लंदन में अंतर्राष्‍ट्रीय गीता जयंती महोत्‍सव में गूंजा शंखनाद

0
18

न्यूज़ एनसीआर, 11 अगस्त-फरीदाबाद | अंतर्राष्‍ट्रीय गीता जयंती महोत्‍सव की पूरे लंदन में गूंज सुनाई दे रही है, महोत्सव लंदन में मनाया जा रहा है लेकिन शंखनाद दुनियाभर में गूंज रही है। दुनिया के सबसे पुराने पार्लियामेंट में से एक हाउस ऑफ लॉर्ड्स और हाउस ऑफ कॉमन्स में भव्य कार्यक्रम के साथ पवित्र और सर्वमान्य ग्रंथ श्रीमद्भागवद गीता की स्थापना की गई, इस अवसर पर पूरा लंदन शहर भगवत गीता के श्‍लोकों की पवित्र ध्वनि और शंखनाद से गूंज उठा।

लंदन जिसकी पहचान आधुनिक शहरों में होती है, पाश्चात्य संगीत यहां के लोगों के कानों में रचा बसा है. लेकिन 10 अगस्त को नाज़ारा बिल्कुल उल्टा था। पूरे लंदन में भारतीय धर्म और संस्‍कृति की गूज सुनाई दे रही थी। शहर में पवित्र धर्म ग्रंथ श्रीमद्भगवत गीता के पवित्र श्‍लोक सुनाई दे रहे थे, रह-रह कर शंख की आवाज़ वातावरण को पवित्र बना रही थी, ऐसा नज़ारा जो पहले कभी लंदन वासियों ने नहीं देखा था। ये भव्य आयोजन हुआ अंतर्राष्‍ट्रीय गीता महोत्‍सव के दूसरे दिन, यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लंदन के लोगान हाल में जहां बड़ी संख्‍या में लोगों की भीड़ उमड़ी। हॉल में मौजूद लोगों ने पीले रंग का अंग वस्त्र धारण किया था। इस अवसर पर आयोजित गीता आख्यान में गीता मर्मज्ञों ने भगवत गीता के कई बिन्दुओं पर अपने विचार रखे। लंदन में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने और गीता पर अपने ज्ञान वर्धन के लिए ब्रिटेन के कई शहरों से बड़ी काफी संख्‍या में लोग आए। इनमें भारतीय मूल के व्यक्तियों के अलावा ब्रिटिश नागरिकों के साथ दुनिया के कई देशों के लोगों ने भी हिस्सा लिया।

हरियाणा सरकार की ओर से हरियाणा के उद्योग मंत्री श्री विपुल गोयल विशेष रूप से उपस्थित रह कर कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए लगातार प्रयत्नशील हैं, इस अवसर पर गोयल ने चिंता व्यक्त की कि आज तो सरकार यहां पर गीता के प्रचार का कार्य कर रही है लेकिन मैं आप सभी लोगों से आग्रह करता हूं आयोजन तो संपन्न हो जाएगा लेकिन आप सभी लोग खुद स्व प्रेरणा से गीता के प्रचार के लिए हर व्यक्ति ब्रांड एम्बेसडर बनें तो सही मायने में गीता का प्रचार प्रसार होगा और गीता के ज्ञान का पूरी मानव जाति को लाभ मिलेगा, विश्व शांति कायम होगी और दुनिया गीता के बताए मार्ग पर ही चल कर तरक्की कर सकती है।

उन्होंने कहा कि हम भारतीय हमेशा से वसुधैव कुटुम्बकम की धरणा पर चलने वाले लोग हैं। इस लिए विश्व शांति के लिए गीता का प्रचार-प्रसार अत्यंत आवश्यक है। कार्यक्रम में हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्य नारायण आर्य के प्रतिनिधि के तौर पर उनके सचिव विजय दहिया और राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारीगण, हरियाणा से 174 गणमान्य नागरिकों का एक प्रतिनिधिमंडल भी इस अभियान में साथ गया है। प्रतिनिधिमंडल में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर, ओएसडी अमरेंद्र सिंह, करनाल की महापौर रेणूबाला गुप्ता, पूर्व मुख्य संसदीय सचिव विनोद भ्याना भी शामिल हैं।

इससे पूर्व 9 अगस्त शुक्रवार को कार्यक्रम का आगाज़ ब्रिटेन की संसद- हाउस ऑफ कॉमन्स में गीता के श्लोकों के पाठ और आख्यान के साथ हुआ। पूरा हॉल गीता के पवित्र श्‍लोक और शंख ध्वनि से गूंज उठा। आपको बता दें कि तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव लंदन में चल रहा है और उद्घाटन के मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में यूके की सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी के वाइस चेयरमैन श्री पॉल स्कल्ली और विशिष्ट अतिथि हरियाणा के उद्योगमंत्री विपुल गोयल थे।

कार्यक्रम के उद्घाटन के अवसर पर लंदन की संसद के साउथ हॉल से एमपी नरेंद्र शर्मा, स्वामी धर्म देव जी महाराज, भारतीय उच्चायुक्त रूचि घनश्याम, बांग्लादेश की राजदूत सइदा मुना तसनीम, मारीशस के राजदूत गिरीश नानक, बाबा भूपेंद्र सिंह, लंदन में नेपाल के राजदूत दुर्गा बहादुर, उद्योग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव देवेंद्र सिंह, पानीपत की उपायुक्त सुमेधा कटारिया, करनाल की महापौर रेनूबाला, एचएसआइआइडीसी के प्रबंध निदेशक नरसिंह बांगड, सीएम हरियाणा के ओएसडी कैप्टन अमरेंद्र सिंह, लंदन में रह रहे भारतीय मूल के जय शर्मा मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here