ठेका हटाओ आंदोलन : महिलाएं नहीं बिकने दे रहीं शराब, अनिश्चितकालीन आंदोलन जारी

0
59
न्यूज़ एनसीआर, 06 मई-फरीदाबाद | संस्कार फाउंडेशन के तहत आज शराब के ठेके के विरोध में महिलाओं के अनशन का दूसरा दिन था कल से ही महिलाएं ठेके पर शराब नहीं बिकने दे रही हैं क्योंकि यह पूर्णतया अवैध खुला हुआ है। महिलाओं का कहना है कि यह शराब का ठेका माननीय राज नेताओं के रिश्तेदारों का या उनके सगे संबंधियों और जानकारों का है इसलिए हमारी पूरी कोशिश के बाद भी अवैध रूप से सरकार और शराब माफियाओं की दबंगई से चलाया जा रहा है। प्रशासन अपंग और लाचार नजर आ रहा है वही पर पुलिस प्रशासन भी इन शराब माफियाओं से अवैध वसूली के कारण हम महिलाओं को ही डराया धमकाया जा रहा है।
संस्कार फाउंडेशन की संयोजक परमिता चौधरी ने बताया कि कल रविवार शाम को हमारे पास कोर्ट से एक नोटिस भी भेजा गया जिसमें सूचित किया गया कि सोमवार 6 मई को कोर्ट में हाजिर हो इसके जवाब में हमारे वरिष्ठ अधिवक्ता ओपी शर्मा प्रस्तुत हुए। खबर लिखे जाने तक कोर्ट की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई। हमें पूर्ण आशा है कि शराब माफियाओं को न्यायालय किसी प्रकार का स्टे नहीं देगा और हमारी बात को सुनेगा जब तक ठेका नहीं हटता है। न्यायालय का कोई आदेश नहीं आता है तब तक अनशन जारी रहेगा और महिलाओं ने अनशन के दूसरे दिन प्रशासन और स्थानीय नेताओं के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की और अपील की कि अगर ठेका नहीं हटा सकते तो हमारे यहां कोई वोट मांगने ना आए और सभी महिलाओं ने एक स्वर में कहा कि जो भी राजनेता शराब और नशे के कारोबार को हटाने का काम करेगा हम सारी महिलाएं उसी को वोट देने का काम करेंगे।
इस मौके पर परमिता चौधरी, राज शर्मा, रेहमानी खान, ललिता देवी, धरने को समर्थन में सीमा भारद्वाज सुनहरी किरण, डॉ. आलोक दीप, रेनू चौधरी, राज शर्मा, ललिता, पूनम भाटिया, शबनम, मीनू शाहनी, सुदेश, कृष्ण देवी, सत्य झा, कोमल, मंजू अहूजा, बाबा राम केवल, जसवंत पवार, बंटी, भुवनेश्वर शर्मा, रेनू चौधरी, दिव्या डागर, सलमा रहमानी खान, कोमल, राज शर्मा, अनीता शर्मा, इंदु सैनी, पुष्पा सिंह, मीनू, शबनम, निदा, शीतल, दीशा, सोनाक्षी, मिसेज झा, दीपशिखा, पूनम, पिंकी, बीमला, पिस्ता, रितू अरोड़ा, अंकिता, लक्ष्मी, नवीन सैनी ईशान सैफी मंजू बंसल जेबुन्निसा मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here