मानव रचना इंटरनेशनल स्कूलों के छात्रों ने दी विभिन्न विषयों पर प्रस्तुति

0
88

न्यूज़ एनसीआर 12 फरवरी फरीदाबाद । मानव रचना यूनिवर्सिटी में मानव रचना इंटरनेशनल स्कूलों के छात्रों ने एक कार्यक्रम पेश किया। इस कार्यक्रम में NCR में स्थित सभी मानव रचना इंटरनेशनल स्कूलों के करीब 500 छात्रों ने हिस्सा लिया। इसका विषय था ‘Crest on Stage’। दरअसल, मानव रचना के सभी स्कूलों के पहली से पांचवीं कक्षा तक के छात्रों के लिए एक खास करिकुलम है, जिसे ‘CREST’ कहा जाता है।

‘CREST’ मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल का अपना बनाया हुआ पाठ्यक्रम है। इसके तहत छात्रों को ऑडियो और वीजुअल माध्यम से पढ़ाया जाता है क्योंकि पढ़ी हुई चीज़ो को याद रखना कठिन होता है उसके मुकाबले दिखाए हुए चीज़ो को याद रखना ज्यादा आसान होता है। ‘CREST’ माध्यम से बच्चो की सोचने समझने की क्षमता बढ़ेगी और बड़े होकर वो अच्छा नागरिक बनेंगे। ‘CREST’ मे दिखाई हुई विषयों की कोई परीक्षा नहीं होती विषय पर सिखाई गयी बातों को बच्चे केवल प्रस्तुतियों के द्वारा दर्शाते हैं।

MRIS नोएडा के छात्रों ने संचार माध्यमों पर प्रस्तुति दी वहीं दूसरी ओर MRIS सेक्टर-21C फरीदाबाद के छात्रों ने दुनिया के अलग-अलग देशों में दूसरे देशों के लोग क्यों रहते हैं इसके बारे मे बताया। उसके बाद MRIS सेक्टर-46 गुरुग्राम के छात्रों ने नदियों को बचाने का संदेश दिया और यह बताया की नदियों से निकला हुआ जल जीवन का आधार है। MRIS सेक्टर-51 गुरुग्राम के छात्रों ने शो मैन वॉल्ट डिज्नी की ज़िंदगी दिखाई गई।अंतिम प्रस्तुति MRIS चार्मवुड के छात्रों ने दी, जिसमें उन्होंने संगीत के जीवन की यात्रा के बारे मे बताया। इन सभी प्रस्तुतियों को देखकर वहां बैठे दर्शक प्रसन्न हुए और उन्हें नन्हे-मुन्हे बच्चों के माध्यम से सन्देश मिला कि आने वाली युवा पीढ़ी अपने कर्तव्यों के प्रति जागरूक होगी।

इस कार्यक्रम में मानव रचना शैक्षणिक संस्थान की संरक्षक सत्या भल्ला, एमएम कथूरिया, मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज़ के वीसी डॉ. एनसी वाधवा, MRIS सेक्टर-14 की ईडी दीपिका भल्ला, MRIS चार्मवुड और सेक्टर-21C की ईडी निशा भल्ला, अकैडमिक स्टाफ कॉलेज और एडमिनिस्ट्रेशन की डायरेक्टर गोल्डी मल्होत्रा के साथ-साथ सभी स्कूलों के प्रिंसिपल ने हिस्सा लिया।

इस मौके पर MREI की संरक्षक सत्या भल्ला ने सभी छात्रों को आशीर्वाद दिया और कहा – “मुझे खुशी है कि हर साल बच्चे इस कार्यक्रम के ज़रिये उन चीजों के बारे में बताते हैं जिनके बारे में शायद बड़े भी नहीं जानते”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here