जनाचौली हत्याकांड : मृतक अनिल का पुलिस सुरक्षा में किया अंतिम संस्कार

0
131

न्यूज़ एनसीआर, (माथुर) 28 जुलाई-हथीन | समीपवर्ती गांव जनाचौली में शनिवार देर सांयकाल अंधाधुंध गोलियों का शिकार हुए अनिल का अंतिम संस्कार कडी सुरक्षा के बीच शांतिपूर्वक कराया गया। मौके पर हथीन के डीएसपी शाकिर हुसैन सहित थाना हथीन व बहीन की पुलिस सहित सीआईए के अधिकारी भी मौजूद रहे। इस हत्याकांड में इसी गांव के भी दो युवकों के नाम नामजद हैं। जिस कारण गांव में हालात तनाव पूर्ण होने की आशंका थी। मृतक अनिल के परिजनों में हत्याकांड के समय से ही भारी गुस्सा था, जिस कारण कई बार अनिल के परिजनों और पुलिस के जांच अधिकारियों के बीच बहस भी हुई। हथीन डीएसपी शाकिर हुसैन का कहना है कि हत्याकांड में मृतक अनिल की मां रामबती ने जनाचौली गांव के ही ललित और मंटक उर्फ ओमप्रकाश के नाम के अलावा धामाका के अंकित पंडित तथा एक अन्य का नाम दर्ज कराए हैं।

डीएसपी ने बताया कि चारों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए अलग-अलग कई टीमों का गठन किया गया है तथा साईबर सैल की भी मदद ली जा रही है। उन्होंने बताया कि वे स्वंय टीमों पर नजर रखे हुए हैं। आरोपियों के संदिग्ध स्थानों पर छापे मारे जा रहे हैं। हथीन एचएसओ जयराम ने बताया कि मृतक अनिल को 10 से 12 गोलियां लगी हैं। अभी मेडिकल टीम से पोस्टमार्टम की पूरी रिपोर्ट नही मिली है। घटना स्थल से जो खाली कारतूस मिले हैं उन्हें भी कब्जे में ले लिया गया है। उन्होंने बताया कि पीडित पक्ष की सुरक्षा के भी प्रबंध किए हैं। फिलहाल भी सुरक्षा की दृष्टि से गांव में पुलिस बल तैनात किया हुआ है। उन्होंने बताया कि मृतक अनिल की माता रामबती ने पुलिस को बयान दिया है कि अनिल घर के अंदर शनिवार की सांयकाल लेटा हुआ था। अचानक अंकित, मंटक उर्फ ओमप्रकाश, ललित और एक अन्य आया और आते ही ताबडतोड गोलियां चला दी तथा पलक झपकते ही आरोपी मौके से फरार हो गए।

ज्ञातव्य है कि धामाका निवासी अंकित पंडित नामक आरोपी की पुलिस को कई मामलों में पहले से ही तलाश है। पोस्टमार्टम के लिए तैयार नही थे परिजन, पुलिस अधिकारियों ने मनाया मोर्चरी में रखे मृतक अनिल के शव का पोस्टमार्टम के लिए अनिल के परिजन तैयार नहीं थे। परिजनों ने हथीन एसएचओ व अन्य पुलिसकर्मियों से कहा कि जब तक आरोपी पकडे नहीं जाएंगे तब तक वे पोस्टमार्टम नहीं कराएंगे। लेकिन बाद में पुलिस अधिकारियों के समझाने पर परिजन पोस्टमार्टम के लिए तैयार हुए। पोस्टमार्टम के बाद भारी पुलिस सुरक्षा के बीच मृतक के शव को गांव के श्मसानघाट तक लाया गया, जहां मृतक अनिल का अंतिम संस्कार किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here