लंबी बीमारी के चलते पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ऐम्स में ली अंतिम सांस

0
65

न्यूज़ एनसीआर, 24 अगस्त-फरीदाबाद | पूर्व वित्त मंत्री नेता अरुण जेटली का शनिवार को दिल्‍ली के ऐम्स में लंबी बीमारी के बाद दोपहर 12 बजकर 07 मिनट पर उन्होंने आखिरी सांस ली। अरुण जेटली को कुछ दिन से सांस लेने में दिक्‍कत हो रही थी। जिस कारण उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन पिछले कई दिनों से उनकी स्थिति स्थिर बताई जा रही थी।

पर जानकारी के मुताबिक पूर्व वित्त मंत्री जेटली काफी समय से एक के बाद एक बीमारी से लड़ रहे थे। इसी के चलते उन्‍होंने लोकसभा चुनाव, 2019 में भाजपा को मिली प्रचंड जीत के बाद पीएम को पत्र लिखकर मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने का आग्रह किया था।

उन्होंने पत्र में लिखा था कि 18 महीने से मेरा स्‍वास्‍थ्‍य खराब चल रहा है मैंने चुनाव प्रचार की सभी जिम्‍मेदारियों को निभाया। अब अपनी सेहत और इलाज पर ध्‍यान देना चाहता हूं। आपको बता दें कि उन्‍हें अप्रैल, 2017 में एम्स में भर्ती कराया गया था, जहां वह डायलसिस पर थे। इसके बाद 14 मई, 2018 को दिल्ली के एम्स में उनका किडनी ट्रांसप्‍लांट हुआ। उनकी गैरमौजूदगी में रेल मंत्री पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई थी। इसके बाद जेटली ने 23 अगस्त, 2018 को फिर वित्त मंत्रालय की जिम्‍मेदारी संभाल ली।

बताया गया कि, सितंबर, 2014 में डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए जेटली की गैस्ट्रिक बाईपास सर्जरी की गई थी। वहीं, 2005 में उनका दिल से जुड़ा ऑपरेशन भी हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here