COVID-19 : स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर स्वास्थ्य सम्बंधी डाटा एकत्रित करेगी

0
33

07 अप्रैल-फरीदाबाद | मंडल आयुक्त संजय जून ने कहा कि कोरोना वायरस कोविड-19 के संभावित संक्रमण से बचने के लिए जिला प्रशासन हर जरूरी कदम उठा रहा है। अब स्वास्थ्य विभाग की टीमें प्रत्येक घर को कवर करेंगी तथा परिवार के सभी सदस्यों की खांसी, जुकाम व बुखार से संबंधित डिटेल कलैक्ट करेंगी। ये टीमें प्रत्येक घर में जाकर उसके परिवार के सदस्यों की फोरन ट्रैवल हिस्ट्री व उनके संपर्क में रहने वाले लोगों का भी डाटा कलैक्ट करेंगे।

मंडलायुक्त संजय जून मंगलवार को लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में जिला प्रशासन, एमसीएफ व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कोरोना से बचाव के संबंध में किए जा रहे कार्यों के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद के सभी हाउसहोल्ड स्वास्थ्य विभाग की टीमों का सहयोग करें तथा उन्हें पूर्ण व सही जानकारी उपलब्ध करवाएं।

जिला प्रशासन के पास जब सभी लोगों का डाटा इक्ट्ठा हो जाएगा तो उन्हें आगे जरूरी कार्यवाही करने में आसानी हो होगी। ये टीमें मरीजों का फाओअप भी लेंगी तथा उन्हें जरूरी चिकित्सीय सलाह भी देंगी। इसी प्रकार जिला में सभी सरकारी व निजी एंबुलेंस गाड़ियों का डाटा तैयार कर लें, ताकि आवश्यकता पड़ने पर उनका उपयोग किया जा सके। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के पाॅजिटिव मामलोें को सौ फीसदी आईसोलेशन पर रखा जाए। उन्होंने जिला में उपलब्ध दवा, थर्मल स्कैनर व अन्य चिकित्सा सुविधाओं की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सभी नागरिक लाॅक डाउन के नियमों की पालना करें और अपने घरों में ही बने रहें।

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि जिला में प्रत्येक हाउसहोल्ड को कवर करने के लिए 2 हजार 313 टीमें फील्ड में कार्य करेंगी। इसके अलावा करीब 187 मोबाइल टीमें भी अलग से कार्य करेंगी, जो झुग्गियों, ईंट-भट्ठों व निर्माण स्थलों पर रहने वाले परिवारों को कवर करेंगी। इस कार्य के लिए करीब छह टीमों के उपर एक सुपरवाइजर होगा। इस कार्य को जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह सर्वे का कार्य एएनएम, आशा वर्कर व आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा किया जाएगा। इसके अलावा अगर अन्य स्टाफ की आवश्यकता पड़ेगी तो जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग को मेन पावर उपलब्ध कराएगा।

उन्होंने बताया कि लोगों के स्वास्थ्य व सुरक्षा के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए गए हैं तथा इसके लिए अलग से हैल्थ कंट्रोल रूम बनाया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में सरपंच, पंच, नंबरदार, मेंबर और चैकीदार आदि इस कार्य में सहयोग करेंगे। इस अवसर पर एमसीएफ कमिश्नर डा. यश गर्ग, एचएसवीपी प्रशासक प्रदीप दहिया, अतिरिक्त उपायुक्त रामकुमार सिंह, एमसीएफ के ज्वाइंट कमिश्नर धर्मेन्द्र सिंह, सतबीर मान, एसडीएम अमित कुमार, एसडीएम त्रिलोक चंद, एसडीएम पंकज सेतिया सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here