पेयजल संकट से निपटने के लिए निग्मायुक्त ने अधिकारीयों को आदेश दिए

0
24

न्यूज़ एनसीआर, 05 जून-फरीदाबाद | गर्मी के सीजन को देखते हुए शहरवासियों को प्रतिदिन पर्याप्त मात्रा में पानी की आपूर्ति, अवैध टयूबवैलों व टैंकरों पर कार्यवाही तथा आचार संहिता की वजह से रूके हुए सीएम अनाउसमेंट के तहत विकास कार्य व अन्य कार्यों में प्रगति लाने तथा आने वाली बरसाती सीजन को देखते हुए जलभराव संबंधी समस्याओं के निराकरण को लेकर निगमायुक्त अनीता यादव ने आज कैम्प कार्यालय में में इंजीनियरिंग विभाग, तीनों जोनों के कार्यकारी अभियंताओं व सहायक अभियंताओं की मीटिंग ली और कई-कई इलाकों में पानी की कम सप्लाई पर चिंता व्यक्त करते हुए सभी कार्यकारी अभियंताओं को सख्त निर्देश दिए शहरवासियों को प्रतिदिन पर्याप्त मात्रा में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करवाई जाए तथा जिन-जिन क्षेत्रों में पानी की जरूरत ज्यादा है वहां टैंकरों से पानी की सप्लाई कराई जाए। ताकि आमजन को किसी भी प्रकार के पेयजल संकट से जूझना न पड़े।

मीटिंग में निगमायुक्त ने कहा कि बड़खल और एनआईटी विधानसभा क्षेत्रों में पानी की बहुत ज्यादा कमी रहती है। उन्होंने निगम अधिकारियों को दोनों विधानसभा क्षेत्रों में पानी की व्यवस्था को और दुरूस्त करने के लिए रैनीवैल के अंतर्गत और टयूबवैल लगाने तथा गैर कानूनी टयूबवैलों को तुरन्त हटाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा अवैध टयूबवैलों व टैंकर माफिया जो पानी बेच रहे है उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए।

बैठक में निगमायुक्त ने कहा कि गर्मियों के चलते पानी की खपत बढ़ जाती है इसलिए निगम क्षेत्र के सभी वार्डों के बूस्टिंग स्टेशन, टयूबवैल व रैनीवैल लाईनें चालू अवस्था और सही हालत में होनी चाहिए जिससे लोगों को पानी की सुविधा सुचारू रूप से मिल सके। निगमायुक्त ने निगम के कार्यकारी अभियंताओं, सहायक अभियंताओं व कनिष्ठ अभियंतओं को अपने-अपने कार्यक्षेत्र में आने वाले बूस्टिंग स्टेशनों, टयूबवैलों व रैनीवैल लाईनों का प्रतिदिन से निरीक्षण करने तथा बूस्टिंग स्टेशन, टयूबवैलों व रैनीवैल लाईनों पर पर होने वाली कमियों को दूर करने के भी आदेश दिए। उन्होंने कहा कि बरसात व आंधी मौसम होने के चलते कभी-कभी बिजली व्यवस्था फेल हो जाती है इसलिए टयूबवैल व बूस्टिंग स्टेशनों पर बिजली व्यवस्था को बनाए रखने के लिए जनरेटरों को दुरूस्त रखा जाए ताकि बिजली जाने के बाद भी जनरेटरों द्वारा लोगों को पर्याप्त मात्रा में पानी की सप्लाई की जा सके।

निगमायुक्त ने मीटिंग में निगम अधिकारियों को कहा कि आचार संहिता के चलते रूके हुए सीएम अनाउसमेंट के तहत विकास कार्य व अन्य कार्यों जो रूके पड़े हुए उन्हें शुरू किया जाए तथा जो ठेकेदार कार्य शुरू करने में आनाकानी करते है उनके खिलाफ कार्यवाही की जाए। सड़कों पर एलईडी लाईट के कार्य को भी तुरंत प्रभाव से पूरा किया जाए।

निगमायुक्त ने मीटिंग में बरसाती सीजने को देखते हुए जलभराव संबंधी क्षेत्रों पर भी चर्चा की तथा अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रत्येक वार्ड का कार्यकारी अभियंता अपने-अपने वार्ड में सीवरेज, नाले-नालियां, ड्रेनों तथा रैन हार्वेस्टिंग सिस्टम को साफ कराए तथा जिन-जिन क्षेत्रों में सीवरेज के मैन होल कवर खुले हुए है उन्हें तुरंत कवर किया जाए। निगमायुक्त ने एनएचपीसी चैक और ओल्ड स्टेशन का अंडरपास जहां बरसाती सीजन में पानी खड़ा होता है उसका उचित समाधान करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने निगम अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि अगर बरसाती सीजन में जलभराव की समस्या से जान-माल का नुक्सान होता है तो संबंधित अधिकारी व कर्मचारी इसके जिम्मेवार होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here