नार्थ ईस्ट में खूब नाम कमा रहे हैं बल्लभगढ़ के डॉ. दुर्गेश शर्मा

0
83
न्यूज़ एनसीआर, 09 फरवरी-फरीदाबाद | हरियाणा, उत्तरप्रदेश, अरुणाचल प्रदेश के बाद नॉर्थ ईस्ट में भी डॉ. दुर्गेश को मिली बड़ी जिम्मेदारियां। अभी-अभी डॉ दुर्गेश शर्मा को मिजोरम के मुख्यमंत्री ज़ोरामथांग और नागालैंड के मुख्यमंत्री नैपहिउ रियो व सचिव लहौचलै विया द्वारा उनके प्रदेश का सीएसआर कोऑर्डिनेटर नियुक्त किया गया।
आईये आज हम बात करते है एक ऐसे इंसान की जो इतनी कम उम्र में अपनी कड़ी लग्न व् मेहनत के बल पर नए मुकाम छू रहा है। दुर्गेश शर्मा का जन्म हरियाणा प्रदेश के फरीदाबाद जिले में बसे बल्लबगढ़ शहर में हुआ। इन्होने बिना किसी संस्था के समाज में अपना एक नया स्थान बनाया है। दुर्गेश शर्मा बचपन से ही समाज सेवी है बचपन में मंदिरों की सेवा से लेकर भगवतो में साधु संतों की सेवा से अपनी जिंदगी शुरू की और आज उन्ही के आशीर्वाद से देश की बड़ी कम्पनियो से जुड़कर एक नया कीर्तिमान स्थापित कर रहे है। दुर्गेश शर्मा पार्टी पक्ष से ज्यादा व्यक्ति विशेष के जुड़ाव को एहम मानते है। दुर्गेश भाजपा फरीदाबाद की जिला कार्यकारणी के सदस्य होने के साथ साथ कौशांबी के सांसद व राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुसूचित जाति मोर्चा भाजपा विनोद सोनकर के निजी सचिव एवं असम पर्यटन विभाग के विशेष सदस्य भी है। आप उन्हें जिले, प्रदेश के साथ साथ भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यक्रमो में हमेशा शामिल होते हुए भी देख सकते है। 10 बार देश के
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिल चुके दुर्गेश 2 बार अपनी बात सीधे स्पष्ट शब्दों के माध्यम से कह चुके है अपनी छोटी सी उम्र में दुर्गेश शर्मा अपनी मेहनत, लग्न व क्षमता के बल पर 50 से ज्यादा सामाजिक संस्थाओं से सम्मानित हो चुके है वे अपनी संस्था सोनू नव चेतना फाउंडेशन व अन्य संस्थाओ से जुड़कर समाज में फैली कुरूतियो, बुराइयों के प्रति लोगो में जागरूकता, गरीब व बेसहारा लोगो को गर्मी व सर्दियों के दौरान घर घर जाकर कपड़े इक्कठे करके उन तक पहुचने का काम, गरीब कन्याओ को विभिन लोगो के माध्यम से स्कूल व कॉलेज में दाखिला करना जैसे कामो के माध्यम से जुड़कर समाज व राष्ट्रहित में योगदान कर रहे है। अभी उत्तरप्रदेश, अरुणाचल प्रदेश हरियाणा में CSR Expert और 30 से ज्यादा सांसदों व मंत्रियों के CSR Expert के रूप में बिना किसी इच्छाओं, लोभ, लालच पैसे के फ्री में उनके प्रदेशो व क्षेत्रो में 500 से ज्यादा गांवो में सरकारी व गैरसरकारी उपक्रमो द्वारा लाइट, पीने के पानी के साथ साथ वहा के स्कूलों में कमरो व शौचालयों का भी निर्माण करा चुके है। ONGC, HPCL, BPCL, IOCL, EIL, SAIL,NTPC,NHPC, EESL, PFC, POWERGRID जैसी बड़ी कंपनियों का सानिध्य इसमें शामिल है। आज भी वे अलग अलग जगह की समस्याओं को फेसबुक व ट्वीटर के माध्यम से विभागों तक पहुचते रहते है।
देश के लगभग सभी बड़े नेताओ से मिलकर उन्हें अपने विचार दे चुके दुर्गेश शर्मा बचपन से ही बड़े सहयोगी रहे है हमेशा ही दुसरो की मद्दत करना, समाज हित में काम करना, सामाजिक संस्थाओ से जुड़कर उनके साथ काम करना इनकी खासियत रही है आज भी 50 से ज्यादा सामाजिक संस्थाओ से जुड़ कर देश भर में काम कर रहे है स्कूल हो या कॉलेज गली हो या मौहल्ला हर जगह दुर्गेश की अलग ही पहचान थी हमेशा सबसे सिंपल व् सादगी से लिप्त होने के बावजूद सबके चहिते थे हमेशा अपने सभी दोस्तों के लिए खास थे हमेशा सबकी मद्दत को तैयार रहते थे मंदिर की कथाओ में प्रसाद बटवाना, जूतों की रख रखाव, साधू जनों की सेवा करना इनको पसंद था उन्होंने बताया की छोटी ही उम्र में पुरे भारत देश का घूम कर चुके है और 17 से ज्यादा बड़ी संस्थाओ द्वारा इन्हें सम्मानित किया जा चूका है। फरीदाबाद में रहते हुए इनकी खासियत ये भी रही की ये सभी दलों के प्रिय रहे है क्यूंकि इनका खरा जवाब और साफ़ बोली सभी को पसंद आती है। अभी हाल ही में इन्हें उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा उत्तर प्रदेश सेवा सम्मान 2018 से नवाजा गया है और ठाकुर देवकीनंदन द्वारा लगातार दूसरी बार विश्व शांति एकता पुरुस्कार 2018 से भी सम्मानित किया गया। हम इनके उज्जवल भविष्य की भगवन से कामना करते है ताकि ये आगे भी राष्ट्रहित में योगदान देते रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here