मारवाड़ी युवा मंच बल्लभगढ़ शाखा के द्वारा थैलेसीमिया बच्चों के लिए लगाया रक्तदान शिविर

0
16

21 जून-फरीदाबाद | फरीदाबाद सेक्टर 7 पिपलेश्वर शिव मंदिर में मारवाड़ी युवा मंच बल्लभगढ़ शाखा के द्वारा थैलेसीमिया के बच्चों के लिए 31 कोरोना योद्धा ने रक्तदान शिविर में रक्तदान किया ।

प्रदेश उपाध्यक्ष विमल खण्डेलवाल ने बताया कि मारवाड़ी युवा मंच बल्लभगढ़ शाखा के द्वारा कोविड-19 के अंदर मानवता के बहुत ही सुंदर कार्य किए जा रहे हैं, सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण कार्य लोगों का जीवन बचाना है, जिसके लिए बल्लभगढ़ शाखा निरंतर रक्तदान शिविर का आयोजन कर रही है, यह बहुत ही सुंदर कार्य है मैं अध्यक्ष एवं पूरी टीम को बहुत-बहुत बधाई एवं साधुवाद के पात्र हैं। रक्तदान महादान होता है, इसे करने से हमारे शरीर में किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं होती है बल्कि पुराना रक्त हमारे शरीर से बाहर निकल जाता है। नया रक्त हमारे शरीर में नई ऊर्जा प्रदान करता है।
डिवाइन चैरिटेबल ब्लड प्रेसिडेंट दर्शितम गोयल बताया कि जबसे कोविड-19 लगा है, उनके द्वारा रक्तदान शिविर का निरंतर लगाए जा रहे हैं, जैसा आप सभी को विदित है कि कोरोना वैश्विक महामारी के चलते सभी ब्लड बैंकों में रक्त का भाव है, रक्त की पूर्ति के लिए यह उनका आठवां रक्तदान शिविर है, यह कार्य निरंतर चलता रहेगा। हम अपना मानव धर्म निभाते हुए लोगों से भी अपील करते हैं कि सुरक्षा में ही सावधानी हैं सावधानी का ध्यान रखते हुए आओ हम सब मिलकर रक्तदान करें। रक्तदान से लोगों का जीवन बचाएं यही मानव धर्म है।
मारवाड़ी युवा मंच बल्लभगढ़ शाखा के अध्यक्ष रवि भाटी ने लोगों को बताया कि अभी तक की कोविड-19 के दौरान विभिन्न कार्यों में महत्वपूर्ण कार्य हमारा रक्तदान शिविर है जिसको हम निरंतर कर रहे हैं। आगे भी करते रहेंगे मैं अपनी पूरी टीम का बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूं जिनकी बदौलत यह सभी कार्य परिपूर्ण हो रहे हैं।
सचिव अमित बंसल ने आए हुए सभी अतिथियों का विशेष आभार प्रकट किया कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सभी कोरोना योद्धाओं का भी सम्मान किया।
आज के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए विशेष रूप से प्रदेश उपाध्यक्ष विमल खंडेलवाल, शाखा अध्यक्ष रवि भाटी, सचिव अमित बंसल, कोशाध्यक्ष विशेष केजरीवाल, उपाध्यक्ष विपिन शर्मा, महेश खंडेलवाल, मुकेश शर्मा, मधुसुदन, प्राची चांडक रोड सेफ्टी ओर्गेनिस के देवेंद्र सिंह, मनीष शर्मा, सौरव बिंदल उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here