आरडब्ल्यूए सैक्टर-18 द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर में 40 से अधिक लोगों ने किया रक्तदान

0
8

19 जुलाई-फरीदाबाद |  रक्तदान मानवता की सेवा के लिए सबसे बड़ा दान है। आपके रक्तदान की एक बूंद गंभीर रूप से घायल व्यक्ति की जान बचा सकती है। इसलिए हमें साल में दो बार रक्तदान करना चाहिए। यह बात जिला रैडक्रास सोसायटी के सहसचिव पुरूषोत्तम सैनी ने जिला रैडक्रास सोसायटी, डिवाइल चेरिटेबल ब्लड बैंक (महिला समाजसेवी संस्था) व रैजिडेंटस वेल्फेयर एसोसिएशन सैक्टर-18 द्वारा आयोजित विशाल रक्तदान शिविर में रक्तदाताओं को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि स्वस्थ व्यक्ति समय-समय पर रक्तदान करता है तो वह अपने आपको जीवन भर चुस्त और दुरूस्त रख सकता है। उन्होंने कहा कि व्यक्ति के शरीर में एक सीमित दायरे में रक्त का निर्माण होता है और वह स्वत: ही नष्ट होता रहता है। रक्त नष्ट हो उससे पहले यदि उसका दान कर दिया जाए तो किसी भी घायल की जिंदगी बचाई जा सकती है।

संस्था के संरक्षक सूरजमल ने कहा कि ऐसे रक्तदान शिविरों से युवाओं में प्रोत्साहन की प्रवृति को बल मिलता है। समाज में अधिक से अधिक लोगों को रक्तदान के प्रति जागरूक करने की आवश्यकता है। आपका दिया हुआ रक्त किसी के लिए बहुमुल्य साबित हो सकता है। शिविर में 40 से अधिक यूनिट रक्त एकत्रित किया गया। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि ऐसे सकारात्मक कार्यों में आगे आकर परोपकारी हितों में हिस्सा लें जिससे समाज को सुदृढ़ होने का बल मिल सके। उन्होंने आरडब्ल्यूए के सदस्यों का धन्यवाद करते हुए कहा कि ऐसे शिविरों के आयोजन साल में दो तीन बार किए जाने चाहिए इससे युवाओं में स्फूर्ति और त्याग की भावना बढ़ेगी।

जिला रैडक्रास सोसायटी के का-ओर्डीनेटर मनोज बंसल ने कहा कि रक्तदान के लिए युवाओं की दिलचस्पी बढ़ी है और वे अब आगे आकर रक्त देने में हिचकिचाहट महसूस नहीं करते। उन्होंने कहा कि युवा पुरूषों के अलावा महिलाएं भी अब रक्तदान के लिए किसी से पीछे नहीं है उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के चलते जहां अस्पतालों में ब्लड की कमी होने लगी थी तब जिला रैडक्रास ने विशेष अभियान चलाकर रक्तदान को प्रोत्साहित किया और लॉकडाउन के दौरान बीस से अधिक रक्तदान शिविर लगाकर जरूरतमंदों तक रक्त को पहुंचाने का कार्य किया।

संस्था के अध्यक्ष रजत चौधरी ने अतिथियों का स्वागत करते हुए और रक्तदाताओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि सामाजिक संस्था का एक ही संकल्प होना चाहिए समाज की सेवा और इस सेवा के लिए सैक्टर-18 की आरडब्ल्यूए कृतसंकल्पित है। उन्होंने अपनी संस्था के सभी सदस्यों का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि संस्था अब रक्तदान शिविरों के साथ-साथ स्वास्थ्य जांच शिविर, योग शिविर जैसे शिविरों पर भी ध्यान देगी जिससे लोगों को फायदा मिल सके।

कार्यक्रम में डिवाइन ब्लड बैंक के चेयरमैन दृश्तम गोयल ने भी अपने विचार रखे। शिविर को सफल बनाने में आरडब्ल्यूए के उपाध्यक्ष महावीर विश्नोई, उपाध्यक्ष शिव गुप्ता, तेजेंद्र सिंह, विशाल, केशव, राहुल चौधरी, रवि चौधरी, पुनीत, प्रिंस पहल, निपुण शर्मा, नितिन ठाकुर, विजय सैनी का विशेष योगदान रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here