्रामाणिक आयुर्वेद को लाने के हमारे मिशन को मूर्त रूप देते हैं।“
जीवा आयुर्वेद के बारे में जीवा आयुर्वेद का उद्देष्य क्रोनिक और जीवन शैली की बीमारियों के लिए उच्च गुणवत्ता वाले और व्यक्तिगत आयुर्वेदिक उपचार उपलब्ध कराना है। जीवा आयुर्वेद पूरे भारत में अपने तीन चिकित्सा और अनुसंधान केंद्रों और 80 से अधिक क्लीनिकों के माध्यम से प्रतिदिन 8,000 से अधिक रोगियों का इलाज करता है। हरियाणा के फरीदाबाद स्थित जीवा चिकित्सा एवं अनुसंधान केंद्र दुनिया का अपनी तरह का पहला स्वास्थ्य केंद्र है, जिसमें 500 से अधिक आयुर्वेदिक डॉक्टर और सहायक प्रोफेशनल्स भारत के 1,800 शहरों और कस्बों में मरीजों को टेलीफोन पर परामर्श प्रदान करते हैं। कंपनी का अपना एचएसीसीपी और जीएमपी प्रमाणित विनिर्माण इकाई भी है जो दवाओं और उत्पादों में 600 से अधिक क्लासिकल और प्रोपरायटरी फार्मुलेशन तैयार करता है। जीवाग्राम सेंटर फ़ॉर वेलबेइंग फरीदाबाद में एक अद्वितीय आवासीय सुविधा है, जहाँ मेहमान हालिस्टिक हीलिंग ट्रीटमेंट और पंचकर्म, रिफ्लेक्सोलॉजी, संगीत और रंग चिकित्सा जैसे उपचारों से खुद का कायाकल्प कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here