HVSU यज्ञ कर पहुंची अपने नए भवन में

0
53

न्यूज़ एनसीआर, (एकता रमन) 15 अप्रैल-पलवल :(पृथला) | दुधौला स्थित हरियाणा विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय ने अपने नए भवन में यज्ञ आहुति देकर प्रवेश किया। यज्ञ जीवन का सबसे श्रेष्ठतम कर्म है और मानव जीवन की समस्त शुभकामनाओं को पूर्ण करता है। विश्वविद्यालय ने यज्ञ कर विश्वविद्यालय के छात्र – छात्राओं को कौशल के साथ-साथ संस्कार एवं शिष्टाचार की शिक्षा भी दी। यह विश्वविद्यालय अब तक हरियाणा लोक प्रशासन संस्थान, गुरुग्राम में चल रहा था। इस विश्वविद्यालय को हरियाणा सरकार ने विभिन्न भारतीय क्षेत्रों में कौशल उद्यमशीलता विकास, कौशल आधारित शिक्षा और अनुसंधान को बढ़ावा देने और विभिन्न क्षेत्रों में कौशल स्तर बढ़ाने के लिए स्थापित किया है। विश्वविद्यालय को “राष्ट्रीय महत्त्व का संस्थान” का दर्जा प्राप्त है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘स्टार्ट अप इंडिया’ और ‘स्किल इंडिया’ योजनाओं को आने वाले वर्षों में पूरा करेगा।

कुलपति राज नेहरू ने मुख्य अतिथि बृजकिशोर कुठियाला, अध्यक्ष उच्च शिक्षा आयोग हरियाणा, को बताया कि शुरूआत में कई कठिनाइयां का सामना करना पड़ा, लेकिन HVSU टीम बधाई की पात्र है जिसने साधनों की कभी चिंता नहीं की लेकिन काम की चिंता कि, जिसके फलस्वरुप वे यहां तक पहुंचे हैं।

बृजकिशोर कुठियाला ने सभा को संबोधित करते हुए कहा – “मुझे मालूम है बहुत ही छोटा बीज और छोटी धरती पर इस विश्वकर्मा विश्वविद्यालय की नींव रखी गई है परंतु बीज अंकुरित हो गया है और पहली पंखुड़ियां निकल आई है और बहुत सुंदर है। इसके लिए आप बधाई के पात्र हैं। राज नेहरू का श्रम, विजन, पुरुषार्थ और अनुभव और पूरी टीम की सहभागिता इस योजना को सफल बनाएंगे। हरियाणा सरकार ने इस विश्वविद्यालय पर सोचा और विद्वानों के मत और परामर्श को माना। हमारा युवा अधिक दक्ष बनेगा, अधिक कुशल बनेगा, अधिक योग्य बनेगा, अपने जीवन यापन के लिए वह सक्षम बनेगा और अपने जीवन यापन के साथ-साथ वह अपने परिवार कुनबे समाज को आगे ले जाएगा। यह कल्पना इस विश्वविद्यालय की रचना में है, अंतर्निहित है, और इसके लिए आप सब लोग प्रयासरत हैं।

इस शुभ अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. बृजकिशोर कुठियाला जी विशिष्ट अतिथि श्रीमती प्रीता कौशिक प्राचार्य गवर्नमेंट कॉलेज फरीदाबाद, सहायक उपनिदेशक श्रीमती रेखा दहिया हरियाणा इंस्टिट्यूट ऑफ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन, डॉ. लोकेश कुमार , हरियाणा विश्वकर्मा विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति श्री राज नेहरू जी एवं कुलसचिव डॉ. सुनील गुप्ता जी और पूरा एचवीएसयू स्टाफ उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here