बिजनेसमैन को हनी ट्रैप में फ़साने वाली महिला व उसके 4 पुरुष साथी गिरफ्तार।

0
59

न्यूज़ एनसीआर,(शारा गर्ग) 12 जून-फरीदाबाद| एसीपी क्राइम अगेंस्ट वीमेन धारणा यादव को 11 जून को सूचना मिली की हनी ट्रैप में फ़साने वाली एक महिला जिसने महिला थाना बल्लभगढ़ में एक व्यक्ति के खिलाफ रेप का मुकदमा दर्ज कराया था। आपको बता दे की महिला ने सैक्टर 12 कोर्ट में व्यक्ति के पक्ष में एफिडेविट बनवाकर केस वापस लेने की एवज में 17 लाख रुपए लेने का सौदा तय किया था। जिस पर धारणा यादव एसीपी क्राइम अगेंस्ट वूमन ने एसएचओ महिला थाना बल्लभगढ़ में रेनू शेखावत की देखरेख में टीम गठित कर छापेमारी कर आरोपी महिला को कोर्ट के बाहर पैसों सहित धर दबोचने में कामयाबी हासिल की है। दूसरा व्यक्ति करनाल निवासी है जो कुत्तों की खरीद-फरोख्त का काम करता है। आरोपी महिला ने बिजनेसमैन से फेसबुक के जरिए संपर्क किया और कहा कि उसको कुतिया चाहिए। कुतिया देने के कुछ दिन बीत जाने के बाद महिला ने कहा कि उसको यह कुतिया पसंद नहीं है वह अपनी कुतिया को वापिस ले जाए। व्यक्ति करनाल से अपनी कुतिया को वापस लेने के लिए फरीदाबाद आ गया। महिला ने अपना निवास वृंदावन बताया हुआ था लेकिन कहा कि मैं फरीदाबाद आकर आपसे मिलती हूं। महिला ने 18 मई को फरीदाबाद मेट्रो स्टेशन पर मिलने के लिए कहा और करनाल निवासी व्यक्ति मेट्रो स्टेशन पहुंच गया तो महिला कहने लगी की उसका भाई अभी दो तीन घंटे में कुतिया लेकर पहुंच रहा है।

उसके बाद महिला ने व्यक्ति से कहा कि दो-तीन घंटे गाड़ी में थक जाएंगे आराम करने के लिए रूम बुक कर लेते हैं। रूम में जाने के थोड़ी देर बाद महिला व्यक्ति से कहने लगी कि मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाओ वरना मैं शोर मचा कर रेप केस में फसवा दूंगी। पीड़िता और आरोपी ने संबंध बनाए और उसके बाद होटल से बाहर आ गए। आरोपी करनाल के लिए निकल गया और पीड़िता ने 18 मई की शाम को महिला थाना बल्लभगढ़ में जाकर बलात्कार व जान से मारने की धमकी के तहत मुकदमा दर्ज करा दिया था। मुकदमा दर्ज होने के बाद बलात्कार राज चावला करनाल के पास फोन पहुंचा और उससे कहा गया कि एक महिला ने उसके खिलाफ रेप की शिकायत दर्ज कराई है। सूचना मिलने के बाद आरोपी डर गया और थोड़ी देर बाद ही उसके पास दो अलग-अलग व्यक्तियों के अलग अलग मोबाइल नंबर से फोन आने लगे और उन्होंने 40 लाख रुपए की डिमांड की। जिस पर व्यक्ति ने कहां की उसकी कोई गलती नहीं और वह इतनी बड़ी रकम अदा नहीं कर सकता‌। जिस पर आरोपी महिला एवं उसके साथियों ने व्यक्ति के हक में एफिडेविट देने के लिए 17 लाख रुपए में सौदा तय कर दिया।

पकड़े गए चारों आरोपी।

खबर के बाद पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि 11 जून को आरोपी महिला एवं उसके दो अन्य साथियों को एसीपी क्राइम अगेंस्ट वीमेन धारणा यादव एवं थाना महिला बल्लभगढ़ एसएचओ रेनू शेखावत ने कार्यवाही करते हुए तीनों आरोपियों को पैसों सहित रंगे हाथों गिरफ्तार कर सभी आरोपियों सहित दीपक, सुमित, गौरव और सतीश निवासी कोराली, तिगांव व बलात्कार केस की पीड़िता व एक्सटॉर्शन केस की आरोपी महिला को गिरफ्तार कर जज के सम्मुख पेश कर जेल भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here