1 से 10 नवंबर तक दिल्ली/एनसीआर क्षेत्र में वायु प्रदूषण बढ़ने की अधिक संभावना

0
83

न्यूज़ एनसीआर, 31 अक्टूबर-फरीदाबाद | पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण (ईपीसीए) के अनुसार आने वाले सर्दी के मौसम में विशेष तौर पर 1 से 10 नवम्बर तक दिल्ली/एनसीआर क्षेत्र में वायु प्रदूषण बढ़ने की बहुत संभावना है। बढ़ते हुए वायु प्रदूषण को देखते हुए सैन्ट्रल पोल्यूशन बोर्ड द्वारा निरंतर दिशा-निर्देश जारी किए जा रहे है, जिसका अनुसरण करते हुए नगर-निगम के निगम आयुक्त मौहम्मद शाइन ने नगर-निगम के तीनों जोनों के संयुक्त आयुक्तों, मुख्य अभियन्ता, कार्यकारी अभियंताओं तथा अन्य क्षेत्रीय अधिकारियों/कर्मचारियों जो कि सफाई के काम में भी कार्यरत है को अपने-अपने क्षेत्रों में एनजीटी द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार वायु प्रदूषण को कम करने के लिए उचित कदम उठाने के आदेश दिए है।

निगमायुक्त ने 1 से 10 नवम्बर तक प्रदूषण से निपटने के लिए प्रतिदिन इंजीनियरिंग ब्रांच द्वारा सड़कों व डस्ट उड़ने वाले स्थानों पर निरंतर पानी का छिड़काव करने को कहा। इसके अलावा क्षेत्र में हो रहे सभी निर्माणों को आगामी आदेश तक पूर्णतयः रोकने के आदेश दिए।

उन्होंने आगे आदेश दिए कि जहां-जहां पर बिल्डिंग मैटेरियल पड़ा हुआ है उनको टैरापॉलिन से ढ़कवाया जाए। इसके अतिरिक्त निगमायुक्त ने क्षेत्र में चल रहे सभी क्रेषर जोनों, धूल प्रदूषण पैदा करने वाले गर्म मिश्रण संयंत्र को 1 से 10 नवम्बर तक बंद करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि कोई भी आमजन उपरोक्त आदेशों की अवहेलना करता पाया जाए या कचरे, पत्तियां, रबड़, प्लास्टिक तथा कूड़े-कचरे के ढेरों को जलाता हुआ दिखाई देता है तो उसके खिलाफ हरियाणा नगर-निगम अधिनियम 1994 की धारा 273 तथा एनजीटी एक्ट की संबंधित धारा के अन्तर्गत कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने स्पष्ट किया कि इन आदेशों की अवहेलना करने पर प्रतिदिन के हिसाब से 5000 रूपये जुर्माना लगाया जाएगा। अगर कोई आमजन बार-बार इन आदेशों की अवहेलना करता है तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। उन्होंने निगम अधिकारियों को इस संबंध में प्रतिदिन की रिपोर्ट देने बारे आदेश दिए।

निगमायुक्त मौहम्मद शाइन ने स्वच्छ फरीदाबाद-स्वस्थ फरीदाबाद के तहत आमजन से अपील की है कि वह वायु प्रदूषण को राकने में नगर-निगम का सहयोग करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here