इनेलो की रैली सम्मान दिवस नहीं बल्कि अपमान दिवस रैली थी : विपुल गोयल

0
44
न्यूज़ एनसीआर, 9 अक्टूबर फरीदाबाद | रोहतक की सांपला में दीनबंधु सर छोटूराम के मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में उद्योग मंत्री विपुल गोयल के कार्यालय से भारी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता बसों और गाड़ियों से रवाना हुए। इस मौके पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने छोटू राम के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी जिंदाबाद के जमकर नारे लगाए। कार्यकर्ताओं की बसों को उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर विपुल गोयल ने कहा कि, बीजेपी सरकार किसानों के मसीहा दीनबंधु सर छोटूराम के सपनों को साकार कर रही है।
बीजेपी सरकार बदल रही किसानों का मुकद्दर

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, भावांतर योजना, किसानों को उनकी फसल की लागत से डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देना आदि कदम दिखाते हैं कि बीजेपी सरकार किस तरह किसानों का मुकद्दर बदलने का प्रयास कर रही है। मंत्री गोयल ने कहा कि, यह एक बड़ा अवसर है कि एक ईमानदार प्रधानमंत्री किसानों के मसीहा की मूर्ति का अनावरण कर रहे हैं।
गोयल ने कहा इनेलो की रैली सम्मान दिवस नहीं बल्कि अपमान दिवस रैली थी

इनेलो की सम्मान दिवस रैली से ज्यादा भीड़ जुटाने के सवाल पर विपुल गोयल ने कहा कि इनेलो की रैली सम्मान दिवस रैली नहीं बल्कि अपमान दिवस रैली थी, जिसमें चौटाला परिवार ने चौधरी देवीलाल का अपमान किया और सत्ता की लड़ाई में परिवार ही आपस में लड़ता दिखाई दिया। उन्होंने कहा कि सम्मान दिवस तो सांपला में मनाया जा रहा है जहां किसानों के सबसे बड़े नेता को आज सच्ची श्रद्धांजलि दी जा रही है।
इस मौके पर बीजेपी विधायक मूलचंद शर्मा, जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, पार्षद नरेश नंबरदार, छत्रपाल, खादी बोर्ड के सदस्य विजय शर्मा, भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष जितेंद्र चौधरी, बिजेंदर नेहरा सागरपुर, सुरजीत अधाना, बलवान शर्मा, अनीता शर्मा और ललित सैनी सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here