घटिया सामग्री से हो रहा है पुन्हाना के लघु सचिवालय का निर्माण

0
10

न्यूज़ एनसीआर, (मनीष आहूजा) 26 मार्च-पुन्हाना | प्रदेश सरकार जहां क्षेत्र के विकास के लिये करोड़ो रूपये की राशि खर्च कर विकास कार्यो को गति दे रही है वहीं दूसरी ओर अधिकारी व ठेकेदार सरकारी राशि का दुरूप्रयोग करने से नहीं चूक रहे है। ऐसा ही मामला पुन्हाना के नवनिर्मित लघु सचिवालय में देखा गया जहां घटिया किस्म की ईंटो के अलावा निर्माण कार्य में घटिया सामग्री इस्तेमाल की जा रही है। लघु सचिवालय का निर्माण कार्य लगभग पूरा होने की कगार पर है। दीवारे व नीचे की प्लेटफार्म  की चारदीवारी का काम चल रहा है। घटिया किस्म की ईटों  को दीवारों में लगाया जा रहा है। जिसके कारण दीवारे ज्यादा समय तक नहीं टिक पायेगी। उक्त कार्य का निर्माण कार्य लोक निर्माण विभाग की देखरेख में किया जा रहा है। लेकिन निर्माण कार्य के मौके पर कोई भी अधिकारी नहीं दिखाई दिया। मौके पर काम कर रहे मजूदरों से बात की तो उन्होंने बताया कि कई कई दिनों तक विभाग के जेई निर्माण स्थल पर नहीं आते। लोकनिर्माण विभाग के अधिकारी कार्य को लेकर बिल्कुल भी गंभीर नहीं दिखाई दे रहे है।

गौरतलब है कि  बीसरू रोड पर करीब सवा सात करोड रूपये की लगात से लघु सचिवालय का निर्माण लोकनिर्माण विभाग द्वारा किया जा रहा है। लोकनिर्माण विभाग ने कार्य का ठेका सोनीपत की सतीश गुप्ता कंपनी को दिया हुआ है। लोगों का आरोप है कि विभाग के जेई व अधिकारियों की मिलीभगत के कारण निर्माण कार्य में धांधली की जा रही है। लोगों ने सीएम विजिलेंस व जिला उपायुक्त से निर्माण कार्य की जांच कराने के साथ-साथ संबधित ठेकेदार व जेई के खिलाफ कार्यवाही कराने की मांग की है। करीब डेढ साल से चल रहा लघु सचिवालय का निर्माण कार्य इसी वर्ष मार्च माह में समाप्त होना था। अप्रेल माह में लघु सचिवालय को सरकार को हेंडओवर करना है। लेकिन जिस तरह से काम चल रहा है उससे प्रतित नहीं होता ही ठेकेदार इसे मार्च माह में पूरा कर सकता है। लोकनिर्माण विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के कारण निर्माण कार्य में  भारी अनियमितायें की जा रही है। इलाके के समाजसेवी मित्रसेन आहूजा, तौसिफ बीसरू, राकेश कुमार, हिंमाशु एडवोकेट, चौधरी इकबाल इंदाना, श्रीराम भगतू आदि लोगों का कहना है कि निर्माण कार्य में अमानक मिट्टी सहित घटिया रेत कम कम मात्रा में सिमेंट के अलावा घटिया किस्म की ईटों का प्रयोग किया जा रहा है। लोंगो ने इसकी जांच कराने की मांग की है।

क्या कहते है लोकनिर्माण विभाग के कनिष्ठ अभियंता


जब इस बारे में लोकनिर्माण विभाग के कनिष्ठ अभियंता फजरूद्दीन से बात की तो उन्होंने इस बात से पल्ला झाड लिया। इसके बाद कहने लगे की हो सकता है कि हम दो नबंर का काम कराते हो।

क्या कहते है विभाग के अधिक्षक अभियंता


जब इस बारे में गुडगांव जोन के अधिक्षक अभियंता चन्द्रमोहन से बात  की तो उन्होनें कहा कि मौके पर जाकर निरिक्षण किया जायेगा। निर्माण सामग्री का सेंपल लेकर कार्यवाही की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here