देश की उन्नति में भोजपुरी-अवधी समाज का बड़ा योगदान : विपुल गोयल

0
20
न्यूज़ एनसीआर, 02 जून-फरीदाबाद | भोजपुरी अवधी समाज की निर्माणाधीन धर्मशाला में बड़े हॉल के निर्माण के लिए उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने बजट मुहैया कराया जिसके लिए समाज ने विपुल गोयल का आभार व्यक्त किया, हॉल के निर्माण के लिए विपुल गोयल ने आधार शिला रखी। इस मौके पर गोयल ने कहा कि पूर्वांचल के लोगों का फरीदाबाद के विकास में बहुत बड़ा योगदान है, उन्होंने कहा कि हरियाणा और पूर्वांचल की मिली-जुली संस्कृति का शहर फरीदाबाद है।
गोयल ने कहा कि भोजपुरी और अवध के साथियों का यह जो संगठन है, फरीदाबाद के विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि भोजपुरी वह बोली और वह क्षेत्र है जिसका इतिहास में हमेशा से स्वर्ण अक्षरों से नाम लिखा गया है,भोजपुरी भाषा का इतिहास 7वीं सदी से शुरू होता है – 1000 से अधिक साल पुरानी! और गुरु गोरख नाथ जी ने 1100 वर्ष पहले गोरख बानी लिखी थी। संत कबीर दास जी का जन्म भी (1297) में हुआ इसी इलाके में हुआ था उनके सम्मान में उस दिन को भोजपुरी दिवस के रूप में ना केवल भारत में बल्कि समूचे विश्व में भोजपुरी दिवस के रूप में मनाया जाता है।

गोयल ने कहा कि इसी तरह से अवध का भी इतिहास में बड़ा नाम है, अवध के लोग बड़े जुझारू और संस्कृति के रक्षक हुए है, इसी लिए कई विदेशी आक्रमणों के बाद भी अपानी संस्कृति और पहचान को अवध ने सहेज कर रखा, और आज पूरी दुनिया में अवधी की अलग पहचान बन गई है। धर्म ग्रंथों में ये वर्णन है कि भगवान कृष्ण का भी यहां से संबंध रहा है और देश के निर्माण और उत्थान में भोजपुरी और अवध के लोगों का विशेष महत्व है चाहे वह मुम्बई की बात हो कोलकाता की बात हो या अपने दिल्ली एनसीआर का विकास हो हर महानगर को आकार देने से ले कर उसके सम्पूर्ण विकास में इस समाज का बड़ा रोल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here