मानव रचना में इंजीनियरिंग के छात्र अब पढ़ सकेंगे साइबर सिक्योरिटी एंड थ्रेट इंटेलिजेंस

0
21

27 दिसंबर-फरीदाबाद | मानव रचना यूनिवर्सिटी और क्विक हील के बीच एमओयू साइन किया गया। नए सत्र 2020 में बीटेक सीएसई में दाखिला लेने वाले छात्र साइबर सिक्योरिटी और थ्रेट इंटेलिजेंस की पढ़ाई कर पाएंगे। हाल ही में आई नैसकॉम की रिपोर्ट के अनुसार, भारत को 2020 तक 1 मिलियन साइबर सुरक्षा पेशेवरों की आवश्यकता होगी। साइबर सुरक्षा और थ्रेट इंटेलिजेंस में B. Tech CSE कार्यक्रम इस अंतर को दूर करने के लिए एक रोजगारपरक कार्यबल तैयार करेगा। पाठ्यक्रम डिजाइन क्विक हील अकादमी से उद्योग के विशेषज्ञों द्वारा वितरित की जाएगी। कार्यक्रम के दौरान विशेषज्ञों द्वारा नियमित टेक-वार्ता, वेबिनार और सेमिनार आयोजित किए जाएंगे। कार्यक्रम को आगे बढ़ाने वाले छात्रों को क्विक हील प्लेसमेंट और इंटर्नशिप सहायता प्रदान करेगा।

क्विक हील के वीपी और ग्लोबल हेड सेल्स कुलदीप रैना ने कहा, यह एमओयू साइबर सुरक्षा के क्षेत्र में उद्योग और शिक्षाविदों के बीच पहला ऐसा इंटरफ़ेस होगा जो क्षमता निर्माण, कौशल विकास और प्रशिक्षण साइबर सुरक्षा पेशेवरों के कुशल कार्यबल बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण है।

मानव रचना यूनिवर्सिटी वीसी डॉ. आईके भट ने कहा, डेटा सिक्योरिटी काउंसिल ऑफ इंडिया ने मई 2019 में बताया कि भारत ने 2016 और 2018 के बीच साइबर हमलों की सबसे अधिक संख्या रही। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस एमओयू से हमारे छात्रों और फैकल्टी मेंबर्स को अधिक अवसर मिलेंगे।

कार्यक्रम में मानव रचना एमडी एवं एमआरआईआईआरएस के वीसी डॉ. संजय श्रीवास्तव, क्विक हील के साइब एजुकेशन निदेशक विशाल कुमार, मानव रचना यूनिवर्सिटी की डीन एकैडमिक्स संगीता बांगा, रजिस्ट्रार कामेश्वर सिंह, एचओडी हनु भारद्वाज समेत कई फैकल्टी मेंबर्स और छात्र मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here