राष्ट्रीय पोषण माह एक जन आंदोलन : विमलेश कुमारी

0
17

न्यूज़ एनसीआर, 07 सितंबर-फरीदाबाद | एनआईटी-2 ब्लाक में ब्लॉक स्तर पर डब्लयूसीडीपीओ एनआईट-2, विमलेश कुमारी के नेतृत्व में राष्ट्रीय पोषण माह विरोहन इंस्टीट्यूट में एनआईटी-2 ब्लॉक की सभी वर्करों के साथ मनाया गया। कार्यक्रम में वर्करों की कम लागत में अधिक पोषण वाली रेस्पी प्रतियोगिता भी आयोजित की गयी। जिसमें वर्करों ने बढचढ कर भाग लिया व प्रतियेागिता में 52 पोषक तत्वों को भरपूर रेस्पी आई। ये रेस्पी मुख्य रूप से बच्चे व कुपोषित बच्चों के लिए थी। विमलेश कुमारी डब्लयूसीडीपीओ एनआईटी-2 द्वारा वर्करों को अपने-अपने एरिया में पूरे माह यह राष्ट्रीय पोषण माह एक जन आंदोलन के रूप में मनाने के लिए प्रेषित किया।

उन्होंने वर्करो को बताया कि, जन्म के बाद 5 साल तक के बच्चे के जीवन के सबसे महत्वपूर्ण समय है क्योंकि बच्चे के दिमाग का 85 प्रतिशत विकास उसकी आयु के 3 साल तक हो जाता है। यदि इस समय बच्चे कुपोषण का शिकार हो गये तो उन्हें सामान्य करना मुश्किल हो जाता है। साथ ही वर्करों को बच्चों का वजन आंगनवाडी में किस प्रकार लिया जाये व किस प्रकार वजन पुस्तिका में भरा जाये इस बारे में ग्रोथ मोनिटरिंग चार्ट के माध्यम से ट्रैनिंग दी गई।

कार्यक्रम में नरेश कुमार इंचार्ज खाद्य एवं पोषण ईकाई फरीदाबाद ने आकर पोषण सम्बंधी महत्वपूर्ण बातों से वर्करों को अवगत कराया। इस कार्यक्रम में सर्कर स्तर पर बेस्ट वर्कर को भी प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से सुनीता नागर, स्मिता धीमान व रेनू चौधरी सुपरवाईजर ने अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here