एसीपी राजेश चेची के तबादले ने पकड़ी गर्मी

0
54

न्यूज़ एनसीआर, (एकता रमन) 4 मार्च फरीदाबाद। समाज के हित के लिए किया हुई कोई भी काम व्यर्थ नही जाता भले ही कोई स्वेच्छा से करे या फिर अपने कर्तव्य से बाध्य होकर। एक ऐसा ही उदाहरण हैं एसीपी क्राइम – राजेश चेची।

अपनी ड्यूटी निभाते हुए समाज के लिए हमेशा तत्परता से तैयार रहना एसीपी की ख़ासियत है और उनकी यही विशेषता उनको आम जनता में बेहद लोकप्रिय बनाती है। एसीपी के तबादले को रुकवाने को लेकर उनके समर्थन में शहर की 25 से ज्यादा सामाजिक संस्थाओं ने शहर में अलग-अलग चार स्थानों पर प्रदर्शन किया जिन में लोगों ने अपने हाथों और सिर पे काली पट्टी बांधी हुई थी। लोगों ने एसीपी पर लगाए आरोपों को बेबुनियाद बताया और आरोप लगाने वालों के खिलाफ ही कार्रवाई की मांग की है। प्रदर्शनों में महिला और बच्चे भी शामिल थे।

सराय ख्वाजा के बाजार में शनिवार सुबह करीब 11 बजे लोगों ने जुलूस निकाला। प्रदर्शनकारियों ने अपने हाथों में तख्तियां ली हुई थीं जिन पर एसीपी क्राइम राजेश चेची के तबादले को रोकने की मांग की गई थी। उसके बाद दोपहर करीब 1 बजे बीके चौक पर विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के लोगों ने प्रदर्शन किया। इसी तरह 1 बजे बल्लभगढ़ के अंबेडकर चौक पर भी लोगों ने प्रदर्शन किया। मैगपाई होटल के पास भी कुछ छात्रों ने एसीपी क्राइम के समर्थन में प्रदर्शन किया। जानकारी के अनुसार तबादले से आहत लोग मंगलवार को पुलिस आयुक्त अमिताभ सिंह ढिल्लो को ज्ञापन सौंपकर अपनी बात रखेंगे। हम आपको याद दिला दें कि पिछले दिनों हुई एक हत्या के मामले में पीड़ित पक्ष ने एसीपी पर साक्ष्य मिटाने का आरोप लगाया था। इस मामले की जांच के लिए गठित एसआईटी के प्रमुख एसीपी राधेश्याम ने बताया – “आरोपों को ध्यान में रखते हुए अभी तक की जांच में एसीपी राजेश चेची के खिलाफ साक्ष्य मिटाने का कोई सबूत नहीं मिल पाया है।”

किसी भी पुलिस या प्रशासनिक अधिकारी के ट्रांसफर को रुकवाने के लिए इस तरह के प्रदर्शनों का मामला सोशल मीडिया पर भी काफ़ी चर्चित हो रहा है। जिस तरह सरकार और प्रशासन ने जनभावना के खिलाफ राजेश चेची को उनकी कर्मठ व ईमानदार कार्यप्रणाली के बावजूद दरकिनार करते हुए शहर से बाहर तबादला किया गया है वह कतई भी मंजूर करने योग्य नहीं है। इसी से संबंधित, आज शहर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया जा रहा है जिसकी अध्यक्षता पद्मश्री डॉ. ब्रह्मदत्त, अनशनकारी बाबा राम केवल एवं आरटीआई एक्टिविस्ट वरुण श्योकंद करेंगे। प्रेस कॉन्फ्रेंस के आयोजक, युवा आग़ाज़ के जसवंत पवार ने बताया – “इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में हम उन पुलिस ऑफिसर्स का ऐलान करना चाहते हैं जो फरीदाबाद में ईमानदारी और दृढ़ संकल्प से काम करना चाहते हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here