पुन्हाना के गांव बादली में भीषण गर्मी से सूखा तालाब

0
2
न्यूज़ एनसीआर, 02 मई-फरीदाबाद | भीषण गर्मी के चलते जहां धरती तप रही है वहीं क्षेत्र के अधिकतर गांवों के तालाब सूखने लग गए हैं। जिससे गांवों में पशुओं को नहलाने से लेकर पीने तक को पानी नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में पशुओं के लिए भी जल सकंट पैदा हो गया है। जिससे पशु पालक भी प्रभावित हो रहे हैं। पशु पालकों ने सरकार व जिला प्रशासन से सूखे तालाबों में पानी भरने की मांग की है।
क्षेत्र वासी जावेद, बनवारी, इकबाल, अकबर, जाकीर, मुस्ताक, लियाकत खान सहित पशु पालकों ने बताया कि पशु पालन कर उनके दूध को बेचकर अपने परिवार का गुजारा करते हैं। पशुओं को नहलाने व पानी पिलाने के लिए गांवों में बने तालाबों में ले जाते थे, लेकिन बढ़ती गर्मी के चलते सभी तालाब सूखने लगे हैं। जिन गांवों में वाटर सप्लाई को पानी आ रहा है वहां तो परेशानी नहीं है, लेकिन सैंकडों ऐसे गांव में जहां पानी की एक बूंद भी नहीं आ रही है। ऐसे में पशुओं को दूर-दराज नहलाने व पानी पिलाने के ले जा रहे हैं कई बार पशुओं को पानी खरीदकर भी पिलाना पड रहा है। इसके साथ ही गर्मी में पशुओं के बीमार होने से दूध भी घट गया है। जिससे उन्हें पशु पालन करने में भारी समस्या का सामना करना पड रहा है। वहीं उनकी आमदनी भी घट गई है। जिससे परिवार का गुजारा भी नहीं हो पा रहा है। अभी मानसून आने में काफी समय है। जिसको देखते हुए जिला प्रशासन व सरकार को तालाबों में पानी भरने के व्यवस्था करनी चाहिए, ताकि पशुओं को पानी मिल सके।
जितेंद्र गर्ग, एसडीएम पुन्हाना ने गर्मी का मौसम है ऐसे में प्रशासन का फर्ज बनता है कि लोगों को पानी मुहैया कराया जाए। पूरा प्रयास किया जाएगा कि पशु पालकों की परेशानी को देखते हुए गांवों के तालाबों को भरवाया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here