एसडी कॉलेज और सरस्वती महिला कॉलेज में मनाई शहीद भगत सिंह की जयंती

0
19

न्यूज़ एनसीआर, 28 सितम्बर-पलवल | एसएफडी : स्टूडैंट फॉर डवलपमैंट द्वारा सरस्वती महिला महाविधालय ईकाई एवं एसडी कॉलेज ईकाई मे शहीद भगत सिंह की जयंती पर पुष्पाजंली व विचार संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इस अवसर पर कार्यकर्ता भारती रावत ने बताया कि, हंसते-हंसते देश पर अपनी जान न्यौछावर करने वाले शहीद-ए-आजम भगत सिंह का जन्म आज के दिन पंजाब प्रांत के लायपुर जिले के बगा में 28 सितंबर 1907 को हुआ था। देश के सबसे बड़े क्रांतिकारी और अंग्रेजी हुकूमत की जड़ों को अपने साहस से झकझोर देने वाले भगत सिंह ने नौजवानों के दिलों में आजादी का जुनून भरा था। महात्‍मा गांधी ने जब 1922 में चौरी-चौरा कांड के बाद असहयोग आंदोलन को खत्‍म करने की घोषणा की तो भगत सिंह का अहिंसावादी विचारधारा से मोहभंग हो गया। उन्‍होंने 1926 में देश की आजादी के लिए नौजवान भारत सभा की स्‍थापना की। 23 मार्च 1931 की रात भगत सिंह को सुखदेव और राजगुरु के साथ लाहौर षडयंत्र के आरोप में अंग्रेजी सरकार ने फांसी पर लटका दिया। यह माना जाता है कि मृत्युदंड के लिए 24 मार्च की सुबह ही तय थी, मगर जनाक्रोश से डरी सरकार ने 23-24 मार्च की मध्यरात्रि ही फांसी पर लटका दिया था।

इस अवसर पर रोहित, संदीप, जया, करिश्मा, दीपिका, सोनिया, आरती, वैशाखी, कोमल, पूजा, दिव्या, सोनू, नवीन, रितिक, मोहित, लोकेश, कोमल, शीतल, नेहा, पायल, आचंल प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here