हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी डा. साधना ठाकुर ने किया सूरजकुंड मेला का दौरा

0
10

05 फरवरी- फरीदाबाद। सूरजकुंड मेला पूरे भारत का चित्रण करता है। शिल्पकारों व कलाकारों को यहां अपनी कला का प्रदर्शन करने के लिए एक अच्छा मौका मिलता है। यह बात हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की धर्मपत्नी डा. साधना ठाकुर ने सूरजकुंड मेला में संवाददाताओं से बातचीत में कही।

डा. साधना ठाकुर बुधवार को सूरजकुंड मेला देखने पहुंची थी। उन्होंने मेला परिसर में हिमाचल प्रदेश के सूचना केंद्र का दौरा किया। साथ ही अपना घर में हिमाचल प्रदेश से आए कलाकारों व शिल्पकारों से मुलाकात कर उनका कुशल क्षेम जाना। उन्होंने मेला परिसर में विभिन्न स्टालों का अवलोकन भी किया और मेला के इंतजामों को लेकर प्रशंसा भी जाहिर की। उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश को थीम स्टेट का दर्जा मिला है और यह खुशी की बात है कि हिमाचल की कला-संस्कृति को अंतरराष्ट्रीय स्तर का मंच मिला है। इतने बड़े आयोजन को  लेकर हरियाणा सरकार की व्यवस्था प्रशंसनीय है

उन्होंने मुख्य चौपाल में चल रहें सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आनंद लिया। सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंखला में उज्बेकिस्तान, हरियाणवी तथा हिमाचल प्रदेश के शिमला व मंडी के लोकनृत्यों का प्रदर्शन हुआ। शिमला के नाट्य नृत्य के दौरान कलाकारों के आग्रह पर डा. साधना ठाकुर ने मंच पर पहुंच कर उनका उत्साहवर्धन किया। हरियाणा सरकार व सूरजकुंड मेला प्राधिकरण के अधिकारियों ने डा. ठाकुर का सूरजकुंड पहुंचने पर स्वागत किया। वहीं हरियाणा सरकार में पर्यटन विभाग के महानिदेशक राजीव रंजन, मेला प्राधिकरण की प्रशासक बेलीना सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here