मुस्लिम बाहुल्य इलाका होने के कारण हथीन में रहेगा कड़ा मुकाबला

0
106
न्यूज़ एनसीआर, (उदयचंद माथुर) 09 मई-हथीन | फरीदाबाद संसदीय क्षेत्र के अंतिम छोर पर बसे पलवल जिला के हथीन विधानसभा क्षेत्र बीजेपी प्रत्याशी कृष्णपाल के लिए इस बार चुनौती बना हुआ है। वर्ष 2014 में मोदी लहर के दौरान पहली बार बीजेपी प्रत्याशी कृष्णपाल गुर्जर ने कांग्रेस के अवतार सिंह भडाना से 11 हजार वोटों की बढत बनाई थी। उस समय मेव-मुस्लिम मतों का विभाजन हो गया था। इनैलो के तत्कालीन प्रत्याशी आरके आनंद ने भी मेव मतों में सैंध लगा दी थी। वहीं इस बार मेव-मुस्लिम मतों के मध्य विभाजन कराने के लिए कोई भी उम्मीदवार सामने नहीं आया है। यही कारण है कि इस बार मेव-मुस्लिम वोटर एकजुट हो कांग्रेस के पक्ष में परमपरागत ढंग से एकतरफा मतदान कर सकते हैं।
हथीन विधानसभा क्षेत्र में वर्तमान में 2 लाख 7 हजार 24 वोटर हैं । जिनमें से 85 हजार के लगभग मेव- मुस्लिम एंव अन्य वर्गों के मुस्लिम वोटर हैं। शेष हिंदू वोटर हैं, जोकि विभिन्न जातिय समुहों के हैं। जिनमें सर्वाधिक 55 हजार जाट वोटर हैं। वर्तमान में बीजेपी प्रत्याशी कृष्ण पाल गुर्जर को मुस्लिम वोटरों में से मात्र एक या दो प्रतिशत वोट मिलने की संभावना है। सर्जिकल स्ट्राइक एंव अन्य मुद्दों के चलते अधिकांश हिंदू वोटरों का रुझान बीजेपी की तरफ है। परंतु कृष्ण पाल गुर्जर के प्रति बनी व्यक्तिगत नाराजगी को कांग्रेस प्रत्याशी अवतार सिंह भडाना भुनाने का प्रयास कर रहे हैं। वहीं विभिन्न जातियों के हिंदू वोटरों को भी अपनी तरफ लामबंद करने का भी प्रयास कररहे हैं।
इससे बीजेपी प्रत्याशी कृष्ण पाल गुर्जर को कडी चुनौती मिल रही है। यही कारण है कि कृष्ण पाल 2014 का इतिहास दोहरा पाएंगे ? इसमें संदेह बना हुआ है। इस बारे में बीजेपी प्रत्याशी कृष्ण पाल गुर्जर ने दावा किया है कि इस बार पिछले चुनाव के मुकाबले उन्हें हथीन विधानसभा क्षेत्र से अधिक बढत मिलेगी। वर्तमान चुनाव के दौरान उन्हें सभी वर्गों से पुरजोर समर्थन मिल रहा है। उन्होंने बताया कि विकास के मुद्दे पर उन्हें मेव-मुस्लिमों के भी भारी संख्या में वोट मिलेंगे। वहीं कांग्रेस प्रत्याशी अवतार सिंह भडाना का दावा है कि अब बदलाव की बयार बह रही है। इलाके के लोगों में वर्तमान सांसद कृष्ण पाल के प्रति भारी नाराजगी है। चुनाव जीतने के बाद कृष्णपाल इस इलाके का विकास तो दूर की बात बल्कि धन्यवाद तक करने नहीं आये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here