शहर में फैल रहीं बीमारियों को लेकर जिला उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों की बैठक ली

मलेरिया व डेंगू की रोकथाम के बारे में चर्चा की गई

0
14
न्यूज़ एनसीआर, 04 सितंबर-फरीदाबाद | उपायुक्त अतुल कुमार द्विवेदी ने आज अपने कार्यालय के सभाकक्ष में जिला प्रशासन की मीटिंग ली। जिसमें जिले में फैले मलेरिया व डेंगू की रोकथाम के बारे में चर्चा की गई। उपायुक्त ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि, वह सभी सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में जा कर चेक करें कि, कितने मरीज डेंगू के हैं और कितने मरीज मलेरिया के हैं और किस-किस क्षेत्र से हैं। जिस क्षेत्र से ज्यादा मरीज हैं उस क्षेत्र में जाकर वहां पर मलेरिया व डेंगू के बारे में जा कर लोगों को जागृत करें।
उपायुक्त ने बताया कि, नगर-निगम फरीदाबाद व हुड्डा डिपार्टमेंट इसमें अपनी अहम भूमिका निभाएं। उन्होंने कहा कि, सभी विभाग जिसमें शिक्षा विभाग, पब्लिक हेल्थ, अर्बन लोकल बॉडी, ट्रांसपोर्ट विभाग अपनी अपनी जिम्मेदारी निभाएं। उपायुक्त ने बताया कि, बरसात के मौसम में जगह-जगह पानी ठहर जाता है, जहां पर मच्छर पनपने लगते हैं इन मच्छरों के काटने से डेंगू, मलेरिया एवं चिकनगुनिया जैसे रोग फैल रहे हैं। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि, वह अपने घर के आस-पास पानी न जमा होने दें, क्योंकि खड़े हुए पानी में ही मच्छर ज्यादा पनपता है।
उन्होंने कहा कि हफ्ते में एक बार अपने कूलर, फूलदान, पशु, पक्षियों के पानी के बर्तनों को अवश्य सुखाएं पानी से भरे हुए तालाब और गड्ढों में मिट्टी भर दे और यदि संभव हो सके तो सके तो उसमें काला तेल डाल दें। उन्होंने कहा कि हर अभिभावक को चाहिए कि इस दौरान वे अपने बच्चों को मच्छरों से बचाने के लिए पूरी बाजू के कपड़े पहनाए, सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें।
इस मौके पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि, अगर किसी को बुखार ज्यादा दिन तक रहता है तो वह तुरंत ही अपना मलेरिया और डेंगू के चेकअप करवाएं।सरकार की तरफ से डेंगू और चिकनगुनिया के टैस्ट के लिए ₹600 तय किए गए हैं। उन्होंने बताया कि मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया की सरकारी अस्पतालों में निशुल्क जांच के साथ-साथ इलाज भी फ्री किया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here