बीके अस्पताल में एक और इत्तेफाक, तीसरी मंजिल पर लगी आग

आग का कारण लिफ्ट में शार्ट सर्किट

0
69

न्यूज़ एनसीआर, 04 मार्च-फरीदाबाद | फरीदाबाद के सिविल अस्पताल में आज दोपहर अचानक तीसरी मंजिल पर तेज धुँआ निकलने लगा जांच करने के बाद पता चला की यह आग बंद पड़ी पुरानी लिफ्ट में शॉट सर्किट की वजह से लगी है। आनन-फानन में दमकल विभाग को सूचना दी। दमकल विभाग मौके पर बीके अस्पताल पहुंच और आग को बुझाने की कोशिश की लेकिन लेकिन धुँआ तीसरी मंजिल से नीचे ग्राउंड फ्लोर पर एमरजेंसी में फ़ैल गया, जिसके चलते एमरजेंसी में दाखिल मरीजों को वहां से बाहर निकाला पड़ा।

अस्पताल के डाक्टर ने बताया की यह आग पुरानी लिफ्ट में शॉट सर्किट के कारण लगी है जिसका धुँआ एमरजेंसी तक पहुंच गया था इसलिए मरीजों को बाहर निकाला गया। ताजा जानकारी के अनुसार स्तिथि अभी काबू में है।

अस्पताल के एमरजेंसी से बाहर निकाले गए मरीज के एक परिजन ने बताया की एमरजेंसी में धुँआ भर गया था जिसके चलते मरीजों को बाहर निकाला गया है। वहीँ आग पर काबू करने में जुटे दमकल कर्मचारी ने बताया की आग पर काबू पाया जा चुका है और फिलहाल बिल्डिंग में धुँआ भरा हुआ है।

आग पर तो काबू पा लिया गया है, पर सोचने वाली बात ये है कि, हर बार इत्तेफाक सिर्फ बीके अस्पताल में ही क्यों होते है? कभी नवजात शिशु कूड़ेदान में गिर जाता है, कभी गर्भवती महिला बच्चे को जन्म देते समय लापरवाही के कारण मर जाती है। कभी अस्पताल में गरीब बिना इलाज के ही तड़पता रहता है। अभी यह इत्तेफाक जांच का विषय बना हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here