सरकार के अधिकारी कर्मचारियों के मुंह से निवाला छीनने का काम कर रहे हैं : सुभाष लाम्बा

0
5
न्यूज़ एनसीआर, 22 मई-फरीदाबाद | नगर निगम के सफाई कर्मचारियों ने बैठक आज दूसरे दिन भी निगम मुख्यालय पर आयोजित की। इसी दौरान वित्त नियंत्रक ने यूनियन नेताओं को बताया कि निगम के खजाने में ब्याजमुक्त गेंहू अनुदान देने के लिए राशि उपलब्ध नहीं है। जिससे गुस्साए नगर निगम के कर्मचारियों ने निगम मुख्यालय के गेट पर जबरदस्त प्रदर्शन किया। प्रदर्शन का नेतृत्व नगर निगम सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर ने किया। श्री बालगुहेर ने कहा कि नगर निगम प्रशासन चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को पैसे देने में आनाकानी कर रहा है। जबकि सरकार ने गेंहू अनुदान के लिए अपनी ओर से परिपत्र निगम को भेजा हुआ है। इस गेंहू के अनुदान की दस किस्तें कर्मचारियों के वेतन से वसूल की जाएगी। आज की बैठक का संचालन कर्मी नेता प्रकाश प्रचारी ने किया।
नगर निगम कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए सर्व कर्मचारी संघ, हरियाणा के प्रदेश महासचिव सुभाष लाम्बा ने कहा कि प्रदेश सरकार गरीबों, दलितों को लोकलुभावने नारे देकर सत्ता हथियाने का काम रही है। लेकिन जब इन्हें कुछ देने की बात आती है तो सरकार के अधिकारी कर्मचारियों के मुंह से निवाला छीनने का काम कर रहे है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार ने विधानसभा चुनावों के दौरान कर्मचारियों से कई प्रकार के दावे किए थे किन्तु साढ़े चार साल बीत जाने के बाद भी वह अपने वायदों पर खरा नहीं उतरी बल्कि आगामी विधानसभा चुनाव में तैयार हो गई है।
नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष नरेश कुमार शास्त्री ने कहा कि नगर निगम में वित्त साधन लगातार घट रहे है। इस कारण कर्मचारियों का वेतन हर महीने देरी से दिया जाता है। 30 जून 2018 को सेवानिवृत कर्मचारियों को उनके बकायाजात का भुगतान भी अभी तक नहीं हुआ है। वहीं एलटीसी, एसीपी, एरियर, मैडिकल भी कर्मचारियों को समय पर नहीं मिल रहा है। साथ ही लोन की किस्त कर्मचारियों के खातों से काटने के बाद भी भुगतान न होने से निगम कर्मचारी नाराज है। यदि निगमायुक्त ने निगम की आर्थिक व्यवस्था को सुधारने के लिए ठोस कदम नहीं उठाये तो निकट भविष्य में नगर निगम भारी आर्थिक संकट के भंवर में फंस जायेगा।
आज की मीटिंग में अन्य के अलावा कर्मी नेता नानकचंद खैरालिया, श्रीनंद ढकोलिया, बिशनस्वरूप तेवतिया, जितेन्द्र, रगबीर चौटाला, विजय चावला, बल्लू चिण्डालिया, दर्शन सिंह सोया, प्रेमपाल, महेन्द्र कुण्डिया, वेद प्रकाश, दान सिंह, नरेश कुमार भगवाना, देशराज डाबर, महिला विंग की नेता माया, कमला, कमलेश, संतोष, सुलोचना, शकुन्तला, सत्तो देवी सहित अनेकों कर्मचारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here