युवाओं को रोजगारपरक बनाने के लिए हरियाणा वक्फ बोर्ड ने की बडी पहल

0
57

न्यूज़ एनसीआर, (मनीष आहूजा) 20 जून-पुन्हाना | जिले के युवाओं को रोजगारपरक बनाने के लिए बक्फ बोर्ड ने बडी पहल की है। बोर्ड द्वारा युवाओं को नौकरियों में दी जाने वाली परीक्षा के लिए पुन्हाना में कोचिंग सेंटर खोला जा रहा है। जहां पर नाम मात्र फीस पर युवाओं को कोचिंग की जाएगी। इससे न केवल आर्थिक रूप से कमजोर युवाओं को कोचिंग मिल पाएगी बल्कि कोचिंग के चलते वो परीक्षा पास कर सरकारी नौकरी भी ले पाएंगे। उक्त जानकारी देते हुए राज्य मंत्री व हरियाणा वक्फ बोर्ड के चेयरमैन रहीशा खान ने बताया कि जिले में कोचिंग सेंटरों की काफी कमी है। जिसके चलते यहां के युवाओं की सरकारी नौकरियों में काफी कम भागीदारी है। जिसको देखते हुए वक्फ बोर्ड ने पुन्हाना में कोचिंग सेंटर खोलने का निर्णय लिया है, एक अन्य सेंटर इंजिनियरिंग कालेज में शुरू किया जाएगा। जिसके लिए विशेषज्ञों की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही आईएएस व आईपीएस अधिकारियों ने भी सेंटर पर कोचिंग देने पर सहमति जताई है।

बता दें कि जिले में कोचिंग न मिल पाने से न केवल पढ़े-लिखे युवा सरकारी नौकरियों के लिए दी जाने वाली परीक्षा पास नहीं कर पाते बल्कि इससे बेरोजगारी को भी बढ़ावा मिलता है। जिसको देखते हुए वक्फ बोर्ड ने जिले के सबसे पिछडे पुन्हाना क्षेत्र में कोचिंग सेंटर खोलने की योजना बनाई है। करीब 1 माह में बोर्ड द्वारा होडल-नगीना रोड पर कोचिंग सेंटर खोल दिया जाएगा। जिसमे कोचिंग के लिए छात्रों के लिए 600 व छात्राओं के लिए 300 रुपये प्रति माह फीस निर्धारित की गई है। जबकि निर्धारित परीक्षाओं में 80 प्रतिशत से उपर अंक लाने वाले छात्र-छात्राओं के लिए यह फीस आधी रहेगी। इसके साथ ही कोचिंग सेंटर पर आईएएस व आईपीएस अधिकारी भी बच्चों को कोचिंग देते हुए प्रतियोगिता परीक्षाओं को पास करने के गुर सिखाएंगे। हरियाणा वक्फ बोर्ड की ओर से इस सेंटर के समन्वयक के रूप में इंजीनियरिंग कालेज के सहायक प्रोफेसर वसीम अकरम को नियुक्त किया गया है। वसीम अकरम ने बताया कि बोर्ड के चेयरमैन रहीशा खान व मुख्य कार्यकारी अधिकारी डा हनीफ़ कुरैशी, आई पी एस दोनों इस कोचिंग सेंटर को जल्द शुरू करने के लिए गंभीर है, जल्द ही इसकी शुरुआत कर दी जाएगी। इससे मेवात के छात्रों को नौकरियों में अच्छी भागीदारी मिलने की पूरी सम्भावना है। हरियाणा वक्फ बोर्ड की ओर से ये सराहनीय कदम है।


रहीशा खान ने बताया कि पुन्हाना क्षेत्र का काफी विकास किया गया है और कार्य बच रहे हैं, मुख्यमंत्री के सहयोग से जल्द ही उन्हें भी करा दिया जाएगा। रहीशा खान ने कहा कि भाजपा सरकार में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के सहयोग से करोडो की राशि से रिकार्ड विकास कार्य कराए जा रहे हैं। जहां इससे पहले के किसी मुख्यमंत्री ने गांवों के विकास पर कोई ध्यान नही दिया वहीं दिन बंधू उदय ग्राम जैसी योजनाएं चलाकर मुख्यमंत्री द्वारा गांवों के विकास के लिए 6-6 करोड की राशि दी जा रही है। जिससे गांवों में भी विकास की कोई कमी नहीं रहेगी। गांवों को भी शहरों की तर्ज पर विकास कराया जाएगा। गांव के लोगों को शहरों के मुकाबले में ही सभी सुविधाएं दी जाएंगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल एक विकास पुरूष व्यक्ति हैं, वो जो कहते हैं उसे पूरा भी कराते हैं। मुख्यमंत्री द्वारा पुन्हाना रैली में की गई करीब 300 करोड की घोषणाओं के अधिकतर काम पूरे हो चुके हैं। 3 वर्ष के कार्याकाल में विधानसभा के गांवों में इतना विकास कराया है कि पिछले विधायकों ने अपने 15 वर्ष के कार्याकाल में भी नहीं कराए हैं। उन्होंने कहा कि चुनावों के समय जो वायदे भारतीय जनता पार्टी ने किये थे वह सभी वायदे क्रमबद्ध तरीके से पूरे हो रहे है जिसे जनता बखूबी समझ चुकी है और जनता को इस बात का विश्वास हो गया है कि अगर हमारे दुख दूर हो सकते है तो वह है केवल भाजपा में ही।

उन्होंने कहा कि हरियाणा प्रदेश के लिए मनोहर लाल खट्टर सबसे ईमानदार और विकास पुरुष सीएम साबित हुए हैं। उनके नेतृत्व में भाजपा सरकार ने भ्रष्टाचार और भयमुक्त शासन दिया है। सीएम की सोच है प्रदेश का एक समान विकास कराया जाए। सीएम नूंह के प्रति भी विकास की सोच रखते हैं। मुख्यमंत्री का विकास कर इस पिछड़े जिले को अन्य जिलों की पंक्ति में खडा करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने नूंह के साथ हमेशा से सौतेला व्यवहार किया है। यहां विकास के नाम पर केवल लोगों से वोट ठगे गए हैं। शायद यही वजह है कि यह जिला आज तक विकास के मामलों पिछडा हुआ है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने नूंह व पुन्हाना विधान सभा क्षेत्र के विकास नई-नई योजनाएं बनाई हैं। सरकार चाहती है कि यहां का चहुंमुखी विकास हो। इसके लिए खंड स्तर पर सरकार की योजना के मुताबिक उद्योग धंधे स्थापित करने का फैसला लिया गया है। इन उद्योग धंधों के नूंह में स्थापित होने से काफी हद तक से बेरोजगारी समाप्त हो जाएगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने युवाओं के उत्थान के लिए विकास की नई योजनाएं तैयार सरकार ने नौकरियों में इंटरव्यू खत्म कर पूरी ईमानदारी का परिचय दिया है।

जिले में प्रतिभावों की कोई कमी नहीं है, लेकिन संसाधनों की कमी के चलते प्रतिभा बाहर नहीं निकल पाती है। जिसको देखते हुए जिले के युवाओं को प्रतियोगिता परीक्षाओं की कोचिंग देने के लिए पुन्हाना में कोचिंग सेंटर खोला जा रहा है, ताकि यहां के युवाओं की भी सरकारी नौकरियों में भागीदारी मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here