प्रवक्ता ने घर घर जाकर महिलाओं को दी कानूनी जानकारी

0
13

न्यूज़ एनसीआर, (शारा गर्ग) 21 जून – फरीदाबाद | पीयूष शर्मा मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पलवल के तत्वावधान में विशेष कानूनी जागरूकता अभियान डव मिशन एंड कुट्टी मिशन के अंतर्गत कालडा कालोनी में पैनल अधिवक्ता हंसराज शाण्डिल्य व पीएलवी अनिल कुमार द्वारा लोगों को घर-घर जाकर घरेलू हिंसा से पीडित महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए विशेष कानूनी जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पैनल अधिवक्ता हंसराज शाण्डिल्य ने शारीरिक दुर्व्यवहार अर्थात शारीरिक पीड़ा, अपहानि या जीवन या अंग या स्वास्थ्य को खतरा या लैगिंग दुर्व्यवहार अर्थात महिला की गरिमा का उल्लंघन, अपमान या तिरस्कार करना या अतिक्रमण करना या मौखिक और भावनात्मक दुर्व्यवहार अर्थात अपमान, उपहास, गाली देना या आर्थिक दुर्व्यवहार अर्थात आर्थिक या वित्तीय संसाधनों, जिसकी वह हकदार है उससे वंचित करना, मानसिक रूप से परेशान करना ये सभी घरेलू हिंसा की श्रेणी में आते हैं।

पीडित महिला को उसके अधिकारों की जानकारी देते हुए कहा कि यदि आप अपनी समस्याओं का समाधान चाहते हैं, तो आप अदालत में जा सकते हैं। घरेलू हिंसा अधिनियम का उद्देश्य पीडित महिला को रहने की जगह, गुजारा भत्ता, इत्यादि दिलाना है, घरेलू हिंसा अधिनियम का सबसे बडा फायदा यह है कि जो महिलाएं पारिवारिक या सामाजिक दवाब एवं पुलिस थाने के चक्करों से बचने के कारण अपराधिक कार्यवाही नहीं चाहती हैं वे अब अपने लिए प्रभावी संरक्षण का उपाय कर सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here