विकास चौधरी पर दर्ज मामले को लेकर पुलिस कमिश्रर से मिले कांग्रेसी

0
37
न्यूज़ एनसीआर, 18 फरवरी-फरीदाबाद | कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी पर सेक्टर-7 पुलिस थाने में दर्ज किए गए एक मामले को लेकर आज सैकड़ों की तादाद में कांग्रेसियों ने सेक्टर-21ए स्थित पुलिस कमिश्रर कार्यालय पहुंचकर पुलिस कमिश्नर संजय कुमार से मुलाकात की और इस मामले को पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित बताया। कांग्रेसियों ने स्पष्ट तौर पर कहा कि भाजपाई कांग्रेस की आवाज को दबाने के लिए विकास चौधरी पर मामला दर्ज किया है, जो पूरी तरह से झूठा है और पूरी पार्टी विकास चौधरी के साथ खड़ी है। कांग्रेसियों ने पुलिस कमिश्रर मामले की निष्पक्ष जांच करवाकर मामले को रद्द करवाने की मांग की। मामले को गंभीरता से सुनने के बाद पुलिस कमिश्रर ने कांग्रेसियों को आश्वस्त किया कि मामले की उच्चाधिकारियों से जांच करवाई जाएगी और इस मामले में बगैर जांच के कोई गिरफ्तारी नहीं की जाएगी।
कांग्रेसजनों का नेतृत्व कांग्रेेस के प्रदेश महासचिव एवं जिला कांग्रेस कमेटी के प्रभारी मोहम्मद बिलाल कर रहे थे। उनके साथ किसान कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव राकेश भड़ाना, असंगठित कामगार कांग्रेस के प्रदेश चेयरमैन ज्ञानचंद आहुजा, प्रदेश सचिव सत्यवीर डागर, राजीव गांधी पंचायती राज के जोनल प्रभारी डॉ. धर्मदेव आर्य, जिला कोर्डिनेटर अनीशपाल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी आईटी सैल के महासचिव मनोज अग्रवाल, जिला मीडिया प्रभारी नीरज गुप्ता, महिला कांग्रेस की पूर्व जिलाध्यक्ष खुशबू खान, मालवती पांचाल, बीपी गोयल सहित भारी तादाद में युवा, बुजुर्ग व सैकड़ों की तादाद में लोग मौजूद थे। इस मौके पर जिला प्रभारी मोहम्मद ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि भाजपा का एक मंत्री बौखला गया हुआ है, इसलिए वह औछी हरकतों पर उतारु है।
उन्होंने कहा कि स्वच्छ तरीके से राजनीति करनी चाहिए न कि द्वेष भावना के तहत किसी को झूठा फंसाने की। उन्होंने कहा कि इस मामले में चौधरी बिल्कुल निर्दाेष है और इस मामले की वीडियो फुटेज उनके पास है। उन्होंने कहा कि पुलिस कमिश्रर ने उन्हें आश्वासन दिया कि इस मामले में किसी को झूठा नहीं फंसाया जाएगा और इसकी निष्पक्ष जांच करवाई जाए और उन्हें विश्वास है कि पुलिस मामले का दूध का दूध और पानी का पानी कर देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here