बदमाशों को शहर छोड़ना पड़ेगा नही तो जाएंगे अज्ञात वास में – अमिताभ सिंह ढिल्लों

0
135

न्यूज़ एनसीआर, 20 जनवरी-फरीदाबाद | फरीदाबाद के नए पुलिस कमिश्नर श्री अमिताभ ढिल्लों ने जॉइन करते ही अपनी सही कार्यशैली का दमखम दिखाना शुरू कर दिया है। श्री ढिल्लों इससे पहले हिसार में थे। हालाँकि पिछले दो सालो से शहर में कई बदमाशों के संगठन खड़े हो गये थे जो की अवैध कब्ज़े शराब व भू माफिया का कार्य जोरदार तरीके से इसलिए कर रहे थे क्योंकि इन बदमाशों को राजनीतिक संगरक्षण प्राप्त था हालाँकि मृद भाषी ईमानदार व स्वच्छ छवि के पुलिस कमिश्नर अपना कार्य सही तरीके से कर रहे थे लेकिन शहर के सभी लोग ये जानते थे की राजनीती के दबाव के चलते वह अपना कार्य खुलकर नहीं कर पा रहे थे।

जिससे महिला विरुद्ध अपराध दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे थे लेकिन अब फरीदाबाद के ग्रुप गुंडों को व महिलाओ से अपराध करने वाले बदमाशों को या तो अज्ञात वास में जाना होगा या उन्हें शहर छोड़ना होगा क्योंकि अब शहर में नए पुलिस कमिश्नर अमिताभ सिंह ढिल्लो ने अपराधियों को खुल्ला सन्देश देते हुए अपने कार्यालय में मीडिया से रुबरु होते हुए कहा कि अपराध पर अकुंश लगाना और महिलाओं की सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। उन्होंने आगे कहा कि मैनेें कल ही सभी उपायुक्त व थाना प्रबंधक के साथ मीटिंग करके अपराध से निपटने के लिए विशेष निर्देंश दिए है।

उन्होनें कहा कि अपराधों से जैसे स्नैचिंग, लुट, मर्डर व रेप इत्यादि से निपटने के लिए थाना प्रंबधक व सभी क्राईम ब्रांचों को विशेष निर्देंश दिए गए है कि असामाजिक तत्वों को बख्शा नहीें जाए। संडक, मार्किट व नाकों इत्यादि पर पुलिस की अधिक से अधिक उपस्थिति की जाऐगी। जिससे की आम जनता का पुलिस पर विश्वास बढें और अपराधियों में पुलिस का भय हो।

उन्होनें कहा कि महिलाओं के विरुद्व होने वाले अपराध से निपटने के लिए स्कूल, कालेज व कम्पनियां जिन में विशेषकर महिलांए कार्यरत हैं के आसपास पीसीआर तैनात कर गस्त बढाई जाऐगी। आप्रेशन दुर्गा अभियान के तहत महिलाओं के विरुद्व होने वाले अपराध के प्रति जागरुक कर आत्म रक्षा व अपराध की सुचना पुिलस को देने के लिए प्रेरित किया जाऐगा। 1091 व वहटसप न0 9999150000 पर प्राप्त महिलाओं की शिकायतों को प्राथमिकता दी जाऐगी।

संगठित अपराध जैसे अवैध कब्जे, खनना माफिया इत्यादि में संबंधित विभाग के साथ मिलकर उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाऐगी।

उन्होनें कहा कि ज्यादातर अपराध शाम के समय मदिरा का सेवन के बाद ही घटित होते हैं। इसी को देखते हुए सभी थाना प्रबंधक व क्राईम ब्रांच निर्देंश दिए गए है कि शराब के ठेकों के आसपास खुले में हर जगह सरेआम या गाडी में शराब पीने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए। साथ ही शराब के ठेकों के पास अण्डे, मीट की रेहडियां इत्यादि को हटाने के निर्देंश दिए गए है। नाके, बैरीयर की सख्ंया बढाकर चैकिंग कर अपराधिक तत्वों पर सख्त निगरानी की जाऐगी। दिन व रात्रि गस्त बढाई जाऐगी। अपराधियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाऐगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here