एक कोशिश एनजीओ ने किया ‘महफ़िल-ए-मुकेश’ का आयोजन

समाजसेवी इंदु शर्मा रहीं मुख्यातिथि

0
181
न्यूज़ एनसीआर, (एकता रमन) 30 अगस्त-फरीदाबाद | यूं तो मशहूर गायक मुकेश की याद में देश-विदेश में कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं और उनके पूरे विश्व में करोड़ों प्रेमी हैं परंतु हरियाणा के फरीदाबाद शहर में मुकेश की पुण्यतिथि को एक निराले ढंग से मनाया गया।

 

कार्यक्रम ‘महफ़िल-ए-मुकेश’ का आयोजन ‘एक कोशिश’ नामक NGO द्वारा किया गया। कार्यक्रम विधिवत रूप से दीप प्रज्जवलन एवं सरस्वती वंदना से प्रारंभ हुआ। सामाजिक कार्यकर्ता एवं संस्कार भारती प्रान्त उपाध्यक्ष इंदु शर्मा विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहीं। ‘एक कोशिश’ के संस्थापक प्रिय भूषण जैन और उनकी पत्नी रुमा जैन ने इस महफ़िल का आयोजन अपने निवास स्थान सेक्टर 11 में किया और इसके संयोजक थे डॉ. भूपेन्द्र मल्होत्रा एवं संजय पजनी। सपना सूरी ने अपने कुशल संचालन से इस संगीतमय शाम की रौनक बढ़ा दी।

‘महफ़िल-ए-मुकेश’ की अनूठी विशेषता थी उसमें गाने वाले लोग। मुकेश के सुप्रसिद्ध गानों से उनको श्रद्धा सुमन अर्पित करने वाले लोग प्रशिक्षित या व्यावसायिक कलाकार नहीं थे, बल्कि सभी संगीत में रुचि रखने वाले कामकाजी थे। सभी ने कराओके की मदद से इतनी बेहतरीन प्रस्तुतियां दीं के ये पहचान पाना मुश्किल हो रहा था कौन सीखा हुआ है और कौन नहीं। कुछ चर्चित गीत जो गाए गए – इक दिन बिक जाएगा, डम डम डीगा डीगा, जीना यहां मरना यहां, इक प्यार का नग़मा, चल अकेला, सजन रे झूठ मत, ये मेरा दीवानापन, हम तुम युग युग से, तुम अगर मुझको ना चाहो….। प्रस्तुति देने वालों में पी.बी.जैन, डॉ. भूपेन्द्र मल्होत्रा, संजय पजनी व सोना पजनी, सपना सूरी, प्रीतम सिंह, डॉ. शर्मा व मोहिनी शर्मा, ऐ.एस.विरडी, अतुल, सत्यपाल भोला, शेखर, अशोक, पी.सी.सूरी, तरुण शर्मा, परवीन जैन, नवनीत, दुर्गा, गिरीश, अमित अरोड़ा, रजनीश एवं रमेश शर्मा थे।

 

‘एक कोशिश’ की शुरुआत पी.बी. जैन ने अपने कॉलेज के दिनों के दौरान 1989 में की थी। उनका मुख्य उद्देश्य भूखों को खाना खिलाना व गरीब छात्रों को शिक्षण और आर्थिक सहायता देना था। बाद में इसे उनकी पत्नी रूमा जैन ने संभाल लिया। आज इनका निरंतर यही एक प्रयास है के आसपास के इलाकों में झुग्गियों में रहने वाले बच्चों की शिक्षा और विकास पर काम हो। यह NGO धन के रूप में किसी भी दान को स्वीकार नहीं करती। रूमा जैन के व्यक्तिगत मार्गदर्शन और प्रयासों से कई बच्चे शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं, और वे उनकी हर चीज़ का ध्यान रखती हैं। इसके अलावा, जैन दंपति का प्रयास, लोगों के जीवन को संगीत द्वारा तनाव मुक्त करने पर भी केंद्रित है। ‘एक कोशिश’ संगीत कार्यक्रमों का आयोजन करता है जहां लोग खुशी से गाने के लिए और सुनने के लिए आते हैं, और थोड़ी देर के लिए अपनी सभी समस्याओं को भूलकर तरोताज़ा हो जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here