आतंकवाद विरोध दिवस पर जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री ने दिलाई शपथ

0
9

21 मई- नूंह।  जिला उपायुक्त पंकज आई ए एस के आदेशानुसार जिला बाल कल्याण अधिकारी कमलेश शास्त्री ने आतंकवाद विरोधी दिवस पर शपथ दिलाते हुए कहा कि आज के समय में दुनिया जिन समस्याओं का सामना कर रही है, उनमें सबसे बड़ी और अहम समस्या आतंकवाद है। आतंकवाद के कारण हजारों लोगों को दुनिया में अपनी जान गंवानी पड़ी है और भारत समेत कई देशों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

आतंकवाद जैसी समस्या से निपटने के लिए भारत ने 21 मई का दिन ही इसको समर्पित कर दिया है। हर साल 21 मई को पूरे देश में आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया जाता है। इसका मकसद लोगों को आतंकवाद के समाज विरोधी कृत्य से लोगों को अवगत कराना है। आतंकवाद की वजह से लोगों को जानमाल का कितना नुकसान उठाना पड़ता है, उससे भी लोगों को अवगत कराया जाता है। उन्होंने कहा कि आतंकवाद को हराने के लिए सभी लोगों को धर्म और जाति में उलझने की बजाय एकजुटता से आतंकवाद फैलाने वाले लोगों का विरोध करना होगा।

पूरे विश्व के देशों को एक मंच पर आकर आतंकवाद रोकने वाले देशों और आतंकवादियों को सबक सिखाना होगा तभी आतंकवाद पर लगाम लगाई जा सकेगी। वह ऑनलाइन कई लोगों से आतंकवाद विरोधी दिवस के बारे में विचार विमर्श किया और अधिक से अधिक जागरूकता फैलाने का संकल्प लिया ।उन्होंने कहा कि इस समस्या से निपटने के लिए मानवता के दुश्मनों को आड़े हाथों लेना होगा और उसके साथ साथ कूटनीतिक तौर पर भी आतंकवाद पर उसने वाले देशों से निपटना होगा। इस अवसर पर बाल कल्याण परिषद के लेखा लिपिक जवाहर सिंह, कार्यक्रम सुपरवाइजर लोकेश कुमार, मुकेश कुमार इत्यादि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here