गांव महावतपुर में ‘राष्ट्रीय होरी महोत्सव’ का आयोजन किया गया

0
11
07 मार्च-फरीदाबाद | फरीदाबाद जिले के गांव महावतपुर में यमुना वल्लभ मंदिर के प्रांगण में राष्ट्रीय होरी महोत्सव का आयोजन किया गया। इस आयोजन में लगभग एक दर्जन सांस्कृतिक दलों ने हिस्सा लिया। जिसमें ब्रज लोक कला बंचारी के डॉ. राजकुमार तेवतिया, गांव मंडकोला पलवल से लालूराम डागर का धतीर से डॉ. कृष्ण कुमार व उनकी टीम ने दर्शकों को लोकगीत और ढोल की थाप पर खूब मनोरंजन कराया।
टीम की खासियत यह रही कि सभी दल एक ही परिवार के थे जिसमें चार पीढियां सम्मिलित थी। मीरापुर का सांस्कृतिक दल जोकि बहुत विख्यात दल है गांव ऑटोहा से बलराम डागर, गांव खेड़ी से जगदीश का गांव नचोली से योगेश नागर, गांव जसाना से राजेंद्र नागर, गांव महावतपुर से बिजली, सुदर्शन, शत्रुघन नागर, भगराज शर्मा व अन्य सांस्कृतिक दलों ने इस आयोजन में हिस्सा लिया।
आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में हरियाणा कला परिषद निदेशक महेश जोशी उपस्थित रहे। कार्यक्रम में समस्त ग्राम वासियों ने अपना पूर्ण योगदान दिया। डॉ कृष्ण कुमार दतिया वाले उन्होंने जहां रानी झांसी की रानी का इतिहास हमारी विशेष शैली चौकी में सुनाया जिसे जिगरी भी कहा जाता है। वहीं गांव मंडकोला से लल्लूराम डागर व उनके बच्चों के दलों ने सुंदर-सुंदर ब्रज के रसिया सुना कर खूब वाह-वाही लूटी। ऑटोहा से बलराम डागर की टीम ने लाखन डाकू के भात का किस्सा सुनाया और मीरापुर की टीम ने पीएम मोदी के द्वारा हटाई गई 370 धारा व 35a पर और राम मंदिर के निर्णय को लेकर रसिया सुनाया।
वहीं डॉ. राजकुमार तेवतिया ने नशे पर कटाक्ष करते हुए अपनी प्रस्तुति दी मंच संचालक की भूमिका में बृज नट मंडली के संस्थापक बृज मोहन भारद्वाज रहे।
इस मौके पर गांव के सरपंच भान सिंह चौहान, पंडित गिरिराज शर्मा, पंडित दयाचंद महाशय, निर्मल, मांगेराम चौहान, कैप्टन ईश्वर, सुखबीर चौहान, सुखपाल चौहान, राजवीर चौहान पूर्व सरपंच आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here