गाज़ी खान के आतंक से डबुआ के लोग दहशत में

0
835
न्यूज़ एनसीआर, 03 जुलाई-फरीदाबाद | शहर में तमाम सीआईडी अधिकारी हैं और पिछले लगभग दो महीने से डबुआ कालोनी के गाजी खान के आतंक की खबरें छोटे बड़े सभी अखबारों में छप रही हैं यहाँ तक कि कुछ मीडिया संस्थानों ने छापा था कि डबुआ कैराना बनने वाला है। आज जिस तरह गाजी खान और उसकी गैंग के आतंक और युवक की उंगली काट डाली और कहा जा रहा है कि उनके दोनों पैरों पर ऐसा हमला किया गया है कि वो कई वर्षों तक अपने पैरों पर नहीं चल पायेगा। नाराज लोग बीके चौक पर पहुंचे और जाम लगाया। डबुआ कालोनी के एक पुलिसकर्मी पर गाजी खान का साथ देने का आरोप लग रहा है जिसका शायद अब तबादला भी कर दिया गया है। गाजी खान के आतंक को लेकर पहली बार प्रदर्शन नहीं हो रहा। हाल में सैकड़ों लोगों ने डबुआ थाने का भी घेराव किया था।
26 मई को स्थानीय निवासी दशरथ यादव का कहना था कि उनके बुजुर्ग पिता जी को गाजी खान और उसके साथियों ने जमकर पीटा लेकिन उन लोगों पर कोई कार्यवाही नहीं की गई। उसके अगले दिन डबुआ थाने में गाजी खान पर मामला दर्ज किया गया था। उस समय एफआईआर नंबर – 238 (IPC धारा – 148, 149, 323, 506) में गाजी खान, राजू, ख़तरा उर्फ़ संदे, विकी का नाम सहित कई अन्य नामालूम लोगों पर भी मामला दर्ज किया था। अब फिर गाजी खान ने मोहताबाद के सोहताज भड़ाना पर हमला कर दिया और उसकी उंगली काट डाली। एक हफ्ते के भीतर दूसरी बार बीके चौक पर जाम लगा। इसके पहले विकास चौधरी मर्डर केस में लोगों ने जाम लगाया था। शहर में अपराध बढ़ रहा है। पुलिस पर अब सवाल उठने लगे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here